भारत के टॉप ऐसे अनसुलझे रहस्य जिनका जवाब किसी के पास नहीं है

1

भारत के अनसुलझे रहस्यविश्व भर ऐसी सेंकडो घटनाए है जिसका विज्ञान के पास कोई जवाब नहीं है लेकिन क्या आपको पता है भारत भी ऐसी घटनाओ का केंद्र रह चूका है। भारत एक आध्यात्मिक देश है जहा चमत्कार होते रहते है। भारत के अनसुलझे रहस्य जिन्हे अभी तक सुलझाया नहीं जा सका है। अलग अलग जगह इनके बारे में हमें एक नई कहानी सुनने को मिल सकती है। ऐसी घटनाए समय समय पर हम सबका विश्वास ईश्वरीय शक्ति, आध्यात्म पर मजबूत करती है और विज्ञान के सामने एक नई चुनौती। unsolved mystery of india hindi

दोस्तो इंसानी मन कितना शक्तिशाली है ये हम सभी जानते है लेकिन क्या आप ये भी जानते है की जो भी पारलौकिक और रहस्यमयी घटनाए अब तक विश्वभर में घटी है उनका कही भी वैज्ञानिक नजरिये से कोई संबंध नहीं है ये काफी है ये साबित करने के लिए की विज्ञान ही सबकुछ नहीं है। इस दुनिया में इससे बढ़कर भी कुछ है जो अब तक सिर्फ एक रहस्य है लेकिन आने वाले समय में इसका अस्तित्व होगा जैसा आज विज्ञान का है।

भारत के अनसुलझे रहस्य

भारत देश आध्यात्म और पारलौकिक रहस्यो के केंद्र में से एक है। यहाँ अक्सर ऐसी कई घटना घटती है जो वैज्ञानिक नजरिये से असंभव होती है। आज हम ऐसी ही कुछ घटनाओ का जिक्र इस पोस्ट में करने वाले है जो आपको सोचने पर मजबूर कर देगी की क्या विज्ञान ही सबकुछ है। विज्ञान से बढ़कर भी कुछ है जिसे हम आज समझ नहीं पा रहे है लेकिन आने वाले वक़्त में जरूर समझ पाएंगे।

जुड़वाँ बच्चो का गांव :

केरल के कोढ़िनी गांव की टोटल पापुलेशन 2000 है। इनमे से 200 परिवार के बच्चे जुड़वाँ है। ये एक पहेली ही है की इतनी मात्रा में जुड़वाँ बच्चे कैसे हो सकते है।

जोधपुर की वो बूम की आवाज :

18 दिसम्बर 2012 की रात को जोधपुर के आसमान में रहस्यमयी बूम सुनी गई। ये बूम विश्व के अलग अलग हिस्सों में भी सुनी गई थी, जयपुर के हवामहल के पास से भी लेकिन ये “बूम”की आवाज थी किसकी ये अब तक एक रहस्य ही बना हुआ है क्यों की लोगो को कुछ दिखा नहीं ना ही किसी तरह के राडार में कुछ दिखाई दिया।

पढ़े : आध्यत्मिक झुकाव को और भी करीब से महसूस करे गुरु मूर्ति त्राटक द्वारा

भारत के अनसुलझे रहस्य – 9 रहस्यमयी लोग :

सम्राट अशोक के 9 लोगो का ग्रुप भी विश्व के लिए एक पहेली है। अशोक के पास ऐसे 9 लोगो का ग्रुप था जो पुरे विश्व के अलग अलग क्षेत्र का ज्ञान रखते थे। इन्हे सम्राट की मौत तक देखा भी गया लेकिन इसके बाद ये 9 लोग कहा गायब हो गए कोई नहीं जानता। अगर इनका ज्ञान आज विश्व को मिल जाए तो ऐसा माना जाता है की हम तकनीक में काफी आगे तक पहुँच सकते है।

ताजमहल क्या है हकीकत में :

ताजमहल को प्यार की सबसे बड़ी निशानी माना जाता है लेकिन ये वास्तव में क्या है ? एक मकबरा या फिर एक हिन्दू मंदिर क्यों की इसके गर्भ में शिव-लिंग होने की बाते सामने आई थी जिसका अभिषेक दीवारों से टपकती पानी की की बुँदे करती है। ये बून्द भी एक रहस्य है क्यों की इन बूंदो के निकलने के स्थान पर कुछ नहीं है जिससे पानी निकलता हो। ऐसे में ये भी एक रहस्य बना हुआ है।

कुलधरा-श्रापित गांव – भारत के अनसुलझे रहस्य :

कुलधरा अपने समय में ब्राह्मणो का हँसता खेलता गांव था फिर अचानक ऐसा क्या हुआ की कुलधरा एक ही रात में वीरान हो गया। इसके बारे में वैसे तो अनेको कहानिया फेमस है लेकिन कुछ जानकारों का ये कहना है की ये एक शाप का नतीजा है। कुलधरा के दिवान की नजर ब्राह्मणो की बेटी पर आ गई और लोगो ने उससे बचने के लिए गांव को रातो रात ही खाली कर दिया। लेकिन एक रात में ये सरे ब्राह्मण गए कहाँ ? इनका कोई सबूत नहीं मिला है।

