super-conscious mind मस्तिष्क की एक ऐसी स्टेज जहाँ चमत्कार संभव होते है

6
1474

अब तक हम सामान्य जीवन में सिर्फ चेतन मन और अवचेतन मन के बारे में ही पढ़ते आये है लेकिन क्या आप जानते है इससे भी बढ़कर एक और शक्ति है और वो है Super Conscious Mind जो इतना शक्तिशाली है की हम कल्पना भी नहीं कर सकते है.

अब तक आप अवचेतन मन की शक्ति के बारे में पढ़ चुके है और जिन्होंने इसे समझा है उनके अनुसार अवचेतन मन बहुत शक्तिशाली है तो सोचिये Super Conscious Mind कितना Powerful होगा.

SuperConscious Mind

हिन्दू धर्म में समाधी का बहुत बार जिक्र किया जाता है जिसके अनुसार हमारे शरीर की सभी गतिविधिया सुप्त हो जाती है. अगर ऐसा है तो हमारी चेतना कहा रहती है और उस काल के दौरान जो घटना होती है उसका हम पर क्या प्रभाव पड़ता है ? जब हम समाधी की अवस्था में पहुँचते है तब हमारी चेतना Super Conscious Mind के रूप में विचरण करती है.

Super Conscious Mind और Sub Conscious Mind में फर्क सिर्फ इतना है की अवचेतन मन हमें भविष्य और पास्ट को घटनाओ को महसूस करवाता है लेकिन इससे आगे चलकर Super Conscious Mind हमें उन घटनाओ में बदलाव करने की शक्ति प्रदान करता है.

आमतौर पर हम चेतन और अवचेतन मन के बीच उलझे हुए रहते है लेकिन, जब हम खुद को Spiritual activity या फिर सूक्ष्म अध्ययन करना शुरू कर देते है तब हम trance like state को achieve करते है और इसी स्टेट में हमारा brain खुद को universal energy से जोड़ता है. ऐसा होने के बाद हम महसूस करते है की हम खुद को सब से connect कर सकते है और कुछ भी यहाँ अलग नहीं है.

असल में हमारा मस्तिष्क जो हमेशा अनचाहे विचारो में उलझा हुआ रहता है उसे एक स्पेस चाहिए. जब विचारो के बीच स्पेस को समझना शुरू कर देते है तो आसानी से खुद को detach करना सीख जाते है. आइये जानते है मस्तिष्क की इस चेतना के स्तर को और इसके काम करने के तरीके के बारे में.

What is Super Conscious Mind in Hindi?

हमारा brain टोटल 3 स्तर पर काम करता है जिसमे पहला Consciousness, दूसरा subconsciousness और तीसरा Super Conscious Mind है. इसे highest level of awareness के नाम से भी जाना जा सकता है क्यों की ये हमें oneness का experience करने में हेल्प करता है.

जब हमारी चेतना इस स्तर पर होती है तब हम खुद को ब्रह्म से जोड़ देते है और हमारा connection पूरी तरह universal हो जाता है.

Quantum physics के अनुसार इस ब्रह्माण्ड में कुछ भी सॉलिड नहीं है. ऐसे में इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता है की कोई पदार्थ कितना सूक्ष्म है उन सब में स्पेस होगा. ऐसे में लाइफ पदार्थ के योग की बजाय उर्जा के बहाव से पहचानी जानी चाहिए.

यूनिवर्स में घूमने वाली flow of electromagnetic waves को हम स्पेस के तौर पर समझ सकते है. ये स्पेस हमारे विचारो के बीच होता है. अगर आप unwanted intrusive thought में फंसे है और आपको लगता है की सभी विचार एक दूसरे से connected है तो ध्यान रहे की हर thought के बीच space भी है.

हमारा Super Conscious Mind इसी स्पेस पर काम करता है. अगर आप इसे access करना सीख ले तो आपके लिए spiritual healing, universal connection स्थापित करना आसान हो जाता है.

important role of Super Conscious Mind

अभी तक आपने पढ़ा है की किस तरह अवचेतन मन हमें भविष्य की झलकियां दिखाने और चमत्कार जैसे घटनाओ को दिखाता है. लेकिन क्या आपने सोचा है की भौतिक और ऊर्जा स्वरूप से जुड़ा हमारा सुपर-अवचेतन मन उसे किस तरह पूरा करता है.

