पैर की मिटटी से वशीकरण की साधना में सफलता पाने के लिए इन उपाय को फॉलो करे

1

वशीकरण के बारे में पढ़कर आपने कई बार इसका अभ्यास करने की कोशिश की होगी लेकिन बार बार असफलता ही मिली. आपने अभी तक सिर्फ वशीकरण के बारे में पढ़ा है लेकिन क्या कभी आपने Basic Science of vashikaran and how it work के बारे में जानने की कोशिश की ? वशीकरण वास्तव में कोई जादू नहीं है बल्कि तरंगो को प्रभावित करने का विज्ञान है. पैर की मिट्टी से वशीकरण की साधना एक ऐसा ही अभ्यास है जो माध्यम की उर्जा को प्रभावित करता है. ऐसा ही एक अभ्यास पांव की मिट्टी से वशीकरण का उपाय है.

अगर आप माध्यम की तरंगो को प्रभावित कर सके तो एक तरह से आप उसे ही कण्ट्रोल कर सकते है. उर्जा का विज्ञान जैसे की Healing, reiki ये कुछ ऐसे अभ्यास है जो माध्यम की उर्जा को प्रभावित करते है. यहाँ पर शेयर किये जाने वाले मंत्र का प्रयोग भी माध्यम की उर्जा तरंगो को प्रभावित करने का एक अभ्यास है.

पैर की मिट्टी से वशीकरण

Easy and simple vashikaran totke की बात करे तो इसके लिए आपको गृह, नक्षत्र और लग्न का अभ्यास आना चाहिए. मिटटी से वशीकरण करना उन अभ्यास में से है जिसमे माध्यम को प्रभावित करने के लिए आपको उससे जुड़ी कुछ चीजे चाहिए. दरअसल हर वो चीज जिसके कांटेक्ट में हम आते है एक तरंग का प्रभाव रखती है.

तंत्र क्रिया में इसी तरंग क्षेत्र को प्रभावित किया जाता है. कुछ लोग सिर्फ चीजो को छू कर ही बता देते है की वहा क्या हुआ था और कौन था ऐसा कैसे संभव है ? जिन चीजो को एक्सपर्ट छूते है उनमे एक खास तरंग का क्षेत्र होता है जो तब बनता है जब उसका प्रयोग किया जाता है. आइये इस article में जानते है की कैसे हम सिर्फ पैरो के निचे की धूल से वशीकरण कर सकते है.

पैर की मिट्टी से वशीकरण मंत्र का उपाय

मंत्र कई तरह से काम करते है जैसे की सीधे तौर पर, किसी तरह से माध्यम की वस्तुओ से जुड़कर या फिर उसकी उर्जा को प्रभावित कर अपना प्रभाव डालते है. आपने Voodoo and black magic के बारे में पढ़ ही लिया होगा, ये दोनों ही माध्यम की उर्जा को पकड़ते है और फिर उसे प्रभावित करते है.

वशीकरण में ऐसे कई तरीके है जो आसान है और किये जा सकते है जिसमे मिट्टी से वशीकरण मंत्र की साधना का अभ्यास एक है. अगर आप माध्यम से जुड़ी किसी चीज को हासिल कर लेते है तो आप उस पर आसानी से अपना आकर्षण का प्रभाव डाल सकते है. ये अभ्यास ऐसा है की आप माध्यम की उर्जा को मंत्रो की शक्ति से प्रभावित करते है.

पीछे की पोस्ट में हम डिटेल से Vashikaran by photo and name, पुतली वशीकरण साधना और माध्यम से जुड़ी चीजो पर वशीकरण के बारे में पढ़ चुके है. अगर आप ये ना करना चाहे तो वशीकरण के आसान टोटके भी आजमा सकते है. आज की इस पोस्ट में बात करते है किस तरह हम माध्यम के पांव के निचे की मिटटी से उस पर वशीकरण कर सकते है.

पैर की मिटटी या धूल से वशीकरण का तरीका

किसी भी व्यक्ति के शरीर से एक खास तरंग निकलती है जिसे psychic expert ही पकड़ सकते है. आपने Psychometry के बारे में सुना होगा जिसमे एक्सपर्ट सिर्फ चीजो को छू कर बता देते है की ये चीज किस व्यक्ति के पास थी या फिर जो इन्हें इस्तेमाल कर रहा था वो किस तरह की गतिविधि करता था.

