Do you Believe in Science of Ghosts and Spirits Top 3 Scientific view of Ghost Existence

1
35

Science of ghosts and spirits यानि आत्माओ का विज्ञान क्या आपने इसके बारे में पहले कभी सुना था? अगर नहीं तो आज हम बात करने वाले है आत्माओ के अस्तित्व को लेकर विज्ञान की क्या सोच है इसके बारे में. इस पोस्ट में Scientific explanation for ghosts के बारे में बात करने वाले है जो और कुछ नहीं बल्कि हमें होने वाले Strange experience का Scientific explanation है. आज विज्ञान आत्माओ और Paranormal activity को लेकर क्या सोचता है और Scientific view on ghosts किस हद तक सही है इन सब के बारे में इस आर्टिकल में हम जानने वाले है.

Science of ghost’s के अनुसार हमें होने वाले अनजाने अनुभव जिसमे हमें Ghost and spirit experience होते है और कुछ नहीं बल्कि hallucination है जिसमे हमारा brain और बॉडी सही से फंक्शन नहीं कर पाता है. क्या वाकई हमें जो भी अनुभव होते है वो सब हमारा वहम है या फिर आत्माओ का अस्तित्व एक कल्पना नहीं बल्कि हकीकत है ? आज भी दुनियाभर के अनुसलझे रहस्यों में से एक Existence of Ghost and spirits है.

Do you believe in Science of ghosts and spirits

वैज्ञानिक हमें जाने अनजाने में होने वाले अनुभव को hallucination, Sleep paralysis या फिर एक ऐसी स्थिति जिसमे हम सामने हो रखी एक्टिविटी को नकार देते है ऐसी स्थिति से जोड़कर देखता है. उसके अनुसार आत्मा कुछ नहीं है बल्कि हमारे दिमाग की एक उपज है और हमें होने वाले अनुभव हकीकत में नहीं होते है क्यों की उन्हें आज भी प्रूफ नहीं किया जा सका है.

क्या आप भी ऐसा सोचते है ? क्या वाकई जो प्रूफ नहीं किया जा सकता है उसका कोई अस्तित्व नहीं है ? ऐसे कई सवाल हमारे मन में आते है जब हम किसी shadow people encounter से गुजरते है या फिर उठने के बाद हमारे सीने पर या आसपास किसी तरह की evil entity दिखाई देती है. ऐसे कई सवाल है लेकिन, बिना किसी प्रूफ के विज्ञान इसे accept नहीं करता है और हमारा brain इसे पूरी तरह नकारता भी नहीं है.

Science of ghosts and spirits

दुनियाभर के अलग अलग हिस्सों से लोगो ने अपने अनुभव शेयर करते हुए ये दावा किया है की उन्होंने ghosts and spirits को देखा है. एक ऐसी Shadow being जिसका कोई साफ चेहरा दिखाई नहीं दे रहा था, हवा में घूमती हुई एक परछाई दिखाई देती है और ये सब सिर्फ कुछ पल का ही अनुभव होता है. कई बार सोते समय लोगो को Sleep Paralysis experience भी होता है जिसे Paranormal experience से जोड़ा जाता है.

अगर बात करे  Mythology Of The United States And Many Other Western Cultures की तो ये एक Dead person होता है जो Living world के लोगो के साथ Interact करते है. कहानियो में whisper or groan का जिक्र है साथ ही चीजो के हिलने डुलने के बारे में भी सुनने को मिलता है. Science of Ghosts and Spirits को आज तक पूरी तरह किसी भी culture ने accept नहीं किया है बावजूद इसके आज भी ये एक Mystery है.

लोगो ने अपने अनुभव में Shadowy, Blurry Or See-Through Figure के दिखाई देने के बारे में अपने अनुभव शेयर किये है. कई मामले में electric signal में भी बदलाव को नोटिस किया गया है. अगर आप इसे डिटेल से समझना चाहते है तो कई अलग अलग theory को डिटेल से समझना होगा.

