विश्व को बदल सकने की ताकत रखने वाले इन अविष्कार की खोज पूरी हो जाती तो आज कुछ अलग ही होता

5

विश्व को बदलने वाले अविष्कारअगर कोई कहे की विज्ञान की खोजे सिर्फ आपकी सोच से जुड़ी है जिनका एक लॉजिक होना जरुरी है तो ये सही नहीं है, क्यों की इंसान की अद्भुत सोच ने उसे वो सोचने की ताकत भी दी है जो आज भी लगभग एक चमत्कार माना जाता है। लेकिन हकीकत तो ये है की विश्व को बदलने वाले अविष्कार अगर हम लोगो के बिच आ जाते तो इंसानी सभ्यता आज एक नए रूप में होती। आज हम बात करने वाले है ऐसे 5 अविष्कार की जो अगर पुरे हो कर हमारे बिच आ जाते तो हम तकनिकी दुनिया में काफी आगे होते लेकिन अफ़सोस की इन्हे बनाने वाले हर वैज्ञानिक की या तो मौत हो गई या वो गायब हो गए। ये अविष्कार निम्न है।

  1. Death-ray
  2. star-lite
  3. cloud-buster
  4. sloot digital coding
  5. chronic-voice

विश्व को बदलने वाले अविष्कार :

हमारी सोच से परे कुछ ऐसे अविष्कार का परीक्षण हो चूका है जो सुनने में चमत्कार जैसे लगते है। ऐसा इसलिए है क्यों की विज्ञान आध्यात्म को अपने शब्दों में परिभाषित करने में लगा है। उसने ऐसी कई खोज की है जो इनसे प्रेरित है और आज हम उन्ही में से कुछ का यहाँ पर जिक्र करने वाले है।

निकोला-टेस्ला की डेथ रे :

death rayनिकोला टेस्ला ने 1930 में पहली बार इसके बारे में लोगो को बताया जिसके अनुसार लेज़र बीम के हथियार अस्तित्व में आये है। उनके अनुसार एनर्जी को एक बहुत छोटे एरिया पर फोकस कर किसी की जान ली जा सकती है। शुरू में ये थोड़ा मुश्किल और बेतुका लगा लेकिन बाद में इसे सही मानना ही पड़ा। पहले निकोला ने ही सत्यापित किया था की पुरे शहर की ऊर्जा को भी अगर एक जगह फोकस किया जाए तो भी वो किसी की जान नहीं ले सकती लेकिन बाद में इस हथियार को बनाने की कोशिश की गई सेना के लिए क्यों की पहली बार किसी इंसान को मारने के साथ साथ विमान को भी गिराने की भी क्षमता वाले हथियार का प्रस्ताव सेना के बिच रखा गया था।

पढ़े : अनचाहे विचारो से छुटकारा पाना है तो आजमाइए इन तरीको को

विश्व को बदलने वाले अविष्कार – स्टार-लाइट starlite :

स्टार लाइट एक ऐसा मटेरियल था जो उच्च स्तर की ताप को सह सकता था। 1970 के दशक में पहली बार ऐसे पदार्थ का पता चला जो हाई टेम्परेचर को झेलने के साथ साथ तापमान का सच्चा इंसुलेटर था। यानि तापमान को झेलने के साथ साथ पदार्थ गरम नहीं होता था। इसे पहली बार एक अंडे पर प्रयोग किया गया जिसमे लगातार 5 मिनट तक ब्लो-टोर्च से गरम करने के बाद भी ये पदार्थ नंगे हाथो से छूने लायक था। ये उन जगह पर काफी मददगार साबित हो सकता था जहा पर उच्च तापमान में काम करना होता है खासतौर से भूमि के निचे।

अफ़सोस की इसे बनाने का जो फार्मूला था वो इसे बनाने वाले की मौत के साथ रहस्य बन गया। इससे पहले विश्व को बदलने वाले अविष्कार में से एक ये लोगो के बिच आ पाता रहस्यमयी तरीके से मौरिस वार्ड की मौत हो गई।

पढ़े : क्या वाकई मेन्टलिज़्म मानसिक शक्ति है या सिर्फ एक जादूगरी का खेल

क्लाउड-बस्टर cloud-buster:

cloud busterक्लाउड बस्टर विश्व को बदलने वाले अविष्कार में से एक ऐसी खोज थी जो वातावरण को कण्ट्रोल कर मनचाहे तरीके से बारिश करवा सकती थी यहाँ बगैर मौषम के भी। वातावरण में मौजूद orgone एनर्जी द्वारा बारिश करवाई जा सकती है। उन्होंने एक ऐसा डिवाइस बनाया जो वातावरण में एक खास जगह को लक्ष्य करता है और इसका दूसरा साइड उसी मटेरियल से भरा होता था जो orgone कहलाता है। ये भूमि से उस तत्व को वातावरण में भेजता था जिसकी वजह से बादल बनने शुरू हो जाते थे।

कई प्रयोगो के बाद उन्हें इसमें सफलता भी मिली। दिनभर की मेहनत के बाद शाम को अचानक बादल घिर आये और बारिश होने लगी। लेकिन मौषम विभाग ने इसे नकार दिया और कहा की पहले से ही बारिश के आने की सम्भावना थी। माना ये भी जा रहा है की इस प्रयोग के बाद अमीर देश और अमीर होने लगे क्यों की मनचाहे तरीके से बारिश के बाद वो फसले कभी भी और कैसी भी पैदा कर सकते थे। इसलिए इस प्रयोग को बंद कर दिया गया और बाद में रहस्यमय तरीके से इसे बनाने वाले गायब हो गए।

