भगवान महादेव का शक्तिशाली त्रिनेत्र खोलने का मंत्र और साधना का विधान

0
97
Shiva mantra to open third eye

क्या आप भी Third eye opening का उपाय देख रहे है. Shiva Mantra to Open Third Eye उनमे से एक उपाय हो सकता है. ऐसे मंत्र उपाय भी है जो आपको तीसरे नेत्र जागरण में मदद करते है. आमतौर पर हम पहले ही बात कर चुके है लेकिन अगर आप आध्यात्मिक तरीके से इसका जागरण करना चाहते है तो यहाँ शेयर किया गया Mantra for opening third eye का तरीका घर पर कर सकते है.

वैसे तो third eye open के कई तरीके है जैसे की pineal gland को एक्टिव करना, डेली लाइफ में कई ऐसी आदत को बदलना जो तीसरी आँख को जाग्रत करने में मदद करते है. आप चाहे तो बिना किसी मैडिटेशन के भी तीसरी आँख खोल सकते है.

ज्यादातर साधक अपने आध्यात्मिक अनुभव को बढाने के लिए third eye activation पर काम करते है. जब किसी साधक का तीसरा नेत्र यानि sixth sense काम करना शुरू कर देता है तो उसे काफी सारे बदलाव से गुजरना पड़ता है. Shiva mantra to open third eye से जुड़े अनुभव अच्छे और बुरे दोनों ही तरह के होते है.

Shiva mantra to open third eye

तीसरा नेत्र हमें भौतिक दुनिया से परे की दुनिया से जोड़ता है. हमारी छटी इंद्री वो महसूस कर सकती है जो हम खुली आँखों से महसूस नहीं कर पाते है. मानसिक शक्तियों के जाग्रत होने में भी इसका अहम् योगदान रहता है.

अगर आप मानसिक शक्तियों को समझना चाहते है और भौतिक दुनिया की वास्तविकता से हटकर अनुभव करना चाहते है तो आपको भगवान शिव के इस मंत्र का नियमित तौर पर जप करना शुरू कर देना चाहिए.

साधना को आप नियमित रूप से भी कर सकते है और इसका साधना काल तय कर के भी पूरा किया जा सकता है. दोनों में अनुभव के होने में फर्क है. चलिए सबसे पहले इस मंत्र के बारे में जान लेते है.

Shiva Mantra to Open Third Eye

ऐसे कई Mantra for opening third eye का जिक्र सुनने को मिलता है जिन्हें सिर्फ सुनने मात्र से आपका तीसरा नेत्र / छटी इंद्री सक्रिय होने लगता है. इन्ही में से एक Shiva Mantra to Open Third Eye का प्रयोग भी है जिसके जरिये बिना किसी साधना, मैडिटेशन या ज्यादा नियम का पालन करे बगैर भी हम छटी इंद्री को सक्रीय कर सकते है.

आमतौर पर हम ऐसी कई गतिविधि करते है जो छटी इंद्री या third eye को block कर देती है. तीसरे नेत्र का सीधा कनेक्शन हमारे subconscious mind से है इसलिए अगर आप आसानी से तीसरा नेत्र खोलना चाहते है तो अवचेतन मन को सक्रीय रखने वाली एक्टिविटी करना ना भूले.

तीसरे नेत्र को खोलने के लिए शिव मंत्र की विधि के लिए निचे गए तरीके को देखे.

Mantra to open third eye

इस पोस्ट में, मैंने तीसरी आँख या आज्ञा चक्र पर सिद्धि प्राप्त करने के लिए एक Shiva Mantra to Open Third Eye का वर्णन किया है. इस मंत्र प्रयोग को करने की प्रक्रिया सरल है और किसी भी कुंडलिनी योग अभ्यासी या आज्ञा चक्र को जगाने के इच्छुक किसी भी आकांक्षी के लिए पालन करना आसान है, जो मुख्य रूप से अंतर्ज्ञान, अतिरिक्त-संवेदी धारणा के लिए जिम्मेदार है.

मानसिक शक्तियाँ, दूरदर्शिता और त्रिकाल ज्ञान या भूत, वर्तमान और भविष्य की कल्पना करने की क्षमता भी आप इसके जरिये सक्रिय कर सकते है.

सोमवार से शुरू होकर 21 दिनों तक मंत्र साधना करनी होती है और साधक को इस पोस्ट में दिए गए तीसरे नेत्र खोलने वाले शिव मंत्र की 21 माला का प्रतिदिन जाप करना होता है.

Mantra: || ॐ सदाशिवाय त्रिनेत्र जागृताय पूर्णत्वम् दृश्यम् रुद्राय नमः ||

||Om Sadashivaaya Trinetra Jaagritaaya Purntvam Drishyam Rudraaya Namaha

तीसरा नेत्र खोलने के लिए शिव त्रिनेत्र मंत्र

Shiva mantra to open third eye के मंत्र का जप शुरू करने से पहले, व्यक्ति को अपने दाहिने हाथ की अनामिका और मध्यमा का उपयोग करना होता है और तीसरे नेत्र क्षेत्र को लंबवत या विकर्ण गति में बहुत जोर से रगड़ना होता है. सफेद आसन [सफेद रंग की बैठने की चटाई] पर पूर्व दिशा की ओर मुख करके बैठना होता है. मंत्र जप केवल सुबह 9 बजे से पहले ही करना चाहिए.

