What causes precognitive dreams? आखिर क्यों हम सच होने सपने देखते है 2021 update

0
39

हर रोज रात को सपने तो हम सभी देखते है लेकिन कई बार जाने अनजाने में आने वाले भविष्य की घटनाओ को भी महसूस कर लेते है. आमतौर पर ऐसा 10% से भी कम लोगो के साथ होता है की उन्हें एक महीने में 3 बार से ज्यादा इस तरह के सपने दिखाई दे जो आने वाले टाइम में सच साबित होते है. इसकी वजह हमारा conscious mind में ज्यादा फंसे रहना है जो ज्यादातर अनचाहे विचारो से उलझा रहता है. ऐसे सपने जो सच होते है उन्हें Precognitive dreams कहते है और इन्हें देखने वाले को Precognitive dreamer तो चलिए जानते है आज इनके बारे में सबकुछ.

कई बार जब हम आने वाले कल के बारे में ज्यादा सोचते है तो सपने में आने वाले कल से जुड़ी कुछ घटनाए दिखाई दे जाती है. हमारा ज्यादा सोचना असल में Subconscious mind को trigger करता है जो हमारे सोने के बाद भी active रहता है और फिर हम सोने के बाद इन घटनाओ को देखते है. ज्यादातर ये activity हमारे control से बाहर होती है लेकिन कुछ खास अभ्यास के जरिये इसे मनचाहे तरीके से देखा जा सकता है. ये हमारे अन्दर की Psychic powers ability में से एक है जिसे लम्बे समय के अभ्यास के बाद सीखा जा सकता है.

What is a precognitive dream?

Precognition dreams यानि ऐसे सपने जो आने वाले वक्त की घटना से जुड़े हुए होते है सिर्फ सपने नहीं होते है बल्कि एक संकेत की तरह होते है. आज हम

  • What is a precognitive dream?
  • Why do you have precognitive dreams? Are they real?
  • What causes precognitive dreams?
  • Famous precognitive dreams
  • Precognition and déjà vu
  • Precognitive dreams of death
  • How do precognitive dreams work?

इन सबके बारे में डिटेल से बात करने वाले है इसलिए अगर आप अपने Subconscious mind programing पर believe करते है तो इसका अभ्यास करना आपके लिए बेहद आसान हो जायेगा. सबसे पहले बात करते है;

What is a precognitive dreams?

ये वो सपने है जो आने वाले वक़्त में सच होने वाली इवेंट या किसी घटना से जुड़े हुए होते है. आने वाले कल को सपनों के दौरान महसूस करना ये आपकी psychic ability का एक हिस्सा है जो कुछ लोगो में God gifted होती है वही कुछ लोग इसे अभ्यास के जरिये active करते है. आपने काफी सारी Hollywood fantasy movie देखी होगी वो सब देखने में एक कल्पना की तरह लगती है लेकिन हकीकत में देखे तो हमारा Subconscious mind जो इन सबके लिए जिम्मेदार होता है वो हमारी सोच से कही ज्यादा कर सकता है.

ज्यादातर लोग इसे सिर्फ एक सपने की तरह लेते है क्यों की वे इसमें believe नहीं करते है लेकिन जब वो घटना सच में होती है तब उन्हें Precognition and déjà vu का अहसास होता है. अगर आप अपने सपनो पर गौर करते है तो बेहद जल्दी जी आप सपनो को control भी कर सकते है जिसे Lucid dreaming state कहते है. जिन लोगो को इस तरह के सपने आते है उनका sixth sense काफी strong होता है जो आने वाले समय की घटना को feel करना शुरू कर देता है.

ज्यादातर मामले में ये अपने पीछे सिर्फ questions and curiosities छोड़ता है क्यों की हमें इस तरह के सपने मनचाहे तरीके से नहीं आते है ना ही हमारा इन पर कोई कण्ट्रोल होता है ऐसे में हम इसे ज्यादा नोटिस भी नहीं करते है लेकिन, इन्हें अगर आप समझने की कोशिश करे तो शायद आपको अपनी लाइफ के बहुत सारे सीक्रेट को समझने का मौका मिल जाए.

हमें premonition dreams क्यों आते है क्या वे हकीकत में होते है ?

