मानसिक साधनाए और Side effects of psychic energy जिनकी वजह से हम साधना में असफल हो जाते है

2

मानस साधना या फिर मानसिक साधना वो होती है जिसमे हम खुद के मानसिक उर्जा द्वारा किसी उर्जा को साकार रूप देते है. प्राचीन समय में जिन कृत्या, मानस कन्या या पुत्र का जिक्र किया जाता था उन्हें इसी साधना द्वारा उर्जा को एक रूप दिया जाता था. दूसरी साधनाओ से मानस साधना कुछ मायने में अलग होती है और इनमे रखी जाने वाली सावधानियां भी. आज हम बात करने वाले है Side Effects Of Psychic Energy के बारे में जिसमे हम जानेंगे की किस तरह कुछ साधनाए हमें मानसिक रूप से कमजोर बना सकती है.

अभी तक हमshadow person ritual ( हमजाद साधना ), tulpa energy formation ( तुल्पा ), मानस साधना इन सबके बारे में पढ़ चुके है. इन सभी साधनाओ में एक बात कॉमन है और वो है इनका किसी उर्जा द्वारा एक साकार रूप में परिवर्तन होना. इस बात में कोई शक नहीं की इनकी शक्तियां साधक के मन से संचालित होती है लेकिन एक वक़्त ऐसा आता है जब आप इनके ही चंगुल में फंस जाते है.

Side effects of psychic energy

इन शक्तियों को हम एक ऐसे प्रोग्राम की तरह कह सकते है जिन्हें हम बनाते तो अपने काम के लिए है लेकिन वक़्त के साथ इनमे खुद की thinking power development होना शुरू हो जाता है. ऐसा तब होता है जब साधक का self emotion control कमजोर पड़ जाता है. ऐसी स्थिति में ये साधनाए हमें इनका गलत प्रयोग करने के लिए या फिर स्वार्थ की सिद्धि के लिए भटकाने की कोशिश करती है. जब हम ऐसा करना शुरू कर देते है तब ये शक्ति अपना खुद का आकार और सोच बनाना शुरू कर देती है.

Side effects of psychic energy

साधनाए कई तरह की है जिसमे से कुछ साधनाए साधक के मन से संचालित होती है. इस वक़्त ऐसी कई सारी साधनाए है जिन्हें हम activate कर सकते है. इनमे से मुख्य निचे दी गई कुछ साधनाए है.

ये सभी साधनाए साधक की मानसिक उर्जा से भी संचालित होती है इसलिए इस तरह की किसी भी साधना में किसी भी दुसरे विधान से ज्यादा महत्वपूर्ण होता है साधक का मानसिक नियंत्रण. psychic energy ritual में हम telepathy, telekinesis and telecommunication को भी ले सकते है जिसमे third eye activation जैसी process भी शामिल है.

इस तरह की साधना करने से पहले हमें आत्म-नियंत्रण का अभ्यास कर लेना चाहिए जो की बेहद जरुरी है. अगर हम ऐसा नहीं करते है तो साधना सिद्धि के बाद Side effects of psychic energy की वजह से जल्दी ही हम साधना को या तो नष्ट कर लेते है या फिर उन शक्तियों के चंगुल में फंस जाते है जिन्हें हमने अपनी ही सोच से बनाया था.

इस पोस्ट में इन खास टॉपिक को जोड़ा गया है जिन्हें आप निचे क्लिक कर भी पढ़ सकते है.

मानसिक उर्जा और उसके नुकसान

मानसिक उर्जा यानि psychic energy की परिभाषा लोगो के लिए अलग अलग हो सकती है. सबसे आसान शब्दों में अगर हम इसे समझने की कोशिश करे तो ये हमारे आसपास के मंडल में बह रही उर्जा है जो की हमारे thought and intention पर respond करती है. कुछ लोग इसे साधक की खुद की उर्जा मानते है लेकिन ये सब universal energy है जिसे एक reiki energy channel shifter अपने जरिये किसी भी माध्यम में flow करवा सकता है. सुनने में ये जितना रोचक लग रहा है इसके नुकसान उतने ही ज्यादा है.

