How Most powerful Maran mantra Works simple Guide and pryog

0
1208

Tantric kriya prayog में से एक Maran Mantra kriya Prayog से हम सब परिचित है. तंत्र में अलग अलग उदेश्य की प्राप्ति के लिए प्रयोग का वर्णन देखने को मिलता है जिसमे से एक है स्तम्भन, दूसरा उच्चाटन और तीसरा मारण है. आज हम कुछ ऐसे प्रयोग के बारे में बात करने जा रहे है जो Most powerful Maran mantra है जैसे की Durga saptashati Maran mantra या फिर Muslim Maran mantra या फिर दक्षिण भारत का Maran mantra Kannada pryog ये सब शक्तिशाली मारण प्रयोग है जो शत्रु का दमन करने के लिए काफी है.

मारण प्रयोग में शत्रु दमन जैसे शब्द का प्रयोग होता है क्यों की इस तरह का प्रयोग शत्रु को तकलीफ देने के लिए होता है जान से मारने के लिए नहीं. maran mantra pryog करना वर्जित माना जाता है क्यों की कर्म से बढ़कर कोई दंड नहीं है लेकिन फिर भी लालच या इर्ष्या के चलते आज के टाइम भी लोग मूठ और चौकी का सबसे ज्यादा प्रयोग करते है. ये प्रयोग शत्रु को तकलीफ देते है खासकर ऐसी बीमारी देकर जिसका इलाज नहीं हो पाता है.

Maran Mantra kriya pryog

घर के लोग बीमारी समझ कर इलाज करने में लगे रहते है और जब तक उन्हें समझ आता है तब तक देर हो चुकी होती है. Muslim Maran mantra अपने शत्रु को शारीरिक और मानसिक तकलीफ देने के लिए सबसे ज्यादा फेमस है और घर में मांस के जरिये कीलित करना, बीमारी या उन्नति को रोक देना जैसे प्रयोग बहुत ज्यादा मात्रा में किये जाते है. मारण का प्रयोग से अभिप्राय मौत नहीं है.

ये दमन का प्रयोग है जिसमे शत्रु का दमन किया जाता है. अगर आपके घर में अचानक से पशु बीमार पड़ने लगे, दूध सूखने लगे या फिर घर के सदस्यों में लड़ाई होने लगे, मानसिक तनाव की स्थिति बने तो समझ ले की ये सब किसी ने करा दिया है. मुस्लिम प्रयोग में अक्सर मांस के जरिये ये प्रयोग किया जाता है जो आपके घर के अन्दर किसी कोने में दबा हुआ मिल जाता है. आइये जानते है इसके बारे में और ज्यादा डिटेल से.

How Maran Mantra Works simple Guide Hindi

अगर आप Power of mantra में believe करते है तो आपने कभी का कभी मंत्र जप के दौरान इसका अनुभव भी किया होगा. मंत्र की शक्ति उसके साधक के विश्वास में होती है. मंत्र का जिस तरह हम उच्चारण करते है वो उसी तरह काम करते है यानि ये साधक के भाव पर निर्भर है की वो एक मंत्र का प्रयोग शांति कर्म में कर रहा है या मारण प्रयोग में.

साधक को साधना में pronunciation of Mantras पर सबसे ज्यादा ध्यान देना चाहिए क्यों की जप के दौरान आपके मन के भाव और उच्चारण का मिला जुला प्रभाव मंत्र की शक्ति बढाता है.

आज के टाइम में हर कोई एक दूसरे का competitor बना हुआ है. कई ऐसे मामले देखने को मिलते है जहाँ आपको सामने वाले से दबना पड़ता है और न चाहते हुए भी compromise करना पड़ता है. ऐसे लोगो की कमी नहीं है जो सामने से आपके शुभचिंतक होने का दिखावा करते है लेकिन पीठ पीछे आपकी खुशियों से उन्हें सबसे ज्यादा चिंता होती है.

