खिला पिला कर किये वाले वशीकरण के दावे की सच्चाई और सबूत – एक बार जरुर अजमाना चाहिए

1

तंत्र मंत्र जैसे वशीकरण और black magic में किसी को खिलाने पिलाने से उसे किस तरह अपने कण्ट्रोल में लाया जा सकता है ? आपने youtube और इन्टरनेट पर पढ़ा और सुना होगा की खिला पिला कर उग्र यानि शक्तिशाली वशीकरण कैसे करे ? खिलाने पिलाने पर वशीकरण कितने दिन में असर करता है ? ज्यादातर लोग सबसे आसान उपाय में से एक how to do vashikaran by sweets or other items likes laung, ilaychi etc. ? इन्टरनेट पर मिठाई, चॉकलेट के जरिये प्रचंड वशीकरण वो भी 24 घंटे जैसे दावे करने वाले आपको काफी सारे मिल जाएंगे. खिला पिलाकर किये जाने वाला वशीकरण की हजारो विधि पढने को मिल सकती है और उनमे से कुछ काम भी करती है.

खिला पिलाकर किये जाने वाला वशीकरण

आज हम बात करने वाले है खाने पिने की चीजो से वशीकरण का वैज्ञानिक सच और इसे करने के लिए आवश्यक शर्ते. घरेलु उपाय में से एक जैसे सफ़ेद मिठाई, इलायची और लौंग जैसी चीजे वशीकरण में सबसे ज्यादा इस्तेमाल की जाती है. वशीकरण के लिए किये जाने वाले हवन की अभिमंत्रित भभूती भी यही काम करती है. ये सब कैसे काम करते है और कैसे हम भी आसानी से घर बैठे ये सब कर सकते है, जानते है आज की इस पोस्ट में.

खिला पिलाकर किये जाने वाला वशीकरण

वशीकरण कई तरीको से किया जा सकता है. इन्टरनेट और youtube पर आपको इसके हजारो तरीके मिल जाएंगे, लेकिन उसमे से सही तरीका कौनसा है और कैसे उसे हम घर पर कर सकते है ये जानना बेहद मुश्किल कार्य है. किताबो में देखा और youtube पर विडियो बना दिए और हो गया वशीकरण. बाद में जब पूछते है की क्या आप कर सकते है ? तो कहते है आप तरीका देखकर कर लो हो जाएगा. क्या उन्हें कुछ नहीं आता या फिर वो जो बता रहे है वो सही नहीं है ?

सभी तो नहीं पर कुछ लोगो के काम सही होते है. जहा तक बात है खुद कर के देने की तो हर किसी के साथ ऐसा नहीं होता है की वो कर सके. for example एक व्यक्ति जिसे इसकी सही जानकारी है लेकिन उसकी पर्सनल life में ऐसे काम आते है जिसकी वजह से वो विधान पूरा नहीं कर पाता है तो वशीकरण काम नहीं कर पाएगा. ये काम मौलाना या उच्च दर्जे के पंडित जिनका नियम से पूजा पाठ होता हो ही कर सकते है.

खिला पिलाकर किये जाने वाला वशीकरण एक वैज्ञानिक तरीका है जिसे अगर समझ लिया जाए तो ये आपके लिए आसान हो जाएगा. खान पान की वस्तु के साथ मंत्र प्रयोग या अभिमंत्रित वस्तु मिला कर अगर कुछ दिया जाता है तो वो खिलाने पिलाने से होने वाला वशीकरण कहलाता है. आइये सबसे पहले जानते है इसके पीछे का वैज्ञानिक महत्त्व और असर.

खिला पिलाकर किये जाने वाला वशीकरण कैसे काम करता है ?

क्या आप जानते है की आप जैसा खाते है आपका मन वैसा ही बन जाता है. for example प्याज खाने वाले व्यक्ति का मन उत्तेजना से भरता है और हरी सब्जिया खाने से मन भी स्वस्थ बन जाता है ठीक वैसे ही अगर आप किसी का मन बदलना चाहते है तो आपको माध्यम को उसी प्रकृति का खिलाना होता है. खिला पिलाकर किये जाने वाला वशीकरण 3 चीजो पर निर्भर करता है.

  1. करने वाले की खुद की उर्जा
  2. जरिया जिसके माध्यम से वो ये प्रयोग करता है.
  3. माध्यम का खुद का विवेक

आइये जानते है अलग अलग चीजो का असर क्या होता है.