दुनिया भर में Ghost and Spirit Experience को expert ने अलग अलग theory के जरिये समझने की कोशिश की है जैसे की

  • Dreaming with your eyes open
  • Faces in the clouds
  • The power of critical thinking

आपने कई ghost-hunting TV shows देखे होंगे जहाँ पर कुछ performer अपने साथ scientific equipment रखते है ताकि किसी भी spirit activity को मापा जा सके. ज्यादातर Pre-planned show होते है जहाँ पर ऐसा माहौल तैयार किया जाता है ताकि लोगो को ये सब रियल लगे.

आज दुनियाभर में इस बात लो प्रूफ नहीं किया जा सका है जिसकी वजह है इसकी theory जैसे की अचानक गायब हो जाना. वैज्ञानिक जिस बात को तर्क से साबित नहीं कर सकते उस पर भरोसा नहीं करते है.

Top 3 theory about Science Of Ghosts And Spirits

क्या आपको ऐसा लगता है की आत्माओ को वैज्ञानिक तर्क की जरुरत है? वैज्ञानिक भले ही Scientific explanation for ghosts को लोगो के सामने रख नहीं पाए है लेकिन, इसका मतलब ये नहीं है की आत्माओ का कोई अस्तित्व ही नहीं है. spirit को एक energy की तरह देखा गया है जिसे ख़त्म नहीं किया जा सकता है और ये एक स्वरूप से दूसरे स्वरूप में बदल जाती है.

इससे पहले की हम theory about Science Of Ghosts And Spirits के बारे में बात करे आपको ये जान लेना चाहिए की आज भी वैज्ञानिको के पास Unsolved Mystery and urban legend को लेकर कोई जवाब नहीं है. हमने Shadow people encounter को लेकर कई अलग अलग theory को पहले ही शेयर किया है.

Ghost And Spirit Capture Scientific Equipment दावा करते है की उन्होंने आत्माओ को कैप्चर किया है लेकिन, सच को फिर भी सबित नहीं किया जा सका है.

विज्ञान को आज भी Paranormal science को समझने में काफी समय लगेगा. Parapsychology का निर्माण भी इसी उदेश्य से हुआ है ताकि विज्ञान से अलग रहते हुए इस पर शोध किया जा सके. आइये अब उन 3 theory को भी जान भी लेते है जो ये दावा करती है जो हमें अनुभव होता है वो वास्तविक है या फिर किसी तरह का वैज्ञानिक नजरिया.

Dreaming with your eyes open

खुली आँखों से सपना देखना को सबसे ज्यादा Sleep Paralysis से जोड़ा जाता है. हम सभी कभी न कभी इस तरह की स्थिति से गुजरते है जहाँ रात को अचानक ही आँख खुल जाती है लेकिन हम किसी तरह की movement नहीं कर पाते है. कुछ पल की इस स्थिति के दौरान हम और भी कई तरह के अनुभव करते है जैसे की किसी Dark shadow being entity को देखना या फिर अजीब सी आवाजे सुनाई देना.

विज्ञान इस स्थिति को Sleep Paralysis और होने वाले अनुभव को hallucination का नाम देता है. उनके अनुसार इस तरह की स्थिति के दौरान हमारा दिमाग बॉडी से पहले active हो जाता है जिसकी वजह से हमें इस तरह के अनुभव होते है. Science of ghosts and spirits की माने तो इस तरह के अनुभव ज्यादातर teenager करते है जहाँ वो अपने सीने पर किसी evil entity को बैठा हुआ पाते है और उन्हें डरावनी आवाजे सुनाई देती है.

रात को सोते समय हम Rapid Eye Movement की स्टेट से गुजरते है जो नींद के दौरान Experience होने वाली स्टेट में से एक है. इस दौरान हमारी आँखों की पुतली बंद पलको में अलग अलग जगह मूव करती है. इस दौरान अचानक ही हमारी आँखे खुल जाती है लेकिन बॉडी में कोई मूव नहीं होता है. इस तरह की स्थिति REM की स्टेट का एक हिस्सा है और कुछ नहीं.

