ransomware वानाक्राई जैसे खतरनाक वायरस से अपने सिस्टम और जानकारी को कैसे बचाए

2

बीते कुछ समय पहले पुरे विश्व में सबसे latest Ransomware virus के attack का effect देखा गया था। हालाँकि भारत जैसे देश में इस वायरस का ज्यादा खतरा महसूस नहीं किया गया फिर भी 21 देशो के computer hack होने के बाद भारत के online banking system और एटीएम के साथ साथ Reserve bank of India पर इसका खौफ देखा जा साथ है। इसकी वजह है एटीएम का अब भी पुराने operating system पर work करना।
Ransomware virus
यह वायरस कोरिया देश में बना था जिसका उदेश्य दुश्मन देश के computer को Hijack कर lock कर देना और उसकी information चुरा लेना लेकिन अब इसका उदेश्य फिरौती बना हुआ है जो सोचने वाली बात है। आइये जानते है आज की इस पोस्ट में एक बार फिर से ऑनलाइन फ्रॉड के बारे में.

Ransomware virus क्या है ?

ये एक special malicious software program है। जो किसी भी computer को lock कर उसके मालिक को access करने से रोक देता है। इसे हटाने के एवज में अटैक करने वाले ईमेल के जरिये या फिर मैसेज के जरिये owner को फिरौती के लिए कहते है। कुछ लोग अपने डाटा को जल्दी एक्सेस करने तो कुछ अपनी जानकारी छुपाने के लिए ये मांग पूरी कर देते है। ये फिरौती एक digital currency में मांगी जाती है जो अभी चलन में है और popular बनती जा रही है।

पढ़े : क्या आप जानते है काले जादू के इन 3 शक्तिशाली प्रकार से कैसे बचे

Ransomware virus किसका बनाया हुआ है ?

अभी तक ये साफ नहीं हो पाया है की ऐसे खतरनाक वायरसको बनाया किसने है। एक्सपर्ट की माने तो ये दुनिया में अब तक हुआ सबसे बड़ा साइबर अटैक है। इसकी शुरुआत मार्च 2017 में हुई जब dark net पर मौजूद ‘shadow broker’ नामक एक group ने अमेरिका की नेशनल security एजेंसी के tools cyber space में leak कर दिए है। इसी लीक का इस्तेमाल कर दूसरे criminal group ने Ransomware virus बनाया और 13 मार्च को इसे दुनिया में फैला दिया।

एक अफवाह के अनुसार पढ़ने को मिला था की इस वायरस को बनाने वाला कोई बहुत बड़ा हैकर नहीं बल्कि 14 साल का एक बच्चा है। ये आश्चर्यजनक जरूर है लेकिन अखबारों की माने तो यही सही है हालाँकि इसे हिरासत में लिया जा चूका था लेकिन एक खबर और announce जो गई जिसने सबके होश उड़ा दिए है और वो ये है की इस virus का updated version का next attack अब android mobile पर हो सकता है।

पढ़े : तंत्र मंत्र अगर आपको खेल लगता है तो इसे एक बार जरूर पढ़े

रैन्समवेयर का अगला टारगेट है मोबाइल

कंप्यूटर पर अटैक के बाद इस वायरस का अगला निशाना आपके android mobile और smartphone हो सकते है। इसके पीछे की वजह है android का सबसे बड़ा market होना और hacker को लगता है इसे हैक कर वो उन information को hack कर लेंगे जो आपके खास secret है। बदले में उन्हें मिलेगा ढेर सारा पैसा। Ransomware virus attack safety tips Hindi पढ़े खास जानकारिया।

Ransomware virus से बचने के लिए अपनाये खास safety tips को :

इस वायरस से बचने के लिए आपको सबसे ज्यादा ध्यान इंटरनेट से डाउनलोड करते वक़्त फाइल पर देना होगा। क्यों की कई बार हम जो डाउनलोड करना चाहते है उसकी बजाय कुछ और ही डाउनलोड हो जाता है जिसे हम डिलीट नहीं करते है। कई बार तो जल्दबाजी में बगैर ध्यान दिए इंस्टाल के वक़्त काम ना आने वाली चीजे भी इंस्टाल कर लेते है। इससे बचे। इसके अलावा निचे दिए गए टिप्स को अपनाये ये आपके काम आएंगे।

पढ़े : क्या वाकई वशीकरण और काला जादू सच में होता है

1.) अपडेट करना है बेहद जरुरी :

अक्सर देखा जाता है की हम सिर्फ internet के low consumption के चक्कर में window को update नहीं करते है। लगभग हर एक्सपर्ट विंडो अपडेट को बंद ही रखता है। इससे बचे और विंडो को अपडेट रखे इसके अलावा google chrome और अन्य browser जिनका आप उपयोग करते रहते है को अपडेट करके रखे। Ransomware virus ने window के old version window XP और Window 8 को निशाना बनाया है इसलिए ना सिर्फ एंटीवायरस बल्कि anti fishing और एंटी malware को भी अपडेट करते रहे।

2.) file के extension को देखे :