# कर्ता की खुद की उर्जा

अगर आप खिला पिलाकर किये जाने वाला वशीकरण और उसके सरल उपाय जैसा कुछ देख रहे है तो आपको सबसे पहले अपनी energy पर focus होना होगा. इस energy में आपकी Will-power, determination, concentration ये सभी आते है. आपकी energy और will-power मिलेगी तो आपकी energy को बल मिलेगा जिस माध्यम में उसे भेजना है, determination के जरिये आप उसे किसी माध्यम के पास भेजने के लिए तैयार करते है ताकि वो बिच में ना टूट जाए. सबसे अंत में आती है concentration जो की आपकी energy को बनाये रखती है.

ये बिलकुल वैसा ही जैसे की आपका लक्ष्य आपके सामने होता है और आप थक जाते है तब आपकी यही energy आपको अपने लक्ष्य के प्रति टारगेट करती है. अगर आप इस स्टेप को समझ जाते है तो आप अपनी energy को किसी में भी ट्रान्सफर कर सकते है.

# जरिया जिसके माध्यम से प्रयोग होना है

आप माध्यम को क्या दे रहे है और किसके जरिये आपका काम बनेगा. खिला पिलाकर किये जाने वाला वशीकरण आप किस जरिये से करते है ये समझना बेहद जरुरी है. सबसे जल्दी असर किये जाने वाले माध्यम में से कुछ निम्न है जैसे की सफ़ेद मिठाई खासतौर से दूध की, लौंग, इलायची और पान ये सबसे बड़े माध्यम है जिसके जरिये आपका प्रयोग होने वाला होता है.

सिर्फ ये चीजे देना काफी नहीं है, इसके साथ आपको कुछ चीजे इसमें मिलानी होती है जैसे की मंत्र और फिर फूंक मारना, चीजो पर concentrate होकर उसमे अपनी energy flow करना. इसके अलावा एक चीज और होती है जो की सबसे गन्दी है और वो है मैल. ये मैल किसी का भी सकता है जैसे की पसीना, नाख़ून के टुकड़े, शरीर का मैल और कभी कभी मूत्र जैसे माध्यम भी इस्तेमाल किये जाते है ( ये black magic का हिस्सा है )

# माध्यम का खुद का विवेक

वशीकरण हर किसी पर असर नहीं करता है. इसकी वजह है Subconscious mind की अपनी समझ. एक और जहा हम दिन भर के चलने वाले विचारो से परेशान रहते है, वशीकरण इन्ही विचारो के कारण ज्यादातर सफल नहीं हो पाता है क्यों की माध्यम का उस ओर ध्यान ही नहीं जाता है. इसकी वजह से खिला पिलाकर किये जाने वाला वशीकरण सबसे ज्यादा प्रभावी माना जाता है क्यों की इसमें हम माध्यम के body के अन्दर वो चीज पहुंचा देते है जो आमतौर पर बाहरी जरियों से प्रभावशाली नहीं हो पाता है.

यहाँ पर अगर आप माध्यम को बार बार एक ही जरिये से इसका प्रयोग करते रहते है तो आपको एक महीने के अन्दर अन्दर रिजल्ट मिलने लगता है. इस दौरान अगर माध्यम को शक हो जाता है की आप कुछ कर रहे है तो माध्यम का विवेक बदल सकता है.

खिला पिलाकर किये जाने वाला वशीकरण का सच्चा अनुभव

ये बात आज से 5 साल पहले की है मै जयपुर के एक व्यक्ति के पास ऑनलाइन वर्क करता था. उस व्यक्ति के बारे में सबसे अजीब बात ये थी की पीठ पीछे चाहे आप उसे कितनी भी गाली दो लेकिन उसके सामने आपके मन में कोई बात आ ही नहीं सकती थी. मुझे वहां काम करते हुए साल भर से ज्यादा हो गया था और अब मेरे मन में पैसे बढाने के बारे में ख्याल था की कम से कम 1000 रूपये की increment तो होनी ही चाहिए.

काम के बाद शाम को जाने के टाइम मैंने अपनी बात उनके सामने रखी तो उन्होंने टाइम लगा दिया और इसी दौरान शाम की चाय भी आ गई. चाय पिने के बाद बात करने बैठे तो काम को लेकर बात होने लगी और अचानक उन्होंने कहा की देखो में सिर्फ 500 ही बढ़ा सकता हूँ !