तंत्र के कर्म में से एक है Maran Mantra kriya pryog जिसकी सहायता से शत्रु का दमन किया जाता है. Tantra mantra books में ऐसे काफी सारे मारण मंत्र प्रयोग आपको मिल जायेंगे जिसकी सहायता से आप अपने दुश्मनों से छुटकारा पा सकते है. हालाँकि तंत्र का इस तरह से प्रयोग करना आपके कर्म को पतित करता है लेकिन, कई बार परिस्थिति ऐसी बन जाती है की कोई और रास्ता नहीं बचता है.

ऐसे में Durga saptashati Maran mantra, Maran mantra Kannada, Most powerful Maran mantra या फिर बेहद जल्दी प्रभाव दिखाने वाला Muslim Maran mantra का प्रयोग किया जा सकता है.

Most powerful Maran mantra things you must remember

  • मारण मंत्र का प्रयोग सबसे अंतिम विकल्प होता है इसलिए इसका प्रयोग serious होकर करे क्यों की इनका dangerous Mantra effect आपको भी नुकसान पहुंचा सकता है.
  • किसी भी साधना में pronunciation of Maran Mantra का अहम् रोल होता है इसलिए साधना में आपको सबसे पहले मंत्र के सही उच्चारण पर काम कर लेना चाहिए.
  • अगर बात करे Most powerful Maran mantra की ये उनके लिए नहीं है जो meditation practice नहीं करते है. मंत्र जप में एकाग्रता का महत्त्व है जो की सिर्फ meditation से आती है. अगर आप ऐसा नहीं करते है तो आपको सफलता नहीं मिलती है.
  • आपको ये बात अच्छे से पता होनी चाहिए की किसी भी मंत्र की शक्ति को जाग्रत करने वाली right frequency and vibration कौनसी है. जब तक आपको ये मालूम नहीं होगा आप इसकी शक्ति को active नहीं कर पाओगे.
  • अगर आप concept of Karma में believe करते है तो मारण मंत्र का प्रयोग ना करे. कर्म का फल कभी न कभी सबको मिलता है इसलिए सबकुछ समय पर छोड़ दे. अगर आप ऐसा नहीं कर सकते है तभी मारण प्रयोग करे.
  • मारण प्रयोग में ऐसी कई शक्तिया और negative energy, dark evil force, black magic rituals का सहारा लिया जाता है जो साधक को भी प्रभावित करती है. अगर आपकी प्रवृति सात्विक और शांत है आप Durga saptashati Maran mantra या फिर Durga saptashati dhyana mantra जैसे प्रयोग कर सकते है.

इन सब बातो को ध्यान में रखते हुए ही आपको मारण मंत्र का प्रयोग करना चाहिए तभी सफलता के चांस बढ़ते है. अधूरे ज्ञान और बदले की भावना से कभी सफलता हासिल नहीं की जा सकती है.

Most powerful Maran mantra

इस मारण प्रयोग को करने के लिए आपको किसी सरोवर, नदी या नहर जैसी जगह का चुनाव करना होगा. ऐसी जगह ना मिलने पर पानी का अस्थाई स्टोर बनाकर उसमे कमर तक खड़े होकर इस मंत्र का जप 1000 बार करना होता है. मंत्र जप पूरा होने के बाद दशांश हवन करे. इसके लिए पानी को अपने आचमन ( हथेली ) में ले और मंत्र जप करते हुए वापस जल में फेंक दे.

Most powerful Maran mantra in English Om Visvaay Naam Gandharvalochni Naami Lousatikarnai Tasmai Vishwaay Swaha

हिंदी ॐ विस्वाय नाम गंधर्वलोचनी नामी लौसतिकरनै तस्मै विश्वाय स्वहा ll

ऐसा आपको 100 बार करना है. ऐसा करते समय आपको अपने दुश्मन का नाम अपने मस्तिष्क में सोचते रहना है और पूरा फोकस उस पर रखना है. हालाँकि ये मंत्र प्रयोग काफी सरल है और दुश्मन को बीमार करने के लिए काफी है लेकिन, 90% लोग इसमें फ़ैल हो जाते है.

