5 strange fact about Witching Hour in Hindi सुबह 3 से 4 बजे के बीच वास्तव में क्या होता है ?

0
145

सुबह 3 बजे से 5 बजे के बीच का वक़्त जितना ज्यादा spiritual activity के लिए मशहूर है उतना ही witchcraft के लिए भी है. आज भी ऐसी मान्यता है की सुबह 3 बजे से लेकर 4 बजे के बीच इंसानी मस्तिष्क सबसे ज्यादा कमजोर होता है और इस दौरान evil force सबसे ज्यादा शक्तिशाली और सक्रिय होती है.

इस समय को Witching Hour के नाम से भी जाना जाता है. क्या वाकई इस दौरान जादू अपने चरम पर होता है या इसका कोई और महत्त्व भी है आइये जानते है इस आर्टिकल में.

प्राचीन समय से ही ऐसी मान्यता चली आ रही है की सुबह 4 बजे ब्रह्म-महूर्त शुरू हो जाता है लेकिन, इससे ठीक एक घंटे पहले का समय शैतानी शक्तियां अपने चरम पर होती है. अगर इस दौरान कोई भी Black magic spell casting की जाए तो उसका रिजल्ट मिलता है साथ ही ज्यादातर लोगो के लिए ये समय बाहर निकलने के लिए सही नहीं होता है. गाँव में बचपन से ही बच्चो को डराया जाता है.

Witching Hour

अगर वे इस समय के बीच नींद से उठते है तो उन्हें 4 बजे तक का इन्तजार करने के लिए कहा जाता है. मुझे आज भी याद है की किस तरह मुझे इस समय के बीच रूहानी अनुभव होते थे.

काला जादू के समय काल की ये धारणा witchcraft in Europe से ली गई है जो की 1535-1835 के समयकाल के मध्य की है. इस दौरान Witch hunts, demonic activity, exorcisms, and rituals के लिए Witching Hour को सबसे सही समय माना जाता था.

ऐसा माना जाता है की Witching Hour के दौरान काली शक्तियां अपने चरम पर होती है तब वे खुले तौर पर हमारे सामने होती है और इसी दौरान एक खास समय तक उनका सामना करते हुए उन्हें रोका जा सकता है.

पौराणिक और धार्मिक तौर पर देखे तो ऐसी कई मान्यताए है नंबर 3 से जुड़ी हुई है. अगर आप एक Spiritual practitioner है तो इस समय का आपके ऊपर क्या असर हो सकता है और आखिर क्यों 3 से 5 बजे का समय इतना ज्यादा विवाद में है आइये जानते है सबकुछ.

What is Witching Hour in Hindi

ऐसी कई folklore और urban legends and long-held beliefs है जो 3 बजे से जुड़ी हुई है. आज भी काफी सारे लोग जब भी अपने साथ हुए अनसुलझे रहस्यों को साझा करते है तो वे इसे 3 बजे से जोड़ते है. इस बात में कितनी सच्चाई है कोई नहीं जानता है ऐसे में सबसे पहले biology and sleep cycles के बारे में जान लेना जरुरी बन जाता है.

क्या आप जानते है इस समय के बीच हमारी बॉडी के साथ क्या होता है ?

ज्यादातर लोगो के लिए ये समय REM का होता है जो की सबसे deep sleep cycle होता है. इस दौरान मस्तिष्क सबसे कमजोर होता है. इस दौरान दिल की धड़कन सबसे निम्न होती है, सोचने समझने की क्षमता आसानी से कण्ट्रोल की जा सकती है और काफी सारे जरुरी फंक्शन को लगभग न्यूनतम स्तर पर कर दिया जाता है.

इसकी वजह से जब भी अचानक हम नींद से उठते है Sleep paralysis experience से जूझने लगते है.

इसके अलावा एक मान्यता ये भी है की इस समय प्रकृति और spiritual activity अपने चरम पर होती है ऐसे में हम बेहद कम समय में खुद को universe के साथ connect कर सकते है. जो लोग witchcraft को follow करते है वे इस दौरान डेविल की पूजा करते है वही आध्यात्म को फॉलो करने वाले इस दौरान यूनिवर्स के साथ खुद को जोड़ते हुए Spiritual experience का आनंद लेते है.