इतना ही नहीं ये भी माना जाता है की कुलधरा एक श्रापित ही नहीं भटकती रूहो का ठिकाना भी है। एक अन्य कहानी के अनुसार इस गांव के सभी लोगो की भटकती आत्माए आज भी इसी गांव में बंधी हुई है। न तो कोई रात को बाहरी व्यक्ति इस गांव में रुक सकता है क्यों की रात को एक अजीब सा अहसास यहाँ के वातावरण में होता है साथ ही पारलौकिक अनुभव भी।

पढ़े : इन बदलाव को पहचान कर आप भी ऊर्जा को चोरी होने से बचा सकते है

कोंगका-ला-पास का यूफओ बेस :

भारत और चीन की बॉर्डर के पास पहाड़ी पर ऐसी कई अजीबोगरीब घटनाए देखी जा चुकी है पर सिस्टम के पास इनका कोई जवाब नहीं है। ऐसा माना जाता है की इस स्थान पर यूएफओ देखा चुका है और लोगो का कहना है की इस जगह उनका सीक्रेट बेस है। खैर ये भी एक अनसुलझी पहेली है।

शांति देवी

पूर्वजन्म की सच्ची कहानिया हम पहले ही पढ़ चुके है लेकिन क्या हकीकत में ऐसा है जो अपने पूर्वजन्म के रिश्तेदार के पास गया हो। शांति देवी मथुरा से ऐसी ही एक औरत थी जो अपने पिछले जन्म को पता नहीं कैसे याद रख पाई थी। जब वो 4 साल की थी तब उसे अपने पिछले जन्म से जुड़ी सभी बाते याद थी। ऐसा होता है या नहीं ये वैज्ञानिको के नजर में आज भी एक रहस्य है।

नेताजी सुभाष चंद्र बोष की मौत :

नेताजी सुभाष चंद्र बोष की मौत कैसे हुई कोई नहीं जानता क्यों की अब तक लोगो ने पढ़ा था की एक प्लेन हादसे में उनकी मौत हुई थी। लेकिन खुलासे के बाद ये पता चला की वो जिन्दा थे और उनकी मौत स्टालिन के हाथो हुई थी। अन्य जानकारी में उनके अपने लास्ट दिनों में अंडरग्राउंड होने की खबरे भी सामने आयी थी। हकीकत में सुभाष चंद्र बोष की मौत कैसे हुई कोई नहीं जानता ना ही कोई साबित कर पाया है क्यों की अलग अलग सबूत मिलने की वजह से ये भी एक पहेली बना हुआ है।

पढ़े : छाया पुरुष से जुड़ी रोमांचित कर देने वाली ये खास बाते क्या आप जानते है ?

बुलेट बाबा – भारत के अनसुलझे रहस्य :

ॐ बन्ना को राजस्थान में एक फरिश्ता मान कर लोग उनकी पूजा करते थे। ॐ बन्ना की मौत एक एक्सीडेंट में हुई थी और जब पुलिस उनकी बुलेट को थाने ले गई उसके दूसरे दिन वही बुलेट थाने में नहीं उस जगह घटनास्थल पर मिली थी। पुलिस ने कई बार उस बुलेट को घटनास्थल से हटवाया लेकिन बार बार वो वही मिली। यहाँ तक की जब bullet में पेट्रोल नहीं था तब भी वो कैसे थाने से घटनास्थल पर पहुंची कोई इस रहस्य को सुलझा नहीं पाया। हार कर पुलिस ने भी उसे वही रहने दिया।

लोगो का मानना है की ॐ बन्ना उस जगह होने वाले एक्सीडेंट से लोगो को चेताते है और उन्हें बचाते है। ऐसा कई बार लोगो के साथ हुआ की जब उनकी गाड़ी कण्ट्रोल से बाहर हुई और ॐ बन्ना को याद करने के बाद वो सही तरह से राजस्थान के मौत के हाईवे से बाहर निकल पाए। लोगो ने उन्हें एक फरिश्ता मानना शुरू कर दिया और उनकी पूजा करने लगे। ये सब कैसे होता है किसी के पास वैज्ञानिक जवाब नहीं है।

स्टोनमैन – सीरियल किलर

इंडिया के मुंबई और फिर कलकत्ता में हुए सीरियल मर्डर तो आपको याद ही होंगे। न्यूज़-पेपर में कई दिनों तक सुर्खियों में रहने के बाद भी इसे कोई सुलझा नहीं पाया था। एक ऐसा व्यक्ति जो रात को गलियों में भीख मांगने वाले या फिर कूड़ा चुनने वाले लोगो को अपना शिकार बनाता था। ऐसा क्यों और कौन कर रहा था कोई पता नहीं कर पाया।

