11 Sign How Spiritual Awakening changing Relationships and Love in Hindi

0
69

Spiritual awakening यानि खुद को जानना जो की एक बड़ा बदलाव होता है. आध्यात्मिक जागरण हमारे लाइफ को देखने के नजरिये में बदलाव लाता है, लोगो से मिलने में बदलाव लाता है, Nature में change आता है लेकिन इसकी कीमत क्या है ? क्या Spiritual awakening की वजह से हमारे relationship पर कोई असर नहीं पड़ता है या फिर ये हमारे दूसरो के साथ रिश्तो को प्रभावित करता है. आज की पोस्ट में हम Spiritual awakening changing relationships के बारे में जानने वाले है.

Spiritual awakening का प्रभाव हर व्यक्ति के लिए अलग होता है. हालाँकि सभी को लगता है की ये प्रक्रिया एक एक अच्छा बदलाव है. हम जितना ज्यादा आध्यात्मिक बनते जाते है खुद से जुडाव और शांति को महसूस करना शुरू कर देते है. बदलाव से जुड़े बुरे प्रभाव तब सामने आते है जब एक व्यक्ति आध्यात्मिक होता है और दूसरा नहीं. इस तरह के बदलाव को Negative effect of Spiritual awakening कहा जाता है.

Spiritual awakening changing relationships

आज का जमाना Modern lifestyle को फॉलो करता है. अगर इस दौर में आप Spirituality से जुडी बाते करते है तो दूसरे आपको मजाक में लेना शुरू कर देते है. उन्हें ये सब Old fashion or mentality जैसा लगता है. अगर ये स्थिति relationship में हो तो क्या होगा ? आपका पार्टनर आपको समझने की कोशिश करता है लेकिन, आपका Attachment उनके लिए धीरे धीरे ख़त्म होने लगता है.

ये स्थिति लम्बे समय तक बनी रहती है और आगे चलकर आपके relationship में इसका negative impacts दिखाई देने लगता है. अगर आप Spiritual awakening process से गुजर रहे है तो अपने रिश्तो को कैसे संभालेंगे ? आज हम इन सब के बारे में बात करने वाले है और सबसे पहले हम बात करेंगे की किस तरह आध्यात्मिक जागरण हमारे दूसरो के साथ रिश्तो को प्रभावित करता है.

Spiritual awakening changing relationships in Hindi

सबसे पहले तो हमें जान लेना चाहिए की आखिर ऐसा होता क्यों है ? आखिर Spiritual awakening क्यों हमारे दूसरो के साथ रिश्तो को बिगाड़ना शुरू कर देती है.

जब एक व्यक्ति आध्यात्मिक जागरण की प्रक्रिया से गुजरता है तो वो बाकि सब से खुद को अलग कर लेता है. बदलाव की ये प्रक्रिया उन्हें बाकि सब से अलग बना देती है क्यों की Spiritual awakening changing relationships के लिए आपको इसका main reason जानना होगा.

इसका सबसे बड़ा रीज़न है 2 अलग अलग व्यक्ति प्रक्रिया से गुजरते है. एक व्यक्ति जो आध्यात्मिक जागरण से गुजरता है वो अपने अंतर को जानना शुरू कर देता है जो उसे शांत बनाता है.

दूसरी ओर सामान्य व्यक्ति दुनिया भर के कामो में उलझे हुए रहते है. यहाँ बात 2 अलग और विपरीत प्रकृति की हो रही है. जहाँ एक व्यक्ति अन्दर की तरफ भागता है वही दूसरी तरफ बाहरी तरफ.

