Shop

Showing 1–12 of 48 results

  • Practical Hypnotism in Hindi by Dr. Narayan Datt shrimali PDF Book

    Practical Hypnotism in Hindi by Dr. Narayan Datt shrimali PDF Book free Download

    Download

    सम्मोहन विद्या हमारे देश की सबसे प्राचीन और अमूल्य थाती हैं, क्योंकि हमारे द्वारा ही इस विद्या को विश्व ने सीखा, समझा और अपनाया। इसलिए इस विद्या के द्वारा हमने पूर्व जीवन में जो कीर्तिमान स्थापित किए थे, वे अपने-आप में अप्रतिम थे।

    हमारा देश वर्तमान समय में एक विचित्र संकट से गुजर रहा है। चारों तरफ एक अनिश्चितता, उदासी और ऊहापोह लगी हुई है, इस प्रकार से चारों तरफ असुरक्षा की भावना आ गई है।

    जहां भी हम दृष्टि डालते हैं, वहीं पर ऐसा लगता है जैसे कुछ अधूरा-सा हो, अपूर्ण-सा हो। हम अपने समाज की जिस प्रकार से स्थापना करना चाहते हैं, जिस प्रकार से उसका निर्माण और उसकी संरचना करना चाहते हैं, उस प्रकार से उसका निर्माण या संरचना नहीं हो रही है।

    इसका मूल कारण हमारे जीवन पर पाश्चात्य प्रभाव है, क्योंकि भारतीय जीवन हमेशा से अंतर्मुखी रहा है। उसने अपने मन के अंदर ज्यादा-से-ज्यादा पैठने की कोशिश की है। हमेशा से उसका प्रयत्न यह रहा है कि किस प्रकार से हम प्रभु के दिए हुए इस शरीर को देखें, समझें, पहचानें और इस शरीर में निहित शक्तियों की क्षमताओं का पता लगाएं।

    इसलिए हमारे पूर्वजों ने, प्राचीन महर्षियों ने बाह्य जगत को देखने की अपेक्षा केवल एक लंगोट पहनकर निर्जन जंगल में अकेले बैठकर उस तत्त्व का चिंतन किया, जिसके माध्यम से इस शरीर का निर्माण हुआ है, उस प्रभु के सामने अपना सिर झुकाया, जिसने इस अप्रतिम शक्ति-संपन्न देह का निर्माण किया, उन तत्त्वों और रहस्यों की खोज में अपना सारा जीवन लगा दिया.

    जिससे कि व्यक्ति ज्यादा-से-ज्यादा सुखी हो सके, ज्यादा-से-ज्यादा शक्ति-संपन्न हो सके और उसका परिवेश ज्यादा से ज्यादा विस्तार पा सके ।

    (Downloads - 1)

  • हिप्नोटिज्म के चमत्कार हिंदी पुस्तक

    हिप्नोटिज्म के चमत्कार हिंदी पुस्तक Free PDF Download in Hindi

    Download

    हिप्नोटिज्म के चमत्कार हिंदी पुस्तक

    इस मन की शक्ति से मनुष्य दूसरे प्राणियों को यहां तक कि अन्य मनुष्यों को भी अपने वश में कर सकता है; उनसे मनचाहा कार्य करा सकता है। यह सब कैसे सम्भव है ? हमारे मन के दो भाग है : एक चेतन और दूसरा अवचेतन । अवचेतन मन की शक्ति अपार है, इसकी गति निर्वाध है।

    यह अवचेतन मन दूसरे मनुष्य के अवचेतन मन से सीधा सम्पर्क करके उसे अपना अनुगामी बना लेता है, उसे निर्देश देकर मनचाहा कार्य करा लेता है, यही सम्मोहन विद्या का आधुनिक भाषा में हिप्नाटिज्म कहते हैं

    मूल रहस्य है। हिनाटिज्म न जादू है न टोना और न माया या इन्द्रजाल यह केवल एकाग्रचित्त से साधना द्वारा किए गए विकास का कमाल है जो अत्यन्त शक्ति शाली होते हुए भी अत्यन्त सरल है। इसे कोई भी व्यक्ति साधारण साधना से थोड़े से समय में प्राप्त कर सकता है।