अगर आपके दिमाग में भी सवाल उठ रहा है की आखिर कैसे हम premonition dreams experience करते है तो इसकी मुख्य तौर पर 2 वजह हो सकती है. पहला आपको किसी तरह की चेतावनी देना और दूसरा आपको ये अहसास करवाना की आप सही रास्ते पर चल रहे है. हमारे deepest depths of subconscious mind में काफी सारे secret छिपे हुए होते है. कई बार हमें अन्दर ही अन्दर पता होता है की हम गलत कर रहे है लेकिन फिर भी खुद को रोके बगैर आगे बढ़ते रहते है.

उपरी तौर पर हमें इसका अहसास नहीं होता है जब तक की हम उसे सपनो में ना देख ले. और ये सपने हमें कौन दिखाता है ?

हमारा Subconscious mind जो हमें हमेशा कुछ न कुछ signal देता है. जब भी आप कुछ गलत कर रहे होते है और उसी रास्ते पर आगे बढ़ते चले जाते है तब real and vivid dream के जरिये अवचेतन मन आपको एक तरह से चेतावनी देता है.

वही दूसरी तरफ जब आप सही रास्ते पर चलते हुए अपने काम में आगे बढ़ते है तब भी आप इस तरह के सपने देखते है लेकिन ये आपके आने वाले कल की तरह दीखते है जिसमे आप कुछ अच्छा कर रहे होते है या शांत सपने होते है. ऐसे सपने आपको ये बताते है की आप सही रास्ते पर चल रहे है और जल्दी ही आपकी लाइफ में इस तरह के बदलाव आने वाले है. ये सब आपका self confidence boost करता है और आप motivate होते है.

लेकिन सवाल ये उठता है की क्या वाकई precognitive dream real होते है ?

भविष्य से जुड़े सपने कितने सच होते है ?

यहाँ पर आपको 2 चीजे समझनी होगी पहला इसकी वजह यानि आपको इस तरह का सपना क्यों आया और दूसरा इसका आपके ऊपर क्या असर पड़ा है. बगैर किसी वजह के आपके ऊपर इसका असर नहीं पड़ेगा. अगर ऐसा होता तो आप हर रात को दिखने वाले सपने से प्रभावित होते. महीने में एक बार अगर इस तरह का होता है तो ये सिर्फ एक coincidence हो सकता है लेकिन, अगर इस तरह की गतिविधि बार बार हो रही होती है तब आपको समझना होगा की ये सिर्फ इत्तेफाक नहीं है बल्कि आपका अवचेतन मन आपको कुछ कहना चाहता है.

अगर ‘premonition dream’ आपके किसी खास इवेंट से जुड़े हुए आ रहे है तो आपको समझना होगा की ये हकीकत है. आपका subconscious mind आपकी हर घटना को examine कर रहा होता है और आपको उससे जुड़े संकेत देने की कोशिश करता है. आपको इस तरह के सपने दीखने के पीछे उसका मकसद आपको सिर्फ उसके प्रति aware करना होता है ताकि अगर आप सही है तो आगे बढ़ते रहे और गलत है तो उसे सही करने की कोशिश करे.

यहाँ पर ये confusion ना रखे की आपके पास कोई psychic powers है क्यों की इसमें आप चीजो को अपने तरीके से कण्ट्रोल करते है. ये सिर्फ आपकी inner feeling or intuition है जो आप सपनो के जरिये अनुभव करते है. इसके आधार पर ये कहा जा सकता है की premonition dreams काफी हद तक सच होते है.

What causes precognitive dreams?

ज्यादातर लोग ऐसे है जो precognition dreams को सिरे से नकार देते है. वो इसे सिर्फ pseudoscience का एक हिस्सा मानते है जो है तो विज्ञान का हिस्सा लेकिन सुलझाया नहीं जा सका है. लेकिन कुछ खास तरह की स्थिति में आप क्या करेंगे जैसे की

आपको बार बार किसी नए घर में जाने के सपने आने लगे जबकि आप अपने वर्तमान के घर में बहुत खुश है.

इसके कुछ महीनो बाद ही आप अचानक ही अपना सामान पैक करते है और नए घर में शिफ्ट हो जाते है. ये अनुभव बिलकुल वैसा ही रहता है जैसा आपने सपने के दौरान देखा था. यहाँ पर आपको causes of precognitive dream को समझना होगा साथ ही साथ इसके सच में बदलने को भी.