मानसिक साधना के हम पर क्या क्या प्रभाव हो सकते है ?

हर इन्सान के अन्दर psychic powers होती है लेकिन सही तरीके से उन्हें काम में ना ले पाने या फिर गलत activity में लगे रहने की वजह से हम इन पर पकड़ खो देते है. अगर आप ऊपर दी गई किसी तरह की मानसिक साधना का अभ्यास कर रहे है तो ये बेहद जरुरी है की आप मानसिक रूप से मजबूत हो. अगर अभ्यास के दौरान हम अपनी भावनाओ और इच्छा ( वासनाओ ) को काबू नहीं कर पाते है तो इसका सीधा असर हमारी साधना पर पड़ता है.

धीरे धीरे ये शक्ति हमें हमारी उन इच्छा को पूरा करने का प्रलोभन देती है जो गलत होती है या फिर सिर्फ हमारे खुद की इच्छा होती है. दुसरो की मदद करने की बजाय हम खुद की स्वार्थ से भरी इछाओ को पूरा करने में लग जाते है और ये शक्तियां हम पर ही हावी होने लगती है. कर्ण-पिशाचनी साधना, हमजाद साधना इसका सटीक उदाहरण है.

side effects of psychic energy in hind

जब भी हम मानसिक उर्जा यानि psychic ability के साथ काम करते है तो ये कभी ज्यादा कभी बेहद कम स्तर पर महसूस की जा सकती है. अगर कभी भी प्रयोग के दौरान आपको महसूस हो की उर्जा का बहाव बेहद कम स्तर पर है तो खुद के अन्दर आने वाले इन बदलावों को आप पहचान कर सकते है. ये बदलाव हमें बताते है की हम side effect of psychic energy से गुजर रहे है जिसकी वजह से हमें ये changes experience हो रहे है.

1. हरदम गले में सूखापन लगना – Dehydration

जब भी हम psychic ability के साथ काम करते है तो गले में सूखापन लगने जैसी स्थिति से हम कई बार गुजरते है. जब ऐसा होता है तब हम खुद को बहुत ज्यादा थका हुआ महसूस करते है. ध्यान की स्थिति में हमें ऐसा ज्यादा अनुभव नहीं होता है लेकिन tratak meditation practice के दौरान खुद को कई बार हम कमजोर महसूस करना शुरू कर देते है. इस अनुभव से ज्यादातर साधक गुजर चुके है यहाँ तक की में भी शुरुआत के समय में ऐसा अनुभव करता था. इसकी सबसे बड़ी वजह थी त्राटक में psychic energy का जरुरत से ज्यादा इस्तेमाल करना.

आपको याद हो तो त्राटक के दौरान हम ज्यादा से ज्यादा मानसिक भावना का इस्तेमाल करते थे जिसमे खुद को विचार शून्य करना शामिल था. सामान्य स्तर पर ये हमें परेशान नहीं करता है लेकिन जब हम जरुरत से ज्यादा दबाव बनाकर इसका प्रयोग करते है तो मानसिक दबाव की स्थिति बनती है. इस दौरान कमजोरी, शरीर का कमजोर और शिथिल पड़ जाना साथ ही प्यास लगने जैसी स्थिति पैदा होती है.

अगर आप इस तरह की स्थिति से गुजर रहे है तो आपको पानी प्रचुर मात्रा में पीना चाहिए. साधना अभ्यास के बिच में भी हम जल ग्रहण कर सकते है या फिर पानी पास में रख कर खुद को इसके अनुकूल बना सकते है. ऐसा करना हमें Side effects of psychic energy से तो बचाएगा ही साथ ही अभ्यास में मन लगा रहेगा.

2. तनाव की स्थिति – tension

psychic energy भी एक तरह की उर्जा है जिसे needs a clear path to flow की जरुरत पड़ती है. हमारी physical body and energy field में काफी सारे blockage होते है जो उर्जा के प्रवाह को बाधित करते है. उर्जा के प्रवाह के दौरान बॉडी में सही तरीके से उर्जा प्रवाह ना हो पाने की स्थिति में हम इसके side effect से गुजरते है जिसमे टेंशन शामिल है.