Faces in the clouds

आत्माओ को महसूस करने के लिए Sleep Paralysis की स्थिति से गुजरना जरुरी नहीं, ऐसे और भी कई अनुभव है जिस दौरान हमें कुछ अजीब अहसास होता है. Scientific view on ghost’s की बात करे तो कई ऐसे सवाल है जो अपने साथ रहस्य को जोड़े हुए है जैसे की

  • चलते चलते आपको अहसास होता है की आपका मोबाइल रिंग कर रहा है लेकिन जब चेक करते है तब कोई कॉल या मेसेज नहीं मिलता है.
  • अकेले में आपको लगता है की किसी ने आपका नाम पुकारा है या आपको आवाज लगाईं है लेकिन, जब आप पीछे देखते है तो वहां कोई नहीं होता है.
  • रात के अँधेरे में कही जाते टाइम आपको अँधेरे में या अपने पीछे किसी Dark shadow figure के होने का अहसास होता है लेकिन जब आप चेक करते है तो वहां कोई नहीं होता है.

इस तरह के अनजाने अनुभव को वैज्ञानिक सिर्फ hallucinations कह कर पूरी तरह नकार देते है. ज्यादातर लोग इस तरह के अनुभव को अवॉयड कर देते है जबकि कुछ लोग बार बार इस तरह के अनुभव होने पर इसे Scientific explanation for ghosts   से जोड़ देते है. वो उस पर believe करना शुरू कर देते है जो शायद हो ही नहीं.

Science of ghosts and spirits के अनुसार ज्यादातर इस तरह के अनुभव हमें अकेलेपन के दौरान ही होते है या फिर तब जब हम ऐसा कुछ सुनते है. दरअसल हमारा दिमाग यादो को हमारी लाइफ के साथ जोड़ने के लिए कुछ बेस तैयार करता है जिसमे Imaginary people शामिल है. एक ऐसी स्थिति जिसमे हमें किसी चीज के होने का भ्रम होता है pareidolia के नाम से जानी जाती है.

एक उदाहरण से समझते है.

Science of ghosts and spirits को समझने के लिए इस अनुभव को आप सभी ने कभी कभी ने experience किया होगा. रात को मेने राज मूवी देखी जो की उस समय की सबसे डरावनी मूवी में से एक थी खासकर उसका लास्ट वाला सीन.

उस मूवी को देखकर में सो गया और सुबह 5 बजे Washroom जाने के लिए उठा. गलियारे में माँ खड़ी थी जो उस समय जानवरों को चारा दे कर वहा बस खड़ी ही हुई थी. उनका मुह दूसरी तरफ था और जब मेने उन्हें देखा तो मुझे लगा कोई भूत खड़ा है.

में चीख मारता हुआ वापस अन्दर घुस गया. थोड़ी देर में माँ आई और उन्होंने पूछा क्या हुआ ?

मेने उन्हें बताया तो उन्होंने कहा वो तो में थी.

इस तरह की स्थिति में हम जो देखते है और सुनते है उसे वास्तविक दुनिया में जोड़ने की कोशिश करते है. यही वजह है की अकेले में हमें किसी के होने का अहसास होता है या हमें shadow people दिखाई देते है.

In-attentional blindness

क्या आपके साथ कभी ऐसा हुआ है की आप कही बैठे है और अचानक ही Physical world से आप astral plane को अनुभव करने लगे हो. In-attentional blindness एक ऐसी स्थिति है जिसमे हमें अपने सामने की चीजो में फर्क करने लगते है और वास्तविकता को समझ नहीं पाते है. हमारी यादे किसी कैमरा की तरह काम नहीं करती है. हम उन चीजो को ही याद करते है जिस पर हमारा ध्यान होता है.

ऐसी स्थिति के दौरान हम Higher Levels Of Paranormal Beliefs को experience करते है. जब हम इस तरह की स्थिति से गुजरते है तब हमारा brain कुछ चीजो पर फोकस होता है जबकि कुछ चीजो को ignore कर देता है. ऐसी स्थिति से बाहर आने पर हमारा brain सही तरह से react नहीं कर पाता है और हमें ये Paranormal experience लगता है.

Science of ghosts and spirits के अनुसार हमारा brain इस दौरान एक अलग स्टेट को अनुभव करता है जहाँ उसका खुद का कण्ट्रोल नहीं होता है.

हमारे आसपास की कई एक्टिविटी को भी हम strange experiences से जोड़ना शुरू कर देते है. मान लीजिये आप कही अकेले घर में होते है और आप अभी अभी किसी आत्माओ के अनुभव के सुनते है और अचानक ही खिड़की खुल जाती है, कुर्सी अपने आप हिल जाती है या फिर ऐसा ही कुछ अनुभव जिसमे चीजे हिलने डुलने लगती है.