अक्सर हम इंटरनेट से जब कुछ सॉफ्टवेयर डाउनलोड करते है तो उनके साथ साथ अलग से कुछ file भी download हो जाती है। इसे हम install के समय ध्यान नहीं देते है जिसकी वजह से बाद में कंप्यूटर की ना सिर्फ storage कम होती जाती है बल्कि हमरे browser की setting भी change हो जाती है। इसलिए जब भी इंटरनेट से कुछ download करे हमेशा उसका extension चेक जरूर करे।

अगर आपके ईमेल में डाउनलोड करने वाले लिंक से मेल आती है तो इसे खोलने से बचे क्यों की ये fishing attack है और इससे आपके computer में वायरस आ जाता है।

पढ़े : इंटरनेट पर बाबा लोगो का बढ़ता तंत्र मंत्र का बिज़नेस

3.) फाइल extension को खुला रखे :

कई बार आपके पास ऐसी फाइल भी डाउनलोड हो जाती है जिसके बारे में आपको पता नहीं होता है और ना ही उसका पता चलता है की वो किस टाइप की फाइल है। इसकी पहचान करने के लिए कंप्यूटर में menu bar tools पर क्लिक कर view section में hide extension for file को चेक करे। अगर इस पर टिक किया हुआ है तो इसे हटा दे। इसके बाद आप जिस फाइल को भी देखेंगे उसके आगे उसका टाइप शो करने लगेगा।

4.) रिमोट डेस्कटॉप कनेक्शन को कर दे बंद :

इसका मतलब है की आपके कंप्यूटर को अगर यह wan से जुड़ा हुआ है तो सिर्फ एक IP address से आपके कंप्यूट को अपने control में ले लेना। कंपनी में इसका अधिकार वहा की cyber security department के पास होता है जिसका प्रयोग वे लोग system में आने वाली technical problem को solve करने में करते है। लेकिन अगर आप घर पर कंप्यूटर को wan से जोड़ते है तो control panel में system and security के option पर क्लिक करे और रिमोट सेटिंग में जाकर allow user to connect remotely या allow connection पर click है तो उसे हटा दे।

पढ़े : इन्टरनेट से जुड़े टॉप 5 फ्रॉड जिनसे आपको बचना चाहिए

5.) ransomware attack से safety के लिए क्या करे ?

इससे बचने के लिए pirated window, software का इस्तेमाल ना करे। अगर आप कुछ खास secret और sensational information रखते है तो उन्हें अपने computer में रखने की बजाय external disk में रखे। window firewall और antivirus की setting पर खास ध्यान दे। अगर आप free के antivirus software use कर रहे है तो इससे बचे। मात्रा 400 / में आपको best antivirus मिल सकता है। सबसे ज्यादा विश्वसनीय एंटीवायरस की बात करे तो Quick heal इसमें सबसे पहले नंबर पर है। अगर आप total security चाहते है तो इसे अपने computer में install करके रखे। इसके अलावा निचे दिए गए कुछ खास टिप्स जो internet security के लिए बेहद जरुरी है को अपनाना ना भूले।

पढ़े : झाड़फूंक और पूजा पाठ के बहाने होती है ठगी कही आप तो नहीं फंसे

6.) remember some other basic tips

  • सबसे पहले माइक्रोसाॅफ्ट कंपनी द्वारा जारी पैच टर-17010 सिक्योरिटी अपडेट को अप्लार्इ करें।
  • अपने सिस्टम को complete backup network से अलग external hard-disk में रखें।
  • अगर system पर attack हो रहा हो, तो तुरंत computer को network से अलग कर बंद कर दें।
  • अपने कंप्यूटर का S M B port न खोलें।
  • firewall नेटवर्क आधारित attack को block करें।
  • windows का latest व license version प्रयोग में लाएं।
  • आॅटोमैटिक अपडेट को इनेबल रखें।
  • spam mail स्पेम मेल न खोलें।
  • pirated window पाइरेटिड मूवी समेत अन्य insecure साइट्स पर जाने से गुरहेज करें।

दोस्तों भारत जैसे देश में जहा ज्यादातर लोग जुगाड़ लगाकर काम चलाना पसंद करते है वही सस्ते के चक्कर में कई बार नुकसान कर बैठते है और कई गुना ज्यादा कीमत देकर वो इसका हर्जाना चुकाते है। अगर आप अपना सवेंदनशील डाटा कंप्यूटर में रखते है और इंटरनेट का इस्तेमाल करते है तो कंप्यूटर में antivirus और window अपडेट पर ध्यान जरूर दे।

इसके अलावा अगर आप इंटरनेट बैंकिंग जैसी सुविधा इस्तेमाल करते है तो इसका पासवर्ड और username safe रखे। कही भी ना लिखे और ध्यान दे की बैंक कभी आपसे ईमेल या फोन, मैसेज के जरिये कांटेक्ट नहीं करता है। आज की पोस्ट Ransomware virus से बचने के साथ साथ cyber fraud से aware करती है अगर आपको आज की जानकारी पसंद आये तो इसे शेयर करना ना भूले।

2 COMMENTS

  1. इस वायरस ने आजकल लोगों को परेशान कर रखा है, और इसकी उचित जानकारी न होने की वजह से लोग और भी ज्यादा डरे हुए.| मुझे उम्मीद है कि आपकी इस पोस्ट के माध्यम से लोगों को बहुत लाभ मिलेगा|बहुत अच्छी इनफार्मेशन है|..धन्यवाद….

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.