हम ऐसे 11 Sign of Spiritual awakening ending relationships के बारे में बात करेंगे जो रिश्ते को ख़त्म करने लगते है. अगर आपने किसी Love one को खो दिया है तो Spiritual awakening के बाद इस स्थिति से खुद को बाहर कैसे निकाल सकते है. सबसे पहले बात करते है What is spiritual awakening in Hindi

“आध्यात्मिक जागरण की प्रक्रिया तब होती है जब हम हमारे आसपास की चीजो को विस्तृत नजरिये से देखना और उनमे Humanity को तलाश करना शुरू कर देते है. हमें अहसास होना शुरू हो जाता है की humility का मतलब खुद के बारे में न सोचते हुए दूसरो के बारे पहले सोचना नहीं है बल्कि, खुद के बारे में कम सोचना है. हम खुद के self-compassion को लेकर worthy है.”

ये वो प्रक्रिया है जिसमे हम भविष्य के बारे में सोचना बंद कर देते है. बीते कल को लेकर परेशान होना छोड़ देते है और अपने ईगो, अनचाहे डर को बार बार हावी होने से खुद को बचाते है.

Negative impact of Spiritual awakening changing relationships

Spiritual awakening की प्रक्रिया एक धीरे धीरे आगे बढ़ने वाली slow मगर Powerful process होती है. इस प्रक्रिया में हम खुद को समझना शुरू करते है और अहसास करते है की हमारा अस्तित्व सिर्फ हम या फिर मै से काफी आगे है.

हम दुनिया को कैसे देखते है उस नजरिए में बदलाव आना शुरू हो जाता है. हम सिर्फ एक व्यक्ति तक सिमित नहीं रहते है बल्कि खुद को इस प्रकृति का एक भाग मान कर खुद को दूसरो से Connected महसूस करना शुरू कर देते है.

हर व्यक्ति के लिए आध्यात्मिक जागरण की प्रक्रिया और उसका प्रभाव अलग अलग होता है क्यों की किन्ही 2 लोगो का दुनिया को देखने का नजरिया कभी एक जैसा नहीं होता है.

आमतौर पर अगर कोई हमें इग्नोर करता है तो उसका हम पर असर वैसा ही होता है जैसा एक घाव लगने पर होता है. एक Spiritual enlightenment process से गुजर रहा व्यक्ति सबसे पहले अपने अंतर से जुडाव को महसूस करना शुरू करता है और उसे अब बाहर की किसी भी स्थिति से कोई फर्क नहीं पड़ता है.

लेकिन, हर किसी के लिए Spiritual awakening changing relationships का सामना करना आसान नहीं है खासकर ऐसे व्यक्ति से जुड़े लोग खासकर उसके Love one और प्रिय लोग.

दूसरो से मिलने के बाद खुद को कमजोर महसूस करना

क्या आपने कभी महसूस किया है की आप अपने किसी फ्रेंड से मुलाकात की और फिर घर लौटते समय खुद को कमजोर महसूस किया हो.

हम इस तरह की स्थिति से गुजरते है फिर चाहे हम आध्यात्मिक जाग्रत हो या फिर नहीं. हम पहले भी Psychic vampire के बारे में बात कर चुके है. ऐसे लोग जिनसे मिलने के बाद हमारा emotional level down हो जाता है और हमारा Aura energy field कमजोर हो जाता है.

आमतौर पर ऐसे लोग जो खुद को कमजोर दिखाते हुए दूसरो की सहानुभूति हासिल करने की कोशिश करते है या फिर मानसिक रूप से ताकतवर जो अपने से कमजोर लोगो पर हावी होने की कोशिश करते है.

ऐसा तब होता है जब हम खुद को दूसरे व्यक्ति से जोड़ना शुरू कर देते है. सामने वाला जिस स्थिति से गुजर रहा है उस स्थिति से खुद को connect करना आपको अन्दर से कमजोर बनाना शुरू कर देता है.

इस तरह के Spiritual awakening changing relationships जैसे बदलाव को समझना जरुरी है. जब आप Spiritual enlightenment process से गुजरते है तब आपका emotional aura energy field काफी strong होना शुरू हो जाता है.

ऐसी स्थिति में आप emotional sensitive हो जाते है. दूसरो की तकलीफ को फील करने की क्षमता पहले से बढ़ जाती है जो अच्छा भी है और बुरा भी.

