Tibetan Buddhism meditation technique beginner guide

0

बुद्धा द्वारा विकसित की गई ध्यान की विधि को Tibetan Buddhism meditation के नाम से आज पूरी दुनिया जानती है. ध्यान की इस विधि में साधक अपने अन्दर बुद्धा की quality को विकसित करते है. इस meditation technique में compassion and goodwill पर focus किया जाता है. Buddhist meditation को करने का तरीका बेहद आसान है और ये हमें अमेजिंग रिजल्ट देता है आइये जानते है Tibetan monk meditation के बारे में.

Tibetan Buddhist meditation techniques में visualization practices का important role है. कल्पना के जरिये हम खुद को बाहरी चीजो से दूर कर अंतर की तरफ ले जाते है और आगे बढ़ते है. जितनी गहरी हमारी कल्पना शक्ति होती है उतना ही गहरा अभ्यास होता है. Singing bowl के अलावा ऐसी कई Spiritual practice है जो इसके अंतर्गत आती है और इन सबके अपने बेनिफिट है.

Tibetan Buddhism meditation

ध्यान की ये विधि बेहद सरल है और आपके इमोशन फीलिंग को replace करने का काम करती है. हमारे मन में दबे हुए इमोशन और फीलिंग को सांसो के जरिये हम Accept and let go के सिद्धांत पर बदलते है. ध्यान की इस विधि को Super Awareness practice of ever के नाम से भी जानते है क्यों की ये हमारे Awareness level को highest level पर ले जाती है.

Tibetan Buddhism meditation

नाम से जाहिर है की ये मैडिटेशन बौद्ध धर्म से जुड़ा हुआ है. आज दुनियाभर में फैली ज्यादातर Tibetan Buddhist meditation techniques एक Common technique का प्रयोग करती है और वो है visualization practices यानि एक काल्पनिक ध्यान. ऐसा ध्यान जिसमे हम खुद को कल्पना के जरिये मनचाहे रूप में ढाल लेते है और किसी भी बाहरी संपर्क को खुद से तोड़ लेते है.

इस तकनीक के जरिये हम अपने अन्दर compassion and goodwill जैसी positive qualities को develop करते है. कल्पना के साथ साथ मंत्र का प्रयोग करना सफलता के चांस बढ़ा देता है. ध्यान में एक ही धारणा को महत्त्व दिया जाता है और वो है भगवान् बुद्ध की wise and loving presence को अपने अन्दर महसूस करना. इस तकनीक के रिजल्ट amazing है जो इसे लोगो के बिच पोपुलर बनाते है.

समय के साथ साथ East से सालो पहले Buddhist meditation and philosophy दुनियाभर में फैलती गई. जहाँ जहाँ ये meditation and philosophy लोगो में फैली इसे पसंद किया गया. आज Buddhist meditation techniques of Japan, Indochina, Sri Lanka and Tibet इन सब में जहाँ कुछ समानताए है वही कुछ notice किये जाने वाले बदलाव भी है.

Tibetan meditation

ध्यान के समय अगर  figure of the Buddha को use किया जाए तो हमें support मिल जाता है. इसके लिए आप चाहे एक फोटो ले या फिर statue मदद मिलेगी. आइये जानते है की इस meditation technique को कैसे किया जाता है.

  • सबसे पहले तो comfortable and proper meditation posture में बैठ जाइये इसके लिए आप Cushion or chair का इस्तेमाल कर सकते है.
  • कुछ देर के लिए अपना पूरा ध्यान खुद को महसूस करने पर लगाए. आपको अपनी बॉडी और आसपास का वातावरण किस तरह से महसूस होता है इसे समझे.
  • अब Visualize करे की आपके सामने बुद्धा एक सुनहले आसन पर बैठे है और उनके पीछे Tree of Awakening: a Bodhi tree है.
  • कल्पना करे की बुद्धा की सुनहली बॉडी सिर्फ आपको देख रही है और boundless love and compassion से वो सिर्फ आपको देख रहे है.
  • खुद को कल्पना में और गहरा ले जाए और बुद्धा कैसे दीखते है और उनके आसपास क्या है इन सबको और डिटेल से कल्पना करना शुरू करे.
  • अगर आप खुद की कल्पना में लम्बे समय तक बने रह सकते है तो ठीक है वर्ना एक golden light or heaven को ही imagine करे.
  • जैसे जैसे ये लाइट आपके body and heart को भर रही है आप खुद को शांत और well being महसूस कर रहे है.
  • मैडिटेशन के अंत में बुद्धा एक लाइट में मिल रहे है और वो लाइट आप में समाहित हो रही है इस तरह की कल्पना के साथ इसका अभ्यास बंद करे.

