कच्चा कलवा मसान की दुष्कर साधना और वचन बंधन की पूर्ण विधि – kachha kalua ritual

0

कच्चा कलवा साधना उन साधनाओ में से है जिसके जरिये आप हर तरह का कार्य आसानी से कर सकता है. तांत्रिक एक छोटे बच्चे की आत्मा को अपने कब्जे में कर उसे कलवा या मसान का रूप देते है या फिर किसी तरह से वो खुद कलवा या कलुआ में बदल जाते है. चूँकि इनकी आत्मा छोटे बच्चे की होती है इसलिए इन्हें आसानी से किसी तरह के बंधन में नहीं बांधा जा सकता है. शक्तिशाली होने की वजह से इनका फायदा उठाने के लिए तांत्रिक इन्हें वश में करना चाहते है लेकिन ये साधना आसान नहीं होती है और आपको पल पल सावधानी रखनी होती है.

कच्चा कलवा साधना

में अपनी पिछली पोस्ट में कलवा से जुडी एक घटना को शेयर कर चूका हूँ और इस पोस्ट में कलवा की साधना और कलवा को हटाने का मंत्र शेयर करने जा रहा हूँ. कलवा की साधना करने के कई सारे मकसद होते है जैसे की वशीकरण, मारण, कार्य सिद्धि लेकिन इसके लिए आपको चुनाव करना चाहिए एक बड़े कलवा का क्यों की कच्चा कलवा मासूम और शैतान दोनों ही रूप में साधक को भयभीत कर सकता है. ये पोस्ट आपके जानकारी के लिए है और प्राचीन पुस्तक में से ली गई है इसलिए इसकी सत्यता का sachhiprerna कोई दावा नहीं करता है. आप इसे जानकारी के लिए पढ़े और किसी मार्गदर्शक के जरिये ही साधना का अभ्यास करे.

कच्चा कलवा साधना

kachha kalua sadhna एक तांत्रिक साधना है जिसे पूरा करने के अनेको तरीके है. कुछ लोग इसे कलुआ मसान के नाम से जानते है तो कुछ काला कलवा इन्हें ये नाम मिलते है इनके प्रकृति के अनुसार. अगर आप urban myth में believe करते है तो आपने इनसे जुड़े अनेको किस्से सुने होंगे. छोटे बच्चे जिनकी उम्र 8 साल से निचे होती है मौत होने के बाद उन्हें जलाया नहीं जाता है. कुछ जरुरी क्रिया पूर्ण न होने की वजह से ये प्रकृति और ब्रह्मा के नजदीक होते है और इनकी शक्तियां चरम पर होती है.

सिर्फ यही एक वजह है की खतरनाक होने के बावजूद ये साधना करने वाले तांत्रिक लोगो की कमी नहीं है. सबसे शक्तिशाली वशीकरण ( Most powerful vashikaran ) मारण क्रिया और दूसरी तांत्रिक क्रिया में कलवा का आवाहन कर उन्हें कार्य की सिद्धि के सिद्ध किया जाता है. हम पहले जान चुके है की कलवा पर कभी विश्वास नहीं करना चाहिए क्यों की ये किसी तरह के बंधन में नहीं बंधते है इसलिए आपको साधना से पहले ये जान लेना चाहिए की कलवा किस तरह का है. तांत्रिक साधनाओ में कलवा की साधना ही है जिसमे साधक को पग पग पर सावधानी रखनी होती है.

Read : के उपाय अपने खोये हुए प्यार को फिर से पाने के लिए वशीकरण का उपाय

kachha kalwa ritual mantra

कलवा साधना का ये मंत्र प्राचीन पुस्तकों के संग्रह में से लिया गया है इसलिए ये कितना सफल है कह नहीं सकते है. इसे यहाँ सिर्फ जानकारी के उदेश्य से शेयर कर रहे है.

कलवा कलवा गां गि गुं आहि आहि कों काल कमानी आव आव रह रह विदेशां खीचे आव, बातें मोरी अब पतिआव

किसी नाबालिग बच्चे के शव का कफ़न ले आये और उसी शव के मुंह के थूक का कफ़न पर लेप कर दे. अब अर्द्ध-रात्रि के समय किसी सुनसान जगह पर बबूल के पेड़ के निचे उस कफ़न को बिछा दे. पेड़ से थोड़ी ही दूर मल त्याग करने जाए और वापस ऐसे ही बिना साफ किये आ जाए.

