10 myth and Risks of lucid dreaming in Hindi मनचाहे सपने देखने के अनजाने नुकसान

0
91
Risks of lucid dreaming

Lucid dreaming यानि ऐसे सपने जो हकीकत की तरह लगते है और मनचाहे तरीके से experience किये जाते है. हालाँकि इस तकनीक पूरी तरह सेफ है लेकिन, आपको dangers of lucid dreaming के बारे में भी जान लेना चाहिए. अगर आप मनचाहे सपने देखने की तकनीक में interest रखते है तो आपको Risks of lucid dreaming के बारे में पता होना चाहिए.

कुछ लोगो ने अनुभव किया है की lucid dreaming के बाद उन्हें Sleep quality issue को face करना पड़ रहा है. हम सपने के दौरान जो कुछ भी महसूस करते या देखते है वो सब हमें Realistic लगता है. हम हकीकत और सपने में फर्क नहीं कर पाते है. कई बार हम हकीकत से बचने के लिए भी इस तकनीक का प्रयोग करते है. इसके सबसे बड़े रिस्क में से एक Sleep paralysis experience भी है जिसे हर कोई face करता है.

Risks of lucid dreaming

कुछ लोगो ने Lucid dream के बाद मानसिक रूप से थका हुआ महसूस किया और ये अनुभव उनके लिए एक अच्छा अनुभव नहीं रहा. इसके दूसरे बड़े रिस्क में से एक lucid nightmare भी है. अगर हम किसी अभ्यास से जुड़े खतरों के बारे में बात कर रहे है तो इसका मतलब ये नहीं है की वाकई में उसके कुछ खतरे है, हो सकता है की कुछ रिस्क हो या फिर सही तरह से अनुभव ना होने पर जो effect हो वो भी हमारे लिए किसी Side effect से कम नहीं है.

मनचाहे सपने देखना सामान्य सपनो से अलग होता है. ऐसे सपने जिन्हें आप मनचाहे तरीके से देखते है और उन्हें modify कर सकते है. इन सपनो को हम तोड़ मोड़ कर experience कर सकते है लेकिन, ये सपने इतने Realistic होते है की मानो हम सपना नहीं हकीकत में ही सब कुछ अनुभव कर रहे है. इस आर्टिकल में हम Dangers Of Lucid Dreaming के बारे में बात करने वाले है.

The risks of lucid dreaming in Hindi

ये वो सपने है जो हमारी अधूरी इछाओ से जुड़े है. सबसे बड़ा सवाल की आखिर “हम इस तरह के सपने देखते ही क्यों है ?” इसका सीधा सा जवाब है हमारे अवचेतन मन की प्रोग्रामिंग. अवचेतन मन हमारा ध्यान हर उस पहलू से जोड़ता है जो हमारी लाइफ में महत्त्व रखते है. एक उदाहरण के लिए अगर भविष्य में आप किसी इवेंट में शामिल होने वाले है तो आपको इसका सपना आ सकता है.

ये सपना हकीकत की तरह होगा लेकिन, ये आपको बतायेगा की आप इस इवेंट में खुद को किस तरह बेहतर बना सकते है. जो गलती आप इस दौरान face कर सकते है हकीकत में उससे बच सकते है.

ये सपने हम जाने अनजाने में देखते रहते है और अभ्यास के बाद सहज होकर अनुभव कर सकते है. इनका हमारी लाइफ में काफी महत्त्व है लेकिन, कई बार इनका अनुभव हमारी लाइफ में कुछ Negative effect भी डालता है. हम कुछ टॉपिक इसमें कवर करने वाले है जैसे की

  • What are the dangers of lucid dreaming?
  • Can you die in real life from a dream?
  • Can you die from lucid dreaming?
  • Can you get stuck in a lucid dream?
  • Is lucid dreaming addictive?
  • Are lucid dreams tiring?
  • Can you have a lucid nightmare?

इन सब सवालों पर हम यहाँ बात करने वाले है.

क्या मनचाहे सपने देखने का कोई नुकसान है ?

वास्तव में देखे तो मनचाहे सपनो का कोई Possible Risks of lucid dreaming नहीं है. कई बार हमारे अनुभव अच्छे नहीं जाते है या फिर इसके अनुभव हमें इतने वास्तविक लगते है की हम अनजाने भय से घिर जाते है. आम सपनो को हम बंद आँखों से अनुभव करते है लेकिन, Lucid Dreaming के दौरान हम जो भी फील करते है वो बिलकुल वास्तविक लगता है.