अगर आप उनकी तकलीफ को फील करते है तो इसका मतलब आप परेशान होते है कोई भी आसानी से आपके और क्षेत्र को प्रभावित कर सकता है.

आप अपने जैसे लोगो को अब प्रभावित नहीं कर पाते है

Spiritual awakening से पहले जिन लोगो को आप Attract कर पा रहे थे अब जब आप खुद में evolve होना शुरू हो जाते है तो आप उनके लिए खास नहीं रह जाते है. अब आप former types of friendships or relationships से दूर रहते हुए अपने जैसे Spiritual लोगो से attract होना शुरू हो जाते है.

ऐसा अचानक नहीं होता है क्यों की प्रकृति में हमेशा कुछ न कुछ बदलाव होता रहता है. आपको आगे बढ़ने के लिए Guardian angle हमारा मार्ग दर्शन करना शुरू कर देती है.

जितना जल्दी आप बदलाव को अपनाना शुरू कर देते है उतना ही नए रास्ते को अपनाने के लिए ओपन हो जाते है. जो हो रहा है उसे सीधे तौर पर accept कर लेना आपको शांत और स्थिर बना लेते है.

आप खुद को दूसरो से अलग कर लेते है लेकिन, भरोसा रखे आप लम्बे समय तक खुद को अकेला नहीं रख सकते है. आपके आसपास के लोग जल्दी ही आपसे जुड़ना शुरू हो जाते है.

Read : 7 Types of Emotional Baggage affect your Life भावनाओं के बोझ से बाहर निकलना है बेहद जरुरी

ये सब आपके जागरण की प्रक्रिया का एक हिस्सा है.

आपको समझना चाहिए की Spiritual awakening changing relationships किसी तरह का negative impact नहीं बल्कि एक बदलाव या अपग्रेड है. जितना जल्दी आप इस तरह के बदलाव को अपना लेते है उतना ही जल्दी आप खुद को हर परेशानी और तकलीफ से दूर कर लेते है.

एक साइकिक आपको इसके बारे में ज्यादा डिटेल से जानकारी दे सकता है

Psychic वे लोग होते है जो आम लोगो से ज्यादा Sensitive होते है. ये किसी भी व्यक्ति को छू कर या फिर किसी और माध्यम से उसके बारे में बता सकते है. किसी व्यक्ति को छू कर उसके बारे में बताना एक Psychic ability का हिस्सा है.

कई बार जिन बदलाव से हम गुजरते है उससे बाहर निकलने को लेकर हमें कोई आईडिया नहीं होता है. ऐसी स्थिति में एक साइकिक हमें ऐसी स्थिति से बाहर निकलने में हेल्प कर सकता है. वे हमें आगे बढ़ने से जुड़े sign सुझाते है और उन्हें कैसे फॉलो कर सकते है इन सब के बारे में आईडिया देते है.

अगर आप भी Spiritual awakening changing relationships की Process से गुजर रहे है और इसकी वजह से आपके रिश्तो पर असर पड़ रहा है तो आप किसी Psychic की हेल्प लेकर इस स्थिति को handle कर सकते है.

You feel misunderstood

जब दो लोग साथ में रहते है और उनमे नजरिये का फर्क होता है ऐसे में मतभेद होना लाजिमी है. एक व्यक्ति जो Spiritual awakening से गुजर रहा है उसका दूसरो को देखने और समझने का नजरिया उन लोगो से अलग होता है जो Physical realm में फंसे हुए रहते है. ऐसी स्थिति आपके अन्दर मतभेद पैदा कर सकती है.

जब आप ये देखते है की आप दूसरो से अलग है और बाकि लोग जिस तरह से स्थिति से गुजर रहे है आप उनसे अलग है. दूसरो से खुद को अलग महसूस करना आपको भयभीत और परेशान कर सकता है.

