Tarot card reading से जुड़े रोचक fact और टैरो कार्ड रीडिंग का सही तरीका

15

टैरो कार्ड रीडिंगटैरो कार्ड क्या है और इसे कैसे पढ़े जाता है के बारे में हम इंटरनेट और फिल्मो में काफी कुछ जान चुके है। कुछ लोग इसे तीसरे नेत्र की शक्तियों से जोड़ कर देखते है तो कुछ लोग छटी इंद्री की शक्ति मानते है। असल में टैरो कार्ड आपके intuition यानि जो हो रहा है उसे बगैर किसी विरोधाभास के ग्रहण करते रहना की वजह से होता है। टैरो कार्ड रीडिंग एक कला है जो आपके मन में दबी होती है। आज की पोस्ट में हम टैरो कार्ड पर बात करने वाले है जिसे समझना उतना ही रोचक है जितना इसे प्रत्यक्ष में करना। टैरो कार्ड रीडर हमें हमारे मन की उलझनों के समाधान द्वारा मदद करते है।

tarot card में कुल 78 card होते है। इन्हे मुख्य और अल्प में विभाजित किया है। इसमें एक शब्द आर्काना लैटिन भाषा के अर्कान्स से लिया गया है जिसका मतलब है रहस्य्मय व्यक्तिगत विकास।इसमें गुप्त विद्याओ को समझने वालो के टैरो कार्ड एक गंभीर विषय है। टैरो कार्ड भविष्यवाणी से जुड़ी कई बाते भी बताता है।

टैरो कार्ड रीडिंग में प्रदर्शन का तरीका :

आपने देखा होगा की टैरो कार्ड की रीडिंग के वक़्त उन्हें एक खास तरह से अपने सामने रखा जाता है और टैरो कार्ड के चुनाव की खास विधिया द्वारा इनका चुनाव करवाया जाता है। जैसे ताश के पत्तो में बाँटने और उन्हें रखने का खास तरीका उनके बारे में बहुत कुछ बता देता है उसी तरह टैरो कार्ड को पढ़ने के निम्न 3 तरीके आपको जान लेने चाहिए। टैरो कार्ड रीडिंग इन हिंदी में आप यहाँ जानिए इसे पढ़ने के प्रचलित तरीके और भी कुछ जानकारिया।

पढ़े  : इन्टरनेट से जुड़े टॉप 5 फ्रॉड जिनसे आपको बचना चाहिए

1.) तीन कार्ड का तरीका :

टैरो कार्ड रीडिंग का ये तरीका सबसे ज्यादा काम में आने वाला है जो तीन card के ड्रा करने के तरीके को दर्शाता है ये आपके तीनो काल से यानि भूत, वर्तमान और भविष्य से भी जुड़ा हो सकता है या फिर परिस्थिति, सुझाव और बचाव का नतीजा भी हो सकता है। जितना आप रचनाशील होंगे उतना ही अच्छा रिजल्ट आपको मिलता है। इसमें आप कार्ड  पढ़ने के प्रवाह और तरीके को समझ सकते है।

2.) पांच कार्ड का तरीका :

इसका तरीका भी वही Tarot card reading में shuffle किये गए पत्तो में से पांच का चुनाव करे। ये कार्ड का तरीका भी पांच बाते जिनमे से तीन आपके काल से जुडी है और 2 में सुझाव और नतीजे को दर्शाता है। इसका मतलब पांच तत्वों से जोड़ कर भी भविष्य की झलकियों को समझाया जा सकता है जो आपके व्यव्हार और माहौल से जुडी है।

3.) सात कार्ड का तरीका :

ऊपर वर्णित किये गए तरीके की तरह ये मेथड भी हमें बहुत कुछ इसकी जानकारिया देता है जिसमे आपके काल और जीवन से जुडी लगभग बाते समझ में आ जाती है। इसमें 7 बातो का पता चलता है जिसमे 3 आपके काल से जुडी है, इसके अलावा आपकी परिस्थिति, आपके जीवन की बाधाएं, उनसे निकलने के 2 तरीके शामिल है। इस तरीके में एक और जहा आपको अपनी परेशानियों से जुडी हर समस्या का समाधान मिलने के चांस है वही ये तरीका सबसे मुश्किल और अनुभवी माना जाता है।

पढ़े  : बीते कल की घटनाओ और पुनर्जन्म को याद करने का अभ्यास

कैसे पढ़े टैरो कार्ड को :

tarot card को पढ़ने का सबसे easy method shuffle किये गए कार्ड में से 3 कार्ड का चुनाव करना है। चुने गए 3 कार्ड अलग अलग मतलब और जानकारी को दर्शाते है इसमें

  • पहला कार्ड प्रश्न पूछते वक़्त आपके मन की स्थिति को दर्शाता है।
  • दूसरा कार्ड आपको बताता है की आप उन इच्छाओ को पूरा करने के लिए क्या करने वाले है या क्या प्रयास करने होंगे।
  • तीसरा और अंतिम कार्ड आपको आपके परिणामस्वरूप प्रश्न का उत्तर देता है। ये आपके लिए सुझाव या फिर नतीजे को दर्शाने वाला भी हो सकता है। आजकल ऑनलाइन टैरो कार्ड रीडिंग वेबसाइट आपको इसे समझने में पूरा सहयोग दे सकती है।

टैरो कार्ड से जुड़े रोचक तथ्य :