कच्चा कलवा साधना के लिए पूरी तरह से अपवित्र होकर कफ़न पर आसन लगाकर बैठ जाए और अपने सामने एक पाव कच्चा मांस परोस ले. मांस को सामने रखकर आँखे बंद कर ले और ऊपर दिए गए मंत्र की 108 जाप पूरी करे. अब सामने पड़े मांस के टुकड़े में से एक छोटा सा हिस्सा निकाल ले और अपने जीभ के निचे रखकर मानस जाप में 108 जप पूरा करे. जप पूरा होने के बाद मांस के टुकड़े को मुंह से बाहर निकाल ले मस्तिष्क पर लगाकर उसे वही छोड़ दे और कफ़न को लेकर घर लौट जाए.

ये साधना कुल 11 दिन की है और हर रात आपको ऊपर बताये गए तरीके से जप को पूरा करना है.

पढ़े : Top 10 शत्रु से छुटकारा पाने के टोटके गुप्त विधि और tips

कलवा की साधना में ध्यान रखे इन बातो का

  1. जप के लिए जाते और वापस लौटते समय पीछे मुड़कर ना देखे न ही किसी के सवाल या आवाज का जवाब दे. इस बारे में ज्यादा जानने के लिए पारलौकिक शक्ति से जुडी इस पोस्ट को पढ़ ले.
  2. कलवा अपनी लीला शुरू से ही दिखाना शुरू कर देता है लेकिन सामने नहीं आता है. वो जब सामने आये तभी उसकी बातो का जवाब दे लेकिन साधना पूर्ण होने के बाद.
  3. कच्चा कलवा साधना में साधक को कलवा को मांस और मदिरा का भोग लगाकर वचन में बांध लेना है. हालाँकि छोटे बच्चे का कलवा आसानी से वचन में नहीं बांधा जा सकता है लेकिन बड़े कलवा को आप वचन में बाँध सकते है.

कलवा हटाने का मंत्र

कई बार हम ऐसी स्थिति से भी गुजरते है की कलवा कण्ट्रोल से बाहर हो जाता है और साधक का कहना नहीं मानता है. छोटे बच्चे या फिर औरते खासकर गर्भवती औरते इसका शिकार ज्यादा होती है. ऐसी स्थिति में कलवा को हटाने का मंत्र यहाँ शेयर किया जा रहा है आप इसे आजमा सकते है.

चकती सोहे वरुण कर, बगहा पर असवार, ये देवा रक्षा करे, कलवा भगे राज दुआर

अगर किसी ने कलवा का प्रयोग कर दिया है तो रोगी के चारो तरफ सरसों के दाने छिडकते हुए इस मंत्र का जाप करे कलवा दूर हट जाएगा. आपको एक बात ध्यान में रखनी चाहिए की कलवा से टकराने वाले साधक को कायर या भीरु नहीं होना चाहिए.

पढना न भूले : Top 10 real paranormal stories जिन्हें पढ़कर भी आप यकीन नहीं कर पाओगे

कच्चा कलवा साधना अंतिम शब्द

दोस्तों कलवा वीर की साधना का प्रयोग वशीकरण के प्रयोजन में काफी किया जाता आ रहा है. आपसी दुश्मनी के चलते कुछ लोग कलवा का प्रयोग करते हुए घबराते नहीं है. ये साधना इतनी तीव्र है की बड़े बड़े तांत्रिक भी इसे करने से घबराते है. कच्चा कलवा को कण्ट्रोल करना और वचन में बांधना बेहद दुष्कर कार्य है और जरा सी चूक तांत्रिक की ही जान ले सकती है. इसे सिर्फ जानकारी के तौर पर यहाँ शेयर किया जा रहा है ना की साधना के तौर पर. विवेक से काम ले और फिर साधना में उतरे.

ऊपर दी गई साधना एक प्राचीन पुस्तक तंत्र साधना के गुप्त रहस्य में से ली गई है. हमारा हमेशा प्रयास रहता है की हम आपको प्राचीन पुस्तकों के ज्ञान से रूबरू करवाए ताकि आपको जानने के लिए हमेशा कुछ नया मिले. अगर ये पोस्ट पसंद आये तो इसे शेयर करना न भूले.

Never miss an update subscribe us

* indicates required

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here