इसके अलावा, शुद्ध घी [शुद्ध स्पष्ट मक्खन] दीपक जलाने, शिव और गणेश या किसी अन्य इच्छुक देवताओं की पूजा करने जैसे बुनियादी नियमों का पालन करना होगा.

यह Shiva mantra to open third eye जप तभी किया जाना चाहिए जब आप आज्ञा चक्र के नीचे के अन्य सभी चक्रों को पहले ही सक्रिय कर चुके हों, अन्यथा यह आपके शरीर के लिए विपत्तिपूर्ण स्थिति लाएगा जैसे की

  • आप बीमारियों से पीड़ित हो सकते हैं.
  • bipolar disorder वाले व्यक्ति की तरह व्यवहार करना शुरू कर सकते हैं.
  • आप अनुभव कर सकते हैं जैसे की अत्यधिक मात्रा में चक्कर आना, थकान, अपनी आँखें खुली रखने में असमर्थता, बहुत नींद आना आदि महसूस करना.
  • इस मंत्र जप को करने के बाद अन्य सभी चक्रों पर भी कम से कम 5 मिनट ध्यान करना चाहिए.

शिव त्रिनेत्र या शिव का तीसरा नेत्र ब्रह्मांड में परम गुप्त, गुप्त, दिव्य और अपसामान्य शक्तियों का प्रतीक है. ब्रह्मांड में निहित अपसामान्य शक्तियों पर सिद्धि प्राप्त करना अधिकांश योगियों का सपना होता है और साधकों को आगे बढ़ाता है. इसी वजह से ज्यादातर साधक Shiva mantra to open third eyeका उपाय देखते है.

पढ़े : वशीकरण में पहली बार में ही सफलता मिलेगी अगर फॉलो किया इन टिप्स को

शिव के त्रिनेत्र से जुड़ी पौराणिक मान्यता

भारतीय पौराणिक कथाओं के अनुसार, भगवान शिव का बायां और दाहिना पहलू उनके शारीरिक सांसारिक कार्यों को दर्शाता है जबकि तीसरा नेत्र उनके धार्मिक ज्ञान और शक्ति का प्रतिनिधित्व करता है.

यह भी कहा गया है कि तीसरा नेत्र विचारार्थ कहा गया है. इसे जितना अधिक महत्व मिलेगा, यह उतना ही सक्रिय और खुला होगा. भगवान शिव के तीसरे नेत्र को खोलने में इतने कुशल होने का यही कारण है. Shiva mantra to open third eye के बारे में यही से जानने को मिलता है.

भारतवर्ष में ऐसे कई ज्योतिष के विशेषज्ञ हैं, जो इसे सरल बना सकते हैं ताकि आपको तीसरा नेत्र सक्रिय करने में आसानी हो. तीसरे नेत्र की ऊर्जा को महसूस करते हुए, बहुत से लोग जानना चाहते हैं कि ‘तीसरी आंख को सक्रिय करने का सही तरीका’ क्या है.

उसके लिए, भगवान शिव की क्रिया करना आवश्यक है. आरंभ करने के लिए, शाम्भवी मंत्र को बनाए रखना आवश्यक है.

जब आप आँखों के बीच ध्यान केन्द्रित करते है तो आपको कुछ समय बाद ही एक सुनहली किरण दिखाई देना शुरू हो जाती है. ये अनुभव आपको भौतिक दुनिया के अनुभव से परे ले जाता है और आप जल्दी ही सूक्ष्म दुनिया को अनुभव करना शुरू कर देते है.

Read : तीसरी आँख की शक्तियों को ब्लॉक होने से कैसे रोके

Secret science of Shiva mantra to open third eye conclusion

अगर आप बिना किसी मैडिटेशन के तीसरा नेत्र सक्रिय करने के उपाय देख रहे है तो ये संभव है. ऐसी कई गतिविधि है जो आपके third eye को सक्रिय और ब्लॉक करती है. यहाँ शेयर किया गया Shiva Mantra to Open Third Eye in Hindi आपको अपने छटी इंद्री को सक्रिय करने में मदद करता है.

ऐसे कई तरीके है जो आपके तीसरे नेत्र को सक्रिय कर सकते है और ये सभी आसान है अगर आप इनके पीछे की विज्ञानं को समझ ले तो आपके लिए उन गतिविधि को इग्नोर करना आसान हो जाता है जो आपके तीसरे नेत्र को ब्लॉक करती है.

भगवान शिव के तीसरे नेत्र जागरण का मंत्र उपाय आपको इसमें मदद करेगा. हालाँकि ये तरीका काफी आसान है लेकिन, बेहतर होगा की आप इसे करते समय सावधानी रखे और स्थिर मन से अभ्यास करे. अगर आपका मन चंचल है तो आप अभ्यास के दौरान ही काल्पनिक दुनिया में फंस कर रह सकते है जो आपको अनुभव करने से रोकता है.

Previous articleअपने इंस्टाग्राम के बिजनेस पेज फॉलोअर्स बढ़ाने के आसान तरीके
Next article5 Ways to Make Money with NFT Non-Fungible Tokens in Hindi एनएफटी ट्रेडिंग के साथ लाभ अर्जित करने की रणनीतियां
Nobody is perfect in this world but we can try to improve our knowledge and use it for others. welcome to my blog and learn new skill about personal | psychic | spiritual development. our team always ready to help you here. You can follow me on below platform

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here