  1. टैरो कार्ड अगर आप किसी से खरीदते है तो आपको उसे गिफ्ट देना चाहिए। हम खुद के टैरो कार्ड खरीद सकते है और इसके लिए पैसे देने की प्रक्रिया पुरानी हो चुकी है।
  2. अगर कोई कहता है की टैरो कार्ड रीड करने की सिर्फ एक ही प्रक्रिया है और गलत तरीके से पढ़ने पर इसके कोई रिजल्ट नहीं मिलते तो ये भी गलत है क्यों की इसमें हमारी सोच और कल्पना शक्ति कार्य करती है इसलिए इसका इस्तेमाल करने से पहले टैरो कार्ड कैसे पढ़े को जान ले।
  3. कुछ लोग टैरो कार्ड पढ़ने से अपने आसपास का माहौल बिलकुल ही अलग सा बना लेते है उनका मानना है की आध्यत्मिक शक्तियों का आवाहन करने से उन्हें कार्ड पढ़ने में ज्यादा मदद मिलती है जबकि ऐसा कुछ नहीं है।
  4. टैरो कार्ड को पढ़ने के बाद उसे स्पेशल जगह रखना और उन्हें क्रिस्टल से साफ करना भी जरुरी नहीं है हालाँकि  नेगेटिव रिजल्ट भी नहीं है पर अगर आप टैरो कार्ड पढ़ना जानते है तो आपको इन चीजों की कोई जरुरत नहीं है।
  5. ये जरुरी नहीं है की आप टैरो कार्ड पढ़ने से पहले उन्हें खास तरीके से चुने या ताश के पत्तो की तरह उन्हें snuffle करे।
  6. टैरो कार्ड पढ़ने के लिए आपको गहन अभ्यास की जरुरत तो है लेकिन अँधेरी रातो में अभ्यास करना इसकी सफलता कभी नहीं है आपको इसमें टैरो कार्ड को समझना है जिसके लिए आपको नियमित अभ्यास की आवश्यकता है इसलिए अगर कोई आपसे जल्दी इसे सीख रहा है तो परेशान ना होइए।
  7. tarot card सिर्फ future की झलकियां देखने के लिए ही काम आते है इनका ध्यान, रचनाशीलता की क्षमता और कल्पनाशक्ति में बढ़ोतरी में कोई योगदान नहीं है।

पढ़े  : क्या आप जानते है इन संकेतो को जो बताते है की आप Law of attraction में एक्सपर्ट बन रहे है

टैरो कार्ड और ओउजा बोर्ड क्या है :

tarot card एक ऐसी practice है जो intuition पर निर्भर है जबकि ओउजा बोर्ड आत्माओ को आकर्षित कर उनसे अपने सवालों के जवाब पाने का माध्यम है। ओउजा बोर्ड वास्तव में काम करता है अगर आपके मन में आकर्षण शक्ति का इस्तेमाल करने सही तरीका है। और आपके मन में स्थिरता है। जबकि टैरो कार्ड आपके मन की उलझनों को कार्ड के द्वारा प्रदर्शित करता है। टैरो कार्ड में आपको विस्तृत से जानकारी मिल सकती है जबकि Auja board में आपको हां या ना में उत्तर मिलता है। दोनों ही विद्या अलग अलग है और अलग विज्ञान से वास्ता रखती है।

पढ़े  : शरीर से बाहर विचरण के अभ्यास की शुरुआत कैसे करे

क्या टैरो कार्ड रीडिंग सही है :

बिलकुल क्यों की ये अंक गणित, रमल प्रश्नावली जैसी महत्वपूर्ण विद्याओ की तरह ही है। अगर आपने अंक गणित और रमल प्रश्नावली की कोशिश की है तो आपने देखा होगा की आपको अपनी समस्या के जवाब लगभग 95%  सही मिलते है। ये निर्भर करता है इसके ज्ञाता की समझ और उसके अनुभव पर। में इन दोनों प्रश्नावली से अपने सवालों का जवाब पा चूका हूँ आप भी कोशिश कर सकते है। इंटरनेट पर कई वेबसाइट टैरो कार्ड रीडिंग ऑनलाइन फ्री उपलब्ध करवाते है।

Never miss an update subscribe us

* indicates required

15 COMMENTS

  1. Tarot card reading और Card से जुडे रोचक तथ्यों के बारे मे जानकारी देने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद Kumar ji.

  2. Tarot Card की जानकारी सही होती है या नही, यह तो मुझे मालूम नही,लेकिन इसके बारे में सुना तो हुया था लेकिन यह क्या होते है और कैसे काम करते है,इसकी बिल्कुल भी जानकारी नही थी। लेकिन आपने बखूभी इसके बारे में लिखा और बहुत ही अच्छे से समझाया ….. बहुत बढ़िया जानकारी दी….

  3. I’m really impressed with your writing skills as well as with the layout on your blog. Is this a paid theme or did you customize it yourself? Anyway keep up the nice quality writing, it’s rare to see a nice blog like this one these days.

  4. whoah this blog is excellent i love studying your posts. Stay up the great work! You recognize, lots of individuals are hunting around for this info, you could help them greatly.

  5. If some one wants expert view about blogging afterward i recommend him/her to pay a visit this webpage, Keep up the fastidious job.

  6. This is a topic that’s near to my heart… Take care! Exactly where are your contact details though?

  7. Everyone loves what you guys are up too. Such clever work and coverage! Keep up the amazing works guys.

  8. Generally I don’t read article on blogs, however I would like to say that this write-up very forced me to check out and do it! Your writing taste has been amazed me. Thanks, quite nice article.|

  9. Right here is the right webpage for everyone who wishes to find out about this topic. You understand a whole lot its almost tough to argue with you (not that I actually will need to…HaHa). You definitely put a brand new spin on a topic that’s been discussed for a long time. Wonderful stuff, just excellent!

  10. I am not sure where you’re getting your info, but great topic.

    I needs to spend some time learning much more or understanding more.
    Thanks for excellent info I was looking for this information for my mission.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here