असल से यूनिवर्सल पावर के जरिये वो निरंतर अपने काम करता रहता है इसलिए इसे समझकर आप भी अपने जीवन में बहुत कुछ पा सकते है.

Read : How to Free Vashikaran Mantra by Photo with 100% result Simple Hindi Guide

जीवन के संचालन में

अवचेतन मन को प्राप्त होता है लेकिन जब अवचेतन मन को लगता है की वो हमारे लिए सही है तब वो निर्देश कहाँ जाता है ? जीवनकाल में घटने वाली हर घटना हमारे मन में स्टोर होती है लेकिन कहाँ ?

ये सभी निर्देश और यादे Super Conscious Mind स्टोर करता है. कई बार हम अपने जीवन में ऐसी घटनाए अनुभव करते है जो लगता है पहले भी हो चुकी है लेकिन वास्तव में ये हमारे Super Conscious Mind का कमाल होता है जो हमें घट रही घटनाओ को कैसे बदले और कैसे उन्हें अपने फायदे के लिए घटने दे.

ध्यान दे की Subconscious Mind घटनाओ को कैच करता है लेकिन Super Conscious Mind उन्हें हमारे लिए फायदेमंद बनाता है. इसका मतलब इसके द्वारा हम घाट रही घटना को अपने अनुकूल बना फायदेमंद बना सकते है.

Read : 1 Powerful Hanuman Vashikaran mantra in Hindi for love vashikaran सबसे आसान और घरेलू उपाय

भूत और भविष्य की घटनाए

हमारे जीवन से जुड़ी पास्ट और भविष्य की सभी घटनाओ को स्टोर करने का काम Super Conscious Mind का है. हम आज जो बर्ताव कर रहे है वो हमारे पास्ट से जुड़ा है.

हम ये जानकार थोड़ा आश्चर्य में पड़ सकते है की Super Conscious Mind ही है जो उन घटनाओ को हमें दिखाता है वर्तमान की लाइफ में जो इमोशनल पैटर्न है उसका हमारे पास्ट से कुछ न कुछ रिलेशन जरूर है. और भविष्य में हम जो करने जा रहे है उसमे हमें खुद को सभी तरह से मजबूत और बैलेंस्ड बनाना है.

Super Conscious Mind और Sub Conscious Mind में फर्क

अवचेतन मन घटनाओ को पहले स्टोर करता है लेकिन जीवन की हर घटना Super Conscious Mind में स्टोर रहती है जिन्हे अवचेतन मन दवरा दोबारा प्राप्त किया जाता है सम्मोहन की अवस्था में.

  • अवचेतन मन सिर्फ आपको भविष्य की झलकियां दिखा सकता है लेकिन अगर आप उनमे बदलाव करना चाहते है तो ये आपके सुपर अवचेतन मन का कार्य है.
  • सुपर अवचेतन मन ब्रह्मंडिय ऊर्जा को स्वतन्त्र रूप से ग्रहण कर आपके लिए काम करता है. एक तरह से हर वो काम जो अवचेतन मन की लिमिट से जुड़ा है सुपर अवचेतन मन द्वारा पूर्ण किया जाता है.
  • कोमा और समाधी दोनों अवस्था में हमारा सुपर अचेतन मन स्वतंत्र हो जाता है और फिर से चेतना हमें जीवन में लाती है.

Read : 100% Guaranteed Vashikaran mantra for husband in Hindi Top 5 Easy and Effective way to Control Husband

How to Use Super Conscious Mind

पिछली कुछ पोस्ट में हम Law Of Attraction पढ़ चुके है. अब हम उन कुछ सिंपल स्टेप्स के बारे में जानते है जिनके द्वारा हम खुद Super Conscious Mind को इस्तेमाल कर खुद की लाइफ में सुधार ला सकते है.