मेरा दिमाग काम करना ही बंद कर चूका था, नजरे नीची और मैंने बस हाँ कर दी.

कुछ दिन बाद फिर मेरे मन में आया की चलो अब तो काम में लेकर कुछ बदलाव करवा लेते है. लेकिन जब भी टाइम होता पता नहीं क्या हो जाता था सारा शरीर सुन्न हो जाता था, मन में एक अजीब सा आलस आने लगा था. अपनी बात मैंने अपने सहयोगी के साथ रखी तो उसने कहा की उसे भी ऐसे ही लग रहा है.

खिला पिलाकर किये जाने वाला वशीकरण – क्या क्या खिलाया जा रहा था

मै जब वहा पर काम में लगा था तब मुझे वहां सुबह जाने के थोड़े टाइम बाद सुबह की चाय मिलती थी जिसका taste कभी एक जैसा नहीं रहता था. कभी अदरक, कभी लौंग तो कभी इलायची की चाय. कहने पर जवाब मिलता इससे चाय अच्छी बनती है जिसकी वजह से कई बार पी लेते कई बार रहने देते. इसके अलावा मंगलवार को मावे की मिठाई आती थी जिसके ऊपर गुलाब की पत्ती मिलती थी. उनका कहना था की ये बालाजी का प्रसाद है और सबसे पहले हमारे पास ही आता था.

शुरू में मुझे ये सब कुछ खास नहीं लगा लेकिन बाद में जब शक होने लगा तो मैंने चाय पीना कम कर दी और अंत में बंद कर दी. इसके कुछ दिन बाद ही मुझे ऐसा लगने लगा जैसे दिमाग पर से बोझ हट गया हो और काम में वही स्फूर्ति आने लगी. अब मै किसी भी बात को पलट कर जवाब दे सकता था.

बाद में मैंने वो काम छोड़ दिया और फिर कभी वहा काम करने नहीं गया. ये कोई कहानी मेरा खुद का खिला पिलाकर किये जाने वाला वशीकरण का सच्चा उदाहरण है. ये सिर्फ आपको ये बताने के लिए है जिन चीजो को आप मामूली समझते है उन्ही के जरिये आप अपने असर को बढ़ा सकते है.

खिला पिलाकर किये जाने वाला वशीकरण – अंतिम विचार

how to do vashikaran on some one by sweets ? क्या खिला पिलाकर किये जाने वाला वशीकरण ज्यादा प्रभावी होता है ऐसे ही कई सवालों का आपको जवाब मिल गया होगा. खिला पिला कर किये जाने वाला वशीकरण कितने दिन में असर दिखाता है जैसे कई सवाल आपके मन में उठते होंगे क्यों की expert की fees ज्यादा होती है और फ्रॉड का भी डर होता है. इसलिए आप सही तरीके का चुनाव कर अपने तरीके से भी इसे कर सकते है.

हमारी ज्यादातर पोस्ट सामाजिक जागरूकता को लेकर होती है. आज वशीकरण को लेकर हजारो फ्रॉड बाबा इन्टरनेट पर बैठे है. अपने विवेक का प्रयोग कर आप उनसे बच सकते है. पोस्ट पसंद आये तो शेयर करना ना भूले.

इन पोस्ट को पढना ना भूले

  1. वशीकरण के लिए काम-पिशाचनी साधना जो बेहद चमत्कारिक लेकिन खतरनाक है – सावधान
  2. घर बैठे किये कराये जैसे वशीकरण और काले जादू की काट करने का सरल उपाय जो सुलभ है
  3. अगर आप खुद में ये बदलाव महसूस करते है तो हो सकता है आप पर वशीकरण का खतरा
  4. क्या आप भी सबसे सस्ता वशीकरण उपाय देख रहे है ऐसा करने से पहले इसे जरुर पढ़ ले
  5. इस तरह श्री यन्त्र त्राटक साधना करने पर तीनो जगत वशीकरण की शक्ति मिलती है

1 COMMENT

  1. I think this is among the most vital information for me.
    And i am glad reading your article. But should remark on some general
    things, The web site style is ideal, the articles is really great : D.
    Good job, cheers

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.