आपको जानकर हैरानी होगी लेकिन Lucid dream, Astral travel जैसी activity के लिए ये सबसे सही समय होता है.

Read : Waking up at 3am every night top 5 Remarkable spiritual reason and Sign Hindi Guide

वास्तव में ये जादुई समय कब होता है ?

हम अभी तक ये देखते आये है की devil या spiritual दोनों तरह की एक्टिविटी के लिए कोई चुना हुआ समय नहीं होता है ऐसे में क्या Witching Hour यानि 3 से लेकर 5 बजे का समय इतना ज्यादा महत्वपूर्ण होता है ? यीशु को दोपहर के ठीक 3 बजे सूली पर लटकाया गया था और इसका विपरीत समय सुबह के 3 बजे होता है.

वैसे तो कई धारणा सुनने को मिलती है लेकिन ये कितनी वास्तविक है कोई नहीं जानता है. अलग अलग जगह के अनुसार ये धारणा बदलती रहती है ऐसे में कुछ ऐसी common धारणा के बारे में जान लेते है जो इस Witching Hour को खास बनाती है.

  • सुबह के ठीक 3 बजे से 4 बजे के बीच का समय जितना spiritual activity के लिए सही है उतना ही devil worship के लिए भी है. इस समय दोनों शक्तियां अपने चरम पर होती है.
  • कई जगह पर 2 AM, 3 AM. 3:33 AM का से witchcraft hour माना जाता है. ऐसा माना जाता है की दोपहर के ठीक 3 बजे ही Christ को crucify किया गया था. उनकी मौत के समय शैतानी शक्तियां अपने चरम पर थी और इसका विपरीत समय सुबह के 3 बजे है.
  • कई जगह मध्य रात्रि के समय जब full moon night हो तब witchcraft के लिए सबसे सही समय माना जाता है. ये एक समय काल होता है जो मध्य रात्रि से सुबह के 3 या 4 बजे के बीच का समय होता है. जब पूरे चाँद की रौशनी धरती पर पड़ती है तब जादू अपने highest form में होता है और इस दौरान की गई कोई भी ritual ज्यादा प्रभावी होती है. आपको याद हो तो love spell इस समय के बीच की जाती है.
  • Be-Witching hour जिसकी धारणा Australia में सबसे ज्यादा फॉलो की जाती है उनके अनुसार मध्य रात्रि से 3 बजे के बीच का समय जादू करने के लिए बेहतरीन समय होता है.
  • Japanese tradition के अलावा भारत के कई जगहों पर संध्या काल के ठीक पहले और बाद का समय जादू करने के लिए सही माना जाता है. ऐसा माना जाता है की इस दौरान छलावा जैसी शक्तियां अपना जादू दिखाती है और उनकी worship करना आपको 100% result देती है.

संध्या काल के दौरान का समय दोनों तरह की शक्तियों के लिए उपयुक्त होता है जिसकी वजह से इस समय ज्यादातर बुजुर्ग आध्यात्मिक गतिविधि पर जोर देते है. चौराहे पर रखे जाने वाले टोने और टोटके इस समय प्रभावी होते है.

What happens during the “Witching Hour”?

ये वो समय होता है जब जादू अपने strongest form में होता है. इस समय को the Devil’s Hour and the Holy Hour के नाम से जाना जाता है क्यों की अच्छी और बुरी दोनों तरह की शक्तियां इस वक़्त अपने चरम पर होती है. आइये जानते है की इस समय क्या क्या होता है.

  • Witches, conjurers, and sorcerers या फिर इनके जैसी एक्टिविटी से जुड़े लोग जो spell cast करते है वे आसानी से अपने प्रयोग में सफल होते है. जब सारी दुनिया सो रही होती है तब उन्हें Witching Hour के दौरान प्राइवेसी मिल जाती है.
  • ऐसा माना जाता हाई की ये समय आत्माओ के हमारी दुनिया में सफ़र का होता है. दोनों दुनिया के बीच की दीवार इस समय सबसे कमजोर होती है जिसकी वजह से वे आसानी से हमारी दुनिया में अपने मनचाहे लोगो से सम्पर्क कर सकते है.
  • haunted place इस दौरान और भी ज्यादा भयानक हो जाते है क्यों की paranormal activity इस दौरान बढ़ जाती है.
  • ये समय demonic possessions से भी जोड़कर देखा जाता है. ऐसा माना जाता है की इस समय शैतानी शक्तियां हम पर आसानी से हावी हो जाती है.

