Understanding the Ten Bodies और इसका kundalini awakening sequence में योगदान

2

क्या आप भी अपने life’s purpose को समझकर fullest potential को हासिल करना चाहते है. Kundalini Yoga एक an ancient practice है जो powerful energy को channel करता है और इसी वजह से आप अपनी पूरी जिंदगी को बदल सकते है. इसके जागरण के लिए कई अलग अलग तकनीक है जिसमे से Understanding the Ten Bodies एक है. ये दस शरीर हमारे लिए काफी महत्वपूर्ण है क्यों की इन्ही में हमारे Health related issue छिपे होते है. हमारा शरीर 10 bodies से बना है जो की अलग अलग nutshell की तरह काम करता है.

हमारे लिए इन बॉडी को समझना आवश्यक है क्यों की किसी व्यक्ति की Nature, power and behavior इन्ही 10 बॉडी से जुड़ी हुई है. किसी को समझना है तो उसकी इन्ही बॉडी को समझना होता है. इन सबके अपने Gift and challenge होते है. उदाहरण के लिए हमारी Soul body हमें secure feel करवाती है. हम इसे अपने ह्रदय से जुड़ कर समझ सकते है. आइये जानते है की कुण्डलिनी जागरण की प्रक्रिया में इन 10 Bodies का क्या रोल है और इन्हें बैलेंस करना कितना जरुरी है.

Understanding the Ten Bodies

खुद के बारे में अगर समझना है तो हमें balance and harmony की प्रक्रिया से गुजरना होता है. ये एक प्रक्रिया है जिसमे हम सभी Nutshell को समझते हुए हमारे Physical body से connection को समझते है. आप चाहे तो इसके लिए Tantric Numerology का सहारा भी ले सकते है.

अगर आप अपने Date of Birth के बारे में जानते है तो सभी 10 Bodies and their connection with number को समझते हुए आगे बढ़ा जा सकता है. ये एक तरीका है जो हमें साफ और बेहतर तरीके से इसकी क्लियर पिक्चर को समझने में मदद करता है. हम जान पाते है की हमें किस बॉडी पर फोकस करना है और कुण्डलिनी जागरण की प्रक्रिया में आगे बढ़ना है.

Understanding the Ten Bodies

Physical world में हम इन आँखों द्वारा एक शरीर को सिर्फ Physical body के रूप में देखते है लेकिन ये बॉडी 10 अलग अलग Nutshell से मिलकर बनी है ये बात बहुत कम लोग जानते है. विज्ञान अभी तक Aura energy field तक पहुँच पाया है लेकिन psychic ability से जुड़े एक्सपर्ट ज्यादातर बॉडी को न सिर्फ महसूस कर पाते है बल्कि उन्हें रीड भी कर सकते है.

आपने सुना ही होगा की कुछ Spiritual guru and guide अपने शिष्य के साथ Physical body छोड़ने के बाद भी जुड़े रहते है. ऐसा वे अपने Subtle body के कारण कर पाते है. हमारे भौतिक शरीर से जुड़ी इन अलग अलग बॉडी को बैलेंस रखने के लिए कई प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है.

ये महत्वपूर्ण इसलिए है क्यों की ये विधि कुण्डलिनी जागरण को एक चरण प्रक्रिया में पूरा करती है. इससे पहले की हम कुण्डलिनी जागरण की प्रक्रिया में आगे बढे पहले बात करते है Understanding the Ten Bodies के बारे में यानि इनके बारे समझते है.

1. Soul Body

इसे हम flow of spirit भी कहते है या फिर आम भाषा में हमारी आत्मा भी कह सकते है. ये हमारी foundation और true self होती है जिसके बगैर हमारी कल्पना भी संभव नहीं है. इसी बॉडी की वजह से हम दिल से जीते है. हमारी Soul Body उन सभी कार्यो के लिए Respond करती है जिनका connection हमारे दिल से है और कुण्डलिनी जागरण में मदद कर सकता है.

दूसरे शब्दों में समझे तो इसका मुख्य कार्य life force energy को हमारे Spine से ऊपर उठाना है.

2. Negative Mind

हमारे बॉडी में ये दूसरे नंबर पर आती है. यहाँ नेगेटिव का मतलब किसी तरह के Negative thought, emotion or activity से नहीं है बल्कि उस Negative Mind से है जो constantly working करता है ताकि हम danger or negative potential जैसी परिस्थिति से बाहर निकल सकते है.

हमारे मस्तिष्क के 3 भाग होते है जिसमे Negative Mind हमें बाहरी परिस्थिति, खतरे और Dark Intrusive thoughts से सेफ रखता है. नेगेटिव माइंड को discipline and integrity से balanced किया जाता है.