आध्यात्मिक जागरण के बदलाव आपके अन्दर मतभेद और उथल पुथल पैदा करते है जो आपके अन्दर की शांति को भंग करते है. जब आप स्थिति को पहले की तरह अपना नहीं पाते है तब आपका मन अशांत होना शुरू हो जाता है. यही Spiritual awakening changing relationships की प्रक्रिया और बदलाव आपको भटका सकते है.

आप खुद को चाह कर भी दूसरो से खुद को जोड़ नहीं पाते है. यहाँ आप और आपके प्रिय के बीच के अंतर को महसूस करते हुए आप परेशान हो सकते है. एक समय आपको ये लग सकता है की इन सब परेशानियों की वजह आध्यात्मिक जागरण है. इस तरह का भ्रम आपको फायदे की जगह नुकसान पहुंचाने लगता है.

Read : Friends with Benefits Dating and Relationship Must remember these 11 rule for mutual bonding

आप खुद को अकेला महसूस करने लगते है

कई बार ऐसा होता है की हम किसी व्यक्ति के पास रहते हुए भी उसके साथ नहीं होते है. detachment की स्थिति में हमारा शरीर दूसरे लोगो के साथ रहता है लेकिन, मन वो तो एकांत में ही खोया रहता है.

एक बार हम अंतर की यात्रा करना शुरू कर देते है तो उसके बाद हमारा मन बाहरी विषयों से हट कर अंतर में ही डूबा रहता है. मुझे अच्छे से याद है की जब में 10 क्लास में था और न्यास ध्यान का अभ्यास कर रहा था.

पूरे दिन भर में भले ही क्लास attend करता और बाकि एक्टिविटी में शामिल रहता था लेकिन अन्दर से में अपनी ही दुनिया में रहता था जहाँ पर मुझे आंखे बंद करते ही एक अजीब सी शांति मिलती थी.

ये स्थिति अच्छी भी है और बुरी भी क्यों की सबकुछ हमारी सोच और समझ पर निर्भर रहता है. जब हम चाह कर भी खुद को दूसरो से जोड़ नहीं पाते है तब हम खुद को दूसरो से अलग महसूस करना शुरू कर देते है.

इस तरह का Spiritual awakening changing relationships Symptom आपको विचलित कर सकता है और आपके उर्जा चक्र को ब्लॉक भी कर सकता है.

Read : Kundalini Yoga and Guided Chakras meditation process in Hindi safe Guide

आप रिश्तो को अलग नजरिये से देखना शुरू कर देते है

हो सकता है शुरुआत में नए नजरिये के साथ दूसरो के साथ अपने रिश्ते को अपनाने से आपको मुश्किलों का सामना करना पड़े लेकिन धीरे धीरे सब ठीक हो जाता है.

जिन लोगो के साथ आप पहले घंटो बिता देते थे अब उनके साथ आप एक मिनट भी नहीं बिता पाते है. जिन लोगो के साथ आपका attachment पहले ज्यादा था अब नहीं है.

आपको ये अहसास हो सकता है की अब आप दूसरो के साथ अपने रिश्तो को बना नहीं पा रहे है लेकिन, हकीकत तो ये है की ये सब बदले हुए नजरिये की वजह से है.

इन सब से परेशान ना हो बल्कि शांत मन में गहन अध्ययन करे की आप रिश्तो में बदलाव कहाँ महसूस कर रहे है.

Read : Top 5 Powerful Astrological remedies for debt problems in Hindi ऋण से मुक्ति पाने के आसान उपाय

You have less in common with your close friends

जैसे जैसे हम spiritual journey में आगे बढ़ना शुरू कर देते है वैसे ही हम अपने अन्दर की गहराई और खुशियों को समझना शुरू कर देते है.

आपको अन्दर से खुश क्या बनाता है और आप अपने अंतर में ज्यादा से ज्यादा डूबने लगते है. हर रोज बीतते समय के बाद आप आप अपने और अपने खास व्यक्ति के बीच के अंतर को महसूस करना शुरू कर देते है.

spiritual detachment

Spiritual awakening changing relationships की process आपको अपने अंतर से जोड़ना शुरू कर देती है.