ये इतना वास्तविक होता है की हम उठने के बाद वैसे ही realistic feelings जैसे की sadness, pain, anxiety को experience करते है.

मनचाहे सपनो का कोई नुकसान नहीं है आपको सिर्फ इसे समझने की जरुरत है क्यों की problem तब आती है जब हम हकीकत और सपनो में फर्क नहीं कर पाते है. कई बार हम इन्हें लेकर नेगेटिव हो जाते है की जो सपनो में हुआ है वो वास्तविक में हो सकता है. इस तरह का डर हमारे daily routine को प्रभावित करता है.

इस तरह की स्थिति तब बनती है जब सपनो पर हमारा पूरी तरह कण्ट्रोल ना हो.

इसका दूसरा नुकसान है हकीकत और सपने में फर्क कर पाना जो की बेहद मुश्किल होता है. जाने अनजाने में किये गए अनुभव में हम भूल जाते है की ये महज एक सपना है जिसे हम मनचाहे तरीके से देख सकते है. ये हमें बिलकुल हकीकत की तरह लगता है और जब ऐसा होता है तब इसका अनुभव हमारे लिए डरावना अनुभव बन जाता है.

अगर आप इस तरह की Risks of lucid dreaming से बचना चाहते है तो अच्छा होगा की The Lucid dream Journal बनाए.

Read : 10 Easy and Effective tips for An attractive personality in Hindi

हकीकत से बचने के लिए हम लुसिड ड्रीम का सहारा लेते है

सुनने में अजीब लगेगा लेकिन, ये एक ऐसी मानसिक अवस्था है जिसमे हम खुद को हकीकत से कुछ समय के लिए दूर कर लेते है.

ये कुछ समय के लिए intentional detachment and distraction from the real world को तय करता है जिसका सबसे common example है शराब का सेवन करना. जिस तरह हम नशे के दौरान कुछ समय के लिए हकीकत से दूर हो जाते है वैसे ही मनचाहे सपने हमारे मानसिक तुष्टिकरण को पूरा करते है.

मान लीजिये की आप लम्बे समय से सिंगल है और इस बात से आप काफी परेशान रहने लगे है. आप हर रोज जिस लड़की से भी दिन में मिलते है रात को सोने से पहले उसके बारे में सोचते है और आपका अवचेतन मन आपको सपने के दौरान आप दोनों के बीच एक काल्पनिक रिश्ते को दिखाना शुरू कर देता है. हालाँकि इस तरह के सपने पर आपका कण्ट्रोल नहीं होगा.

कुछ मामले में कण्ट्रोल हो सकता है क्यों की वो सब हम बंद आँखों से एक फिल्म की तरह कल्पना करते है और इस दौरान ही हम lucid dream state में पहुँच जाते है. इस स्टेट में हमारा दिमाग जरुरत से ज्यादा active रहता है क्यों की हम उसे रिलैक्स होने ही नहीं देते है जब की बॉडी थकावट की वजह से सो जाती है.

हकीकत से खुद को छिपाना हमें सिर्फ कुछ समय के लिए ही benefit दे सकता है लेकिन, इसके काफी सारे नुकसान हमें लम्बे समय पर देखने को मिलते है. हम अक्सर हकीकत से भागना शुरू कर देते है.

अगर हकीकत से भागना सही नहीं है तो हम ऐसा क्यों करते है ?

वास्तव में देखा जाए तो कई बार Risks of lucid dreaming की स्थिति का चुनाव करना हमारे लिए सही रहता है. ये हमारा ध्यान problem से हटा देता है ताकि हम सही तरह से सोच समझ कर आगे का प्लान बना सके और समाधान कर सके लेकिन, हर बार हकीकत से भागना सही नहीं रहता है.

Escapism का इस्तेमाल अगर आप खुद को stress free बनाने में करते है तो ये आपको काफी आगे ले जा सकता है लेकिन, हकीकत तब भी वही रहती है.

