How Mild technique lucid dreaming work? step by step easy guide to enter in dream

0
53
Mild technique lucid dreaming technique

Mnemonic Induction of Lucid Dreams एक ऐसी lucid dreaming techniques है जिसे Guaranteed lucid dream technique भी कहा जाता है. जो लोग मनचाहे सपनो का अनुभव करना चाहते है उनके लिए Mild technique lucid dreaming और Wild technique lucid dreaming ये दोनों ही तकनीक काफी अच्छे परिणाम हासिल करने में मदद करती है.

ये एक powerful dreaming technique है जो हमें सपने के दौरान भी aware रहने में मदद करती है ताकि सपनो को मनचाहे तरीके से बनाया जा सके. ये Lucid dreaming methods हमें सपनो को मनचाहे तरीके से control करने में help करता है.

सपनो के दौरान हम उन्हें किस तरह कण्ट्रोल करते है ये हमारी स्किल के ऊपर निर्भर करता है. MILD technique हमें इसमें मदद करती है और सपनो को मनचाहे तरीके से कण्ट्रोल करना सिखाती है.

आज हम इस तकनीक के बारे में काफी सारी चीजे सीखने वाले है जैसे की इसकी खोज किसने की, ये काम किस तरह करती है, Step-by-step lucid dreaming guide, pairing technique जो इसके काम को दोगुना बढ़ा देती है.

Mild technique lucid dreaming technique

ये तकनीक 4 स्टेप में काम करती है और इसकी तकनीक बेहद आसान लेकिन Guaranteed lucid dream technique है. इसे सबसे यूनिक बनाता है इसका experiment. सबसे खास बात ये है की आप इसे अपने मनचाहे तरीके से ढाल सकते है, ये आपके लिए काम करेगी.

समय के साथ इसमें कुछ बदलाव किये गए है जिसकी वजह से आसानी से कुछ समय के अभ्यास के बाद ही आप lucid dreaming state में जा सकते है.

इस आर्टिकल में हम Best lucid dreaming technique में से एक के बारे में बात करने वाले है इसलिए इसे समझे और अभ्यास करे आपको रिजल्ट मिलेंगे. ये तकनीक काफी सारी रिसर्च पर आधारित है इसलिए effective है.

What is Mild technique lucid dreaming

Mnemonic Induction of Lucid Dreams को सबसे पहले लोगो के सामने लाने का क्रेडिट American psycho physiologist Stephen LA Berge को जाता है. वे scientific study of lucid dreaming में expert थे.

उन्होंने एक ऐसी तकनीक की खोज की जिसके जरिये वे खुद को aware रख सके और Lucid dreaming में enter कर सके. उन्होंने इसके लिए काफी सारे experiment किये और अंत में MILD technique के रूप में एक काम की तकनीक सामने आई.

इस तकनीक की सबसे खास बात ये है की इसे beginner भी आसानी से कर सकते है. इसके अलावा उन्होंने एक काफी famous book भी लिखी जिसका नाम Exploring the World of Lucid Dreaming है. ये बुक मनचाहे सपनो के बारे में है जहाँ आप उन्हें किस तरह कण्ट्रोल कर सकते है आसानी से सीख सकते है.

Is MILD technique proven to work?

ज्यादातर लोगो ने जिन्होंने Mnemonic Induction of Lucid Dreams यानि MILD technique of lucid dreaming का प्रयोग किया उन्हें सिर्फ 14 दिन में ही रिजल्ट मिलने शुरू हो गए थे. ये तकनीक prospective memory पर काम करती है यानि future से जुड़ी घटनाओं को याद रखते हुए उन पर एक्शन लेना.

ये Mild technique lucid dreaming बेहतर परिणाम spontaneous awakening with dream recall के साथ देती है.

इसकी सबसे खास बात ये है की इस तकनीक को वे लोग भी कर सकते है जिन्हें अभी तक कोई अनुभव नहीं हुआ है और ना ही उन्हें कुछ आता है. आप शुरू से इसकी शुरुआत कर सकते है. आपको सिर्फ इस बात का ध्यान रखना है की कम से कम 2 से 3 हफ्ते आप अभ्यास को दे.

एक रिसर्च में सामने आया है की वे लोग जिन्होंने पहले हफ्ते अपने सपनो को dream journals में note किया उन्होंने अगले हफ्ते ही Lucid dreaming methods पर अनुभव करने शुरू कर दिए.