इसके बाद आप चाहे तो Tibetan Buddhism meditation के सेशन को समाप्त कर सकते है या फिर कुछ देर mindfulness practice में बिता सकते है. इस दौरान आपका ध्यान किसी ऑब्जेक्ट पर नहीं होना चाहिए.

Super Awareness practice of ever

इस तरह का ध्यान लगाना बेशक आसान है और आसानी से किया भी जा सकता है लेकिन इसका विस्तार किसी भी mindfulness or awareness practice से ज्यादा है और यही वजह है जो इसे Super awareness practice बनाती है. 2 चीजो पर इसमें focus किया जाता है पहला आपके brain की Creativity level को Highest level पर ले जाना और दूसरा बुद्धा की क्वालिटी को अपने अन्दर विकिसत करना.

Tibetan Meditation की सबसे बड़ी खासियत यही है की ये mind, behavior, and body के बिच के connection को मजबूत करता है. हम जब भी शांत होकर बैठने की कोशिश करते है हमारा दिमाग अलग अलग दिशा में चलने लगता है. Tibetan Buddhism meditation के जरिये हम Monkey mind को एक powerful tool में बदलते है.

Exercise हमें Physical fit रखती है वही मैडिटेशन हमारे Brain muscle पर काम करता है और हम खुद को स्ट्रोंग बनाते जाते है.

Tibetan meditations you can use

तिब्बत ध्यान की विधि में ऐसे कई तकनीक है जिनका हम प्रयोग कर सकते है. ये सभी विधि मुख्य रूप से Loving kindness and compassion पर काम करती है जिसकी वजह से immune system को strong बनाया जाता है, हमारा perspective change होता है और हम balanced होना शुरू कर देते है.

Meditation on Compassion
  • ये विधि हमें हर जगह पर comfortable बनाती है फिर चाहे sitting, standing, walking, or lying down कोई भी स्थिति हो.
  • रीढ़ को सीधा बनाता है, बॉडी को relax करती है, सांसो को गहरा बनाती है और focus को स्ट्रोंग बनाती है.
  • सांसो के क्रम को बैलेंस करती है जिसकी वजह से नाक से साँस ली जाती है और ये एक समान और गहरी होती है.
  • बार बार दोहराए जाने पर इस मंत्र का प्रभाव बढ़ता जाता है.
Om Mani Padme Hum

इस मंत्र का उच्चारण निम्न तरह से किया जाना होता है

(h)ome, man ee, pad mee, hoom – होम मन ई पद मी हूम

इसका मतलब है हमारे ह्रदय में compassion विकसित हो रहा है. इसका सीधा प्रभाव हमारे दिल पर पड़ता है जिसकी वजह से Negative thought से खुद को दूर करता है और compassion and loving kindness से खुद को साफ बनाता है. अगर इस मंत्र का रोज जप किया जाए तो physical, mental, and spiritual health को बढ़ाया जाता है.

ऐसा माना जाता है की अगर कोई व्यक्ति अपने अंतिम क्षण में होता है और इस दौरान इस मंत्र का जप किया जाता है तो वो शांति से सांसे छोड़ पाता है. यही वजह है की Tibetan Buddhism meditation पूरी तरह Spiritual practice है.