  • तय करे क्या चाहिए सबसे पहले तो आपको ये तय करना होगा की आप वास्तव में क्या चाहते है ? ज्यादातर लोगो की सबसे बड़ी प्रॉब्लम यही है की वो तय ही नहीं कर पाते है की उन्हें चाहिए क्या और फिर जब उन्हें वो नहीं मिलता है तब वो अफ़सोस करते है.
  • गोल को लिखना शुरू कर दे जब आपको ये पता चल जाये की आपको वास्तव में क्या चाहिए तब उन्हें लिखना शुरू कर दे वो भी पूरी डिटेल के साथ क्यों की जब तक एक विचार को लिखा नहीं जाता वो एक विश बना रहता है. इसलिए अगर आपको कुछ चाहिए तो उसे लिखे जरूर.
  • वर्तमान में रहे हमेशा अपने गोल को वर्तमान में रहते हुए लिखे. इसको लिखने का तरीका भी 60/40 का रखे. ये एक तरीका है जो आपके गोल को पूरा होने में मदद करता है. मान लीजिये कही कुछ प्रॉब्लम आ जाए तो उसके लिए छोटा सा बदलाव ना की प्लान चेंज.
  • लिस्ट बना लीजिये एक गोल को पूरा करने के हजारो तरीके हो सकते है. अगर आप ठन्डे और शांत दिमाग से सोचे तो पाएंगे की आपका मस्तिष्क अपने आप आपको ये तरीके / ऑप्शन सुझाता है. इन सभी को एक लिस्ट के रूप में लिखे और समझे ताकि जो रास्ता सबसे सही लगे अमल में लाया जा सके.
  • जरूरतों की भी लिस्ट आपकी जो भी विश है उन्हें महत्व के आधार पर लिखे ताकि जो कम महत्व की जरुरत है उन्हें बाद में भी किया जा सके.
  • हर रोज करे कुछ हर रोज आपके गोल में से एक गोल को पूरा करने के लिए कदम उठाये. इसके लिए आप रोज कुछ न कुछ ऐसा करे जो आपके गोल से जुड़ा है ताकि आपके लक्ष्य को बनाया रखा जा सके.
  • काल्पनिक दुनिया और हकीकत हर रोज कुछ समय के लिए आप कल्पना कीजिये अपने गोल को लेकर जैसे की आपने जो स्टेप उठाये है उनसे आप गोल को कैसे प्राप्त कर रहे है इस तरह से ना सिर्फ आपका आत्मविश्वास बढ़ेगा बल्कि आपको नया आईडिया भी मिलने लगेगा.
  • भावनात्मक रूप से करे एन्जॉय अपने गोल को लेकर आपकी भावनाए कैसी है ये भी मायने रखता है इसलिए अपने गोल को लेकर ख़ुशी वाली भावनाए रखे जब आप अपने गोल को अच्छी भावनाओ के साथ जोड़ लेते है तो आप बहुत ज्यादा बढ़िया परफॉर्म कर पाते है.
connect yourself with universal energy

Super Conscious Mind और आपका गोल मानसिक रूप से स्वीकार करते रहे की आपका गोल आपकी ओर बढ़ रहा है और आप अपने गोल की तरफ. इसे भी आप पूरे आत्मविश्वास के साथ अपने साथ व्यव्हार में लाये ताकि आप खुद को ज्यादा से ज्यादा उत्साही महसूस कर सके.

खुद को जोड़े यूनिवर्सल पावर के साथ जब आप ऊपर बताये गए सभी आईडिया को पूरा कर ले तब अपने गोल को Super Conscious Mind के साथ Universal Power के साथ जोड़ दे और इससे बाहर निकल जाए यानि अपनी नार्मल लाइफ में काम करते रहिये. आप देखेंगे की आप अपने आप गोल की तरफ बढ़ते जा रहे है.

आपका जो गोल है वो Universal Power के जरिये पूरा हो रहा है. इस तरह आप आसानी से उत्साह और आत्मविश्वास के साथ अपने गोल को प्राप्त कर सकते है.

ज्यादातर लोग Super Conscious Mind और Sub Conscious Mind के बिच अंतर नहीं कर पाते है या उन्हें ये सभी जो ऊपर बताया है अवचेतन मन का ही हिस्सा लगता है इसलिए बता देना चाहूंगा की अंतर्मन जो आपको चमत्कार जैसा महसूस करवाता है अवचेतन मन है लेकिन उसे रियलिटी में बदलने का काम Super Conscious Mind का है.

Read : 5 strange fact about Witching Hour in Hindi सुबह 3 से 4 बजे के बीच वास्तव में क्या होता है ?

