How to Manage Financial Stress in Hindi कोरोना के बाद से अपने बजट को प्लान कैसे करे ?

0
26

आज के दौर में Financial Stress को हर कोई face कर रहा है. जब से कोरोना काल की शुरुआत हुई है तब से काफी लोगो ने अपने जॉब खो दी है और अब जब स्थिति धीरे धीरे सुधर रही है तो बढ़ते खर्चे Income पर भारी पड़ रहे है. बढ़ते financial issues लगातार परेशानी खड़ी करने लगे है. हम सब बजट को मैनेज करने की कोशिश करते है लेकिन फिर भी कम आय और बढ़ते खर्चे हमें इन सब में तालमेल बनाने में परेशानियाँ खड़े करने लगे है.

आज जब महंगाई में कीमते लगभग दोगुनी हो चुकी है तो जाहिर है की या तो खर्चे आधे करे या फिर अपने आय के लिए दूसरे sources की तलाश करे. ये वक़्त किसी एक जॉब पर टिके रहने का नहीं है क्यों की कब किसकी जॉब ख़त्म हो जाए कुछ कहा नहीं जा सकता है. ऐसी स्थिति में अगर हम अपने लिए extra income source की तलाश करे तो हम न सिर्फ अपने खर्च को मैनेज कर सकते है बल्कि बचत भी कर सकते है.

Financial Stress

ऐसा करना न सिर्फ हमें अपने बजट को मैनेज करने में हेल्प करता है बल्कि अनचाहे तनाव को भी दूर रखने में मदद करेगा. सही बजट बनाना हमें Dealing With The Financial Situation में हेल्प करता है. हर किसी की Financial condition अलग अलग होती है इसलिए इसे मैनेज करना हमें Financial Worry से दूर रखता है. सही तरह से financial life plan करना हमें आने वाले हर खर्चे को किस तरह मैनेज करना है इसमें हेल्प करता है.

आज की पोस्ट में हम बात करने वाले है आर्थिक स्थिति को मैनेज करने के कुछ सटीक तरीको के बारे में. अगर आप इन्हें समझते हुए आगे बढे और अपने बजट को प्लान करे तो अपने खर्च को न सिर्फ मैनेज कर पाएंगे बल्कि बचत भी कर सकते है. आइये जानते है इन सबके बारे में.

What is Financial Stress in Hindi

अगर आप भी पैसो को लेकर परेशान हो रहे है तो आप अकेले नहीं है. Global Coronavirus Pandemic के बाद से ही हम सब Deal with Financial Stress and Uncertainty से गुजर रहे है. इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता है की आप Loss of Work, Escalating Debt, Unexpected Expenses या फिर ऐसी ही किसी कंडीशन से गुजर रहे है. Modern life में हम सब financial worry से गुजर रहे है.

बीते कुछ साल से हम Financial Struggles And Hardship से गुजर रहे है. ऐसी कोई भी वजह जिसकी वजह से overwhelming stress, financial problems जैसी कंडीशन पैदा हो रही है जो हमारे mental and physical health यहाँ तक की Relationship और कई बार तो इसका असर हमारी Overall quality of life पर भी दिखाई देने लगता है.

इसका सीधा असर हमारे मूड पर पड़ता है और sleep, self-esteem, and energy levels में Negative changes को नोटिस कर सकते है.

आर्थिक तंगी हमें धीरे धीरे अवसाद की ओर धकेलना शुरू कर देती है. हम इससे खुद को दूर नहीं कर सकते है लेकिन, अगर हम अपनी जरुरत को समझते हुए इसे मैनेज करे तो आर्थिक तंगी को ठीक किया जा सकता है. पैसे सभी कमाते है लेकिन, उन्हें कहाँ कैसे खर्च करना है ये समझना हमें ना सिर्फ Financial Stress से दूर रखता है बल्कि इसके दूरगामी परिणाम को भी रोकता है. आइये जानते है की अगर आर्थिक तंगी से गुजरने पर हमारी हेल्थ और लाइफ पर क्या असर पड़ता है.

