क्या आप भी घर बैठे अपने अंदर की मानसिक शक्ति को जानना चाहते है इन टिप्स से पहचाने

6

mansik shakti ka abhyasआपसे पूछा जाये क्या आपके पास मानसिक शक्तियां है ? तो जवाब क्या होगा ! आपको खुद पर विश्वास नहीं होगा क्यों की आपने कभी इस सवाल का जवाब खोजने की कोशिश ही नहीं की। चलिए इस बार में कुछ और ज्यादा CLEAR बाते की जाये जिससे हम सके समझ सके। मानसिक शक्तियां हमारे मस्तिष्क से नियंत्रित होने वाली वो POWER है जो हमारे भौतिक शरीर से परे है. मानसिक शक्ति सब मे है लेकिन DAILY लाइफ में इनका प्रयोग करने बावजूद हम समझ नहीं पाते है. दैनिक जीवन, पुस्तकें, और मूवी सब मे मानसिक शक्ति के अनगिनत EXAMPLE भरे पड़े है. mansik shakti ka abhyas in hindi आपके अंदर की छिपी हुई सुपर पावर को पहचानने का सबसे सरल तरीका है। आप भी जान सकते है की आपमें कोनसी मानसिक शक्ति है।

सबसे ज्यादा इस्तेमाल की जाने वाली मानसिक शक्ति TELEPATHY, WILL POWER, और HYPNOTISM सिर्फ कुछ हद तक है.मानसिक शक्तिया सब में होती है जरूरत है तो बस अभ्यास द्वारा उनकी मात्रा बढ़ाने की आप खुद इसे कर सकते है हम हमारे दैनिक जीवन में इस तरह के EXAMPLE एक्सपीरियंस करते रहते है. जैसे की ASTRAL BODY, LUCID DREAM या फिर कुछ और सब मस्तिष्क के कार्य करने पर निर्भर करता है.

सब मे मानसिक शक्तियां है :

हम सबमे ही मानसिक शक्तियां है किसी में ज्यादा तो किसी में कम लेकिन अभ्यास कर इन्हे बढ़ाया जा सकता है इनमे से टेलीपैथी, HYPNOTISM आप पढ़ चुके है. इसके अलावा भी जितनी शक्ति है उन्हें भी इसी तरह अभ्यास से जाग्रत किया जा सकता है. आप अपने DAILY लाइफ में हर तरह के PERSON से मिलते है क्या आप ऐसे लोगो से मिले है जिनसे बात करते वक़्त आपको अपने ऊपर मानसिक दबाव महसूस हुआ हो, आपका शरीर और मन उस काम को करने के लिए तैयार हो जो आपके लिए फायदे मंद नहीं है फिर भी आपको करना पड़ जाता है.

जैसे की सब्जी बेचने वाला जिससे हम सब्जी लेना चाहते है सिर्फ 1 या फिर कम मात्रा में लेकिन जब उसके पास जाकर सब्जी लेने लगते है तो हमारे मनोभाव समझ कर वो हमारे दिमाग पर हावी होने की कोशिश करने लगता है. और जब आप वापस आते है तब आपको लगता है की आपने जितना सोचा था सामान उससे ज्यादा ही है. यही है मानसिक शक्ति का सबसे common example.

पढ़े : आने वाले कल को बेहतर बनाये आज के सपनो से

मानसिक शक्तियों को समझने का प्रयास :

सबसे पहले तो हमें उन तरीकों को समझना चाहिए जिनके द्वारा हम दूसरी चीजों को महसूस करते है. जैसे की छूना। हम चीजों को छूकर पता लगाते है की वो कैसी है. ठन्डे गरम का अनुभव छू कर किया जाता है. आप बिस्तर पर लेटे हुए है तभी आप अपने माथे के बीच खिंचाव महसूस करने लगते है आपको शरीर के अलावा शरीर के जैसा अनुभव होने लगे जो काफी हल्का हो इसे हम भौतिक रूप से नहीं समझा सकते। ये हमारे ऊर्जा शरीर की धारणा है जो मन के शांत होने पर आपके प्राण से बनती है. mansik shakti ka abhyas समझने के लिए निचे दिए गए सभी पॉइंट आपको समझने होंगे।

Read : क्या हम खुद को एक रोबोट की तरह बना सकते है ?