कुछ लोग इसका प्रयोग हकीकत से खुद को दूर करने के लिए करते है. वे अपनी ही Imaginary world बना लेते है जो उन्हें हर बार हकीकत से छिपने में मदद करती है. लम्बे समय तक इसका प्रयोग करने की वजह से हमें इसे Side effect से गुजरना पड़ता है.

आपको इन दोनों स्थिति में फर्क करना आना चाहिए.

Experiencing sleep paralysis

हम बात कर रहे है The risks of lucid dreaming की और sleep paralysis experience का जिक्र न हो ऐसा हो ही नहीं सकता है. एक ऐसा अनुभव जिसे कुछ लोग Paranormal activity experience से जोड़कर देखते है वही कुछ लोग इसे हमारे Body और mind के सही तरह function ना कर पाने की वजह से बने hallucination का रिजल्ट मानते है.

आपके मन में आने वाले सबसे बड़े सवाल में से एक है क्या lucid dream की वजह से Sleep Paralysis की कंडीशन बन सकती है?

नहीं ! क्यों की lucid dream इसके लिए सक्रिय रूप से जिम्मेदार नहीं है. अगर आप इस एक सपने से जागते है और तभी आपको sleep paralysis experience से गुजरना पड़े तो इसके लिए कुछ अलग कंडीशन जिम्मेदार है जैसे की Personal Sleeping And Living Habits जो की आपके Sleep pattern को affect करती है.

Risks of lucid dreaming की स्थिति तब बनती है जब आप sleep deprivation, stress/anxiety से गुजरते है.

  • Dream Initiated Lucid Dreams (DILD) जो की सक्रिय रूप से किसी भी डरावने अनुभव के लिए जिम्मेदार नहीं होता है
  • Wake Initiated Lucid Dreams (WILD) जैसी तकनीक आपको lucid nightmare का experience करवा सकती है लेकिन साथ ही साथ ये मनचाहे सपने देखने की एक effective technique भी है.
  • Mnemonic Induction of Lucid Dreams (MILD) ये भी एक सेफ practice है लेकिन अगर इसका सही से अनुभव ना हो तब आपको sleep paralysis experience और lucid nightmare से गुजरना पड़ सकता है.
  • Finger Induced Lucid Dreams (FILD) हालाँकि ये एक सुरक्षित अभ्यास है लेकिन, इसका गलत अनुभव हमें बुरे अनुभव करवा सकता है.

ये सब Lucid dreaming technique है जो अलग अलग रिजल्ट देती है और इनके experience भी अलग अलग स्थिति पैदा करते है.

क्या सपने में मरने का हकीकत में कोई रिलेशन है ?

नहीं ! आज भी काफी सारे लोग मानते है की The risks of lucid dreaming में से एक है सपने के दौरान मौत हो जाना. आपने कई बार इसका अनुभव किया भी होगा की हम काफी हाइट से अचानक गिरने लगे है और अचानक ही हमारी नींद खुल जाती है. हमें पता चलता है की जो हम देख रहे थे वो सब एक सपना था.

सपने के दौरान मौत का होना कोई नया अनुभव नहीं है और हम कई बार इस दौरान हमारे मन में दबे हुए रास्तो की खोज करते है. कई बार आपने भी अनुभव किया होगा की सपने के दौरान हम Subconscious mind की कोई ऐसी मेमोरी को रिकॉल कर लेते है जो एक सेफ के अन्दर होती है.

हमारा अवचेतन मन कुछ मेमोरी को छिपाकर रखने के लिए सेफ का निर्माण करता है और जब हम उस जगह पर जाते है तब हमें ऐसे अनुभव होते है मानो हम खतरे में हो या मरने वाले हो. इस तरह का रोधक हमारी जानकारी को छिपाकर रखता है.

ऐसी स्थिति में जब हम सपने के दौरान मरते है तो हकीकत में हमारी आँखे खुल जाती है. किसी तरह के खतरे में ज्यादा से ज्यादा इस दौरान उठने के बाद हम Lucid nightmare का अनुभव करते है क्यों की बॉडी Paralysis ( Inactive ) होती है और दिमाग सक्रिय हो जाता है.

ये किसी भी तरह के Dangerous Risks of lucid dreaming में शामिल नहीं है आपको बस इसे समझने की जरुरत है.

क्या सपने हमारी मौत की वजह बन सकते है ?