जब भी हम गहराई में उतरना शुरू करते है हमें चीजो के बीच के आपसी connection समझ आने लगते है और हम चीजो को आपस में connect करना शुरू कर देते है.

कुछ लोगो के लिए Spiritual Growth आसान नहीं होती है और जब आप इसमें आगे बढ़ने लगते है तो धीरे धीरे आपके और आपके खास लोगो के बीच अंतर सामने आने लगते है.

Some relationships become frustrating

Frustration जैसी स्थिति तब सामने आती है जब हम miscommunication जैसी स्थिति से गुजरते है. आध्यात्मिक जागरण के दौरान हम महसूस करते है की हमारे कुछ रिश्ते अब हमें परेशान करने लगते है और इन सब की वजह आपस में कुछ समझ ना पाना.

आप चाहते है की जो स्थिति आप अनुभव कर रहे है आपके आसपास के लोग खासकर जिन लोगो से आप क्लोज है वो भी इसे महसूस करे.

यही पर आपके और आपके क्लोज लोगो के बीच मतभेद की स्थिति बनने लगती है. कई बार आपको Spiritual awakening changing relationships का भ्रम होता है लेकिन वास्तव में ऐसा इसकी वजह से नहीं होता है.

आमतौर पर हम खुद में बदलाव को महसूस करते है लेकिन साथ ही कही न कही दूसरो से भी ऐसा करने की उम्मीद करते है. जब ऐसा नहीं होता है तब हम आसपास के लोगो के साथ मतभेद करना शुरू कर देते है.

Ignoring energies which no longer align with yours becomes hard

क्या आप कभी ऐसे व्यक्ति से मिले है जो आपके लिए बेशक सही नहीं है लेकिन फिर भी आप उनके साथ relationship में आ गए है.

बेशक लाख बुराई सही लेकिन कुछ अच्छाई ही थी जो आपके और उनके रिश्ते को अब तक बनाये हुए थी. दूसरो की नजर में भले ही आप दोनों एक perfect Couple हो लेकिन, आपका connection अपने पार्टनर के साथ आत्मिक नहीं था.

ऐसी स्थिति में जब आप Spiritual awakening से गुजरते है तब आप दूसरो से अलग हो जाते है और आपकी Brain wave frequency दूसरो से अलग हो जाती है जो की अब दूसरो को entertain नहीं कर पाती है.

आपकी लाइफ में Spiritual awakening changing relationships अब बहुत ज्यादा बदलाव ला चुकी है. ऐसा इसलिए क्यों की अब आप दूसरे लोगो के साथ घंटो नहीं बिता पाते है या उनके साथ वक़्त नहीं बिता रहे है.

आध्यात्मिक जागरण से पहले आप अपने आसपास के लोगो के साथ Adjustment or compromise कर लेते थे लेकिन, अब इस स्थिति को इग्नोर करना आपके लिए मुश्किल होने लगता है.

Read : क्या आप भी toxic relationship से गुजर रहे है ? इससे बाहर निकलने के लिए इन tips को अपनाइए

Conflict starts to arise

परेशानियाँ और मुश्किलें हर रिश्ते में होते है लेकिन, जब आध्यात्मिक जागरण की प्रक्रिया से गुजरते है तब ये परिस्थितियां और भी ज्यादा बुरी हो जाती है. जब एक पार्टनर आध्यात्मिक जागरण से गुजरता है और दूसरा व्यक्ति नहीं तो उनके आपसी रिश्ते में मुश्किलों का सामना करना पड़ता है.

अगर आप Spiritual awakening changing relationships से गुजर रहे है तो आपका और आपके पार्टनर के बीच मतभेद और ज्यादा बढ़ जाना स्वाभाविक है.