    सम्मोहन न कवियों की कल्पना है और न पाखंडियों का ढोंग । यह वैज्ञानिकता की कसौटी पर कसी हुई विद्या है।

    (Downloads - 111)

  • त्राटक से मानसिक शांति पुस्तक

    त्राटक से मानसिक शांति पुस्तक हिंदी PDF Book Free Download

    Download

    इस तथाकथित वैज्ञानिक युग का प्रगतिशीलत दिखाई देता है, उतना किसी युग का नहीं रहा। विज्ञान के बढ़ते चरण भौतिक रूप से उसका असाधारण विकास करने चले आ रहे हैं परन्तु आश्चर्य ! कि वह मानसिक रूप से दिन-दिन निर्व निराण, वसन्तुष्ट और अचान्त होता नला जा रहा है। इस समय विकसित मानव की प्रमुख समस्या मानसिक शान्ति है जिसे वह भौतिक साधनों से हो प्राप्त करने का प्रयत्न करता है परन्तु असफल रहता है।

    भारतीय धर्म शास्त्रों में मानसिक शान्ति के विभिन्न उपाय वर्णित किए है। उनमें प्रमुख व योग साधनायें है। माताएं सभी प्रभावशाली है और सभी मन्त्रों का कुछ न कुछ प्रभाव पड़ता ही है, परन्तु मन्त्र साधनाओं को इतनी लम्बी सूची है कि साधारण व्यक्ति का अपने अनुकूल का चुनाव अत्यन्त कठिन प्रतीत होता है। ध्यान तो निश्चित रूप से मानसिक शान्ति का अचूक उपाय है।

    विभिन्न संस्थाएं अपने-अपने ढंग से ध्यान योग का प्रचार भी कर रही है। हम स्वयं लम्बे समय से ध्यान और घाटक साधनाएँ कर रहे हैं। सभी से लाभ हुआ है परन्तु हमारा अनुभव यह है कि सभी योग साधा सालों में सरल, सुसाध्य और प्रभावशाली है। दीपंकालीन कठिन तप •श्चर्याओं की अपेक्षा इससे कम समय में अधिक लाभ प्राप्त होता है ।

    इसकी विशेषता यह है कि मानसिक स्थिरता, मनोजय और मनोलय क लिए यह सर्वाधिक प्रभावशाली साधन है। सफल साधक केसभी मानसिक दुःख चिन्ताएं और तनाव शिथिल हो जाते हैं और वह असाधारण रूप से शान्ति का अनुभव करता है। बाटक साधना से साधक आत्मविकास की उच्चतम स्थिति तक पहुंच सकता है। ऐसा हमारा विश्वास है ।

    (Downloads - 39)

  • त्राटक साधना के चमत्कार बुक

    त्राटक साधना के चमत्कार पुस्तक PDF Book Free Download in Hindi

    Download

    योग साधना के जरिये हम अपने अन्दर अनेको असाधारण क्षमता को प्राप्त कर सकते है. सामान्य जीवन में जिसे हम चमत्कार कहते है वो और कुछ नहीं योग साधना के चमत्कार है. प्राचीन काल में इंसानी बल की तुलना करना आसान नहीं था. उस बल को आज प्राप्त करना बेहद मुश्किल है. आज हम त्राटक साधना के चमत्कार के बारे में बात करने वाले है.

    त्राटक साधना का नियमित अभ्यास करने के क्या क्या फायदे है इन्हें आप शेयर किये जा रहे उदाहरण के जरिये समझ सकते है. त्राटक साधना के फायदे इतने है की आप हर उस काम को संभव बना सकते है जिसे सामान्य तौर पर असंभव या फिर मुश्किल माना जाता है.

    अभी हाल ही मैंने त्राटक साधना के चमत्कार पुस्तक को पढ़ा और इसके फायदे के बारे में जाना. ये पुस्तक पूरी तरह से उन लोगो के लिए समर्पित है जिन्हें त्राटक साधना के लिए मोटिवेशन की जरुरत है.