इस तरह की स्थिति तब पैदा होती है जब हम खुद की psychic energy ability के साथ प्रयोग करते है. इस दौरान प्रयोग के बिच में तनाव और परेशानी के साथ साथ बेचैनी महसूस करना शामिल है. इस side effect से बाहर निकलना एक लम्बी प्रोसेस है जो की बहुत ज्यादा time ले सकती है और साधक को जरुरत से ज्यादा दर्द महसूस करवा सकती है.

तनाव की स्थिति से निपटने के उपाय

इस तरह के Side effects of psychic energy को हटाने के लिए आप निचे दिए गए किसी भी एक मेथड को आजमा सकते है.

  • yoga and meditation : सबसे powerful तरीका जिसके जरिये हम खुद को free energy flow के काबिल बना सकते है. नियमित अभ्यास करना हमें उर्जा से भरपूर और शक्तिशाली बनाने में काफी मददगार है.
  • Tai chi energy workout : ये एक पुरानी तकनीक है लेकिन अभी भी कामयाब और सबसे ज्यादा relax करने वाली है. असल में ये तकनीक हमें उर्जा के बहाव को कण्ट्रोल करना सिखाती है. ये तकनीक आसान है लेकिन शक्तिशाली है जो सांसो के साथ उर्जा के बहाव को नियंत्रित करती है और हम अपनी भावनाओं को अच्छे से नियंत्रित करना सीख जाते है.
  • reiki : ये भी एक तरह की form of energy healing है जिसमे मास्टर अपनी उर्जा के जरिये माध्यम की उर्जा को पकड़ते है. इस प्रोसेस में वो ये पता लगाते है की blockage कहाँ है और इसे सही करते है.
  • Healing Practitioners: बिना किसी बाहरी माध्यम के भी हम खुद के स्तर पर लोगो के साथ मिल कर खुद ही blockage को हटा सकते है. इसमें psychic advisers or energy workers शामिल है जिसमे गलती करो और सुधारो जैसी प्रोसेस से गुजरा जाता है. कई तरह की प्रोसेस से गुजरने के बाद हम खुद physical body में आए blockage को हटाने में कामयाब हो जाते है.

5 Things that might be blocking your psychic powers

psychic powers हमारे आसपास बहने वाली उर्जा और हमारे मन की शक्ति है. दुसरे शब्दों में कहे तो हर इन्सान के अन्दर ये शक्ति या उर्जा का भरपूर स्त्रोत है लेकिन इससे जुड़ी सही जानकारी के अभाव में हम खुद अपनी उर्जा को ऐसे लोगो को चूसने देते है जो हमारी उर्जा को धीरे धीरे ख़त्म कर देते है या उसे ब्लाक कर देते है. आइये जानते है Side effects of psychic energy में से एक उन वजहों के बारे में जो आपकी उर्जा को ख़त्म कर देती है.

1. energy vampires के सम्पर्क में ज्यादा रहना

आपके आसपास ऐसे लोगो की कमी नहीं है जो दुसरो की उर्जा पर जीते है. जिस तरह से एक औरत दूसरी की बराबरी नहीं कर सकती है इसलिए वो दुसरो से उसकी चुगली कर खुद को तसल्ली देती है ठीक उसी तरह ऐसे लोगो की पहचान करे जो आपको भावनात्मक रूप से कमजोर बनाती है. ऐसे लोग जो खुद कुछ नहीं कर सकते है वो या तो आपको कुछ भी करने से रोकते है जैसे की ये आपसे नहीं हो पायेगा या आपके बस की बात नहीं जैसे शब्दों का इस्तेमाल कर आपको कुछ भी करने से रोक देते है.

psychic vampire

ये लोग असल में आपको आपकी क्षमता से दूर कर देते है या फिर खुद को बेचारा दर्शाकर आपकी सहानुभूति हासिल करने की कोशिश करते है.जब आप ऐसा करना शुरू कर देते है तो धीरे धीरे खुद को थका हुआ कमजोर महसूस करना शुरू कर देते है. खुद में आने वाले ज्यादा बदलाव और इसके बचाव के लिए आप energy vampire की पोस्ट को जरुर पढ़े.