नींद में, सपने में या फिर Lucid dream experience के दौरान Death experience काफी common है लेकिन, हकीकत में ऐसा कुछ नहीं है. इन सबका हकीकत में कोई संबध नहीं है और वास्तव में ऐसा हो ही नहीं सकता है की आप सपने में मर जाए और हकीकत में उठ नहीं पाए.

आज तक इस बात का कोई प्रूफ नहीं मिला है की सपने में किसी की मौत हुई और वो वास्तविक दुनिया में भी मर गया हो. ये सिर्फ एक डर है जो हमें Positive Lucid Dream experience से रोकता है. सपने के दौरान जब आपकी मौत हो जाती है हकीकत में आपकी नींद खुल जाती है और आप वापस Real world में लौट जाते है.

मौत का डर The risks of lucid dreaming में काफी common है जिसकी वजह से काफी सारे लोग जो इसके अनुभव से गुजरते है इसे एक बुरा अनुभव मानना शुरू कर देते है.

Can You Get Stuck In A Lucid Dream?

क्या हम किसी सपने में हमेशा के लिए फंसे रह सकते है ? आपने ऐसी कई मूवी देखी होगी जिसमे किरदार की मौत उसके सपने में होती है और वो कोमा में चला जाता है या लम्बे समय तक एक सपने में फंसा रह जाता है.

Hollywood Movie like Inception and Coma में देखा होगा की व्यक्ति अगर सपने में ही मर जाता है तो उसका दिमाग हकीकत में कैद हो जाता है या मर जाता है.

इस दौरान व्यक्ति एक ऐसी कैद में होता है जो वक़्त में काफी लम्बे समय तक बनी रहती है. इस तरह की Risks of lucid dreaming तब बनती है जब आप लम्बे समय से नींद की दवा ले रहे होते है.

हकीकत में सपने में फंसना या फिर सपने के दौरान मौत हो जाना जैसा कुछ नहीं है. आप ज्यादा से ज्यादा एक normal सपने से कुछ लम्बा सपना ही देख पाते है या फिर सपने के अन्दर सपना जैसा अनुभव कर सकते है.

हमेशा के लिए सपने देखते रहना संभव नहीं है जब तक की आप किसी तरह की दवा का सेवन ना करे. कुछ दवाई है जो hallucinations की कंडीशन पैदा करती है.

किसी को इसकी लत लग सकती है

बहुत कम मामले में ऐसा होता है की कोई व्यक्ति इसके लिए एक लत को महसूस करना शुरू कर दे. The risks of lucid dreaming की कड़ी में एक डर इसकी लत लगना है जो की काफी रेयर case है.

इसकी लत लगना जैसा मामला तब सामने आता है जब आप बार बार इसका प्रयोग करना शुरू कर दे. Lucid dream भी एक तरह का नशा बन सकता है अगर आप इसका प्रयोग अपने हकीकत से छिपने में कर रहे है.

कई बार हमारा कोई Past life Trauma experience जिससे हम बचने के लिए Lucid dream को अनुभव करना शुरू कर देते है हमें एक नशे की तरह लगने लगता है. हम सब अपनी reality से भागते है. अगर आप किसी स्थिति से बाहर निकलने के लिए इसका प्रयोग कर रहे है तो इसमें कोई बुराई नहीं है.

ये आपके brain को सोचने समझने का वक़्त देता है. problem तब सामने आती है जब आप बार बार इसका प्रयोग करे और हकीकत का सामना करने की बजाय अपने कल्पना में छिपे रहे.

अगर आप ऐसा कर रहे है तो ये आपके लिए खतरनाक हो सकता है.

Risks of lucid dreaming and after experience tiring

The risks of lucid dreaming में mentally exhausting experience एक समान्य सा अनुभव है. हम जब भी इस स्टेट से बाहर निकलते है ज्यादातर मानसिक रूप से थके हुए महसूस करते है. ऐसा तब होता है जब हमारा dream किसी emotional or anxiety जैसे अनुभव से जुड़ा होता है.

अक्सर ऐसे सपने जिसमे हम किसी तरह के Death, detachment or separation जैसे अनुभव से गुजरते है हमें मानसिक रूप से थका देता है.