Daily Cleansing Regime of the Subconscious Mind

हमें हर रोज Subconscious Mind को cleanse करने की जरुरत होती है ताकि हम इसके काम को समझ सके. अगर हम अपने अवचेतन मन को सही तरह से काम नहीं ले पा रहे है तो ये हमारे belief system की कमी की वजह से है जो की energy center में blockage की वजह बनाता है.

असल में जब हमारा अवचेतन मन किसी आदत को अपनाने में परेशानी का सामना करता है जो की उसे चेतन मन से मिलती है तो वो इसे Super Conscious Mind से access करता है.

इसके लिए आपको practice करने की जरुरत है जिसमे थोडा वक़्त लगता है लेकिन जब हम इसे develop कर लेते है तब काफी सारे बदलाव करना आसान बन जाता है. इसके लिए आपको अपने belief system पर काम करना होगा.

जब हम Deep Experience Of Meditation की स्थिति में होते है तब superconsciousness को achieve करते है जो और कुछ trance like state का अनुभव ही है. इसके लिए आप हर रोज कुछ खास तरह के बिलीफ सिस्टम को विकसित कर सकते है जैसे की

  • जो हो रहा है वो सब अच्छे के लिए हो रहा है.
  • हर साँस के साथ जो बाहर निकल रही है में अपने नकारात्मक विचारो को खुद से अलग कर रहा हूँ.
  • divine thoughts मुझे हर तरह से heal कर रहे है.
  • Universal energy and divine experience के साथ जुड़ने के लिए अब में फ्री हूँ.
  • आकर्षण का सिद्धांत मेरे लिए काम कर रहा है.

ये आपके विचारो की शक्ति को मजबूत बनाता है जो की आगे चलकर normal state में भी superconsciousness को access करने में हेल्प करता है.

Read : जिन्नात को भगाने का सबसे आसान उपाय खुद करे जिन्न से बचाव

Alignment of all three minds final conclusion

अब तक आप समझ ही गए होंगे की हमारे मस्तिष्क के अलग अलग स्टेज किस तरह आपस में connected है और ये किस तरह एक दूसरे से इनफार्मेशन को शेयर करते है. आमतौर पर हम चेतना के इस स्तर को नकार देते है क्यों की हम सिर्फ Conscious mind and subconscious mind में ही फंसे रहते है.

इस स्तर तक पहुँचने के लिए हमें deep meditation or trance like state से गुजरना पड़ता है जो की हम नियमित कर ही नहीं पाते है.

आपको हर रोज सिर्फ 15 मिनट ध्यान में बैठकर अपने बिलीफ सिस्टम को मजबूत करना होता है. जब ऐसा होता है हम आसानी से Super Conscious Mind को access करना शुरू कर देते है.

जो कुछ भी चेतन मन और अवचेतन मन ग्रहण करता है वो SuperConscious Mind द्वारा निर्धारित किया जाता है. यही एक वजह है की जब हम खुद पर विश्वास खो देते है तब हमें Reprogramming से गुजरना पड़ता है.

अलग अलग तरह के सपने दिखाई देने का मतलब अलग अलग स्टेज से गुजरना है. हमारी चेतना किस स्तर पर है उसी तरह के सपने हम देखते है. ये सभी आपके कण्ट्रोल में तभी हो सकता है जब आप अपने तीनो मस्तिष्क को एक जगह अलाइन कर सके.

Previous articleछिपे हुए तनाव के 6 मुख्य लक्षण जिन्हे आपको समझना चाहिए
Next article10 strong way of how to Control Your Mind and Balance Your Life in Hindi
Nobody is perfect in this world but we can try to improve our knowledge and use it for others. welcome to my blog and learn new skill about personal | psychic | spiritual development. our team always ready to help you here. You can follow me on below platform

6 COMMENTS

  1. Super Conscious mind के बारे में बहुत ही यूनिक जानकारी शेयर की आपने. आपने सच कहा कि अवचेतन मन सिर्फ आपको भविष्य की झलकियां दिखा सकता है लेकिन अगर आप उनमे बदलाव करना चाहते है तो ये आपके सुपर अवचेतन मन का कार्य है. Thanks for sharing a useful information Kumar Ji…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here