2. Stress को seriously ना लेना

हम में से ज्यादातर लोग तनाव को सीरियस नहीं लेते है जिसकी वजह से इसके छिपे हुए खतरे से अनजान रहते है. आपको बता दे की hormonal imbalances की सबसे बड़ी वजह में high level stress भी एक है. इसका सीधा असर हमारे pineal gland पर पड़ता है जो सबसे बड़ी मानसिक शक्ति के स्त्रोत third eye को block कर देने के लिए काफी है.

इसे समय रहते पहचाना नहीं जाता है तो spiritual practice करने के बावजूद हम इसमें सही अनुभव नहीं कर पाते है और धीरे धीरे spiritual slaves बन कर रह जाते है.

3. not spending enough time with nature

इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है की हम शहर में रह रहे है या फिर गाँव में दिन का कुछ समय हमें प्रकृति के साथ बिताना चाहिए. ऐसा करना हमें खुद से जोड़ता है और emotional way में मजबूत बनाता है. ऐसा नहीं होने की वजह से हम खुद पर पकड़ खो देते है. ये सबसे बड़े Side effects of psychic energy में से एक है जिसे हम ignore कर जाते है.

4. हम दिनभर क्या खाते और करते है ये मायने रखता है

हम दिनभर किस तरह की activity को ज्यादा करते है इसका सीधा असर हम पर पड़ता है. खेलकूद हमें फिट बनाता है और योग ध्यान से हम मानसिक रूप से मजबूत बनते है साथ ही सही खाना हमें पोषक तत्व देता है. समय समय पर ऐसी चीजे जो हमारो बॉडी को detox करती है लेना भी जरुरी है.

अगर हम ऐसा नहीं करते है तो मानसिक रूप से फिट नहीं रह पाते है और ऐसे में मानसिक शक्तिया यानि psychic powers के साथ काम करना बेहद मुश्किल बन जाता है.

5. negative energy – नकारात्मक लोगो से टकराव

मानसिक शक्ति से जुड़े Side effects of psychic energy में negative energy से गुजरना एक most exhausting and abusive form of draining energy effect है जिससे हम चाहते हुए भी हर बार ignore नहीं कर सकते है. ये एक ऐसी स्थिति है जिसमे हम अचेतन रूप से उन लोगो से ही प्रभावित हो जाते है जिन पर हम प्रयोग करते है जैसे की psychic detectives or phone advisers यानि दुसरो के मन में क्या चल रहा है और वो हमें फोन करे ( सबसे ज्यादा की जाने वाली practice ) शामिल है.

इन दोनों ही स्थिति में हम प्रयोग को शुरू तो कर देते है लेकिन जब सामने से हमें किसी तरह का response नहीं मिलता है तो हम खुद में willpower की कमी महसूस करना शुरू कर देते है. इस तरह का बदलाव एक जोंक की तरह हमारी उर्जा को शोषित कर लेता है क्यों की प्रयोग सफल ना हो पाने की स्थिति में हमारा मन unconscious way में negative thoughts से घिरना शुरू हो जाता है.

इसमें वो लोग भी शामिल है जो हमारी energy को negative thoughts के जरिये सोखते रहते है. ऐसे लोगो को psychic vampire के नाम से जानते है जो दुसरो की उर्जा को सोखते रहते है क्यों की खुद negative energy से घिरे हुए रहते है. ऐसे लोगो को हम खुद पोषित करते है और खाली हो जाते है.

जब आपके साथ इस तरह का Side effects of psychic energy जैसी स्थिति बन जाती है तो खुद को इन सबसे दूर रखने की कोशिश करे, अगर ऐसा न कर पाए तो खास समय अंतराल पर खुद को positive energy से स्ट्रोंग बनाने की कोशिश करे. हम खुद को आसपास के लोगो से दूर नहीं रख सकते और ऐसे में इस तरह की स्थिति से गुजरना आम बात है इसलिए निचे दिए तरीके से आप खुद का बचाव कर सकते है.

