Types of Jinn Possession जिन्नात इंसानों के शरीर पर किस तरह कब्ज़ा करते है

0

कहते है इश्वर / अल्लाह ने मिटटी से इंसानों को बनाया आग से जिन्नात को और हवा से फरिश्तो को. Jinn को ये पसंद नहीं था की अल्लाह इंसानों को ज्यादा पसंद करते थे. जिन्नात ने अल्लाह के फरमान को मानने से मना कर दिया और इसकी वजह से अल्लाह ने उसे नरक की तरफ धकेल दिया. समय समय पर ये Djinn लोगो को अपना शिकार बनाने की कोशिश करते है. ऐसे बहुत से Types of Jinn Possession होते है जो हमें उनके बारे में जानकारी देते है.

अगर आपको ये जानना है की किस तरह Paranormal activity का शिकार हुए है तो Jinn Presence and Departure पर गौर करे आपको इसके बारे में पता चल जायेगा. जब एक जिन्नात किसी व्यक्ति को अपना शिकार बनाते है तब क्या होता है और इंसानी शरीर पर The Jinn Effects कैसे होते है इसके बारे में आज बात करते है.

Types of Jinn Possession

एक जिन्न की उम्र 1000 से 1800 साल हो सकती है. अलग अलग किस्म के इंसानों की तरह ये भी अलग अलग होते है और इंसानी दुनिया से अलग रहते है. जिन्नात की सिर्फ कुछ प्रजाति ही इंसानी मेल जोल को बढाने के उदेश्य से हमारी दुनिया में आती है. शैतानी प्रवृति के जिन्नात अक्सर महिलाओ को अपना शिकार बनाते है. घने जंगल और सुनसान जगह पर महिलाओं को खासकर perfume लगाकर जाने से बचना चाहिए. खुले बालो की महक से ये जिन्नात खींचे चले आते है.

जिन्नात जब किसी को अपना शिकार बनाते है तब वे कुछ ऐसे संकेत जरुर देते है जो हमें उनके बारे में जानने में मदद करते है. किसी भी दूसरी शक्ति की तुलना में Djinn बेहद खतरनाक, गुस्सैल और सच बोलने वाले होते है. अगर कोई इनसे बात करने की कोशिश करे तो बिना डरे वो अपने बारे में भी बता देते है.

Types of Jinn Possession

किसी इन्सान के शरीर पर एक जिन्न कई तरह से कब्ज़ा करता है.

  • A total Possession इस स्थिति में व्यक्ति का पूरा body अकड़ जाता है. व्यक्ति अपनी Consciousness control खो देता है.
  • A partial Possession इस condition में व्यक्ति के किसी एक हिस्से पर जिन्न अपना कब्ज़ा करता है जैसे की जीभ, पैर या हाथ.
  • Constant Possession बहुत लम्बे समय तक व्यक्ति के शरीर पर जिन्नात अपना कब्ज़ा रखता है.
  • Temporary Possession इसमें कुछ समय तक जिन्न का असर व्यक्ति पर देखने को मिलता है. ऐसा ज्यादातर ladies के साथ होता है जब रात के समय जिन्नात उनके शरीर पर कब्ज़ा करते है.

इन प्रकार के अनुसार ही हम अंदाजा लगा सकते है की जिन्न किस तरह का है और वो किस मकसद से इंसानी शरीर पर कब्ज़ा कर रहा है. अलग अलग Types of Possession के आधार पर हम इसके बारे में जान सकते है.

पढ़े : किसी भी तंत्र कर्म में सफलता दिलाने वाली ग्रहण में की जाने वाली महाकाली शाबर मंत्र साधना

जिन्नात कितने तरह से इंसानों पर कब्ज़ा करते है

जिन्नात के बारे में एक बात सबसे ज्यादा महशूर है की ये भरोसेमंद नहीं होते है. बाकि दूसरी शक्तिया जैसे की पीर पैगम्बर ये इंसानों की मदद करते है लेकिन जिन्नात सिर्फ बंधन में रखे जाते है. एक बार आपने गलती कर दी तो ये आपको अपना निशाना बनाते देर नहीं लगायेंगे.

आइये जानते है की जिन्नात किस तरह इंसानों पर कब्ज़ा करते है और उन्हें अल्लाह से दूर करते है.