    (Downloads - 113)

  • tratak se rog nivaran

    त्राटक से रोग निवारण डॉ चमन लाल गौतम हिंदी पुस्तक Free PDF Book Download in Hindi

    Download now

    वेद शास्त्रों ने तो मन की असाधारण शक्ति को एक मत से स्वीकार किया ही है। वैज्ञानिक भी इससे अछूते नहीं है। विज्ञान के अनुसार मन भौतिक शरीर की चेतन शक्ति है यद्यपि पदार्थ को पूरी तरह शक्ति में बदलना सम्भव नहीं हो पाया है तथापि यदि इसे पूरी तरह शक्ति में परिवर्तित करना सम्भव हो तो एक पौण्ड कोयले में जितना द्रव्य होता है, उसे शक्ति में बदल देने से सम्पूर्ण अमेरिका के लिये एक मास के लिये विजली तैयार हो जाती ।

    मन शरीर के द्रव्य की विद्युत शक्ति है। मन की एकाग्रता से शक्ति का अद्भुत विकास होगा।

    साधारणतः मन की शक्तियाँ बिखरी रहती हैं। इनका कोई विशेष उपयोग नहीं हो पाता । त्राटक द्वारा मन की विखरी शक्तियों को एक त्रित करके शरीर में विद्यमान विद्युत शक्ति को उत्तोजित और आन्दो लित किया जाता है ।

    तब वह अर्जा का रूप धारण करती है। यह अर्जा गुप्त शक्ति केन्द्रों का जागरण करके मानव की असाधारण शक्तियों का स्वामीं बना देती है, त्राटक सिद्ध योगी आकर्षण शक्ति का विद्यु तीय पुञ्ज ही बन जाता है इस आकर्षण शक्ति द्वारा संसार की किसी भी वस्तु में विद्यमान प्राण अर्जा की अपनी ओर खींच कर आत्मसात किया जा सकता हैं ।

    चिकित्सा शास्त्रियों ने जटिल और लम्बी प्रक्रि याओं द्वारा ओषधियों का निर्माण करके रोग निवारण की विधियों की खोज की है। नाटक द्वारा सहज रूप से वस्तु के सूक्ष्म गुणों को आक पित करके अपने शरीर को प्राण ऊर्जा के साथ मिलाकर उन गुणों से ओत प्रोत किया जा सकता है। यही त्राटक द्वारा रोग निवारण का विज्ञान है ।

    Download now
  • shree goraksh tantram

    Shree Goraksh Tantram Hindi PDF Book Free Download श्री गोरक्ष तंत्र हिंदी पुस्तक

    Download

    इस रचना में नाथ सम्प्रदाय की मर्यादा एवं परम्परा के अनुरूप गुप्त एवं गुढ़ विद्या जो की तंत्र-मंत्र-यंत्र – योग साधना के माध्यम से श्री गोरक्षनाथ जी की उपासना करने का सुनहरा अवसर पाठयगणों-साधकों एवं भक्त गणों को दिया गया है।

    यह एक उत्कृष्ट उपलब्धी जन मन कल्याण हेतु की गयी है। इस ग्रंथ की उपासना करने पर नाथ सिद्धों को अदृष्य शक्तियाँ, दैवी शक्ति एवं गुप्त शक्तियाँ प्रगट होकर साधक के मनोरथ पूर्ण करेगी।

    यह नाथ योग विषय में जो ग्रंथ लिखा गया है। इससे यह ज्ञात होता है कि नाथ सिद्ध तन्त्र, मन्त्र, यन्त्र, योग उपासनायें तथा अठारह भार वनस्पति आदि संशोधन करने पर ही सर्व प्रकार से पूर्ण विद्या हासिल होती है। जो कि एक-एक मन्त्र सिद्धि प्राप्त करने हेतु 12-12 साल वन गुफाओं में रहते हुये कन्द मूल वनस्पतियाँ सेवन करके एक योग का आसन सिद्ध होता है और एक मन्त्र की सिद्धता होती है।