पढ़े : How to find joy in Daily Life लाइफ के हर पल में खुशियों को कैसे तलाश करे ? आसान टिप्स

Effects of financial stress on health

हम सभी जानते है की लाइफ में पैसे से भी बढ़कर बहुत सी चीजे है जो हमारे लिए महत्त्व रखती है लेकिन, Financially Fear And Stress किसी भी दूसरी चीजो पर हावी हो सकता है. ये आपके self-esteem को डाउन कर सकता है, Stress and anxiety से गुजरना पड़ सकता है. धीरे धीरे आगे बढ़ने पर ये हमारे Mind, Body, And Social Life पर हावी होने लगता है जिसकी बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ती है.

ऐसी कई problem है जो आर्थिक तंगी की वजह से हमें face करनी पड़ती है.

  • Insomnia: पूरे दिन जब हम Unpaid bill and Loss of Income के बारे में सोचते है तो रात को सोने से पहले हमारे दिमाग में यही सब घूमता रहता है. हम ना तो अच्छी नींद ले सकते है, ना ही इसका कोई सही solution नहीं निकाल पाते है.
  • वजन घटना या फिर बढ़ जाना : कुछ लोग stress में या तो खाना पीना बिलकुल कम कर देते है या फिर बहुत ज्यादा खाना पीना शुरू कर देते है. खानपान का यही Imbalance हमें वजन में असंतुलन ला देता है.
  • Depression: जब हम Financial Stress से गुजरते है. तब हर समय हमारे दिमाग में पैसो की समस्या गुजरती रहती है. ना तो हम खुद को Concentrate कर पाते है ना ही कोई निर्णय ले पाते है. हर रोज दिमाग में जब इसी तरह से पैसो की problem से जुड़ी बाते घूमती है तो हम बहुत जल्दी Depression का शिकार हो जाते है.
  • Anxiety: हम सब जानते है की पैसा हमें एक तरह से सेफ्टी देता है. इसका ना होना हमें vulnerable and anxious बना देता है. जब भी हम Unpaid Bills Or Loss Of Income जैसे issue को face करते है तो बॉडी Anxiety Symptoms जैसे की Pounding Heartbeat, Sweating, Shaking, Or Even Panic Attacks जैसी स्थिति से गुजरने लगते है.
  • Relationship difficulties: हालाँकि पैसे से बढ़कर कई चीजे है जो हमारे लिए मायने रखती है लेकिन, जब भी हम ऐसी किसी स्थिति से गुजरते है तो इसका सीधा असर हमारे Relationship पर देखा जा सकता है. हम रिश्तो को समय नहीं दे पाते है और ना ही किसी तरह का इंटरेस्ट दिखा पाते है.
  • Social withdrawal हम अपने आसपास के लोगो से दूर हो जाते है साथ ही हमारी social life पर भी इसका असर पड़ता है.
  • Physical ailments ऐसी कई problem है जिनसे हमें face करना पड़ता है जैसे की Headaches, Gastrointestinal Problems, Diabetes, High Blood Pressure, And Heart Disease जैसी problem जिनका हमारे Physical health पर असर पड़ता है.

Poor Financial Health and Poor Mental Health

आर्थिक तंगी का सीधा असर हमारे Physical and mental health पर देखा जा सकता है. कई problem जैसे की depression, anxiety, and substance abuse जैसी स्थिति से गुजरना कोई भी नहीं चाहता है. हम खुद को इससे दूर रखने के लिए कई ऐसे Unhealthy coping methods का चुनाव कर लेते है जो सही नहीं है. Illegal Drugs, Gambling, or Overeating जैसे तरीके हमें नुकसान पहुंचाते है और कई बार हम आर्थिक तंगी से गुजरने के बाद self-harm or thoughts of suicide से भी गुजरने लगते है.

