Music Meditation आखिर ध्यान के साथ म्यूजिक को जोड़ने से हमे इतना benefit कैसे मिलता है ?

0

हम जब भी तनाव मे होते है या फिर हमारा मूड सही नहीं होता है तब हम म्यूजिक सुनते है. म्यूजिक उन उपाय मे से एक है जो सबसे कम समय मे तनाव मुक्त बनाते है. अगर म्यूजिक को ध्यान के साथ जोड़ दे तो हमे 2 फायदे एक साथ मिल सकते है इसी वजह से ध्यान की एक अलग ही विधि जिसे music meditation यानि sleep music meditation के नाम से जानते है के प्रति लोगो का रुझान बढ़ा है.

ध्यान को अगर म्यूजिक के साथ जोड़ दिया जाता है तो हमे बेहद कम समय मे तनाव मुक्त होने मे हेल्प मिलती है साथ ही अच्छे अनुभव भी, हालांकि इसके अलावा भी कई सारे psychological benefit है जिन्हे हम आज की पोस्ट मे जानने वाले है.

music meditation

meditation की अलग अलग विधि है लेकिन सब मे फोकस होने पर काफी ज़ोर देना पड़ता है. अगर कोई ऐसी विधि हो जिसमे हमारी रुचि भी हो और करने मे आसान भी तो हम बेहद कम समय मे खुद को काफी आगे ले जा सकते है. ध्यान के बेहतर अनुभव के लिए हमे बस सही music का चुनाव करना होता है और ज्यादा कुछ करने की जरूरत नहीं.

Meditation music और ध्यान के लिए सही जगह का चुनाव करना बेहद जरूरी है. अगर आप सही म्यूजिक का चुनाव नहीं करते है तो फायदे मिलने की जगह side effect से परेशान हो सकते है. अगर आप depression से गुजर रहे है तो खाली समय मे binaural beats को सुनना आपको तनाव मुक्त होने मे मदद कर सकता है. आइए जानते है क्या होता है जब ध्यान मे म्यूजिक को शामिल किया जाता है.

Basic of Music Meditation in Hindi

Music का stress management and overall health पर positive impact देखने को मिलता है. हम जब भी तनाव मे होते है तब म्यूजिक सुनना हमारा first priority रहती है. शरीर को कम से कम टाइम मे अगर relax करना चाहते है तो आपको म्यूजिक सुनना चाहिए क्यो की इसके लिए हमे चेतन रूप से म्यूजिक पर फोकस होना भी नहीं पड़ता है. अगर meditation के साथ music को involve करे तो क्या होगा?

Meditation practice भी most popular stress management strategies मे से एक है जो की आज भी प्रचलन मे है. जिन लोगो ने अभी अभी ध्यान का अभ्यास करना शुरू किया है उनके लिए खासतौर से music meditation का अभ्यास करना फायदेमंद साबित हो सकता है. ध्यान की दूसरी विधि मे जहां साधक को stress experience होने की संभावना बन सकती है इसके साथ ऐसा नहीं है.

अगर meditation के साथ music को जोड़ दिया जाए तो इनके combine benefit देखने को मिलते है. एक और जहां ध्यान के benefit से हम सब वाकिफ है वही music भी तनाव को दूर करने के लिए सबसे कारगर तरीका साबित हुआ है. इस विधि का उदेश्य आपको तनाव मुक्त बनाना है.

कुछ लोग इसे Sleep meditation music के नाम से भी जानते है क्यो की इसके जरिये हम एक बेहतर नींद ले सकते है जो न सिर्फ हमारा तनाव दूर करती है बल्कि energy को भी restore करती है. आइये जानते है ध्यान की विधि के बारे मे.

Simple instruction for meditation

हालांकि ध्यान की ये विधि किसी भी समय की जा सकती है लेकिन बेहतर होगा की आप इसे या तो सुबह करे या फिर शाम के समय. इस विधि का तरीका बेहद आसान है और इसके लिए किसी तरह का special preparation भी नहीं चाहिए. इसे आप step by step मे इस तरह समझ सकते है.

सही music meditation का चुनाव करना

सबसे पहला काम है ऐसे म्यूजिक का चुनाव करना जो आपको relax करने मे मदद कर सके. वैसे तो आमतौर पर सभी तरह के म्यूजिक हमे relax करते है लेकिन, अगर आप Meditation music का अभ्यास कर रहे है तो आपको इस तरह के म्यूजिक का चुनाव करना चाहिए जो आपको सिर्फ relax करे न की आपके emotion को trigger करे.

सही म्यूजिक ऐसा होना चाहिए जो हमारे मस्तिष्क मे चल रही activity को शिथिल करता हो न की emotional बनाता हो. आजकल binaural beats काफी पोपुलर हो रही है इसके अलावा Om meditation music जिसे सबसे अच्छा माना जाता है भी प्रयोग किया जा रहा है. अगर आपने गौर किया है तो ये music हमारे दिमाग मे चल रही गतिविधि को एक लय मे लाता है.

