Sunday, September 27, 2020
Home tantra sadhna asli prachin vrahut indrajaal hindi pdf – rare collection of magical power and mantra
Sale!

asli prachin vrahut indrajaal hindi pdf – rare collection of magical power and mantra

1,250.00 500.00

Book Format : PDF Digital book

Page : 355

Year : 1965

Size : 80 MB Approx. ( 11-15 MB per Part )

Part : Total 7 Parts

Category:

Description

इंद्रजाल पुस्तक hindi pdf से जुड़े खास सवाल

इससे पहले की आप इंद्रजाल की पुस्तक देखे पहले बात कर लेते है इससे जुड़े कुछ महत्वपूर्ण सवाल और जवाब के बारे में. चलिए जानते है ऐसे ही कुछ खास सवाल और जवाब के बारे में.

सवाल : में तंत्र मंत्र की field में नया नया हूँ क्या में इन्हें आसानी से सीख सकता हूँ ?

जवाब : निर्भर करता है आपकी श्रधा और विश्वास पर. इसके अलावा अगर आपके पास सही और पुरानी जानकारी है तो आप कुछ भी आसानी से सीख सकते है. साधना में मुख्य होता है उसका विधान जो आपको पता होना चाहिए. इंद्रजाल की पुस्तक में आपको हर विधान की जानकारी मिल सकती है.

सवाल : इंद्रजाल की पुस्तक मार्केट में भी है वो भी कम कीमत पर फिर हम इसे ही क्यों ले ?

जवाब : समय के साथ लोगो ने अपने नाम से पुस्तक का प्रकाशन किया है जिसकी वजह से किताब में काफी बदलाव किये गए है, महत्वपूर्ण जानकारिया बदली गयी है क्यों की original जानकारी प्रकाशित नहीं कर सकते ये कॉपीराइट के तहत जुर्म है. इस वजह से आपको मार्केट में काफी सस्ती दरो पर पुस्तके तो मिल जाएगी लेकिन सही जानकारी नहीं. तंत्र मंत्र की पुस्तके जितनी पुरानी होती है उतनी ही प्रभावशाली होती है.

सवाल : क्या बिना गुरु के तंत्र मंत्र सीखना खतरनाक नहीं होता ?

जवाब : बिलकुल होता है. लेकिन आज के समय में गुरु हर किसी को मिलना भी संभव नहीं. इसकी वजह से गुरु मंत्र, spiritual गाइड और रक्षा कवच जैसे विधान आपको साधना सीखने में मददगार साबित हो सकते है. अगर साधना से पहले रक्षा कवच हो तो साधना का दुष्प्रभाव से बचा जा सकता है जब तक की इसका समाधान ना मिल जाए. ये एक सुरक्षा विधान है स्थायी समाधान नहीं. लेकिन फिर भी निम्न स्तर से उच्च स्तर तक पहुंचा जा सकता है.

सवाल : मेरी रूचि यक्षिणी साधना में है क्या इंद्रजाल से सही जानकारी मिल सकती है ?

जवाब : हाँ ! इंद्रजाल पुस्तक hindi pdf में आपको यक्षिणी साधना का विधान, यक्षिणी के बारे में जानकारी, साधना से जुड़े नियम और अन्य आवश्यक जानकारी मिलती है.

इंद्रजाल पुस्तक hindi pdf – कुछ खास जानकारी

दोस्तों ये पुस्तक सांकेतिक भाषा में है इसलिए इसे समझने के लिए आपको इसका अध्ययन पूरा करना पड़ता है. अगर आप इसका अध्ययन कर लेते है तो शायद ही कोई साधना होगी जिसे आप कर ना सके.

इंद्रजाल की इस पुस्तक में आपको सबसे बड़ी और खास बात ये मिलने वाली है की ये pdf यानि ebook के format में है. इस वजह से इसे आपको मंगवाने की जरुरत नहीं पड़ने वाली ना ही किसी तरह के रखरखाव की जिसकी वजह से आप जब चाहे जहा चाहे इसका उपयोग कर सकते है. ये पुस्तक 60 साल से भी ज्यादा पहले की है जिसकी वजह से आपको इसमें वो सबकुछ मिल सकता है जो आप चाहते है. इंद्रजाल के बारे में आप पहले ही बहुत कुछ पढ़ चुके है नहीं तो इंद्रजाल का रहस्य आप पढ़ सकते है.

इंद्रजाल की सबसे ज्यादा डिमांड इस वजह से की जाती है क्यों की इसमें आपको लगभग हर तरह के विधान, तंत्र मंत्र यंत्र के निर्माण की सही विधि मिल जाती है. अन्य किताबो की तुलना में ये सरल और आसान मगर प्रभावी होता है. मै इस बात को पहले नहीं मानता था लेकिन जब मैंने पाया की एक अन्य ब्लॉग पर जो पुस्तके हजारो रूपए में बेचीं जा रही है वो मंत्र और विधान इंद्रजाल से ही लिए गए है. इसके बाद से ही टीम के लोगो द्वारा ये फैसला किया गया की इंद्रजाल पुस्तक hindi pdf को सार्वजानिक करने के बजाय एक प्रोडक्ट की तरह sell किया जाए.

इसकी 2 मुख्य वजह है पहला इस पुस्तक के ओनर को आपत्ति होना, दूसरा ब्लॉग और टीम के खर्च को कम करना. इस खर्च में ब्लॉग के संचालन, सालाना इस पर होने वाले खर्चे को कम करना और नए नए सुविधा को जोड़ना है. hindi ब्लॉग में sachhiprerna को अपनी पहचान बनाने के लिए काफी संघर्ष करना पड़ता है. अगर आप चाहते है की ब्लॉग सुचारू रूप से आपके फायदे के लिए चलता रहे तो आप डोनेशन का विकल्प भी चुन सकते है.

Additional information

part

1, 2, 3, 4, 5, 6, 7

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “asli prachin vrahut indrajaal hindi pdf – rare collection of magical power and mantra”

Your email address will not be published. Required fields are marked *