आप किसी व्यक्ति के सामने खड़े है और आप उसके चारो ओर एक चमक देखने लगते है जो 5 सेंटीमीटर तक हो सकती है ये उस औरा होता है जिन्हे आप देख सकते है ये आपकी मानसिक शक्ति का ही अनुभव होता है. आप दूसरों औरा देखने में सक्षम हो जाते है। इन सबके लिए आपको सिर्फ अपने अभ्यास की बढ़ाना होता है. जिस चीज का अभ्यास आप करते है उसमे आप MASTER बन जाते है.
दैनिक जीवन से कैसे समझे मानसिक शक्तियो के प्रभाव को

mansik shakti ka abhyas क्या आपके साथ ये होता है

क्या आपने किसी से मिलने के बाद खुद को शक्तिहीन महसूस किया है जैसे की आपको एक हल्की सी झपकी की जरुरत हो.
क्या आपने कुछ ऐसा महसूस किया है की कुछ आपके आसपास होने वाला है और असल में कुछ देर बाद हो जाता है।
आप अपने दोस्त के घर जाते है तब आप उत्साह से भरे हुए होते है लेकिन जब लौटते है तब खुद को शक्तिहीन, कमजोर, थका हुआ महसूस करते है.

  • आप सुबह उठते है तब आपको लगता है जैसे आपने बहुत साफ़ सपना देखा हो या पहले से ही जगे होने का अनुभव किया है.
  • कभी अपने जैसे ऊर्जा प्रतिरूप ( ASTRAL BODY ) का अनुभव किया है.
  • सोने का बाद या जागते हुए उन लोगो को महसूस करना जो गुजर चुके है. क्या आपने ऐसा कुछ कहा हो जो आगे चल कर सच हो गया हो.क्या आपको कभी अपने पिछले जन्म के बारे में पता चला है.
  • क्या अपने अपने शरीर में निरन्तर कम्पन ( VIBRATION ) महसूस किये है जागते और सोते वक़्त।
  • क्या आपके साथ भी ऐसा होता है की आपके सामने घटना घटती है अचानक से आपको लगता है की आप पहले भी उस घटना को देख चुके है या महसूस किया हो।

ऊपर के किसी भी सवाल में अगर आपका जवाब आता है YES तो इसका मतलब है की आपकी मानसिक शक्तियां अच्छे LEVEL की है. जिन्हे और अभ्यास द्वारा हम बढ़ा सकते है, नियंत्रित कर सकते है.

पढ़े : वशीकरण एक्सपर्ट से संपर्क करने से पहले जान ले ये जरुरी बातें

mansik shakti ka abhyas – पहचाने अपने अंदर खास पावर को

जब भी हम किसी खास TOPIC में अपना INTEREST दिखाते है इसका मतलब है हम उस पर अन्य से ज्यादा ध्यान दे रहे है, इससे उस विषय को समझने के ज्यादा CHANCE बढ़ जाते है.

” CURIOSITY, MOTIVATION AND DEDICATION ARE THE KEY OF SUCCESS

ज्ञान हमारे समझ को बेहतर बनाता है जिसके लिए READ, STUDY AND PRACTICE का FORMULA लागु होता है.

स्वस्थ शारीरिक अवस्था में मानसिक शक्ति का अभ्यास

शरीर जब स्वस्थ होता है तब हम मानसिक शक्तियों का अभ्यास अच्छे से कर सकते है इसके लिए आपको कोई अलग से उपाय करने की आवश्यकता नहीं होती है. अगर आप स्वस्थ है तो आपको अभ्यास में जल्दी सफलता मिलती है स्वस्थ का मतलब है शारीरिक और मानसिक के साथ आध्यात्मिक रूप से भी मजबूत व्यक्तित्व। ghar par mansik shakti ka abhyas तभी करे जब आप मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ हो।