पढ़े : क्या आप deals with the devil के जरिये रातो रात अमीर बनना चाहेंगे ? एक सच्चा अनुभव

Regional Possession Types of Jinn Possession

ये एक Temporary Possession होता है. इस्लाम को मानने वाले लोगो के बिच ये मान्यता है की शैतान हमें हर पल अपने पक्ष में करने के लिए कोशिश करता है. वो हमेशा इस तरह के मौके की तलाश में रहता है जब हम मानसिक रूप से कमजोर पड़ते है. जब भी ऐसा होता है हमारे मन में evil suggestion भेजे जाते है. ऐसी स्थिति में अल्लाह पर अपने भरोसे को मजबूत करना चाहिए.

jinn effect

वो हर पल हमें देख रहा होता है. सच्चे मन से अगर उन्हें पुकारा जाएगा तो वो हमारी मदद करने जरुर आएंगे. जब भी मन में किसी तरह के ऐसे विचार आये जो अल्लाह के प्रति हमारा भरोसा कमजोर करते है हमें उसी समय अल्लाह को याद करना चाहिए और ऐसे विचारो को नकार देना चाहिए. ये स्थिति अक्सर सोते समय ही होती है.

आपने Sleep Paralysis के बारे सुना होगा जिसमे हमें Dark figure shadow people दिखाई देता है. इस दौरान हम कुछ समय के लिए अपनी चेतना को खो देते है और हमें सबकुछ महसूस होने के बावजूद हम कुछ नहीं कर पाते है.

लोगो के अनुसार ये एक flying type jinn होता है. हालाँकि ज्यादातर केस में ये वहम होता है लेकिन कुछ केस जिसमे व्यक्ति किसी Paranormal activity का शिकार होता है उसे इस तरह की Types of Jinn Possession से जुडी गतिविधि का अनुभव होता है.

Projectory Possession (Aarid)

ये एक true type of possession होता है जिसमे जिन्नात कुछ समय के लिए व्यक्ति के शरीर पर अपना कब्ज़ा करता है. इस तरह की स्थिति में दिन या रात के किसी एक खास टाइम पर ही जिन्नात आता है और चला जाता है. ये हर रोज होता है और लम्बे समय तक चलता है. इस तरह की स्थिति में व्यक्ति के शरीर पर कब्ज़ा करना और छोड़ना ये जिन्नात की मर्जी पर निर्भर करता है.

इस तरह की स्थिति में व्यक्ति के अन्दर कई बदलाव को notice किया जा सकता है जैसे की उसके शरीर का vibrate होना. आसपास से एक strong air के पास होने का अहसास होना. ज्यादातर ऐसा औरतो के साथ होता है जिनके शरीर पर एक खास समय पर जिन्न अपना कब्ज़ा करते है. ये उनके शरीर के आकर्षण की वजह से खींचे चले आते है.

पढ़े : बेताल साधना से जुडी महत्वपूर्ण जानकारी और अगिया बेताल की मुख्य 2 विधि

Accompanying Possession (Ikthiraan)

जिन्न के किसी व्यक्ति पर कब्ज़ा करने के कई तरीको में से ये एक तरीका है. इसमें जिन्नात व्यक्ति के शरीर पर स्थाई रूप से अपना कब्ज़ा जमा लेते है. ये पूरी body या फिर शरीर के किसी एक हिस्से में से कुछ भी चुन सकते है. इस Types of Jinn Possession को सबसे खतरनाक माना जाता है.

External Possession (Khariji)

ये भी एक तरह का होता है जिसमे Djinn ये निर्धारित करता है की वो व्यक्ति के साथ हर समय रहता है या फिर कुछ समय के लिए शिकार बनाता है. इसके बारे में Hadith in Sahih Muslim में लिखा है जो Huthayfah के द्वारा परिभाषित की गई.

उनके अनुसार जिन्न किसी इन्सान या जानवर का रूप ले सकते है. कई बार ये जिन लोगो को अपना शिकार बनाते है उनके पीठ कंधे को अपना निशाना बनाते है. व्यक्ति इसका अहसास भारीपन और जकड़ के रूप में करता है. अगर जिन्न किसी पर शारीरिक रूप से आकर्षित है तो वे एक रूप में आकर उनके साथ संबध बनाते है. ये सब Types of Jinn Possession का एक हिस्सा है.