सिर्फ 2 हफ्ते में ही उन्होंने great lucid dreaming results हासिल किये वो भी शुरुआती अभ्यास में.

यहाँ पर Mnemonic एक term है जो की किसी ऐसी activity development को लेकर है जो हमें किसी चीज को याद रखने में मदद करती है. Mild technique lucid dreaming हमें सपनो के दौरान self-awareness को बढाने का काम करती है.

इससे हम समझ पाते है की हम सपने देख रहे है और उन्हें किस तरह कण्ट्रोल करना है. सिर्फ यही नहीं ये हमारे unconscious mind में कुछ खास जानकारी को grow करने में मदद करती है जो आगे चलकर Lucid dreaming techniques को लेकर हमें तैयार करता है.

Read : How to Chant Shreem Beej Mantra to Attract Money and wealth Hindi Guide

How Mild technique lucid dreaming work?

University of Adelaide, Australia में हुई एक स्टडी में सामने आया है की Dr. Denholm Aspy ने इस तकनीक के साथ कुछ और तकनीक को मिक्स करने की कोशिश की ताकि और भी बेहतर रिजल्ट हासिल किये जा सके.

अगर बात करे इनके तरीके की तो इसमें 4 भाग है जिसमे 3 और 4 महत्वपूर्ण है जबकि दूसरा भाग lucid dream induction technique के लिए जरुरी है. सिर्फ यही नहीं हर तरह के Lucid dreaming methods के लिए ये जरुरी है की हम Reality check करे.

  • Part 1: Remembering your dreams (Dream Recall)
  • Part 2: Reality Checks
  • Part 3: Lucid Affirmations
  • Part 4: Visualize Your Dream

कोई भी Lucid dreaming techniques में अगर आपको परिणाम चाहिए तो Reality Checks करना ही होगा तभी आप समझ पाएंगे की आप सपना देख रहे है या फिर मनचाहे तरीके से उन्हें कण्ट्रोल कर रहे है. इसके अलावा एक और Wake-Back-to-Bed (WBTB) जैसी स्टडी भी हुई जिसमे कुछ तकनीक को मिक्स कर बेहतर रिजल्ट हासिल करने की कोशिश की गई.

Mild technique lucid dreaming Step-by-step guide

इस तकनीक के टोटल 4 पार्ट है और आपको स्टेप में हर चरण को सीखना है और अभ्यास करना है. ये एक 100% Guaranteed lucid dream technique है जिसमे कोई भी lucid dream experience कर सकता है फिर चाहे उसने पहले अभ्यास किया हो या ना किया हो. अब बात करते है कुछ ऐसे जरुरी स्टेप के बारे में जो आपको इस तकनीक को सीखने के लिए बेहद जरुरी है.

Part 1: Dream Recall

Dream recall यानि सपने को दोहराना, ऐसा हम सभी ने कभी न कभी किया होगा. आपको याद हो तो बचपन में हम कुछ मीठे अच्छे सपने देखते थे जिसमे से बीच में उठने के बाद जब सोते थे तो उसी को याद करते थे.

उसके बाद कब नींद आ जाती थी पता ही नहीं चलता था. सपने को दोहराना एक ऐसी स्टेप है जो हमें Lucid dreaming के लिए रेडी करती है.

मनचाहे सपने देखने की तकनीक से जुड़ी जितनी भी exercise है उन सब में ये स्टेप जरुरी है. बगैर इसे समझे और अभ्यास किये आप आगे नहीं बढ़ सकते है.

Mild technique lucid dreaming work

Mild technique lucid dreaming के लिए आपको हर रोज अपने सपनों को dream journal सुबह उठते ही लिखना होता है. इससे आपको याद रहता है की आपने रात को क्या सपना देखा था.

शुरू शुरू में हो सकता है की आप अच्छे से अपने सपनों को याद ना कर पाए लेकिन धीरे धीरे जैसे जैसे recall process आगे बढती है आप सपनों को बेहतर याद रख पाते है. हर रोज सुबह उठते ही सपनो को note करने से आपके सपनो को याद करने की process काफी improve होने लगती है और जल्दी ही इसके परिणाम मिलना शुरू हो जाता है.

Read : How to Building self-awareness at work top 5 guide you can follow in Hindi

Part 2: Reality Checks

ये एक ऐसी स्टेप है जो आपको ये समझने में मदद करती है की आप जगे हुए है या फिर सपना देख रहे है. कई बार ऐसा होता है की हमारे सपने इतने real बन जाते है की हमें लगता है की हम जगे हुए है. इसका सबसे परफेक्ट example आप बिस्तर में सपने देखते हुए शू-शू करना है.