वशीकरण वास्तव में सिर्फ हमारे विचार और एक खास तरंग से जुड़ा हुआ है जो की हर व्यक्ति की अलग अलग होती है. खास तरंगो का पीछा करते हुए ही व्यक्ति से जुड़ा जाता है और उसे प्रभावित किया जाता है.

इसके अभ्यास के लिए आपको Psychometry के बारे में डिटेल से जानना होगा जो हम पहले ही बता चुके है. पैर की मिट्टी से वशीकरण के लिए आपको निचे दिए गए कुछ अभ्यास को आजमाना चाहिए.

पढ़े : चीजो को छू कर व्यक्ति के बारे में बताने वाला अद्भुत विज्ञान या किसी तरह का जादू ?

पैरो की धूल से वशीकरण मंत्र

आपने सुना होगा की पैरो की मिटटी से Easy vashikaran ritual को perform किया जा सकता है. लड़की / औरत के बाए पैर की मिटटी और पुरुष / लड़के के दाए पैर के निचे से मिटटी को लेना होता है. क्या आपने कभी जानने की कोशिश है ये काम कैसे करता है ? इंसानी शरीर या कोई भी सजीव अपने चारो ओर एक तरंगो का जाल हमेशा छोड़ता है जो इस universe में चली जाती है.

तंत्र क्रिया में इन तरंगो को ही पकड़ा जाता है. इन्हें प्रभावित करना मतलब माध्यम को प्रभावित करना. वशीकरण कोई जादू नहीं है तरंगो का विज्ञान है. आप कुछ खास मंत्र और माध्यम से जुड़ी किसी चीज / ऐसी चीज जिसमे उसकी तरंगे हो को लेते है और उन्हें प्रभावित करते है. निचे शेयर किये गए तरीके भी कुछ इस तरह के है जैसे की ये ;

मंत्र

ॐ नमो आदेश गुरु का धूलि धसम, धूलि परमेश्वर

धूलि धूं धूं कार जां परि रालो धूलिया सो तजे घर बार

खसम छोड़ी और ही छोड़ी घर

देखे जले बले हम देखे शीतल हो जाय

गुरु की शक्ति मेरी भक्ति फुरो मंत्र इश्वरोवाचा

विधि : इस मंत्र का 12500 बार जप करने से ये मंत्र सिद्ध हो जाता है. मंत्र सिद्धि होने के बाद जिस औरत को वश में करना है उसके बाए पैर के निचे से 3 चुटकी धूल ले और तीनो पर अलग अलग 3 बार मंत्र पढ़े. इस धूल को औरत पर गिरा देंगे तो काम वशीकरण हो जायेगा.

मिटटी से वशीकरण विधि 2

माध्यम के पैरो के निचे की मिटटी को हासिल करना सबके लिए आसान नहीं है. ऐसी स्थिति में हम खुद ऐसा उपाय कर सकते है जिसमे हमें माध्यम नहीं बल्कि खुद के पैरो के निचे की धूल लेनी होती है. इस तरह की पैर की मिट्टी से वशीकरण मंत्र की साधना का अभ्यास उन लोगो के लिए है जो माध्यम के पैरो की धूल हासिल नहीं कर पाते है.

इसमें आपको पैरो की धूल के अलावा शमसान क्रिया भी करनी होती है. ये आसान लगता तो है लेकिन उतना आसान है नहीं. बिना किसी गुरु के इस तरह का अभ्यास ना करे तो ही अच्छा है. इस तरह की चीजो के साथ अभ्यास करना पड़े तो उन्हें भूल कर भी अपने घर पर ना ले जाए.

मंत्र

ॐ नमो धुलि धुलि धुलेश्वरी धुली चचती

जे जे कार जेहने ई भरी चाम्पा भरी

अमुकी छारी घाटी छारी ते निसरे मुकै

धुरी बार मारू तो मसाण लौटे जीव तो वाचा बांधे

सोवई तो सुती जगावि माता धुलेश्वरी

तेरी शक्ति फुरे मेरी काम सरे ॐ ठ: ठ: ठ: स्वाहा

विधि : इस मंत्र की सिद्धि भी 12500 मंत्र की है. मंत्र सिद्ध होने के बाद जिस पुरुष की रविवार के दिन मौत हुई हो उसकी चिता की भस्म और अपने दाए पैर की मिटटी को मिलाकर रविवार के दिन जिस औरत पर गिराई जायेगी उस औरत / लड़की का वशीकरण होगा.