इसकी वजह है

  • उनके अन्दर उस भाव को ना ला पाना जो दुश्मन के प्रति होता है.
  • मंत्र और दुश्मन दोनों पर एक समय फोकस न कर पाना
  • मंत्र का सही उच्चारण ना होना.

ये छोटी छोटी कमियां जब तक आप दूर नहीं कर लेते तब तक कामयाबी मिलना मुश्किल है.

Durga saptashati Maran mantra

मारण मंत्र का प्रयोग 3 स्तर पर होता है. पहला बीमार करना यानि शारीरिक तकलीफ, दूसरा खाया पिया न लगना या शरीर का सूख जाना ये शारीरिक और मानसिक होती है और अंत में आता है मृत्यु जो इतना आसान नहीं है. इसमें सिर्फ वही सफल हो सकता है जिसमे बेहिसाब नफरत भरी हो और बदले के आलावा उसे कुछ दिखाई ना दे.

दुर्गा सप्तशती मारण मंत्र या Durga saptashati Maran mantra का महत्त्व सबसे ज्यादा है. इसकी वजह है इसका सात्विक प्रयोग. इस मारण मंत्र के नाम से confuse ना हो यहाँ पर शत्रु का दमन किया जाता है ना की जान से मारा जाता है. दमन करने का मतलब है शत्रु को शारीरिक और मानसिक रूप से तोड़ देना ताकि उसे अपने किये जा पछतावा हो और वो आपसे खुद चलकर माफ़ी मांगे.

हालाँकि दुर्गा सप्तशती में अनेको प्रयोग है या फिर यू कहे की वो अनेको सिद्धि का भंडार है तो गलत नहीं होगा. इसमें सिद्धि पाने का मतलब है आपको कुछ और करने की जरुरत ही नहीं. इसमें से एक है Durga saptashati Maran mantra जिसका मंत्र यहाँ शेयर किया जा रहा है.

मंत्र- ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चै देवदत्त रं रं खे खे मारय मारय रं रं शीघ्र भस्मी कुरू कुरू स्वाहा..

दुर्गा सप्तशती मारण मंत्र का प्रयोग बच्चा, बूढ़ा और जवान कोई भी कर सकता है. इस मारण मंत्र का जाप आप हफ्ते में किसी भी दिन कर सकते है. नवरात्रों में इस मंत्र का जाप अत्यंत शुभ माना जाता है.

Durga saptashati Maran mantra pryog vidhi
  • इस मंत्र का जप स्फटिक, कमलगट्टे या मूंगे की माला पर करना है.
  • सबसे पहले नहा धो ले और लाल रंग के साफ कपड़े धारण करे.
  • दक्षिण दिशा की तरफ मुह करे और मंत्र जप विधि शुरू करे.
  • हर रोज एक माला का जप संकल्प ले और 21 से 41 दिन तक इसका हर रोज तय समय पर सुबह सुबह जप करे.

कुछ समय बाद ही शत्रु अपने शत्रु भाव को भूलना शुरू कर आपसे अच्छा व्यव्हार करने लगता है. इसका प्रयोग आप अपने आसपास के माहौल को अपने अनुकूल बनाने के लिए भी कर सकते है.

दुर्गा सप्तशती के तांत्रिय प्रयोग

Durga saptashati के Tantric pryog, जिस प्रकार गीता में मन को काबू करने और योग आदि के बारे में विस्तारपूर्वक वर्णन किया गया है, उसी प्रकार मनुष्य की सभी चिंताओं का निवारण दुर्गा सप्तशती के ग्रंथ में दिया गया है. भुवनेश्वरी संहिता में कहा भी गया है कि वेदों की भांति ही सप्तशति भी अनादि से है.

आज के समय में हर व्यक्ति को दुर्गा सप्तशती के तांत्रिक प्रयोग की जरूरत है. हमारी हर समस्या का निवारण इस प्राचीन ग्रंथ में दिया गया है. इस ग्रंथ में कुल 700 श्लोक है, जो मुख्यतः तीन चरित्र में विभाजित किए गए है. Durga saptashati Tantric pryog के लिए इन तीनों चरित्र का अपना अलग role है.