जब आप जागरण की प्रक्रिया से गुजरते है तो आप ये महसूस करते है की आपका पार्टनर जो इस प्रक्रिया से दूर है आपको समझ नहीं पा रहा है, वो आपसे बिलकुल अलग है और वो आपको आगे बढ़ने से भी रोक रहे है.

अपने पार्टनर की वजह से आप आगे नहीं बढ़ पा रहे है और आपका अपने पार्टनर के साथ रिश्ता बिगड़ने लगता है.

You become unrecognizable to them and vice versa

जब आप इस प्रक्रिया से गुजरते है तो आप पाते है की आपका पार्टनर अब पहले जैसा नहीं रहा है. यही स्थिति आपके पार्टनर के लिए भी होती है जब आप खुद उनकी नजरो में बदले हुए हो जाते है.

आप दोनों एक दूसरे के साथ होते है और वक़्त भी बिताते है लेकिन फिर भी आप दोनों एक दूसरे के लिए अजनबी होने लगते है.

कल्पना करे की आप ट्रांसफॉर्मेशन से पहले क्या थे और अब क्या बन गए है. आपका और आपके पार्टनर के बीच का रिश्ता क्या था और क्या हो गया है.

शांत मन से How Spiritual awakening changing relationships के बारे में सोचे और उन बदलाव को महसूस करे जो अब आप देख रहे है.

Read : जिन्नात को भगाने का सबसे आसान उपाय खुद करे जिन्न से बचाव

Why spiritual awakening breaks your relationships

क्या आध्यात्मिक जागरण का सीधे तौर पर यही मतलब है की आपका रिश्ता अब ख़त्म होने लगा है. Spiritual awakening कभी भी हमारे रिश्तो को ख़त्म नहीं करती है लेकिन जो बदलाव होता है उसे समझे बगैर आप इसे सही नहीं कर सकते है.

आपको अपने आसपास के लोगो से अलग होने की जरुरत नहीं है. अगर किसी व्यक्ति की energy frequency अलग है तो इसका मतलब ये नहीं है की आप उनसे अलग है.

आप चाहे तो उन्हें Tune कर सकते है. इसके लिए आपको कुछ बातो का ख्याल रखना चाहिए. यहाँ पर 3 तरह के response पर आपको ध्यान देना चाहिए जैसे की

  • A positive response अगर आपके पार्टनर का आपके लिए सकारात्मक रवैया है तो ये आपके लिए अच्छा है. दूसरे लोग आपको समझने लगे है और वो आपको support कर रहे है. वे भले ही खुद इस पथ पर आगे नहीं बढ़ रहे है लेकिन वे आपको भी रिजेक्ट नहीं कर रहे है.
  • A neutral response जब कोई आपको इग्नोर करता है तब कैसा लगता है? हो सकता है की ये थोडा परेशान कर दे लेकिन घबराए नहीं क्यों की वे भले ही आपके जागरण पर कोई प्रक्रिया ना दे रहे हो लेकिन, वो आपको होल्ड भी नहीं कर रहे है.
  • A negative response ज्यादातर ऐसा होता है की जब आप इस प्रक्रिया से गुजरते है आपके आसपास के लोग आपको अपने रवैये से पीछे हटाने की कोशिश करते है.

ज्यादातर लोगो के साथ ऐसा होता है की लोग आपको Demotivate करने लगते है. आप खुद को दूसरो से अलग करना शुरू कर देते है क्यों की वो आपका ज्यादातर मजाक बनाने लगते है.

आध्यात्मिक जागरण के बाद आपके अपने आसपास के लोगो के साथ किस तरह के रिश्ते होंगे ये निर्भर करता है की वे आपको इस दौरान किस तरह support कर रहे है.

Finding love after spiritual awakening

अगर आप Spiritual awakening changing relationships से गुजर रहे है और इसके असर को रोकना चाहते है साथ ही इसमें आगे बढ़ना चाहते है तो आपको कुछ खास बातो का ख्याल रखना चाहिए.