आप slow motion music सुन सकते है या फिर YouTube पर काफी popular हो रहे subconscious mind meditation music या फिर किसी भी तरह का music सुन सकते है.

सही जगह और position का चुनाव

ज़्यादातर लोग मानते है की ध्यान लगाने के लिए सुखासन या पद्मासन मे बैठना ही सही position है लेकिन ऐसा नहीं है. आप किसी भी तरह स्थिति का चुनाव कर सकते है जो आपको comfort feel करवा सके. आप चाहे बैठ कर ध्यान लगाए, कुर्सी पर बैठकर या किसी भी और तरह से अभ्यास करे महत्वपूर्ण है आप किस स्थिति मे खुद को comfort feel करवाते है.

कुछ लोग लेट कर ध्यान करना सही नहीं मानते है क्यो की ऐसा करने से उन्हे नींद आने लगती है जो की ज़्यादातर लोगो के साथ होता भी है. वास्तव मे ऐसा हमारे शरीर के relax होने की वजह से होता है और कुछ समय बाद तो ये सही भी हो जाता है. आप खुद ये decide करे की किस समय और स्थिति मे आप खुद को ध्यान के लिए बेहतर पाते है.

एक बार पता चल जाने के बाद आपको करना क्या है आंखे बंद करना है और headphone use करना है, अगर आसपास शोरगुल नहीं है तो आप speaker या home theater का इस्तेमाल कर सकते है.

खुद को music पर focus रखे

अगर म्यूजिक सुनते सुनते आप उस म्यूजिक के बारे मे सोचने लगते है या फिर आसपास के moment पर विचार करने लगते है तो इससे बचे. अपना पूरा फोकस सिर्फ म्यूजिक के present movement पर रखे. आपको ध्यान देना है की music को सुनते समय आप क्या फील कर रहे है और आपकी बॉडी और माइंड मे क्या क्या बदलाव हो रहे है.

Music को सुनने की बजाय उसे feel करे ताकि आप खुद को meditation music मे involve कर सके. जब आप ऐसा करते है तब आपकी body और mind का खास हिस्सा music के जरिये trigger किया जाता है और खुद मे बदलाव को आप भी महसूस करने लगते है.

अभ्यास को जितना बढ़ा सकते है बढ़ाइए

शुरू मे हम कुछ अनचाहे बदलाव को महसूस कर सकते है लेकिन यकीन मानिए जैसे जैसे आप आगे बढ़ेंगे आपको इसकी लत लग जाएगी. शुरू मे मस्तिष्क मे विचार चलते है लेकिन उनसे भागे नहीं बल्कि music पर खुद को conscious रखने की कोशिश करे. समय के साथ आप खुद को music मे पूरी तरह involve होता हुआ महसूस करने लगेंगे.

अगर आपको सर मे दर्द हो रहा हो तो आप इस अभ्यास के बाद एक छोटी सी नींद ले सकते है. अभ्यास को करने के लिए सही जगह हवादार कमरा रहता है या छत पर आप अभ्यास कर सकते है. इस अभ्यास के लिए 15 मिनट से लेकर 30 मिनट तक का अभ्यास सही रहता है क्यो की मस्तिष्क को इतनी देर के लिए relax करना कई तरह से फायदेमंद रहता है.

इसके कुछ छिपे हुए फायदे भी है जैसे की सोचने की क्षमता मे बदलाव और बेहतर फोकस होने की क्षमता. हम किसी की बात न सिर्फ बेहतर सुन बल्कि समझ भी पाते है. हम न सिर्फ खुद को शांत रख पाते है बल्कि दूसरों को बेहतर समझ भी पाते है.

Tips for better result in music meditation practice

ऐसे कई टिप्स आप follow कर सकते है जो आपकी practice के result को boost कर सकते है. अगर आप सही फायदे के साथ आगे बढ्न चाहते है तो music meditation के दौरान इन बातों का ध्यान जरूर रखे.

  • शुरुआत मे हमेशा छोटे step ले. कुछ मिनट के गाने से शुरुआत करे और धीरे धीरे इसे आगे ले जाए.
  • अभ्यास के दौरान अगर आपका मस्तिष्क unwanted intrusive thoughts, old memories से घिरता जाता है तो म्यूजिक बदल ले. म्यूजिक की कई form होती है और सब पर एक ही music का बेहतर परिणाम देखने को नहीं मिलता है. आप किसी भी type के classical, jazz, new age type के music जो आपको बेहतर फील करवा सके का चुनाव कर सकते है.
  • अगर आप अभ्यास मे ज्यादा टाइम तक बैठना चाहते है और music का समय काल कम है तो एक से ज्यादा म्यूजिक का चुनाव किया जा सकता है. अलग अलग टेस्ट के साथ आप ये पता लगा सकते है की कौनसे म्यूजिक को सुनना आपके लिए सही है.
  • Music meditation के दौरान खुद को विचारो मे घिरा हुआ महसूस करना गलत नहीं है. हर कोई beginning meditation practice के दौरान इसका अनुभव करता है. इससे घबराए नहीं बल्कि अभ्यास को समय दे क्यो की समय के साथ ही सब विचार थम जाते है और आपको ध्यान के असली अनुभव होना शुरू हो जाते है.