Financial Stress सीधा हमारी mental health को affect करता है. इसकी वजह से depressed or anxious जैसी feeling हमें अक्सर परेशान करना शुरू कर देती है. इसकी वजह से चीजे और ज्यादा बिगड़ना शुरू हो जाती है जैसे की एक problem को face करने के बाद अगर हम खुद को Concentrate ना कर पाए तो ये एक chain की तरह कामो को बिगाड़ना शुरू कर देती है और हम पीछे की problem में फंसे रहते है और वर्तमान के काम बिगड़ते चलते जाते है.

Read : What causes precognitive dreams? आखिर क्यों हम सच होने सपने देखते है 2021 update

How to Manage Financial Stress

stress को रोकने का सीधा सा तरीका है वर्तमान की समस्या को रोक देना. हम Past में उलझे रहते है और वर्तमान ख़राब होता जाता है. अगर आप भी इस तरह की problem को face कर रहे है तो कुछ ऐसे तरीके है जिनकी हेल्प से खुद को इससे दूर रख सकते है.

Financial Stress जैसी स्थिति ज्यादातर तब पैदा होती है जब हम पैसो को मैनेज नहीं कर पाते है. पैसो को सही से मैनेज करना सबसे बड़ी चुनौती होती है जब हमारे पास Limited resources हो.

आइये बात करते है इस तरह की स्थिति से बाहर निकलने को लेकर ऐसे कुछ टिप्स के बारे में जो हमें इससे बचने में मदद कर सकते है.

Dealing with financial stress tip 1: Talk to someone

जब भी हम Money problem जैसे issue से गुजर रहे होते है इसके पीछे की सबसे बड़ी वजह होती है हमारा strong temptation. हम सोचते है की दूसरो को बिना बताये खुद से ही इस problem को solve किया जाए.

हमें लगता है की हम अकेले इस स्थिति को हैंडल कर सकते है, ये हमारी जिम्मेदारी है और दूसरो को इसमें involve नहीं करना चाहिए. ऐसा सोचना हमें जरुरत से ज्यादा परेशान कर सकता है क्यों की हम बगैर अनुभव के पैसो को मैनेज करने लगते है जो की सही नहीं है.

अगर हम किसी तरह के Financial loss से गुजर रहे है तो किसी डर या शर्मिंदगी के चलते भी किसी के साथ अपनी problem को शेयर नहीं कर पाते है. हम कितना कमाते है और खर्च करते है इन सबके बारे में दूसरो के साथ जानकारी शेयर करना हमें Comfortable feel नहीं करवाता है.

हमें इन सबके बारे में अपने किसी खास व्यक्ति से बात करनी चाहिए. किसी अपने या खास दोस्त से इन सबके बारे में बात करना हमें आराम दिलाता है. हमें ना सिर्फ पैसो को मैनेज करने को लेकर सही सलाह मिलती है बल्कि ऐसी किसी भी स्थिति से कैसे बाहर निकले इसके बारे में भी नए नए नजरिये मिलने लगते है. ऐसा करते समय कभी भी उनसे ये उम्मीद ना रखे की

  • जिनके साथ अपने विचार आप शेयर कर रहे है वो आपकी problem को फिक्स कर सकते है या आपको उससे बाहर निकाल सकते है.
  • आपकी problem को समझने के बाद बिना किसी judging or criticizing के वो सिर्फ आपको वही सलाह दे जो आपके लिए जरुरी है. इसमें आपके विचार हो ना की उनकी राय आप पर थोपी जानी चाहिए.
  • आप इस वक़्त किस स्थिति से गुजर रहे है और आपके मन में इस वक़्त किस तरह के इमोशन चल रहे है उन्हें उसी तरह दोस्तों के साथ शेयर करे जिन पर आप भरोसा कर रहे है.
  • जिनके साथ आप अपनी problem को शेयर कर रहे है वो आपको इससे बाहर निकाल नहीं सकते है लेकिन Financial Stress में आपकी हेल्प जरुर कर सकते है. ऐसे समय में आप पर Extra load ना डालकर भी वो आपकी मदद ही करते है.

जितना ज्यादा आप लोगो से जुड़ते है उतना ही आप अपने आर्थिक खर्चो से जुड़े फैसलों को मैनेज कर सकते है.