जागरण से गुजरने के दौरान आप लोगो के साथ अपने रिश्ते को रखना चाहते है या फिर उन्हें दूर करते हुए आगे बढ़ना चाहते है ये आप पर निर्भर है.

आप आध्यात्मिक जागरण के बदलावों को सीधे तौर पर अपना सकते है और साथ ही अपने डेली लाइफ को बैलेंस भी कर सकते है.

आपको सिर्फ कुछ बातो का ध्यान रखना होगा जो की निम्न है

अपनी यात्रा पर भरोसा रखे

ऐसे कई मौके आते है जब आपको खुद पर शक होने लगता है. Spiritual awakening के दौरान कई बार हमें ऐसा लगता है की ये हमारे रिश्तो को ख़त्म कर रही है या फिर हमें नुकसान हो रहा है ऐसा स्थिति में आपके पास 2 ही विकल्प है या तो आप वापस normal life में चले जाए या फिर इस पर भरोसा रखते हुए आगे बढे.

जब भी हम आगे बढ़ने की कगार पर होते है अच्छे और बुरे दोनों तरह के परिणाम हमारे सामने आते है.

आपको सबसे पहले खुद पर भरोसा बनाने की जरुरत है और आगे बढ़ने के लिए आपका खुद पर भरोसा होना बेहद जरुरी है. कुछ लोग Spiritual awakening after breakup को experience करते है जो की एक तरह का self realization है और कई बार ये अच्छा भी होता है.

आपकी पूरी लाइफ को बदल देने के लिए ये काफी है इसलिए जितना हो सके Spiritual awakening changing relationships के दौरान अपने आप पर भरोसा बनाए रखने की कोशिश करे.

Read : Top 5 way to Dealing with emotional vampires at work Hindi Guide

जो है उसे वैसे ही अपना लेना सीखे

वक़्त के साथ हर रिश्ता बदलता जाता है. आप इस बात को नकार नहीं सकते है की आपके लिए कुछ रिश्ते हमेशा एक जैसे नहीं रहते है. बदलते वक़्त के साथ ये उम्मीद लगा लेना की जो रिश्ता आपके दूसरो के साथ सालो पहले था वो अब भी वैसा ही हो ये जरुरी नहीं है.

कुछ रिश्तो को जैसे है वैसे ही अपना लेना आपको Spiritual awakening changing relationships के वहम से दूर करता है.

आपको ये लगता होगा की आध्यात्मिक जागरण की वजह से आपके दूसरो के साथ रिश्ते बदले है लेकिन ऐसा नहीं है. हर बदलते वक़्त के साथ परिस्थिति बदलती है जो की रिश्तो को सीधे तौर पर प्रभावित करती है.

बदलाव प्रकृति का नियम है और हर कोई इससे गुजरता है इसलिए इससे परेशान न हो बल्कि इसे accept करना सीखे.

Read : Basics of Love Magic spell and top 5 simple tricks to do on Partner for love

खुद को लेकर डर ना रखे बल्कि ओपन रहे

अगर आप आध्यात्मिक जागरण की प्रक्रिया से गुजर रहे है और आपके पार्टनर का इस पर बहुत ही नकारात्मक रवैया है तो ये वक़्त खुद को लेकर ओपन होने का और overcome your fears of rejection and judgment का सामना करने का है.

spiritual awakening after breakup

बिना किसी डर के अपने पार्टनर या क्लोज से बात करे और अपने विचार को उनके सामने रखे. अगर आपका पीछे का रिश्ता काफी उलझा हुआ रहता है तो आपके लिए ये आसान नहीं होता है लेकिन, जागरण की प्रक्रिया आपके नजरिये को बदलती है.

उलझे हुए रिश्ते में रहने से अच्छा है की आप इससे Move on करे और आगे बढे.

अगर आपके पार्टनर को आपकी कदर होगी और वो आपकी परवाह करते है तो बिलकुल वो आपकी सुनेंगे और उसके लिए जो सही होगा उसे करने की कोशिश करेंगे.