ध्यान के दौरान इन बातों का ध्यान रखना आपको जल्दी सफलता और अनुभव को यादगार बना सकता है.

Psychological benefit of music meditation

हम music meditation को Sleep meditation music इसलिए कहते है क्यो की ये हमे relax कर तनाव मुक्त नींद लेने मे हेल्प करता है. relaxation music के अपने कई फायदे है जिनको हम psychological benefit के तौर पर समझ सकते है जैसे की

  1. Improve Your Cognitive Performance – ये आपको वर्तमान मे रखने मे सहायक है
  2. Reduce stress – तनाव दूर करने मे सहायक है
  3. कम खाने के लिए motivate कर सकता है ( ध्यान दे music सुनते समय आप कितना सोचते है खाने पीने के बारे मे )
  4. Improve memory power – मस्तिष्क के काम करने की क्षमता को develop करने मे सहायक
  5. Music सुनना आपके दर्द को heal करने मे help करता है
  6. Help better sleep – तनाव मुक्त सोने मे मदद करता है
  7. Improve motivation ये उन लोगो के लिए फायदेमंद है जो बेहद जल्दी ही खुद को demotivate महसूस करने लगते है.
  8. Mood को improve करने के लिए music सबसे बेहतर option है.
  9. Music सुनने से depression की शिकायत मे कमी आती है
  10. म्यूजिक सुनना हमारे काम करने के तरीके मे बदलाव लाता है

इन सभी फायदे की वजह से म्यूजिक सुनना एक बेहतर option माना जाता है जब हम अकेले हो और psychological तौर पर कमजोर फील कर रहे हो.

म्यूजिक मेडीटेशन से जुड़े कुछ खास सवाल और उनके जवाब

# इसे Sleep meditation music के नाम से क्यो जानते है ?

Sleep का मतलब है सोना. जिन लोगो को sleep disorder की problem होती है उनके लिए इसका अभ्यास करना अच्छा माना जाता है. इसके अभ्यास से हमारा शरीर विचारो से रहित और शिथिल होता जाता है जिसकी वजह से अनचाहे विचारो से छुटकारा मिलता है और हम तनाव मुक्त नींद ले पाते है.

# Does meditation music help sleep      

हा बिलकुल अभ्यास की शुरुआत मे आप एक ऐसी नींद का अनुभव कर सकते है जो अपने पहले कभी न की हो.

# Can you listen to music while meditating?

हाँ सुन सकते है क्यो की meditation के अभ्यास के दौरान music सुनना हमे एक जगह focus होने मे मदद करता है जो की एक अच्छा point है. अगर आप अभ्यास मे नए है तो आप कुछ खास तरह के म्यूजिक का चुनाव कर सकते है.

# Is it good to meditate with music?     

हर बार ध्यान के दौरान म्यूजिक सुनना भी सही नहीं है. इसके कई side effect देखने को मिलते है जैसे की सर मे दर्द रहना, मस्तिष्क मे एक धुन का बजते रहना ये सब अनुभव हो सकते है अगर हम पूरी तरह से म्यूजिक पर निर्भर रहते है तो इसके बगैर ध्यान करना हमारे लिए संभव नहीं रहता है.

इससे बचने के लिए आप इसे 70:30 के अनुपात मे करे. 70% समय म्यूजिक के साथ और फिर 30% समय म्यूजिक के बिना अभ्यास मे बैठे.

Music meditation final word

म्यूजिक सुनना सिर्फ तनाव को ही कम नहीं करता है बल्कि इसके अनेकों psychological benefit होते है जिसकी वजह से ये सबकी पसंद बन रहा है. आज online platform जैसे you tube पर अनेकों binaural beats music उपलब्ध है जो subconscious mind activation, third eye activation का दावा करते है. चूंकि सिर्फ म्यूजिक सुनना होता है इसलिए लोग इसे बिना सोचे समझे फॉलो करना शुरू कर देते है.

ज़्यादातर music आपके लिए सरदर्द बन सकते है इसलिए सही म्यूजिक का चुनाव करना बेहद जरूरी है. music meditation के फायदे सुनने के बाद अगर आप इसका अभ्यास करना चाहते है तो नीचे दिये गए कुछ लिंक को follow कर सकते है. मे आपको 5 element meditation music सुनने की सलाह दूंगा क्यो की इन्हे मैंने खुद try किया है.

Never miss an update subscribe us

* indicates required

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here