Read : Black sheep of the family क्या आपकी family भी आपको बेकार समझती है ?

Tip 2: Take inventory of your finances

कई बार ऐसा होता है की हमारी आर्थिक स्थिति तो ठीक होती है लेकिन महीने के अंत तक आते आते हमारी जेब टाइट होने लगती है. इसकी वजह है किये गए खर्चे को मैनेज ना करना. कई बार हम जरुरत ना होने पर भी ऐसी चीजे खरीद लेते है जो हमारे काम की नही होती है. आप Financial Stress निम्न तरह से मैनेज कर सकते है जैसे की

  • आपकी Income के हर sources को एक जगह प्लान करे. इससे आपको ये जानने में हेल्प मिलेगी की आखिर आपकी आय किस तरह से हो रही है.
  • अपने खर्चे का हिसाब रखे ताकि आपको मालूम हो सके की कौनसा खर्च आपके लिए जरुरी है और किसे आप ignore कर सकते है.
  • Identify Spending Patterns And Triggers: आपका पैसा किस तरह से खर्च हो रहा है और इसके पीछे की वजह क्या है. मान लीजिये की आपकी लापरवाही की वजह से आप कई बार घर से लंच लिए बगैर निकल जाते है और बाद में बाहर खाना खाते है.

महीने में एकाध बार ये चलता है लेकिन ऐसा अगर बार बार हो रहा है तो आपको सावधान होने की जरुरत है. जिस चीज को आप घर पर बना सकते है उसे बाजार से खरीदने से परहेज करे. आप गौर करेंगे तो पाएंगे की ज्यादातर खर्चा आपका इसी तरह बढ़ा हुआ है.

  • Look to make small changes: कई बार हम ध्यान नहीं देते है की हम किस तरह unusual चीजो पर थोडा थोडा पैसा खर्च कर रहे होते है. हालाँकि ये हमें बहुत छोटा खर्चा लगता है जैसे की 10 रुपये का अख़बार, कुकी या कुछ और लेकिन महीने के अंत तक इनका अंतर काफी बढ़ सकता है. आपको सिर्फ इस तरह के छोटे छोटे खर्चे जिन पर हम गौर भी नहीं करते है उन्हें समझने की जरुरत है और जरूरत के अनुसार चलना है.
  • Eliminate impulse spending: कई बार हम कुछ खरीदने का प्लान बनाते है और उसी दिन अगर हमारी नजर उस चीज पर पड़ जाती है तो हम तुरंत उसे खरीदने की कोशिश करते है. ये आपके खर्चे को असाधारण तरीके से बढ़ा सकता है.

रूल की माने तो कोई भी बड़ी खरीददारी करने से पहले हमें एक सप्ताह का वेट करना चाहिए. अगर एक सप्ताह बाद भी हमें जरुरत महसूस होती है तभी ख़रीदे. ज्यादातर मामले में अगर हम एक सप्ताह तक किसी चीज के प्रति खुद को कण्ट्रोल कर लेते है तो हमें उसकी जरुरत तभी महसूस होती है जब वो आगे भी जरुरी हो.

अगर आप अपने आय के स्त्रोत और खर्चो पर नजर डाले तो पाएंगे की आसानी से आप अब इसका विश्लेषण कर पा रहे है. हर कोई Financial Stress से गुजर सकता है. किसी भी तरह की परेशानी से गुजरने से अच्छा है की आप अपने आदत को सुधारे और जरुरत के अनुसार ही खर्च करने के बारे में सोचे.

Tip 3: Make a plan and stick to it

सिर्फ financial stress ही नहीं है जो wide range of different money problems की वजह बनती है. अगर आप चाहते है की आपका बजट सही रहे तो उस वजह की तलाश करे जो आपके लिए परेशानी की वजह बन रही है. अगर आप अपने खर्चे को लिमिट करना चाहते है तो या तो खर्चे को कम से कम करने की कोशिश करे या फिर additional source of income की तलाश करे.