बच्चो ही नहीं बड़े लोगो में ये problem देखी जा सकती है.

रोज इसका अभ्यास करने से आपको पता चलता है की आप सपना देख रहे है लेकिन इस दौरान भी आपका self awareness बढ़ा हुआ है जिसकी वजह से आप उन्हें मनचाहे तरीके से control कर सकते है. बार बार सपने के दौरान जब भी आपको ये मालूम करना हो की आप किस state में है तो अपने आप से सवाल करते रहे “क्या में सपना देख रहा हूँ”

ऐसा करना आपको अपने आसपास के environment के प्रति aware रहने में मदद करता है.

हम जानते है की सपने में reality को काफी हद तक तोड़ मोड़ सकते है. अपने आसपास को मनचाहे तरीके से ढाल सकते है. हकीकत में ऐसा नहीं होता है इसलिए आप आसानी से इसके बीच फर्क को महसूस कर सकते है. बार बार खुद से सवाल करना आपको aware रखता है और आप सपनो के दौरान खुद को Mild technique lucid dreaming में ले जा सकते है.

इसके लिए क्या क्या किया जा सकता है

हर किसी के लिए ये संभव नहीं की एक ही तरीका काम कर जाए. हम सबकी कोई न कोई ऐसी याद होती है जिसे सपने के दौरान हम सब reserve रखते है. वो हिस्सा महसूस करना जो आपको अलग महसूस करवाता है. आप उसी एक याद को बार बार चेक कर सकते है.

ये तो हम सब जानते है की Dreaming state में physical law काम नहीं करते है. आप सिर्फ Imagination करते हुए खुद को कही भी पा सकते है. ऐसे में Lucid dream reality check के लिए आप कुछ ट्रिक फॉलो कर सकते है जैसे की

  • अपने हाथ की अंगुलियों को मोड़ने की कोशिश करे. एक हद तक आप रियलिटी में ऐसा कर सकते है लेकिन Dreaming state में इसे मनचाहे तरीके से किया जा सकता है.
  • Reading सुनने में आपको भले ही आसान लग सकता है लेकिन सपने के दौरान आप किसी भी चीज को सही तरीके से लम्बे समय तक नहीं पढ़ सकते है. Mild technique lucid dreaming के दौरान रियल्टी चेक का ये आसान तरीका है.
  • अपने कपड़े, ब्रेसलेट या रिंग को गौर से देखे अगर कई देर तक देखने के बाद भी उसमे कोई बदलाव नहीं हो रहा है या बार बार देखने के बाद भी उसका शेप, कलर सब वही रहता है तो समझे की आप सपना नहीं देख रहे है. सपने के दौरान हर बार एक ही तरीके से चीज को अनुभव करना संभव नहीं.

Part 3: Dream affirmations

अगले स्टेप में जब हम हम रियलिटी चेक कर लेते है तब किसी एक अनुभव के लिए बार बार Dream affirmations को दोहराते है जिसके लिए programming your mind का सहारा लेते है. बार बार जब किसी एक ही चीज को दोहराया जाता है तो ये अपने प्रभाव दिखाना शुरू कर देती है. इसके लिए आप कुछ खास कमांड को बार बार दोहरा सकते है.

  • मुझे आज रात Lucid dream experience करना है.
  • मुझे ये अहसास करना है की में आज सपना देखूंगा.
  • अगली बार जब में सपना देखूंगा मुझे Lucid dream का अहसास करना है.
  • अगली बार जब भी में सपना देखूंगा मुझे याद रखना है की में क्या महसूस कर रहा है.

इस तरह के suggestion / command / affirmation आपके unconscious mind को program करना शुरू कर देते है जो आगे चलकर Mild technique lucid dreaming के लिए आपको physical and mental level पर ready करते है.

Read : How Most powerful Maran mantra Works simple Guide and pryog

Part 4: Visualize your dream

ऊपर के 3 स्टेप को पूरा करने के बाद आता है अपने सपने को लेकर imagination करना. आप क्या सपने देखने वाले है इसका imagination आपको Lucid dream के लिए तैयार करता है. सपने के दौरान हम aware नहीं होते है.

इसलिए हम उनका निर्माण नहीं करते है लेकिन, Lucid dreaming के दौरान हमारे brain के Unconscious memory active रहती है इसलिए हम अपने सपने को लेकर aware रहते है.