पहले चरित्र में महाकाली की आराधाना, दूसरे चरित्र में महालक्ष्मी की आराधना और तीसरे चरित्र में महा सरस्वती की आराधना की गई है. प्रत्येक चरित्र में 7-7 देवियों के श्लोक का उल्लेख मिलता है. दुर्गा सप्तशती के तांत्रिक प्रयोग में कुल 13 अध्याय दिए गए है. प्रत्येक अध्याय का अपना अलग महत्व है. आइये दुर्गा सप्तशती के तांत्रिक प्रयोग में सर्वप्रथम हम प्रत्येक अध्याय का महत्व जान लेते है-

  • प्रथम अध्याय mental stress को दूर रखने और मन को concentrate रखने के लिए है.
  • दूसरा अध्याय लड़ाई-झगड़े से बचने और मुकदमे में जीत के लिए है.
  • शत्रुओं से छुटकारा पाने के लिए दुर्गा सप्तशती के तांत्रिक प्रयोग में तीसरे अध्याय की आराधना करनी चाहिए.
  • चौथा अध्याय भक्ति और शक्ति पाने के लिए है.
  • दुर्गा सप्तशती के पंचम अध्याय की मदद जो लोग अधिक परेशान रहते है और मंदिर आदि में भी उन्हें शांति नहीं मिलती उन्हें लेनी चाहिए.
  • छठा अध्याय राहू-केतु के भारी होने और भय को दूर करने के लिए है.
  • सभी प्रकार की मनोकामना पूर्ण करने के लिए सातवां अध्याय है.
  • दुर्गा सप्तशती से वशीकरण के आठवें अध्याय की मदद Most powerful vashikaran mantra pryog आदि प्रयोग के लिए लें.
  • संतान सुख की प्राप्ति के लिए नौवें अध्याय की आराधना करे.
  • दशम अध्याय किसी गुमशुदा की तलाश और अपने बच्चों को सन्मार्ग पर लगाने के लिए पढ़ना चाहिए.
  • व्यापार में लाभ और सुख-समृद्धि के लिए ग्यारवां अध्याय है.
  • बाहरवां अध्याय समाज में मान-सम्मान पाने के लिए है.
  • अपनी साधना को निर्विकार पूर्ण करने के लिए तेहरवा अध्याय है.

दुर्गा सप्तशती के सभी अध्याय कई तांत्रिक प्रयोग का संग्रह है. अगर आपके मन में किसी तरह की समस्या है या परेशानी से गुजर रहे है तो भागवत गीता के बाद दुर्गा शप्तशती का पाठ करना आपके हर समस्या का समाधान कर सकता है.

Muslim Maran mantra

मारण मंत्र का प्रयोग जिस किसी व्यक्ति पर किया जाता है वो किसी भी काम में रूचि लेना बंद कर देता है. उसका शरीर सूखने लगता है क्यों की खाया पिया नहीं लगता है. मुस्लिम मारण मंत्र का प्रयोग सबसे खतरनाक प्रयोग माना जाता है क्यों की ये शत्रु को मौत के समान तकलीफ देता है.

शत्रु मारण प्रयोग में ये दो मंत्र शेयर किये जा रहे है जिन्हें आप अपनी सुविधा के अनुसार सिद्ध कर सकते है.

Muslim Maran mantra – मंत्र प्रयोग 1: ये मंत्र प्रयोग काफी आसान है और इसका 1 लाख जप कर आप इसे सिद्ध कर सकते है. किसी मनुष्य की 4 अंगुल लम्बी हड्डी ले और 108 बार जप कर अभिमंत्रित कर ले. इस हड्डी को शमशान में गाड़ दे तो शत्रु का दमन हो.