    एक वनस्पति 12 साल सेवन करने से नियमानुसार उसके चार्तुमास करके बारह साल पूर्ण होकर कायाकल्प होता है। कायाकल्प मतलब 100 से 125 वर्ष की आयु में पहुँचकर पुनः बारह साल की आयु की अवस्था आ सकती है।

    (Downloads - 53)

  • Tilasmo Se Bhari Srashthi Evm Uske Avigyat Rahasya

    Tilasmo Se Bhari Srashthi Evm Uske Avigyat Rahasya Shree Ram Sharma Acharya Hindi PDF Book Free Download

    Download

    अविज्ञात सृष्टि की अबूझ पहेलियाँ

    Tilasmo Se Bhari Srashthi Evm Uske Avigyat Rahasya PDF Book Free download अविज्ञात की परिभाषा बड़ी कठिन है। एक तरीका तो यह है

    कि जो भी कुछ समझ में न आए, जिसका तर्कसम्मत स्पष्टीकरण संभव न हो सके, उसे अविज्ञात की फाइल में बंद कर दिया जाए। दूसरी विधि यह है कि विभिन्न प्रकार के संयोगों, वैचित्र्यपूर्ण घटनाओं, मानवी काया एवं दृश्य प्रकृति की विलक्षणताओं को चमत्कार न कहकर उनका तर्कसम्मत विवेचन किया जाए एवं उनके मूल में कार्य कर रही अदृश्य-अचिंत्य सत्ता का जहाँ तक बुद्धि साथ दे, विवेचन किया जाए।

    ऋषियों की कार्य प्रणाली इसी दूसरे प्रकार की रही है। उन्होंने परोक्ष पर विशद अनुसंधान किया एवं उसके निष्कर्षों को आप्तवचनों के रूप में प्रस्तुत किया है। सृष्टि अत्यंत विशाल है। दृश्य-प्रकृति, जीव-जगत, वनस्पति जगत एवं मानव-समुदाय के रूप में तो एक अंश भर ही देखा जाता है। ब्लैकहोल्स, पल्सार्स, क्वाजार्ज के समुच्चय से भरी ब्रह्मांडीय सत्ता अभी भी अविज्ञात के गर्त में है।

    धरती की टोह लेने कभी-कभी कुछ ब्रह्मांडीय शक्तियाँ चली आती हैं, वे भी एक रहस्य के रूप में उड़नतश्तरी (यू. एफ. ओ.) के नाम से जानी जाती हैं। उनके प्रकटीकरण का सिलसिला चलता रहता है, पर रहस्य अभी भी रहस्य ही है। ऐसे अनेकों घटनाक्रम प्रकृति के आँचल में घटित होते देखे जा सकते हैं जो स्पष्टीकरण माँगते हैं। इस पुस्तक में स्थान स्थान पर यही प्रयास किया गया है।

    (Downloads - 32)

  • prayogic tantra

    prayogic tantra PDF Book Free download

    Download

    (Downloads - 1884)

  • bhairav sadhna

    krodh bhairav sadhna PDF Book Free download

    Download

    (Downloads - 2680)

  • subodh svapan jyotish book

    Subodh Swapna Jyotish सुबोध स्वप्न ज्योतिष Dr. Narayandatta Shreemalee PDF book

    Download
  • Practical mind reading _ a course of lessons on thought-transference

    Practical mind reading _ a course of lessons on thought-transference, telepathy

    Download now
  • mantra shakti rahasy book hindi

    Mantra Rahasya – Dr Narayan Datt Shrimali PDF Book free download hindi

    Download now

    Mantra rahasy By Dr. narayan datt shrimali PDF Book ( मंत्र रहस्य ) पुस्तक नारायण दत्त श्रीमाली जी की लिखी गई वो पुस्तक है जिसमे उन्होंने मंत्र से जुड़े कई ऐसे रहस्यों को उजागर किया है जो दुर्लभ है. अगर आप मंत्र शक्ति का चमत्कार देखना चाहते है तो इसके लिए पहले इसके विज्ञान को समझे. ये पुस्तक 109 MB की है और इसका प्रिंट अच्छा है.

    पुस्तक के लेखक : Dr. Narayan Datt shrimali Ji

    Book Quality : HD print

     

    Download now