मानसिक उर्जा को स्ट्रोंग बनाने के लिए किये जाने वाले प्रयोग

 Step 1 – Cleansing Ritual

ये एक spiritual practice है जिसमे हम शरीर नहीं बल्कि energy field को साफ़ करने का काम करती है. ये हमें हर उस unwanted stuck energy attack से बचाती है जो जाने अनजाने हमारे साथ attach हो जाती है. इस प्रोसेस को आप जब भी आपको जरुरत लगे आजमा सकते है. इसके लिए 2 तरह के प्रोसेस को घर पर कर सकते है.

  • Dowsing: ये एक healing process है जिसमे एक pendulum का इस्तेमाल किया जाता है. हीलर यानि reiki master इसे माध्यम के शरीर के चारो ओर एक दिशा में घुमाते है जब तक की negative energy शरीर के सभी blockage को सही ना कर दे. जब ये प्रक्रिया पूरी हो जाती है तब एक्सपर्ट माध्यम के बॉडी के चारो और universal energy के flow को सही करते है और माध्यम अपने अन्दर बदलाव महसूस करने लगता है.
  • Smudging: ये एक सबसे आसान मेथड में से है जो कोई भी खुद के स्तर पर कर सकता है. खास तरह की herbs जैसे की Sage, Cedar or Sweet grass को धुनी में सुलगा कर हम अपने आसपास की negative energy को दूर करते है.

इसके अलावा इन सुखी घास को सुलगाकर हम अपने आसपास कर सकते है जिससे की बॉडी इसके संपर्क में बनी रहती है. इस प्रक्रिया में आपके मन में विश्वास जगाना भी जरुरी है की negative energy ख़त्म हो रही है. ध्यान लगाना इसके लिए सबसे बढ़िया प्रयोग हो सकता है इसलिए अगर आप Side effects of psychic energy से जूझ रहे है तो इसे जरुर करे.

Step 2 – Stay Balanced

हमें अपने psychic energy को बैलेंस्ड रखना चाहिए. दिनभर के busy schedule में भी हम इतना time तो निकाल ही सकते है की आधा घंटा खुद को दे सके. आप इस दौरान एक छोटा सा प्रयोग कर सकते है जैसे की अक्सर ज्यादा गुस्सा आने पर किया जाता है. सांसो को अन्दर ले और उसे अन्दर रोकते हुए अपनी उर्जा को एक जगह concentrate होने का निर्देश खुद को दे.

कुछ समय बाद ही हम उस अंग में उर्जा के बहाव को महसूस करने लगते है. इसके साथ मन में शांति का अहसास और भावनाओं में ठहराव को साफ महसूस किया जा सकता है.

3. Use a Psychic Shield against Side effects of psychic energy

developing-psychic-powers

किसी भी साधना में बैठने से पहले किया जाने वाला महत्वपूर्ण कदम है सुरक्षा कवच का निर्माण करना. हर किसी के लिए ये अलग अलग हो सकता है जो की उनके अपने विचार और विश्वास पर निर्भर करता है. अगर आपको लगता है की आप पर बार बार psychic vampire attack हो रहे है तब आप इसके निर्माण के जरिये खुद का बचाव कर सकते है.

सुरक्षा कवच एक उर्जा का घेरा होता है जो की हमारे physical body के चारो ओर बना हुआ होता है. हम जितना खुद पर फोकस होते है ये उतना ही मजबूत होता जाता है. वास्तव में हमारी मानसिक उर्जा का कवच होता है जिसे aura energy fields के नाम से भी जानते है.

4. Awareness

हमें खुद को अपने आसपास होने वाली हर घटना के प्रति खुद को ज्यादा से ज्यादा अवेयर करना चाहिए. हमें पता होना चाहिए की हमारे विचारो का हम पर क्या प्रभाव पड़ रहा है और सही विचारो के जरिये खुद को be positive कैसे बनाये. एक बार हमें पता चल जाता है और हम इन सबके प्रति conscious aware हो जाते है तो उसके बाद ऐसी किसी भी स्थिति से निपटना आसान बन जाता है.