ज्यादातर मिडिल वर्ग की तरह आप भी Inventory Of Financial Situation बना सकते है. इससे आप न सिर्फ discretionary and impulse spending को control कर पाएंगे बल्कि आपकी इनकम भी बढती रहे. यहाँ आपके पास 3 option होते है. पहला या तो Income के sources बढाओ, दूसरा अपने खर्च को लिमिट रखो, तीसरा आप इन दोनों को मैनेज कर सकते है.

Read : How to Deal with cyberbullying on social media and internet

इसके लिए आप कुछ स्टेप ले सकते है जैसे की

  • अपनी financial problem को समझने की कोशिश करे. वो कौनसी वजह है जो आपके लिए financial problem खड़ी कर रही है. Financial Stress की वजह कई हो सकती है जैसे की आपके खर्चे ज्यादा बड़े हो या फिर आपकी Income पर्याप्त मात्रा में ना हो. ज्यादातर problem की वजह overspend on unnecessary purchases होती है. कुछ लोग जब Stressed or anxious feel कर रहे होते है तब फालतू की शौपिंग कर लेते है.
  • Devise a solution अगर आपको मालूम हो की आप कहाँ पर फालतू खर्चे कर रहे है तो आपके लिए किसी भी problem को मैनेज करना आसान हो जाता है.
  • जब आपको मालूम हो की आपके खर्चे कहाँ पर फालतू खर्चे बन रहे है. उसके समाधान के लिए आप क्या कर सकते है जैसे की खर्चे कम करना, नेटवर्क बढ़ाना ताकि आप income के अलग अलग sources बना सके.
  • सिर्फ आगे बढ़ना काफी नहीं है आपकी प्रोग्रेस कहाँ तक पहुंची है इसे मॉनिटर करना भी जरुरी है. बेहतर होगा की आप हर रोज अपने प्रोग्रेस को चेक करते रहे.

हालाँकि हम अपने काम को लेकर बेहद टाइट प्लान लेकर चलते है लेकिन इसके बाद भी कई बार हम वो रिजल्ट नहीं हासिल कर पाते है जो हम चाहते है. अगर आपके साथ ऐसा होता है तो परेशान ना हो बल्कि अपने अन्दर के Self-confidence को बढाते हुए फिर से कोशिश करे.

Tip 4: Create a monthly budget

आप अपने financial problems को किस तरह मैनेज कर रहे है इसके लिए आपको एक Monthly Budget प्लान करके चलना चाहिए. ऐसा करना आपको अपने Financial Stress को कण्ट्रोल करने में हेल्प मिलेगी.

  • अपने Monthly Budget में आप अपने छोटे छोटे खर्चे को भी जोड़ना शुरू कर दे. आपकी शौपिंग, घूमने फिरने के हर खर्च को आप अपने बजट प्लान में जोड़ सकते है.
  • आपके बड़े खर्चे जो की सालाना या फिर 3 महीने 6 महीने से पे करने वाले होते है. आपकी EMI या फिर कोई loan या फिर बीमा इन सब को ट्रैक करे और हर महीने के खर्चे को बाँट दे ताकि आप अपने खर्च को ट्रैक कर सके.
  • आपकी बीमारी के खर्चे या फिर फिक्स टाइम अंतराल के बाद किये जाने वाले खर्चे भी आपको ध्यान में रखने चाहिए.
  • जहाँ तक हो सके अपने बिल पेमेंट को ऑटो मोड पर रखे ताकि आप लेट फी से बच सके.
  • ऐसे तरीको को खोजे जिनसे आप अपने खर्चो को कम से कम कर सके. हर महीने आप अपने खर्चो को कम से कम कर सके और उन्हें ट्रैक कर सके.

यहाँ पर आपको ध्यान देना चाहिए की सिर्फ आप ही नहीं आपसे जुड़े लोग भी इस चीज को फॉलो करे. वो आपको support करे और उसी वे में काम करे जिसमे आप आगे बढ़ रहे है.