पढ़े : छाया पुरुष से जुड़ी रोमांचित कर देने वाली ये खास बाते क्या आप जानते है ?

sloot – digital coding सिस्टम

क्या आप सोच सकते है की 1 जीबी की फिल्म को कंप्रेस कर सिर्फ कुछ kb के साइज में कन्वर्ट किया जा सकता है वो भी बिना इसकी quality को affect किये। ऐसा संभव बनाया jan sloot ने एक कम्प्रेशन तकनीक का ईजाद किया जो एक पूरी फिल्म को सिर्फ 8 kb में कन्वर्ट कर देती है वो भी बगैर किसी तरह से एफेक्ट किये। उन्होने इसका सफलता पूर्वक लोगो के बिच परीक्षण कर भी दिखाया था।

अचानक ही हार्ट अटैक से उनकी मौत हो गई वो भी इस प्रयोग को सार्वजानिक करने से ठीक कुछ दिन पहले। कुछ लोगो का कहना है की ये प्राकृतिक मौत थी वही कुछ लोग ये मानते है की इस तकनीक से कुछ लोगो को नुकसान हो जाता जो डाटा स्टोरेज का बिज़नेस करती है इसलिए इसे राज बना दिया। खैर अगर ये तकनीक अगर आज अस्तित्व में होती तो दुनिया में डाटा स्टोरेज की दुनिया ही बदल जाती।

पढ़े : Top 11 benefit जिसकी वजह से आपको regular meditation करना चाहिए

विश्व को बदलने वाले अविष्कार – क्रोनो-वॉइस -chronovoice :

क्या आप सोच सकते है की हमारा शरीर अपने भूत और भविष्य की घटनाओ को पकड़ सकता है। दरअसल क्रोनो वॉइस एक ऐसी आवाज है जो फ्रीक्वेंसी के रूप में ब्रह्माण्ड में फैली पड़ी है। कुछ लोगो का मानना है की इस आवाज में हमारे भूत और भविष्य की घटनाए भरी पड़ी है। अगर किसी तरह से इस आवाज को डिकोड कर लिया जाए तो हम आसानी से अपने भविष्य की घटनाओ को महसूस कर सकते है।

शुरू में विश्व को बदलने वाले अविष्कार की तरह ही ये ये अविष्कार भी लोगो को बेतुका लगा था क्यों की इसके पीछे कोई लॉजिक नहीं था लेकिन वक़्त के साथ कुछ आवाजों को डिकोड किया गया तो उन्हें पता चला की ये साउंड फ्रीक्वेंसी जानकारियों से भरी पड़ी है। इस प्रयोग की तर्ज थी हिन्दू मान्यता के अनुसार ब्रह्माण्ड की सारी शक्तिया मंत्रो के रूप में ब्रह्माण्ड में फैली पड़ी है। किसी मंत्र को अगर सही तरीके से डिकोड कर लिया जाए तो मंत्र से जुड़ी शक्ति को जाग्रत किया जा सकता है।

ये प्रयोग हालाँकि लोगो के बिच नहीं आ पाया क्यों की इसे करने वाले रहस्य्मय तरीके से गायब हो गए थे।

पढ़े : क्या आप भी हर रात को एक खास टाइम पर बार बार उठ जाते है ?

अंतिम शब्द

दोस्तों विज्ञान खुले तौर पर आध्यात्म के रहस्य और चमत्कार को मानता तो नहीं है लेकिन इससे प्रेरित होकर उनके पीछे के वैज्ञानिक तरीके को खोजने की कोशिश करता रहता है। ऊपर बताये गए प्रयोग भी इसका ही उदहारण है। इन प्रयोगो के बारे में पढ़ने के बाद लगता है वो दिन दूर नहीं जब आध्यात्म के पहलुओं को विज्ञान स्वीकार कर लेगा वो भी अपने बनाये परिभाषाओ के अनुसार।

आज की पोस्ट विश्व को बदलने वाले अविष्कार की लिस्ट विकिपीडिया और दूसरे वेब सोर्स से ली गई जानकारी पर आधारित है इसलिए इसकी जानकारी में त्रुटि होने की सम्भावना से इंकार नहीं किया जा सकता है। अगर आपको आज की पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे शेयर करना ना भूले। साथ ही त्राटक, सूक्ष्म शरीर और वशीकरण जैसी सर्विस के लिए आप हमारा होमपेज चेक कर सकते है।

5 COMMENTS

  1. Aap ka yah post gyanbardhak ke sath rochak bhi h. Bahut accha laga padhkar aur kuch nai jankari bhi mili . Thank you for sharing.

  2. Is dunia me bahut si aisi chijen hain jinke baare me vighyan abhi tak nahi khoj kar saka hai. Hindu dharm is tarah ke chamatkaron se bhara pada hai. Jinhe dusre deshon ke log kalpna kahte hain. Ek din aisa jaroor ayega jab in sabhi cheejon ki satyata ki pusti ho jayegi.

    Thanks Kumar is tarah ki interesting jankari share karne ke liye.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.