जब भी खुद की या दुसरो की psychic energy के साथ काम करते है तो हमें Side effects of psychic energy के बारे में भी पता होना चाहिए वर्ना इसके अभाव में ना सिर्फ हम खुद का नुकसान करते है बल्कि अपनी ही मानसिक शक्ति को भी खो देते है जिसके आगे चलकर और भी दूरगामी परिणाम झेलने पड़ सकते है.

मानसिक साधना में क्या सावधानी रखनी चाहिए

  • ध्यान और योग हमेशा routine में शामिल कर ले

हर रोज सुबह किया गया ध्यान आपको ना सिर्फ शारीरिक बल्कि मानसिक रूप से भी मजबूत बनाता है. ये हमें अपने भावनाओ पर काबू करना और खुद को बेहतर तरीके से समझने में मदद करता है.

  • खुद को negative thought से मुक्त रखे

एक negative thought 100 positive thought पर भारी पड़ता है और बड़ी उम्मीद को ख़त्म कर सकता है. खुद को नकारात्मक विचारो से मुक्त रखे. कभी भी खुद की क्षमता पर शक ना करे और अगर आपको लगता है की आपके सामने आपकी क्षमता से ज्यादा बड़ा target है तो अपने मन से जुड़े और इसका सामना करे.

  • अपने personal selfish जैसे मुद्दों से ऊपर उठे

हर इन्सान की अपनी इच्छा और भावनाए होती है लेकिन हमेशा अपने मुद्दों को ही ज्यादा महत्व ना दे. अगर आपके पास कुछ ऐसा है जिससे आप दुसरो की मदद कर सकते है तो ऐसा करे बजाय उसका फायदा सिर्फ अपने कार्यो की पूर्ति के. ऐसा करना आपको दुसरो के साथ जोड़ता है और साथ ही इछाओ पर काबू पाने में मदद करता है.

  • खुद को वासनाओं से मुक्त रखे

इन्सान के सबसे बड़े शत्रु में से एक है उसकी अपनी वासना और मानसिक शक्ति पर ये काफी बुरा असर डालती है. इस तरह की शक्ति के लिए आपका वासना से ऊपर उठाना बेहद जरुर है. अगर आप काम भावना से पीड़ित है तो मेरी आपको यही सलाह है की इसे एक दिशा दे और खुद को सही रास्ते पर आगे ले जाए.

  • प्रयोग का उदेश्य और संकल्प अपनी और दुसरो की मदद हो ना की खुद की इच्छा पूर्ति

खुद के लिए तो हर कोई जीता है जो दुसरो के लिए जीता है वही खुद को जीतता है. अगर आपके पास कुछ ऐसा है जिसके जरिये आप दुसरो की मदद कर उनके दुःख दूर कर सकते है तो ऐसा करे क्यों की ऐसा करने से आपके अन्दर लोगो से जुडाव पैदा होगा जो की दुसरो के साथ आपके भावनाओ को साफ रखेगा.

Side effects of psychic energy final word

दोस्तों psychic energy के साथ काम करना किसी जादू से कम नहीं अगर आप इस पर अपनी पकड़ सही बना लेते है. ये जितना रोचक है उतने ही इसके छिपे हुए खतरे भी. अगर आप इसमें सावधानी नहीं बरतेंगे तो बहुत जल्दी आप शक्ति पर अपनी पकड़ को खो देंगे और कोई और आपकी सारी उर्जा को चुरा कर खाली कर सकता है. मानसिक शक्तियां साधक के साथ जुड़ी रहती है और उसकी भावनाए उनकी शक्ति का मुख्य स्त्रोत इसलिए अगर आप अपनी भावनाओ पर काबू नहीं पा सकते है तो इनके साथ काम करना आपके लिए बेहद बुरा अनुभव बन सकता है.

Aura energy field हमारे लिए एक protection shield की तरह काम करता है. इसे जितना मजबूत बना सकते है बना लीजिये और फिर मानसिक शक्तियों का अभ्यास करे आपको सफलता भी मिलेगी और अच्छे अनुभव भी.

Never miss an update subscribe us

* indicates required

2 COMMENTS

    • बिलकुल हो सकता है। मानसिक साधनाए सावधानी के साथ की जानी चाहिए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here