पढ़े : आकर्षण के लिए मोहिनी वशीकरण मंत्र साधना

Transitus Possession (Mu’tadi)

इस तरह की स्थिति तब पैदा होती है जब जिन्न एक साथ कई लोगो को अपना शिकार बना लेते है. वे अपनी मर्जी से चुनाव करते है और बार बार शरीर बदलते रहते है जिसकी वजह से ये आसानी से पकड में नहीं आते है. अगर कोई व्यक्ति मरीज को इलाज के लिए ले भी जाता है तो ये उनकी पकड़ में नहीं आते है क्यों की ये पहले ही शरीर बदल लेते है.

इस तरह की स्थिति में जिन्न परिवार के एक से ज्यादा लोगो को अपना निशाना बनाते है. कई बार group में जिन्न परिवार के लोगो को अपना शिकार बना लेते है. ये स्थिति बहुत खतरनाक होती है क्यों की ज्यादातर समय हम इस खोज में लगा देते है की वास्तविक शिकार कौन बना है.

Imaginary Possession (Wahmi)

हालाँकि ये कोई वास्तविक स्थिति नहीं बल्कि delusion होता है लेकिन फिर भी ये काफी dangerous और common problem होती है. जब भी हम किसी ऐसे व्यक्ति के संपर्क में आते है जो जिन्नात का शिकार बना हो तो हमें इसका डर लगने लगता है. हमें लगता है की हम भी इसका शिकार बन चुके है. कई बार ऐसा कुछ न होने के बावजूद healer ये दबाव बनाते है की हम दिमागी रूप से इसे accept करने लगते है.

शैतान इसी का फायदा उठाता है और वो हमें ये अहसास करवाना शुरू कर देता है. ज्यादातर ऐसा होता है क्यों की जब तक हम खुद ये accept नहीं करते है तब तक कोई बाहरी शक्ति हम पर काबू नहीं कर सकती है. इस तरह की स्थिति में ये शक्तियां पहले हमें लोगो से अलग करती है, इसके बाद हमारी सोच और इच्छा शक्ति पर अपनी पकड़ मजबूत करती है. इस तरह की स्थिति में व्यक्ति को ऐसे scene दिखाए जाते है जिनसे उसे यकीन होने लगता है की वाकई कोई शक्ति है जो उस पर कब्ज़ा जमाए हुए है.

याद रखे शैतानी शक्ति हमें suggestion देती रहती है लेकिन हम पर कब्ज़ा नहीं कर पाती है. जब हम अन्दर से टूट जाते है तभी वो हम पर कब्ज़ा करती है. इस तरह के Types of Jinn Possession को संकेतो में समझा जाता है.

False pretense dangerous Types of Jinn Possession

कई बार ऐसी स्थिति आती है की लोग जबरदस्ती दूसरो का ध्यान आकर्षित करने के चक्कर में ऐसे दिखावा करते है की मानो उन्हें किसी शक्ति ने जकड़ा हुआ है. ऐसा करना भले ही उन्हें लोगो की नजर में अलग दिखा दे लेकिन ये खतरनाक हो सकता है. शैतानी शक्तियां आपके ऊपर नजर रखे हुए होती है और ऐसा करना उन्हें आसानी से आपके ऊपर हावी होने का मौका दे सकता है.

अगर आप किसी शक्ति का मजाक बनाते है और दिखावा करते है की उसने आपको परेशान किया है तो ना चाहते हुए भी वो आपको अपना निशाना बना सकती है. इसका एक उदाहरण आप Multiple personality disorder के जरिये समझ सकते है. कुछ लोग मानसिक रूप से परेशान होते है और इस तरह की हरकते करते है मानो वो किसी शक्ति के चंगुल में फंसे हुए हो.

भले ही इस तरह का दिखावा करना आपको अपने हालात से कुछ समय के लिए दूर रखे लेकिन याद रखे की आगे चलकर ऐसा टाइम भी आ सकता है की आप वाकई किसी शैतानी शक्ति के चंगुल में फंस जाए.

पढ़े : छलावा यानि king paimon जैसी शक्ति को शैतान होने के बावजूद क्यों पूजते है लोग ? – रहस्यमयी जानकारी

Jinn Presence and Departure

ज्यादातर लोगो के मन में ये सवाल जरुर आता है की आखिर एक जिन्न के आने और जाने पर किस तरह के अनुभव होते है. जिस तरह से दुनिया में अलग अलग तरह के लोग होते है वैसे ही जिन्न भी अलग अलग होते है. लोगो के मन में ये myth फैली हुई है की किसी Djinn के attack की स्थिति में व्यक्ति खास तरह की अजीबोगरीब हरकते करता है. अगर reality of demonology को देखे तो ऐसा 100% true नहीं है.