Tibetan Prostrations

तिब्बत मुद्रा वो खास स्थिति है हमारी बॉडी और माइंड को harmonize करती है. ज्यादातर लोग Sun Salutations का पालन करते है जो आज योग में एक महत्वपूर्ण सीरीज है.

prostration

  • Mountain Pose: सीधे होकर खड़े होना और अपने हाथो को प्राथना की मुद्रा में जोड़ना जो उसकी चेस्ट के आगे है. अपनी आंखे बंद करे और सांसो को गहरा कर अपना ध्यान बाहरी तत्वों से अपने अन्दर की ओर ले जाए.
  • Circular breathing को follow करे. इस विधि में हम नाक से साँस लेते है और पेट की गहराई तक लेते है. जितनी देर तक सांसे अन्दर रहती है उतने ही समय में बाहर भी. ये साँस गहरी और एक समान होती है.
  • अब प्राथना की मुद्रा में रखे अपने हाथो को पहले अपने Crown chakra पर रखे, अपने माथे पर, अपने गले और फिर अंत में अपने ह्रदय पर रखे.
  • फ्लोर पर लेट जाइये, आपके हाथ फ्लोर पर सीधे रहने चाहिए. ( सूर्य नमस्कार की विधि की तरह ही ये विधि है और ज्यादा जानकारी के लिए निचे दी गई फोटो को देखे. )
  • वापस खड़े हो जाए और अपना ध्यान वापस circular breathing पर ले जाए.
  • आंखे खोले और circular breathing, mindfulness, and centeredness रहते हुए दिन की शुरुआत करे.

Tibetan Buddhism meditation सूर्य नमस्कार की तरह पोज को follow करती है जिसे आप फोटो में ज्यादा बेहतर समझ सकते है.

Tonglen Meditation

ध्यान की ये विधि अलग है जिसमे हम मुश्किल से सांसे लेते है और आराम से सांसे छोड़ते है. इसका basic principle निम्न है.

“Breathe in suffering and breathe out compassion”

इस ध्यान की विधि को निम्न तरह से पूरा किया जाता है.

  • खुद को सबसे पहले comfortable बना ले.
  • रीढ़ को सीधा करे और सांसो को गहरा बना ध्यान को बाहरी तत्वों की बजाय अपने अंतर में ले जाए.
  • खुद को circular breathing में engage करे. गहरी सांसे नाक से पेट की तरफ ले जाए और एक समान बना ले.
  • खुद को Tonglen करना : जब आप सांसे अन्दर की तरफ ले अपने हर negative thoughts को उभरने दे. सांसे बाहर छोड़ने के साथ ही आप इन सभी negative thoughts को बाहर निकाल रहे है ऐसा आपको feel करना है. इस दौरान जो खाली जगह रह जाती है उस जगह को आपको compassion के साथ भरना है.
  • किसी अपने के लिए Tonglen करना : ये हम उनके लिए करते है जिनसे हम जुड़े हुए होते है. सांसे अन्दर लेते हुए उनके प्रति अपने प्यार को महसूस करे ऐसी भावनाओं को उभरने दे. सांसे छोड़ने के साथ ही उन्हें खुश होता हुआ महसूस करे.
  • Purification: ध्यान के अंत में हमें ये Visualization करना है की हमारी सांसे जब हम अन्दर लेते है तब वो एक काले धुए के रूप में है. ये स्मोक negative thinking, emotion, feeling है जो की बाजर निकल रहा है जब हम सांसे बाहर छोड़ रहे होते है.

ध्यान की ये एक तरह से ग्रहण और छोड़ने का काम करती है. आप इसके जरिये किसी भी emotion, feeling and thoughts को accept and let go करते है. आप इसे खुद के लिए, दूसरो के लिए यहाँ तक की इस संसार में किसी भी व्यक्ति के लिए आप Tibetan Buddhism meditation का प्रयोग कर सकते है.

Tibetan bowl meditation benefits final word

अगर बात तिब्बत ध्यान की हो और Tibetan singing bowls का नाम ना लिया जाए ऐसा हो ही नहीं सकता है. आज Singing bowl को meditation and therapy दोनों में प्रयोग किया जाता है. आज सबसे ज्यादा इसका प्रयोग Spiritual sound therapy में किया जाता है. इसके बारे में हम आने वाली पोस्ट में बात करेंगे.

अगर आपके मन में Tibetan monk meditation को लेकर किसी तरह के सवाल है तो हमें कमेंट में पूछ सकते है.

Never miss an update subscribe us

* indicates required
Previous articleमनचाहा वशीकरण करने के लिए Simple but Effective Vashikaran Beej Mantra
Next articleHidden Traps of Kundalini Awakening How to overcome side effect
Nobody is perfect in this world but we can try to improve our knowledge and use it for others. welcome to my blog and learn new skill about personal | psychic | spiritual development. our team always ready to help you here. You can follow me on below platform

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here