आपका विश्वास और मानसिक क्षमता

आपका विश्वास मानसिक शक्ति को प्रभावित करता है हम सब जानते है किसी चीज में विश्वास करना अवचेतन मन को उसे साकार रूप देने में मदद करता है. इसलिए आपका विश्वास इसे affect करता है. विज्ञानं जब तक किसी को देख न ले मानने की इजाजत नहीं देता है. इसलिए आपका विश्वास आपके शरीर की अवस्था ( हेल्थी BODY ) और आपका कल्पना करना इसके अभ्यास को बढ़ाता है. इसके लिए आपको कभी कभी उसे मानना पड़ता है जो होता नहीं है ( हमारी कल्पना ) ये सिर्फ सोचा जाता है जिसका आप पर कोई दुष्प्रभाव नहीं पड़ता है. हमारा ब्रह्मांड काफी विशाल है और जो घटनाएं हमारे चारो ओर घटती रहती है उन पर यकीन करना हमेशा सरल नहीं होता है.

personal Growth and Para-psych-ism

मानसिक शक्ति हमारी प्राकृतिक क्षमता में से एक है और कुछ इसे हमेशा से इस्तेमाल करते हुए बढ़ा लेते है तो कुछ बाद में अभ्यास द्वारा। जैसे की हमारी WILL POWER काफी मजबूत होती लेकिन टेलीपैथी power नहीं होती है . इसके लिए हमें ऊर्जा के सही इस्तेमाल को समझने की आवश्यकता है. आपकी पर्सनल ग्रोथ यानि सुधार में भी mansik shakti ka abhyas इस्तेमाल कर सकते है। जैसे कद का बढ़ाना, वजन बढ़ाना या घटाना जैसे काम।

मानसिक शक्ति के विभिन्न आयाम को दर्शाना

अपनी छिपी प्रतिभा को पहचानने के अलावा mansik shakti ka abhyas आपको दूसरे आयाम को समझने में भी मदद कर सकता है। ज्यादातर मूवी में खासतौर से horror में एक इंसान ऐसा होता है जिसे घटनाओं का आभास होता रहता है. इसके अलावा fantasy movie में आपको एक इंसान ऐसा मिलेगा जो मानसिक शक्ति में दूसरों से ज्यादा मजबूत होता है यहाँ तक की आपके विचारों में कितनी मजबूती है ये भी मानसिक शक्ति का एक आयाम है.

ये सब यह दर्शाते है की मानसिक शक्तियां हमेशा विपरीत परिस्थिति में ही पैदा होती है इसके अलावा इन्हे अभ्यास द्वारा ही हर स्थिति में इस्तेमाल किया जा सकता है. हम खुद अपनी समस्या से समाधान पा सकते है जिसके लिए अपने आध्यात्मिक ऊर्जा बढ़ाना होता है. ऐसी ही पोस्ट अपने मेल बॉक्स में पाने के लिए आज ही सब्सक्राइब करे।

6 COMMENTS

  1. sir mene sab kiya meri mansik shakti ki wajah se adhi raat nagitiv energy mere samne aakr mujhse lift mangne lagi jiske karan mera accident ho gya kya me dobara in sab shaktiyo ka malik ban sakta hu koi address de do? ya agar aap ye sab karte ho toh aap jaan jaoge k me kon hoon? my mobile nu,9050750644

    • मोहित जी हम अपनीलुप्त / सुप्त शक्ति को दोबारा जाग्रत कर सकते है. वक़्त कितना लगेगा ये निर्भर करता है की आपकी शक्ति किस वजह से सुप्त हुई है. आमतौर पर जब आध्यात्मिक अनुभव की और बढ़ते है तो negative और positive energy का attract होना स्वाभाविक है. लेकिन इसकी वजह से शक्तिया सुप्त हो जाए ऐसा नहीं हो सकता क्या आप पूरी बात रखेंगे.

  2. hi please muje ek suggest kare mere mastik ke bich main khichav jada mehsus hoti hai.
    to ise kaise kaboo karu

    • आंखे बंद कर खुद को कुछ देर भावना दे की मन शांत हो रहा है. शरीर में हो रही किसी भी तरह की हलचल शांत हो जाएगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.