इसके लिए आपको सिर्फ अपने बॉडी को सुलाना है brain को नहीं. सिर्फ इसी दौरान हम deeply relaxed mode में होते है जहाँ पर Brain अपने maximum level पर creation करता है.

एक उदाहरण के लिए अगर आप सपने के दौरान उड़ान भरना चाहते है तो बार बार इसे महसूस करने की कोशिश करे. आप अपने मनचाहे जगह की कल्पना भी कर सकते है. Lucid dream में जब आप ऐसा करते है तब आपके Unconscious mind को उस जगह को शेप देना आसान हो जाता है.

Pairing technique for Mild technique lucid dreaming

मनचाहे सपने देखने की तकनीक के साथ आगे चलकर कुछ ऐसे बदलाव हुए है जिसकी वजह से सपने देखने के तरीके में बदलाव को देखा जा सकता है. इस तकनीक को Wake-Back-to-Bed (WBTB) का नाम दिया गया है.

Research में ये सामने आया है की inducing lucid dreams के दौरान इसका प्रयोग फायदे को दोगुना कर देता है.

Mild technique lucid dreaming को affect करने वाले और भी कई factor है जिसमे general dream recall या फिर तकनीक में लगने वाला समय शामिल है.

आइये जानते है Wake-back-to-bed technique के बारे में और भी डिटेल से की ये किस तरह काम करती है.

Wake-back-to-bed technique

अगर आपने गौर किया हो तो कई बार हम नींद पूरी होने से पहले ही उठ जाते है जैसे की सुबह 5 बजे उठना होता है लेकिन हमारी नींद 3 बजे ही खुल जाती है और जब सोते है तब एक अलग ही सपना आता है. आपको यहाँ भी यही करना है.

  • पूरी नींद होने से ठीक 2 घंटे पहले का अलार्म लगा ले.
  • सुबह जब 5 बजे की जगह 3 बजे उठे तब अलार्म बंद करे और वापस लेट जाए.
  • अब आपको सोना नहीं है बल्कि बार बार किसी एक कमांड के बारे में सोचना है.
  • आंखे बंद ना करे जब आप ये दोहराएंगे तब कुछ देर बाद आपकी आँखे अपने आप बंद होने लगेगी लेकिन इस बार आप सोयेंगे नहीं बल्कि lucid dreaming state में होंगे.
  • जो भी कमांड आप दे रहे थे आप पाएंगे की आपका सपना अब उसी तरह से बना हुआ है.

आपको अलार्म को इतना दूर रखना है की आपका हाथ आसानी से ना पहुंचे और आपको उठ कर बंद करना पड़े. आप पाएंगे की आपकी बॉडी एक बार फिर से जल्दी ही रिलैक्स हो चुकी है लेकिन brain नहीं. इस दौरान बार बार dream affirmations का use करना इसे आसान बनाता है.

Read : Urvashi Apsara Sadhana सौन्दर्य और वशीकरण के लिए 14 दिन की साधना का प्रयोग

How Mild technique lucid dreaming is so effective final word

इस तकनीक की सबसे बड़ी और खास बात ये है की ये आसान है और कोई भी beginer इसका अभ्यास कर सकता है. स्टेप में इसका अभ्यास करना इसे और भी आसान बना देता है इसलिए Mild technique lucid dreaming लोगो में काफी ज्यादा फेमस है. सपनो को याद करने और Lucid dreaming methods को और भी ज्यादा effective बनाने के लिए आप Dream journal बना सकते है.

इससे न सिर्फ आपको अपने सपने के pattern को समझने में मदद मिलती है बल्कि recall process को और भी आसान बना दिया जाता है जिसकी वजह से सब कुछ आसान बन जाता है. जिन लोगो को Guaranteed lucid dream technique experience करना है वे इससे शुरुआत कर सकते है. ये मेरा अपना अनुभव है और 95% तक कामयाबी भी मिली है.

किसी भी समस्या और सपनो से जुड़ी तकनीक को लेकर सवाल मन में है तो हमें कमेंट में पूछ सकते है.

Previous articleHow to Building self-awareness at work top 5 guide you can follow in Hindi
Next articleWhat causes precognitive dreams? आखिर क्यों हम सच होने सपने देखते है 2021 update
Nobody is perfect in this world but we can try to improve our knowledge and use it for others. welcome to my blog and learn new skill about personal | psychic | spiritual development. our team always ready to help you here. You can follow me on below platform

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here