ये सभी गतिविधि इसी समय होती है. ज्यादातर मूवी में दिखाया जाता है की घडी में वक़्त अचानक एक वक़्त पर आकर रूक जाता है. Hollywood movie Conjuring में भी समय ठीक 3:07 पर रूक जाता है.

ये सभी गतिविधि ठीक Witching Hour पर क्यों होती है ?

सुबह के 3 से 4 बजे का वक़्त ही क्यों ? आखिर ये सभी गतिविधि इस वक़्त ही क्यों होती है इसके बारे में सोचा है आपने ? इसके पीछे कई वजह हो सकती है जो ठीक इसी समय होती है आइये जानते है की इस समय ये गतिविधि होने की वजह क्या है?

  • हम सब biological clock के बारे में जानते है. हमारी बॉडी एक Circadian Circle पर काम करती है. अगर आप इस दौरान किसी लम्बी यात्रा से गुजरते है तो हम “jet lag” syndrome से प्रभावित होने लगते है. इसी दौरान हम Witching Hour से गुजरते है जब हमारा Body temperature सबसे न्यूनतम स्तर पर होता है और हम deepest levels of sleep से गुजरते है.
  • इस समय के दौरान ही सबसे ज्यादा मौत होती है. रिपोर्ट के अनुसार हॉस्पिटल में सबसे ज्यादा मौते 3 बजे से 4 बजे के बीच ही होती है. इसकी सबसे बड़ी वजह हमारे बॉडी का कमजोर होना है.
  • सुबह के इसी समय हम सबसे ज्यादा Psychic sensitive होते है. ऐसा माना जाता है की इस समय हम आसानी से हम आत्माओ से संपर्क और महसूस कर सकते है.
  • इस समय हम आसानी से telepathic message को project कर सकते है.
  • सबसे ज्यादा Sleeping Paralysis experience इसी समय होते है. पुराने समय में superstitious people ऐसा मानते थे की witches and the demons की वजह से ही उनके साथ इस तरह के अनुभव होते है. इस समय वे अपने evil worship को अंजाम देते है और इसका असर दूसरे लोगो पर पड़ता है.

ये सभी वजह काफी है की ज्यादातर लोग Witching Hour के दौरान अलग अलग अनुभव करते है.

क्या आपकी नींद ठीक इसी वक़्त खुलती है ?

अगर आपकी नींद ठीक 3 के 4 बजे के बीच खुलती है तो इसके कई मतलब निकाले जा सकते है. साधक ठीक इसी समय खुद को ब्रह्माण्ड से जोड़ते है. यही वो समय होता है जब आप खुद को दूसरो से जोड़ते है और ठीक इसी वक़्त होने वाली मौते इस टाइम पीरियड को अलग बना देती है.

अगर आप जल्दी सो जाते है तो इस समय उठ जाना स्वाभाविक है लेकिन, अगर लेट नाईट सोने के बाद भी आपकी नींद इस समय के बीच खुल जाती है तो खुद को वक़्त दे. आपको अपने Biological clock को समझने की जरुरत है और insomnia जैसे किसी sleep issue पर ध्यान देने की जरुरत है.

Dream journal आपको इसे समझने में हेल्प कर सकता है. Witching Hour के दौरान हम Paranormal, Psychic, Spiritual activity से गुजरते है. अगर आपकी नींद इस वक़्त खुलती है तो आप खुद को इन तीनो गतिविधि में से किसी एक से जोड़ सकते है. अगर आपकी नींद इस वक़्त खुल जाती है तो वापस सोने की बजाय उस गतिविधि को महसूस करने की कोशिश करे जिसकी वजह से आपकी नींद खुली है.

Never miss an update subscribe us

* indicates required
Previous articleHow to heal from 7 Common Aura Problems and safe from Psychic Vampire Attack
Next article1 Powerful Hanuman Vashikaran mantra in Hindi for love vashikaran सबसे आसान और घरेलू उपाय
Nobody is perfect in this world but we can try to improve our knowledge and use it for others. welcome to my blog and learn new skill about personal | psychic | spiritual development. our team always ready to help you here. You can follow me on below platform

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here