लोगो का मानना था की ऐसा कोई मानसिक रोगी ही होगा जो भिखारियों को अपना शिकार बना रहा है। सीरियल मर्डर करने वाला लोगो के चेहरे को बड़े से पत्थर से कुचल कर पहचान ना सकने की हालत में मार रहा था। अब सवाल ये रहा की कोई भला ऐसा क्यों कर रहा है। साइकोलोजिस्ट का कहना है की ऐसा करने वाले मानसिक रोगी होते है जिन्हे किसी खास चीज से नफरत होती है।

पढ़े : विश्व को बदलने वाले अविष्कार जो अगर आज होते तो दुनिया ही कुछ और होती

भारत के अनसुलझे रहस्य – प्रह्लाद जानी :

प्रहलाद जानी भारत के उन लोगो में है जो प्रकृति के नियम के विपरीत जीवन जी रहे थे। उनका दावा था की वो बगैर खाये पिए जी सकते है 1940 तक उन्होंने बिना कुछ खाए पिए अपना जीवन बिताया था। सच्चाई पता करने के लिए उन पर कई एक्सपेरिमेंट भी किये गए जिसमे उन्हें अकेले ऐसे कमरे में रखा गया जिसमे खाने पिने के लिए कुछ नहीं था। बावजूद इसके वो कैसे जीवित रहे ये कोई नहीं समझ पाया।

जतिंगा पंछियो का सुसाइड :

असम के एक गांव में पक्षियों का बहुत बड़ी मात्रा में सुसाइड करना भी सबसे बड़ी पहेलियों में से एक है। भारत के रहस्य की कड़ी में से एक इस गांव में पक्षी एक साथ बहुत बड़ी मात्रा में सुसाइड करते है। खासतौर से मानसून के समय पक्षियों का झुण्ड आसमान से निचे उतरता है और खुद को चोट पहुंचाता हुए मरने लगते है।

येति :

हिमालय की चोटियों में भी ऐसे कई रहस्य है जिन्हे समझना अभी बाकी है। हम सभी जानते है की हिमालय में सिद्ध योगी आज भी तप कर रहे है। कैलाश पर्वत पर महादेव का वास भी माना जा रहा है लेकिन बर्फ पर देखे गए बड़े बड़े पैरो के निशान किसके है और कैसे आये ये किसी के समझ से परे है। किसी के भी पैरो के निशान इतने बड़े नहीं है जो हिमालय की बर्फ पर मिले है।

प्राचीन समय से हम इंसानो के पूर्वज बंदर रहे है और ऐसा भी माना जा रहा है की उन्ही की एक प्रजाति जो भीमकाय, शक्तिशाली और बुद्धिमान है हिमालय पर रहती है। लोग इसे येति का नाम देते है क्यों की ये भी बंदरो की एक प्रजाति है। लेकिन क्या हिमालय के इस वातावरण में भीमकाय येति रहते है और ये है कैसे इसके बारे में अभी तक सिर्फ कयास लगाए जा रहे है। कई फिल्मो को इन पर बनाया भी गया है।

हैंगिंग पिलर :

अनंतपुरा के लेपाक्षी मंदिर के पिलर रहस्य बने हुए है क्यों की ये धरती की सतह से कुछ ऊपर है। इतना ऊपर की इनके निचे से हम कपडे को बिछा सकते है। ऐसा कैसे हो सकता है ये कोई नहीं जानता क्यों की वैज्ञानिक नजरिए से ऐसा होना असंभव है।

पढ़े : गड़े हुए खजाने के इस खौफनाक सच को जानने के बाद भी क्या आप इसे हासिल करना चाहेंगे

भारत के अनसुलझे रहस्य – रूपकुंड लेक

उत्तराखंड की रूपकुंड झील भी भारत के रहस्य में से एक है जिन्हे अभी तक कोई सुलझा नहीं सका है। ये झील जब गर्मी में पिघलती है तो इसके तल में सिर्फ कंकाल दिखाई देते है। ये झील इस कदर कंकालों से भरी पड़ी है की अब तक साफ नहीं की जा सकी है। इस झील को लेकर कई कहानिया भी लोगो में लोगो में फेमस है जिसमे एक कहानी के अनुसार 1942 में जापानी सैनिको की मौत के बाद उनके कंकाल इस झील में बहकर आये है।

अन्य कहानी के अनुसार तूफान में लोगो की बहुत ज्यादा मात्रा में मौते होने के बाद उनकी लाशे इस झील में बह कर आयी होगी। यही नहीं कुछ लोगो के अनुसार ये कोई नहीं जानता ये कंकाल किसके है और कैसे इस झील में आये। ये झील अब तक इन कंकालों से खाली नहीं हुई है। इतनी ज्यादा मात्रा में कंकालों का मिलना अपने आप में एक रहस्य है।

भारत के अनसुलझे रहस्य :

दोस्तों भारत के अनसुलझे रहस्य की आज की पोस्ट आपको कैसी लगी हमें जरूर बताये। अगर आपके आसपास भी ऐसी कोई घटना घटी हो जो अनसुलझी है तो हमें जरूर बताए। साथ ही हमें सब्सक्राइब जरूर करे ताकि हम आपको नए अपडेट आपके ईमेल बॉक्स में भेज सके।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.