भले ही हम ऊपर से खुद को कितना भी बिजी कर ले लेकिन जिन चीजो को हम ignore करते रहते है वो सब भी subconscious mind द्वारा analysis की जाती है और उसके आधार पर ये आपके conscious mind को एक आईडिया देता है जब आप सो रहे होते है. ये सिर्फ एक प्रक्रिया है जो आपका ध्यान उन समस्याओ की तरफ आकर्षित करती है जिन्हें आप दिनभर में ignore करते आ रहे होते है.

बार बार ऐसा करना आपको उस एक घटना की तरफ एक्शन लेने के लिए मजबूर करता है जिसे आप सपनो में देखते आ रहे है.

Famous precognitive dreams

इसे क्लियर समझने के लिए आपको इतिहास की एक ऐसी घटना को जानना होगा जो से precognitive dreams जुड़ी हुई है और वो है Abraham Lincoln की मौत से जुड़ी एक खास घटना. अपनी मौत से कुछ दिन पहले ही उन्होंने एक बयान दिया था की उन्होंने सपनो में अपनी मौत की घटना को देखा है. उन्होंने इसे बार बार होते हुए न सिर्फ हकीकत की तरह महसूस किया है बल्कि अपने कातिल का चेहरा भी देखा है.

कुछ दिन बाद उनकी मौत ठीक उसी तरह हुई जैसा उन्होंने बयान दिया था. घटना का समय, स्थिति सबकुछ वैसा ही था जैसा उन्होंने सपने के दौरान महसूस किया था.

एक और एतिहासिक घटना को देखे तो वो टाइटैनिक से जुड़ी हुई है. ऐसा माना जाता है की कुछ लोगो को पहले से ही पता था की ये जहाज किस तरह डूबेगा और उसके बावजूद उन्होंने उसमे सफ़र किया.

इतिहास ऐसी कई घटनाओ से भरा पड़ा है जिन्हें पहले ही लोगो ने सपनो के जरिये अनुभव किया था.

connection between Precognitive dreams and déjà vu

Déjà vu को आज भी हम strangest experiences मानते है. इसका अनुभव क्यों होता है ये आज भी एक रहस्य है और सबसे बड़ी बात इससे आपके ऊपर क्या असर पड़ता है ये कुछ भी नहीं कहा जा सकता है. इसे और भी ज्यादा strong बना देता है हमारा Precognitive dreams को experience करना क्यों की जब इसके बाद वही सब हमें Déjà vu का अहसास करवाता है तो हम हैरान रह जाते है.

किसी भी real-life event को सपनो के जरिये देखना आपके sixth sense की strong feeling को दर्शाता है.

किसी खास की मौत से जुड़े सपनो के पीछे का राज

Precognitive dreams of death यानि ऐसे सपने जिसमे हम किसी अपने खास की मौत की घटना को देखते है. कई बार तो हम खुद को किसी घटना में मरता हुआ भी देखते है जो की एक चेतवानी होती है. कई culture में death को एक नयी शुरुआत माना जाता है जो की positive sign की तरह देखा जाता है. कई बार death dream हमारे लिए anxiety की वजह बन जाते है. जब हम निराश हो जाते है तब लाइफ की अहमियत को समझाने के लिए भी हमारा subconscious mind हमें इस तरह के सपने दिखा सकता है.

अगर आप सपनो में अपने किसी करीबी को मरते हुए देखते है और हकीकत में उसकी मौत हो चुकी होती है या होने वाली होती है तो ये आपके inner feeling को दर्शाता है. जिन लोगो से हम unconscious level पर जुड़े होते है उनकी लाइफ में कुछ भी घटने वाला हो तो हमें सपनों के जरिये अनुभव होने लगता है.

इसे आप premonition dream नहीं मान सकते है क्यों की ये एक चेतावनी को दर्शाता है ना की किसी ऐसी घटना को सच होने वाली होती है. यहाँ पर एक ही घटना की कई वजह निकाली जा सकती है इसलिए इसके बारे में कोई भी एक निर्णय नहीं लेना चाहिए.

How do precognitive dreams work?

सच होने वाले सपने किस तरह काम करते है इसे समझने के लिए आपको इसका सीक्रेट समझना होगा. क्या आपने कभी गौर किया है की हम इस तरह के सपने में क्या क्या शामिल करते है ? इस तरह के सपनो में हमारे बीते कल की घटना शामिल होती है. बीते कल में हम जो भी अनुभव कर चुके है उन्हें access किया जाता है. ये सब हमारे unconscious mind में memory के तौर पर सेव रहता है.