ऊँ डं डां डिं डीं डु डू डें डैं डों डौं डं ड:।

अमुकस्य हन स्वाहा। (अमुकस्य की जगह शत्रु का नाम)

Muslim Maran mantra – शत्रु दमन प्रयोग 2: इस मंत्र को सिद्ध करने के लिए अश्विन नक्षत्र में घोड़े की 4 अंगुल हड्डी ले और मंत्र जप को 10000 बार जप कर सिद्ध कर ले. जब प्रयोग करना हो तब इस हड्डी को 21 बार शत्रु का नाम लेकर उसकी जमीन में गाड़ दे. शत्रु उसके बाद बीमार पड़ना शुरू हो जाता है.

ऊँ हुँ हुँ फट्‍ स्वाहा।

ये दोनों ही प्रयोग सिर्फ शत्रु का दमन करते है मारण नहीं. शत्रु धीरे धीरे बीमारी से मरता है ना की उसकी अचानक मौत होती है. इसके अलावा मसान प्रयोग, मूठ चलाना, चौकी छोड़ना जैसे प्रयोग है जो शत्रु का न सिर्फ दमन करते है बल्कि मौत भी देते है.

Maran mantra Kannada

दुनिया में सबसे ज्यादा काला जादू या तांत्रिक प्रयोग के लिए कोई जगह या जादू फेमस है तो वो है black magic of bengal, myong the place of black magic, Maran mantra Kannada या फिर kamakhaya magic ऐसी कुछ जगहे है जहाँ पर आज भी काले जादू को महत्त्व दिया जाता है और जादू किया जाता है. Maran mantra Kannada ऐसे ही काले जादू का हिस्सा है जो black magic, voodoo magic doll का सहारा लेता है.

माना जाता है की काले जादू में ये शक्तिशाली काला जादू है जो शत्रु मारण प्रयोग के मामले में काफी आगे है. इसके प्रयोग काफी अचूक है इसलिए इसे Most powerful maran mantra pryog में से एक माना जाता है. वैसे कन्नड़ एक भाषा है जैसे बंगाल का काला जादू लेकिन जैसा की हम पहले ही बता चुके है की अलग अलग जगह पर जिस तरह जादू का विस्तार हुआ है उस तरह से ही इसका प्रभाव देखने को मिलता है.

Most powerful Maran mantra final word

वैसे तो कर्म से बढ़कर कुछ नहीं है. जैसा आप दूसरो के साथ करते है वैसा ही आपको लौट कर कभी न कभी वापस मिलता ही है. कुछ तांत्रिक पैसो के लालच में आकर मूठ या चौकी छोड़ने जैसे मारण प्रयोग करते है. इससे सामने वाले की मौत फिक्स होती है और वो मारा जाता है लेकिन इसका पाप किसे लगेगा क्या आपको इसका परिणाम नहीं मिलेगा ? गलत करने वाले के साथ कभी न कभी गलत होता ही है.

आज के टाइम में ज्यादातर Most powerful Maran mantra pryog, Durga saptashati Maran mantra या फिर Muslim Maran mantra जैसे प्रयोग शत्रु का दमन करने के लिए सबसे ज्यादा प्रयोग किये जा रहे है. इनमे से एक Maran mantra Kannada है जो शत्रु की मौत के लिए काले जादू का एक प्रकार है. माना जाता है की ये सबसे ज्यादा शक्तिशाली है और दक्षिण भारत में सबसे ज्यादा किया जाने वाला मारण प्रयोग है.

ध्यान दे : ये सब प्रयोग सिर्फ जानकारी के उदेश्य है. हम किसी तरह से काले जादू को बढ़ावा नहीं देते है और ना ही powerful Maran mantra Prayog का समर्थन करते है. अगर आप इस तरह के प्रयोग करते है तो विवेक से करे.

Never miss an update subscribe us

* indicates required
Previous articleHow to stop worrying about things you can’t control top 5 tips to follow
Next articleHow to Building self-awareness at work top 5 guide you can follow in Hindi
Nobody is perfect in this world but we can try to improve our knowledge and use it for others. welcome to my blog and learn new skill about personal | psychic | spiritual development. our team always ready to help you here. You can follow me on below platform

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here