जिस तरह से जिन्न अपने होने का अहसास करवाते है उन्हें influence of jinn on humans के अनुसार अलग अलग category में divide किया जाता है. सभी Types of Jinn Possession के अनुसार आप उनके उपस्थिति को इस तरह से महसूस कर सकते है.

Presence of Waswasah

ये एक तरह का overpowering form of possession है जिसमे हमें अपने कानो में किसी के फुसफुसाहट सी सुनाई देती है. इस तरह की presence व्यक्ति को मानसिक रूप से कमजोर कर देती है. ये वो स्थिति है जिसमे व्यक्ति को अपने कानो और दिमाग में लगातार खास तरह की फुसफुसाहट महसूस होती है. ये सिर्फ उसी व्यक्ति को महसूस होती है जो इसका शिकार बनता है बाकि किसी और के साथ इस तरह का अनुभव नहीं होता है.

jinn appearence and departure

किसी भी शैतानी शक्ति के होने का इस तरह का अहसास व्यक्ति को मानसिक रूप से तोड़ देता है. जरुरत से ज्यादा stress लेने की वजह से व्यक्ति के सोचने समझने की शक्ति ख़त्म होने लगती है. इस वजह से अचानक ही रोना, हँसना या फिर गुस्सा करने जैसी हरकते आम बात हो जाती है. ऐसी condition में व्यक्ति anxiety, stress, depression and Obsessive Compulsive Disorder (OCD) का शिकार बनता जाता है जो सबसे ज्यादा परेशान कर देने वाली बात है.

सबसे बड़ी बात तो ये है की हम इसमें ये पक्के तौर पर नहीं समझ पाते है की असल में problem क्या है और ऐसा क्यों हो रहा है.

Influence on the brain of the patient

शैतानी शक्ति किसी व्यक्ति को अपना शिकार बनाने के लिए सबसे पहले व्यक्ति के दिमाग को control करने की कोशिश करती है. व्यक्ति का दिमाग उसके शरीर और हर हिस्से को control करता है जिसकी वजह से जब दिमाग पर control करने की कोशिश की जाती है तो व्यक्ति खुद को पागल समझने लगता है. किसी के होने का अहसास होना या फिर अजीब सी चीजे दिखना जबकि दूसरो को ऐसा कुछ महसूस या दिखाई नहीं होता है.

इसका मुख्य उदेश्य शिकार के दिमाग और उसकी सोच को अपने कब्जे में लेना होता है. किसी तरह की शैतानी शक्ति के होने अहसास आपको ऐसी चीजे दिखने से होता है जो दूसरो के साथ नहीं होती है. ऐसी स्थिति में बिना किसी कब्जे के दिमाग को काबू करना भी शामिल है.

शैतानी शक्तियां बिना किसी भ्रम की स्थिति पैदा होने के बावजूद भी आपको अपना शिकार बना सकती है. ज्यादातर शैतानी शक्ति या Types of Jinn Possession शुरुआत में इंसानी दिमाग को अपने कब्जे में लेते है.

Influence on the patient’s body

Jinni किसी व्यक्ति के शरीर पर अपना कब्ज़ा जमाने के लिए उसके किसी एक हिस्से का चुनाव कर सकते है. जब ऐसा होता है तब व्यक्ति अपने पीठ में दर्द, सरदर्द या फिर सुनने और देखने की क्षमता को खो देता है. कई तरह की condition में व्यक्ति अपने पैरो में सुन्न महसूस करने लगता है जो की इसी का एक संकेत हो सकता है. इस तरह की स्थिति व्यक्ति के साथ तब भी हो सकती है जब वो पूरे होश में हो.

इसका असर लम्बे समय तक बना रहता है. चूँकि जिन्न व्यक्ति के body के सिर्फ किसी एक हिस्से को अपना घर बनाते है ऐसी स्थिति लम्बे समय तक देखी जा सकती है.

पढ़े : क्या वास्तव में जिन्नातो की फ़ौज ही असली वजह थी अकबर के इतने बड़े साम्राज्य खड़ा करने में ?