ये पैर की मिट्टी से वशीकरण मंत्र टोटके उपाय बेहद आसान है क्यों की पुरुष को अपने पैरो की धूल चाहिए न की औरत की जो की बहुत मुश्किल काम होता है.

कलुआ वीर की वशीकरण साधना का प्रयोग

“काला कलुआ चौसठ वीर, ताल भागी तोर, जहां को भेजु वहीं को जाए, मांस मजा को शब्द

बन जाए, अपना मारा, आप दिखाए चलत बाण मांरू, मार मार कलुआ, तेरी आस चार,

चौमुखा दिया, मार बादी की छाती, इतना काम मेरा ना करे तो तुझे माता का दूध पिया हराम!”

विधि : कलुआ वीर की साधना का प्रयोग बेहद आसान है. आपको जिस पर प्रयोग करना है उस औरत या लड़की के बाए पैर की थोड़ी सी मिटटी ले और उस 11 बार अभिमंत्रित कर ले. मंत्र पढने के बाद बिना सामने वाले को पता चले उसके सर पर डाल दे.

इस प्रयोग को अधिकतम 3 बार कर सकते है. अगर पहली बार में रिजल्ट न मिले तो इसे फिर से दोहराए और ऐसा आप 3 बार तक कर सकते है. अगर 3 बार कोशिश करने के बाद भी वशीकरण का असर नहीं हो रहा है तो समझ जाए की उसके साथ कोई दिव्य शक्ति है या फिर उसके गृह पित्तर और देवता उसके साथ है.

वशीकरण के आसान टोटके और निर्देश

अगर आप नक्षत्र और गृह पर विश्वास करते है तो आपको मालूम हो की एक टाइम ऐसा होता है की आप जो काम काफी मेहनत के बावजूद नहीं कर पा रहे है वो इस समय हो जाता है. ये खास समय अच्छा भी होता है और बुरा भी इसलिए आपको इसके बारे में थोडा डिटेल से जानना होगा. आइये जानते है कुछ ऐसे टोटको के बारे में जो कम मेहनत में काम आसान हो जाता है.

  • पुष्य नक्षत्र में धोबी के पैरो की धूल को जिस कन्या या औरत के सर पर डाल देंगे वो वशीभूत हो जाएगी. ये एक पैर की मिट्टी से वशीकरण बिना मंत्र के का आसान सा तरीका है.
  • अगर आप वशीकरण का प्रयोग कर रहे है तो इसके लिए मंगलवार के दिन का चुनाव करे.
  • किसी शत्रु को वश में करना है तो आप शुक्रवार के दिन का चयन करे.
  • पैर की मिट्टी से वशीकरण मंत्र आमतौर पर दोपहर के 12 से 5 बजे के बीच ही किये जाने चाहिए.
  • मंत्र सिद्धि प्रयोग का समय रात्रिकालीन 10 बजे के बाद का है.

ये कुछ मिट्टी से वशीकरण मंत्र के ऐसे टोटके और निर्देश है जिन्हें ध्यान में रखा जाए तो काम आसान हो जाता है.

पैरो की मिट्टी से वशीकरण मंत्र की साधना के उपाय

Vashikaran specialist baba ji आज service के नाम पर हजारो रूपये charge करते है जब की काम 100 में 10 का ही बनता है. ऐसी स्थिति में अगर हमें बेसिक बाते पता हो घर पर ही कुछ ऐसे उपाय कर सकते है जो आसान होते है. इसमें Photo vashikaran at home, vashikaran by name, पैर की मिट्टी से वशीकरण की साधना ये ऐसे उपाय है जो आसान है और सही जानकारी के साथ कर सकते है.

वशीकरण या किसी के दिमाग को काबू करना ये एक विज्ञान है जादू नहीं है. जब तक आप इसे जादू समझेंगे इसमें सफलता हासिल नहीं होगी इसलिए इसके सूक्ष्म तरंगो के विज्ञान को समझने की कोशिश करे.

Never miss an update subscribe us

* indicates required

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here