3. Positive Mind

हमारे माइंड के 3 भाग में से एक Positive mind है. Positive mind वो बॉडी है जो beneficial, positive, and affirming जैसे thoughts को attract करती है. हर तरह की वो Opportunity जिसके जरिये हमें benefit मिल सकता है उसे ये body पहचानती है और उनके लिए जिन resources की जरुरत है उसकी पहचान करती है.

Understanding the Ten Bodies का एक महत्वपूर्ण भाग ये बॉडी willpower को मजबूत करती है जिसकी वजह से हमें आगे बढ़ पाते है. ऐसा माना जाता है की इस Positive mind body को स्ट्रोंग बनाने के लिए हमें strengthen our navel point पर काम करना चाहिए.

हमारा नाभि क्षेत्र बॉडी में शक्तिशाली उर्जा का केंद्र माना जाता है और इसे मजबूत बनाकर हम खुद को पॉजिटिव और स्ट्रोंग बना सकते है.

4. Neutral Mind

हमारा Neutral Mind इस बॉडी में चौथे नंबर पर आता है. इसका मुख्य काम पहले के दोनों माइंड यानी positive and negative mind से जानकारी को ग्रहण करना और उसके परिणाम को आकलन करना होता है. पूरी प्रोसेस के बाद ये हमें आगे की प्रोसेस के लिए गाइड करता है.

हमारा ये माइंड compassionate, intuitive होता है जो हमें किसी भी परिणाम की पहचान करने के लिए तैयार करता है. अगर इस बॉडी को बैलेंस करना है तो meditation एक बेहतर उपाय है.

 5. भौतिक शरीर

Physical Body हमारी बॉडी का पांचवा हिस्सा है. हमारा भौतिक शरीर एक मंदिर की तरह है जहाँ पर बाकि बॉडी अस्तित्व बनाए रखते है. हमारा भौतिक शरीर हमें खुद को और लाइफ को बैलेंस करने की क्षमता प्रदान करता है. Physical body की वजह से हम खुद की भावनाओ और सपनो को पूरा करते है या फिर किसी खास वजह से scarifies करते है.

The subtle body and kundalini activation

अगर इस बॉडी को मजबूत बनाना है तो Daily exercise को follow करे. आप क्या सीखते है उसे शेयर करे और सबक से आगे बढे. Understanding the Ten Bodies and kundalini awakening sequence में आगे बढ़ते हुए अब बात करते है एक खास तरह की बॉडी के बारे में जिसे spiritualism से जोड़ा जाता है.

6. Arcline

हमारे भौतिक शरीर के चारो ओर एक पतली सी लेयर होती है जिसे Arcline Body के नाम से जाना जाता है. ये बॉडी शरीर को घेरे हुए होती है जिसे हम गौर करे तो कान और बाल वाली जगह पर इसे देख सकते है. महिलाओं में ये लेयर 2 होती है जो उनके breast line के आसपास Visualize होती है.

ये वो बॉडी है जिसके जरिये हम खुद को कही भी प्रोजेक्ट करते है इतना ही नहीं आने वाले कल की घटनाओं को महसूस करने का काम भी इसी बॉडी का है. आपने देखा होगा की कुछ लोगो के पास किसी भी mysterious and paranormal activity को महसूस करने की क्षमता होती है. उन्हें ये क्षमता इसी बॉडी की वजह से मिलती है.

किसी भी विचार पर फोकस करना हो या फिर meditate ये हमारे Arcline Body का काम होता है. हमारी बॉडी में pituitary gland इसके जरिये respond करता है और Third eye gazing or activation जैसी प्रोसेस भी होती है.

7. Understanding the Ten Bodies – Aura

हमारा औरा seventh body के नाम से जाना जाता है. ये बॉडी हमारे physical body के चारो ओर electromagnetic field of energy का जाल होता है. विज्ञान भी Aura energy field को माप सकता है. हमारे चारो ओर एक जाल की तरह हम उर्जा कवच को समझ सकते है.

हमारा Aura energy field हमारे life force energy के लिए एक container की तरह act करता है. इसके साथ ही इसका काम shield of protection का होता है. इसकी वजह से हम खुद को energetically and consciously महसूस करते है. जितना ज्यादा औरा मजबूत होगा हम उतना ही उर्जावान खुद को महसूस करते है.

औरा क्षेत्र को मजबूत करने के लिए ध्यान का अभ्यास करना सबसे बेहतर अभ्यास है. आप चाहे तो Zazen meditation का सहारा ले सकते है जो हमारे औरा क्षेत्र को मजबूत बनाता है.

8. Pranic Body

हमारे बॉडी के 8th layer में Pranic Body आती है जो की निरंतर सांसो की प्रक्रिया के जरिये हमें जीवन का अहसास करवाती है. किसी भी कार्य को पूरा करने के लिए gift of energy देने का काम भी इसी Pranic body का ही है. अगर आप इस बॉडी को मजबूत बनाना चाहते है तो pranayama का अभ्यास करना positive impact डालता है.