The dual presence

इस तरह की स्थिति में पीड़ित से बात करते समय ये निर्धारित कर सकते है की हमारी बात किस से हो रही है जिन्नात या पीड़ित. हालाँकि किसी शैतानी शक्ति या फिर जिन्न को समझने के लिए ये काफी महत्वपूर्ण कड़ी होती है क्यों की ये शक्तियां सवालों का जवाब देती है. ऐसा इसलिए क्यों की जिन्नात आमतौर पर निडर होते है और बिना किसी डर के सामने वाले के सवालों का जवाब देती है.

लेकिन ऐसा करना हर बार सहज नहीं होता है. अगर कोई व्यक्ति या उसके परिवार वाले इसमें believe नहीं करते है तो वे इसे accept नहीं करेंगे की वाकई में इस तरह की स्थिति है. इसके साथ ही Full presence जैसी स्थिति को भी देखा जा सकता है जिसमे एक व्यक्ति के body पर पूरी तरह से Djinn का कब्ज़ा होता है और वो उसके अनुसार behave करना शुरू कर देता है.

ज्यादातर इस तरह के Types of Jinn Possession की स्थिति में लाल आँखे, मांस खाना ( खासकर कच्चा मांस ) अजीब भाषा का इस्तेमाल और शरीर से अलग गंध का आना महसूस किया जाता है.

Types of Jinn Possession and The Jinn Effects

जब किसी व्यक्ति पर एक Djinn का attack होता है तो इसका असर हर level पर देखा जा सकता है. Physical, mental and spiritual level ये तीन स्तर है जिस पर हम शैतानी शक्तियों के असर को देख सकते है.

Spiritual effect of djinn

जिन्न किसी व्यक्ति को सबसे ज्यादा spiritual level पर करते है. वे व्यक्ति को किसी भी तरह की spiritual activity करने से रोकते है जो उन्हें अल्लाह के करीब ले जाती हो. वो इस तरह की हरकते करते है जो व्यक्ति को आलसी बना देती है ताकि वो अल्लाह की इबादत ना कर सके. कुरान को पढने से रोकते है या अडचने पैदा करते है जब तक की वो कुरान पढना छोड़ न दे.

ये शैतानी शक्ति व्यक्ति को इस्लाम को पढने समझने से रोकती है और जैसे जैसे वो अल्लाह से दूर होने लगता है वैसे वैसे वो उस पर कब्ज़ा करना शुरू कर देती है. अगर किसी भी तरह के Types of Jinn Possession symptom को आप देखते है तो किसी बाहरी मदद के लिए सजग रहे.

पढ़े : कम समय में फायदा देने वाली पारलौकिक शक्तियों को पूजने से पहले इन बातो को जान ले

Psychological

जिन्न किसी व्यक्ति को मानसिक रूप से कमजोर करने के लिए उसके दिमाग पर काबू करने की कोशिश करते है. ऐसा करने के लिए वो व्यक्ति के कानो में फुसफुसाते है जिसकी वजह से व्यक्ति मानसिक रूप से कमजोर बनना शुरू हो जाता है. इसके परिणामस्वरूप व्यक्ति के मूड में अनचाहे बदलाव आना शुरू हो जाते है और वो किसी भी व्यक्ति के पास आने से खुद को रोकने लगता है.

जब इस तरह की स्थिति पैदा होती है तो व्यक्ति stress, anxiety and anger को experience करता है. कई बार तो व्यक्ति के सोचने समझने की क्षमता इतनी कमजोर हो जाती है की व्यक्ति को होश ही नहीं होता है की वो क्या कर रहा है. उसके कपड़े इस तरह बिखरे रहते है मानो वो काम वासना में भरा हुआ हो.

भौतिक रूप से जिन्न का प्रभाव

Djinn का effect व्यक्ति पर भौतिक रूप से उतना ही देखने को मिलता है जितना की psychologically और इसके पीछे कई तरह की स्थिति होती है. जिन्न व्यक्ति के दिमाग और दिल पर कब्ज़ा करते है जिसकी वजह से उसके health पर इसका असर साफ देखने को मिलता है.

भौतिक रूप से इसके असर को देखे तो इनकी वजह से व्यक्ति ऐसी बीमारी का शिकार होते है जिसे परिभाषित नहीं किया जा सकता है. medical में इसका कोई इलाज नहीं होता है ना ही ये किसी के पकड़ में आती है.

अगर किसी महिला पर जिन्नात का दिल आ जाता है तो उसकी वजह से वो से भौतिक रूप से परेशान करता है. महिला को ऐसा लगता है मानो उसके साथ कुछ गलत हो रहा है और वो चाह कर भी इसका विरोध नहीं कर पाती है. ये Types of Jinn Possession का एक हिस्सा है जिसमे जिन्नात किसी शरीर पर कब्ज़ा करता है.