सामान्य तौर पर हम इन्ही घटनाओ को सपनों के जरिये देखते है. कुछ घटनाए आपके लिए नयी होती है क्यों की वो आपके साथ कब हुई ये आपको कोई आईडिया नहीं होता है.

वर्तमान में हम जो कुछ भी कर रहे होते है और अगर हमारा फोकस उस पर रहता है तो हमारा माइंड हमें सपनों के जरिये आने वाले कल का संकेत देता है. आज दुनियाभर से कई लोग ऐसे है जिन्होंने आने वाले कल को सपनों में देखने का दावा किया है. ये सिर्फ आपके inner feeling के रिजल्ट है जो किसी के साथ भी जाने अनजाने में हो सकता है.

इसका मतलब ये नहीं है की आप किसी भी तरह से psychic है.

psychic वे लोग है जो घटनाओ को अपने तरीके से महसूस करते है ना की जाने अनजाने में. वे जब चाहे इसे access कर सकते है.

Lucid dreaming precognition

हम सब पहले ही lucid dreaming के बारे में काफी कुछ पढ़ चुके है. ये ऐसे सपने होते है जिन्हें हम मनचाहे तरीके से कण्ट्रोल करते है. क्या कभी ऐसा हुआ है की आपने सोते समय खुद से कोई सवाल किया हो और आपको सपने में उससे जुड़ी भविष्य की घटना के संकेत दिखे हो ? इस तरह का होना Lucid dreaming precognition को दर्शाता है जहाँ पर आपका मस्तिष्क हर संभव डाटा को लेकर उसका संभावित परिणाम खोजने का प्रयास करता है जैसे एक कंप्यूटर डाटा को process कर रिजल्ट देता है.

अब इन दोनों के बीच क्या connection है ये जान लेते है.

इसके पीछे 2 खास वजह हो सकती है जहाँ पर ये 2 अलग अलग phenomena आपस में relate करते है.

  • Ambient यानि सपने देखने वाला सिर्फ एक observer है. वो सिर्फ precognitive event को observe करता है.
  • Active यानि ऐसा lucid dreamer जो खुद को active रखता है और इस दौरान precognitive dream को access करने की कोशिश करता है.

हालाँकि कई बार ऐसा होता है की हम अपने मनचाहे रिजल्ट को पाने के लिए इस तरह के सपने नहीं देख पाते है लेकिन combining precognitive dreams and lucid dreaming process के जरिये इसे संभव किया जा सकता है.

ये उन लोगो के लिए फायदेमंद है जो सपनो में आने वाले कल के lottery and lotto no. देखना चाहते है. वे इसे दोनों के connection की वजह से महसूस कर सकते है.

How to experience precognitive dreams final conclusion

अगर आप वो सबकुछ कण्ट्रोल कर सकते है जो हो रहा है या होने वाला होता है तो इसका मतलब है की आप अपने एक्शन को कण्ट्रोल को कण्ट्रोल कर सकते है. अगली बार जब भी आप ऐसे सपने देखे जो आपकी भविष्य से जुड़े है लेकिन आपको वो देखना पसंद नहीं है तो खुद से सवाल जरुर करे.

क्या मेरे पास ऐसी power है जिसके जरिये में इसे बदल सकता हूँ और मनचाही घटना को देख सकता हूँ.

अगर आपका मन कहे की हाँ तो समझ ले की आपके पास ये शक्ति एक god gifted है. इसका इस्तेमाल आप अपने और अपने आसपास के लोगो के लिए कर सकते है. सपने में glimpse of your future को देखना आपके inner feeling को दर्शाता है जिसके जरिये आप खुद को किसी भी तरह के आउटकम के लिए तैयार कर सकते है. आज की पोस्ट में precognitive dreams से जुड़ी हर डिटेल को समझने के बाद आप जान ही गए होंगे की इसे किस तरह हम अपने लाइफ में इस्तेमाल कर सकते है.

Never miss an update subscribe us

* indicates required
Previous articleHow Mild technique lucid dreaming work? step by step easy guide to enter in dream
Next articleHow Cannon-Bard Theory works in Hindi definition, example and Criticisms
Nobody is perfect in this world but we can try to improve our knowledge and use it for others. welcome to my blog and learn new skill about personal | psychic | spiritual development. our team always ready to help you here. You can follow me on below platform

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here