ये काफी common है और शायद ही कोई इसके ऊपर ध्यान देता है लेकिन, आपको इसे ignore नहीं करना चाहिए. अगर अनुभव के बारे बाद आप Emotionally weak महसूस कर रहे है तो सचेत रहे और समय रहते इस तरह की रिस्क से बाहर निकले.

ऐसी थकान की सबसे बड़ी वजह ये भी हो सकती है की इस अभ्यास के लिए हमें रात को नींद से उठकर दोबारा सोना होता है. अधूरी नींद भी हमें थका सकती है क्यों की दिमाग इस दौरान जो कुछ भी होता है उसे आसानी से accept कर लेता है.

Can you have a lucid nightmare?

Lucid nightmare भी एक unusual experience है जिससे हम सपनो के दौरान गुजर सकते है. The risks of lucid dreaming के possible cause and factor में एक है आपकी repressed memory यानि आपके दिमाग में दबी ऐसी यादे जो बार बार दबाई जा रही है.

ऐसी यादे एक डरावने अनुभव को जन्म देती है और उनका अनजाना डर आप सपने के दौरान अनुभव करते है.

The dangers of lucid dreaming

Lucid nightmare हमें sleep paralysis की तरह अनुभव नहीं होता है. ये उससे कही अलग है. आप अपने Lucid Dream state में काफी अच्छे अनुभव कर रहे है और अचानक ही सब कुछ नेगेटिव बन जाए तो समझ जाए की आपका अवचेतन आपका ध्यान उन यादो में ले जा रहा है जिन्हें दबाया जा रहा है.

आपकी वो यादे जिन्हें आप खुलकर express नहीं कर रहे है एक nightmare की तरह आपको इस समय haunt करने की कोशिश करती है.

ये सब आपके Subconscious mind self mechanism की वजह से होता है. आपका ध्यान उन समस्या की तरफ ले जाना जिनका समाधान जरुरी है और जिन्हें आप नकार नहीं सकते है. आपको कभी न कभी Risks of lucid dreaming का सामना करना ही पड़ेगा जिसकी वजह से आप ये सब अनुभव करते है.

हम इस स्थिति से बाहर निकलने के बारे में पहले ही बात कर चुके है जिसे आप how to overcome lucid nightmare में पढ़ सकते है.

Can lucid dreaming harm you? final conclusion

हम अभी तक कई ऐसे The risks of lucid dreaming के बारे में बात कर चुके है जो हमारे अनुभव को प्रभावित करते है.

इस बात में कोई शक नहीं की lucid dream और हकीकत में फर्क कर पाना हमारे लिए बेहद मुश्किल हो जाता है लेकिन, अभी तक ऐसा कोई case सामने नहीं आया है की इसकी वजह से हमें किसी तरह के नुकसान से गुजरना पड़ा हो.

अभी तक हम जिन The dangers of lucid dreaming के बारे में बात कर रहे थे वो सिर्फ सपनो के सही दिशा में ना जाने की वजह से face किये जाने वाले साइड इफ़ेक्ट थे.

अगर हमारा अनुभव सही तरह से आगे नहीं बढ़ता है तो ये कई कंडीशन को पैदा करता है जिसमे सपने में मौत का सामना, अचानक उठने के बाद Sleep paralysis का अनुभव, मानसिक रूप से थका हुआ महसूस होना शामिल है. बेहतर होगा की lucid dream के बाद आप एक सही नींद ले.

ये नींद कम से कम 5-8 घंटे के बीच हो तो ज्यादा बेहतर होगा. ज्यादातर लोग सपने के बाद मुश्किल से 2-3 घंटा सो पाते है और उसके बाद दिन भर के कामो में बिजी हो जाते है.

लम्बे समय तक ऐसा करना खतरनाक हो सकता है क्यों की ये आपके Brain function को affect करता है. बेहतर होगा की आप इसकी शुरुआत से पहले हर तरह के Possible Risks of lucid dreaming से जुड़े अपने सवालों का जवाब तलाश ले.

Previous articleHow to use Guided Hypnosis for Love to Attract your SoulMate in Hindi
Next articleTop 10 How to remove evil eye from person easy and effective way in Hindi
Nobody is perfect in this world but we can try to improve our knowledge and use it for others. welcome to my blog and learn new skill about personal | psychic | spiritual development. our team always ready to help you here. You can follow me on below platform

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here