पढ़े : घर का कीलन करवाने की मुख्य वजह आपको हैरान कर देगी – इसकी जरुरत क्यों पड़ती है और कब करवाना चाहिए

महिला या पुरुष ज्यादा शिकार कौन बनता है

ये निर्भर करता है की जिन्नात किस तरह का है. जिन्न महिलाओं को उनके शरीर की महक से आकर्षित होकर अपना शिकार बनाते है. हमने Different Types of Jinn Possession इसलिए कहा है क्यों की जिन्न कभी भी एक तरीके से किसी शरीर पर कब्ज़ा नहीं करते है. महिलाओं, युवा लडकियों को शाम के समय छत पर खुले बालो से जाना मना करने के पीछे यही वजह मानी जाती है. शादीशुदा महिलाओं के बालो की महक शैतानी शक्तियों को सबसे ज्यादा attract करती है.

अगर किसी महिला पर जिन्नात का दिल आ जाता है तो वो दिन या रात के किसी एक खास समय पर उसके शरीर पर कब्ज़ा करता है. महिला बाकि समय बिलकुल normal रहती है लेकिन ठीक उसी समय वो अपने होश से बाहर हो जाती है खासकर सोते समय.

उन्हें बस ये मालूम रहता है की उनके साथ कुछ गलत हो रहा है लेकिन चाह कर भी वो उसका विरोध नहीं कर पाती है. पुरुष जिन्नात का शिकार तब बनते है जब वो सुनसान जगह पर जिन्नातो की जगह से गुजरते है. अगर किसी जगह जिन्नात रहते है और कोई वहां से गुजरता है तो वे उसे परेशान करने से पीछे नहीं हटते है. सुनसान जगह पर पेशाब करने से पहले सोच जरुर ले क्यों की किसी पारलौकिक शक्ति के रहने की जगह हो सकती है.

ऐसे कई केस आते है जिसमे लोगो को परेशान करने की वजह किसी सुनसान जगह, पीर की मजार या कब्र की जगह पर शौच या पेशाब करने की वजह होती है.

पढ़े : Illuminati secret society जानिए एक मान्यता के बारे में जो शैतान की पूजा करती है

ऊपर असमान की ओर इबादत करने की वजह

शैतान और अल्लाह में एक समझौता हुआ था. इसके अनुसार शैतान किसी भी इन्सान को अल्लाह से दूर करने के लिए फ्री था. वो कोशिश करके किसी को भी अल्लाह से दूर कर सकता था. शैतान के अनुसार वो किसी भी दिशा से इंसानी शरीर पर attack कर सकता है. अल्लाह ने उसकी ये शर्त मान ली थी लेकिन शैतान 2 दिशा को भूल गया था ऊपर असमान और निचे धरती. उसने सिर्फ 8 दिशाओ से अपना कब्ज़ा करने के लिए इजाजत मांगी थी.

इबादत में हाथ या तो आसमान की तरफ उठते है या फिर निचे धरती की तरफ झुककर प्राथना की जाती है. इश्वर / अल्लाह से जब जब इन्सान इन 2 दिशाओ में मदद मांगता है उसकी प्राथना मंजूर की जाती है.

Types of Jinn Possession and their effect final conclusion

इंसानों से Ifrit djinn की पुरानी दुश्मनी है. जिन्नात में सबसे शक्तिशाली और शैतानी जिन्न इफरित होते है. ये हमेशा कोशिश करते है की कैसे भी करके इंसानों को अल्लाह की इबादत करने से रोक सके. इसके लिए वो ऐसी स्थिति पैदा करते है की लालच और मानसिक तनाव के चलते कोई व्यक्ति खुद को कुरान पढने, इबादत करने से रोकता रहता है. यहाँ हमने Types of Jinn Possession, effect presence and departure के बारे में बात की है जो हमें बताती है की किस तरह एक जिन्नात इंसानी शरीर पर कब्ज़ा करता है और इसके असर से क्या क्या होता है.

अगर आप जिन्नात के बारे में और ज्यादा जानकारी रखते है तो हमें जरुर बताए हम इसे अपने ब्लॉग पर share करेंगे ताकि लोगो को इसके बारे में ज्यादा से ज्यादा जानने को मिले.

Never miss an update subscribe us

* indicates required

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here