ज्यादातर लोग Spiritual awakening changing relationships को लेकर ग़लतफ़हमी पाल लेते है क्यों की इसके बाद वो रिश्तो में ताल मेल नहीं बना पाते है लेकिन, इसमें जागरण का कोई रोल नहीं है ये सिर्फ आपके नजरिये में बदलाव लाता है.

Read : How to Get Fast Result with Black magic Vashikaran Mantra kriya in Hindi

Surround yourself with likeminded people

अगर आप खुद को अकेला महसूस कर रहे है तो ऐसे लोगो के आसपास रहे जो आपकी तरह सोचते है.

जरुरी नहीं की वे आपके क्लोज ही हो लेकिन जिन लोगो का सोचने समझने का तरीका आपकी तरह होगा आप उनके साथ ज्यादा वक़्त बिताएंगे तो आपका नजरिया सही होगा और आप धीरे धीरे Finding love after spiritual awakening में सक्सेस हासिल कर पाएंगे.

Spiritual awakening changing relationships की प्रक्रिया आसान नहीं है लेकिन, अगर आपको वक़्त वक़्त पर दूसरो का support मिलता रहे तो आप इसे आसानी से सही कर सकते है.

हार ना माने

सबसे बड़ी बात कभी भी हार न माने. अगर आप इस प्रक्रिया से गुजर रहे है तो मुश्किलें भी आयेगी लेकिन इसका मतलब ये नहीं की आप खुद को कमजोर समझने लगे और कुछ कोशिश के बाद हार मान ले.

आगे बढे और बार बार कोशिश करे. अगर आपका क्लोज पार्टनर आपके और जागरण की प्रक्रिया के बीच नकारात्मकता बना रहा है तो उसे handle करना सीखे.

How Spiritual awakening changing relationships final conclusion

हम सब जानते है की सबके विचार आपस में नहीं मिलते है और किन्ही 2 लोगो की आध्यत्मिक जागरण की प्रक्रिया आपस में मेल नहीं खाती है. सबकी जागरण की प्रक्रिया अलग अलग होती है इसलिए कभी भी खुद को दूसरो के साथ compare ना करे.

आप दूसरो से अलग है और कई मायनो में बेहतर भी है आपको बस अपनी खूबियों की तलाश करनी है और फिर आपको इसमें आगे बढ़ने में कोई मुश्किल इतनी बड़ी नहीं लगेगी.

आमतौर पर लोगो के Spiritual awakening changing relationships को लेकर ग़लतफ़हमी को ठीक करने की कोशिश की जानी चाहिए.

अगर आप इस प्रक्रिया से गुजर रहे है तो ये कभी आपके रिश्तो पर बुरा असर नहीं डालती है. आप सिर्फ अपने नजरिये में बड़े स्तर पर बदलाव लाते है जो की एक Natural process है और ये तब होता है जब आप अपने अंतर से जुड़ते है.

अपने आसपास या फिर ऐसे लोगो से जुडाव बनाने की कोशिश करे जो आपकी तरह इस प्रक्रिया से गुजर रहे है या फिर सोचने समझने में आपकी तरह ही है.

धीरे धीरे आप महसूस करेंगे की अब आपके लिए आध्यात्मिक जागरण मुश्किल नहीं रहा है और अब आप आगे बढ़ने के लिए रेडी है.

Never miss an update subscribe us

* indicates required
Previous article7 Types of Emotional Baggage affect your Life भावनाओं के बोझ से बाहर निकलना है बेहद जरुरी
Next articleStrange 5 Black Magic Symptoms on in Body Mind and Soul in Hindi काले जादू की पहचान कर बचाव के आसान उपाय
Nobody is perfect in this world but we can try to improve our knowledge and use it for others. welcome to my blog and learn new skill about personal | psychic | spiritual development. our team always ready to help you here. You can follow me on below platform

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here