हालाँकि ज्यादातर चीजे जो मूव होती है वो normal activity ही होती है लेकिन, हमारा brain इसे आत्माओ से जोड़ना शुरू कर देता है.

The power of critical thinking

ऊपर शेयर किये गए sleep paralysis, hallucinations, pareidolia or in-attentional blindness को कोई भी व्यक्ति अनुभव कर सकता है लेकिन, ज्यादातर लोगो ने इसे Science of ghosts and spirits को accept करते हुए इसे अवॉयड किया है ना की ghosts or other supernatural beings की तरह इसे explain करने की कोशिश की है.

बचपन में जब हम इस तरह का अनुभव करते थे तब क्या किसी ने कोशिश की थी की वो इसे सही तरीके से face करे?

हम सब सिर्फ अनजाने में इस स्थिति को अनुभव करते है और दिनभर के कामो में बिजी हो जाते है. कुछ लोग इसके बारे में सवाल करते है और उपलब्ध जानकारी के आधार पर इस स्थिति को पूरी तरह Consciousness में रहते हुए अनुभव करने की कोशिश करते है. आराम से एक जगह बैठकर खुद को जितना रिलैक्स कर सकते है उतना करने की कोशिश करते है.

इस तरह के लोग stronger critical-thinking skills का use करते है और जब ऐसा होता है तब उनका belief किसी भी Paranormal activity से हट जाता है. अगर आपको अपनी खुद की परछाई दिखाई दे रही है जो आपसे कुछ कहना चाह रही है तो आप इसे Astral travel experience का नाम देकर खुद को Justify कर लेते है.

जिन लोगो का झुकाव science की तरफ होता है वे Paranormal belief में बहुत कम विश्वास करते है और हर बार होने वाले अनुभव को किसी न किसी Scientific explanation के साथ जोड़कर वही end कर देते है. Science of ghosts and spirits को समझने की बजाय इसे दिमाग की उपज साबित करने की कोशिश उन्हें धीरे धीरे बदल देती है और अनुभव होना बंद हो जाता है.

Do you believe in Science of ghosts and spirits final conclusion

बेशक आज भी ये एक अनसुलझा रहस्य है की आत्मा होती है या नहीं लेकिन, विज्ञान और आध्यात्म की इसे लेकर अपनी अपनी परिभाषा है. ये उन experience में से एक है जिसे जो अनुभव करता है वही accept करता है. आज भी हम भूत प्रेत और आत्माओ में विश्वास नहीं करते है लेकिन, घर में होने वाली Paranormal activity, Djinn possession experience या फिर चीजो का अचानक से गायब हो जाना जैसे अनुभव हमें इसे नकारने नहीं देते है.

अगर आत्मा नहीं होती है तो चीजो के अपने आप गायब होने, किसी व्यक्ति के शरीर पर आत्माओ का कब्जे जैसे अनुभव को विज्ञान किस नजरिये से देखता है ?

हम इस बात को 100% accept नहीं कर सकते है की भूत प्रेत और आत्मा होती है लेकिन, विज्ञान भी आज तक इसे पूरी तरह नकार नहीं पाया है. अपनी लाइफ में हम ऐसे कई अनुभव से गुजरते है जहाँ हमें ऐसे ऐसे अनुभव होते है जिसका विज्ञान के पास कोई जवाब नहीं है. आप अपने विचार कमेंट में रखे और हमें बताये की आप क्या सोचते है क्या वाकई आत्मा होती है और Science of ghosts and spirits को प्रूफ किया जा सकता है.

Never miss an update subscribe us

* indicates required
Previous articleTop 5 The Negative Effects of Social Media on Relationships समय रहते जरुरत और आदत में फर्क करना सीखे
Next articleHow to get your ex back with love tips in Hindi अपने प्यार को वापस पाने के 5 आसान टिप्स
Nobody is perfect in this world but we can try to improve our knowledge and use it for others. welcome to my blog and learn new skill about personal | psychic | spiritual development. our team always ready to help you here. You can follow me on below platform

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here