9. Subtle Body

हमारे नवे बॉडी को Subtle Body के नाम से जाना जाता है. असंभव के पार देखने का काम इस बॉडी का है. हम universe की हर घटना को नंगी आँखों से नहीं देख पाते है इसके लिए हम subtle body का सहारा लेते है. ऐसा माना जाता है की subtle body हमारे soul body को कवर करती है और मरने के बाद उसे शरीर से बाहर carry करने का काम भी इसी बॉडी का है.

धर्म में गुरु के Physical body को छोड़ने के बाद भी शिष्य को गाइड करने के कई किस्से है. spiritual teacher अपने बॉडी कप छोड़ने के बाद भी लोगो को गाइड करते है कैसे ? ऐसा वे अपने Subtle Body की वजह से ही कर पाते है. हम किसी ज्ञान को कितनी गहराई से समझ और उतर सकते है ये इसी बॉडी पर निर्भर करती है.

अगर आप Kundalini practice करते है तो आपको 1000 दिन लग सकते है इस बॉडी को बैलेंस करने के लिए ऐसा धर्म गुरु का मानना है.

10. Radiant Body

जैसा की नाम से जाहिर है ये वो बॉडी है जो Radiant करती है. अगर आप किसी well-developed and balanced Radiant Bodies की personality वाले किसी इन्सान से मिले है तो आपने महसूस किया होगा की हम कैसे उनकी ओर अपने आप Attract होते जाते है. इस बॉडी को मजबूत बनाने के लिए आपको Commitment करना होगा.

हम जो भी सोचते है अगर उसे पूरा करने की ठान ले और खुद को Commitment करना शुरू कर दे तो इससे हमारी Willpower पर असर पड़ेगा जो इस बॉडी को Radiant करने का काम करेगी. Kundalini activation process में अगर हम kindness, truth, and excellence in life को लेकर आगे बढ़ते रहे तो यक़ीनन ये हमारी Radiant Body को amplify करने का काम करेगा.

हमारा शरीर इससे भी आगे है

Understanding of the Ten Body system की इस कड़ी में एक और कड़ी है हमारा ग्यारवा शरीर. इसे embodiment Body का नाम दिया गया है. हम इस स्थिति में तब होते है जब हम किसी भी दोहरी स्थिति से अलग होते है. इस स्थिति में हम flow of truth, balance, and the divine के सहारे आगे बढ़ते है. सभी दस बॉडी बैलेंस्ड होती है और हम समाधी की अवस्था में आगे बढ़ते हुए इस ग्यारहवे शरीर तक पहुँचते है.

इसे अनंत का सोर्स माना जाता है जहाँ पर मंत्रो की उत्पति होती है.

किसी भी तरह का Kundalini Yoga का अभ्यास balance and strength of the Ten Bodies से जुड़ा होता है. यहाँ कुछ अभ्यास किसी भी एक बॉडी से जुड़े होते है जबकि दूसरे अभ्यास सभी दस बॉडी पर काम करते है. क्रिया एक खास तरह की series of postures, breath, and sounds होती है जिसमे परिणाम कुण्डलिनी जागरण होता है.

ये सभी अभ्यास हमारे अन्दर sequence of physical and mental changes लाने के लिए किये जाते है जिसकी वजह से body, mind, and spirit पर कुछ बदलाव देखने को मिलते है. अगर आप कुण्डलिनी जागरण की प्रक्रिया को दस बॉडी को जागरण के जरिये करना चाहते है तो आपको Awakening to the Ten Bodies क्रिया का अभ्यास करना चाहिए.

Understanding the Ten Bodies final thought

Kundalini awakening sequence को समझने के लिए हमें Understanding the Ten Bodies की प्रोसेस से गुजरना होता है. हमारा शरीर सिर्फ Physical body को represent नहीं करता है बल्कि कई अलग अलग उर्जा बॉडी को भी समेटे हुए होता है. एक सम्पूर्ण शरीर 10 या यूँ कहे की 11 अलग अलग बॉडी से मिलकर बनता है.

कुण्डलिनी जागरण की प्रक्रिया में हमें इन्ही बॉडी को बैलेंस बनाते हुए आगे बढ़ना होता है. Spiritual teacher हमें इन्ही बॉडी के जरिये कांटेक्ट करते हुए गाइड करते है ये बात हम समझ चुके है. एक इंसानी क्षमता को अपने 100% potential तक पहुँचने के लिए इन सभी बॉडी से होकर गुजरना होता है.

इस वक़्त काफी सारे Yoga Journal’s 6-week online course भी लोगो द्वारा लिए जा रहे है. अगर आप आगे बढ़ना चाहते है तो mantras, mudras, meditations, and kriyas के खास अभ्यास के जरिये आप खुद को बदल सकते है. अगली पोस्ट में हम इन्ही दस बॉडी के जागरण की अलग अलग चरण प्रक्रिया के बारे में समझेंगे.

Never miss an update subscribe us

* indicates required

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here