Tip 5: Manage your overall stress

अपनी financial problems को resolve करने के लिए उठाए गए आपके छोटे छोटे स्टेप भी Financial Stress में काफी कारगर साबित हो सकते है. आज के इस current economic climate में जब हम सभी इस स्थिति से गुजर रहे है. हालाँकि ये problem सिर्फ एक रात में या कुछ ही समय में दूर होने वाली नहीं है. इसका ये मतलब नहीं है की आप इन स्टेप को नहीं ले सकते है क्यों की ऐसा करना आपके stress level को कम तो कर ही सकता है.

ऐसा करना आपके stress को कम तो करेगा ही आपकी बची हुई energy आपके Long term के चैलेंज को दूर करने में हेल्प करेगा. इसके लिए आप कुछ activity को include कर सकते है जैसे की

  • हर रोज कम से कम आधा घंटा exercise करने की आदत डाल सकते है. ये ना सिर्फ आपके stress को दूर करेगा बल्कि मूड को भी बूस्ट करने में हेल्प करता है.
  • खुद को शांत रखने के लिए आप किसी तरह की relaxation technique का सहारा ले सकते है. लगातार चलने वाली problem से छुटकारा पाने के लिए हर रोज कुछ समय एकांत में बिताना शुरू कर दे. खुद को समय दे और अपनी problem से खुद को कुछ समय के लिए दूर रखे ताकि आप अपनी problem को समझे और उन्हें solve कर सके.
  • खुद को थका हुआ महसूस करना सिर्फ stress and negative thought patterns को create करता है. अगर आप अपने Sleep quality को improve कर सके तो आपके Body and mind के लिए सही रहता है.
  • कई बार जब हम कोशिश करने के बाद भी नाकाम हो जाते है तो हमारा मन निराश हो जाता है. बार बार मिलने वाली नाकामी हमारे self-esteem को कमजोर कर सकती है. खुद को problem में फंसा हुआ होने के बाद भी अगर आप दूसरो की हेल्प करते है तो ये आपके अन्दर के Confidence को बूस्ट करने में मदद करती है.
  • खुद को healthy रखने के लिए अपने आहार में बदलाव करे और सही डाइट ले.
  • हर रोज जो भी आपके साथ सही हो रहा है उसके लिए इश्वर को धन्यवाद दे. आपके साथ जो भी हुआ उसमे इश्वर की मर्जी थी और जो होता है सही होता है.

ये सब आपके stress को ना सिर्फ कम करता है बल्कि आपके कॉन्फिडेंस को भी बढाता है.

Coping with Financial Stress final word

जब से हम सब ने Current Economic Climate को face करना शुरू किया है तभी से लगभग सभी ने Financial Stress को face किया है. अगर आप अपने Financial Worry को reduce कर लेते है तो शायद अपने Financial condition को मैनेज कर सकते है. हम बार बार financial stress को लेकर overwhelmed हो जाते है और फिर अपने बजट में आ रही गड़बड़ को सही करने की कोशिश करते है लेकिन बार बार problem आने की वजह से लगातार परेशान रहने लगते है.

Budget बनाना हमें अपने Income and spend में तालमेल बिठाने में मदद करता है. Spending Plan आपके लिए ये सुनिश्चित करता है की Immediate Expenses को आप किस तरह मैनेज कर सकते है. इसके अलावा आपके Extra Income earn करने के जरिये खुलते है जो की आने वाले खर्चे को मैनेज करने में हेल्प मिलती है. आपको अपने लिए किसी तरह की Emergency fund यानि backup plan रेडी रखना चाहिए ताकि किसी तरह की आपातकालीन स्थिति में अपने लिए खर्च बचाकर रखा कर सकते है.

उम्मीद करते है की Financial Stress Management को लेकर आज की पोस्ट आपको एक इस वक़्त की स्थिति का सामना करने में हेल्प करेगी. अगर आप अपने income को समझते हुए खर्चो को मैनेज करना शुरू कर देते है तो ये आपके लिए बजट बनाने और तनाव कम से कम रखने में हेल्प करेगा.

Never miss an update subscribe us

* indicates required
Previous articleHow to find joy in Daily Life लाइफ के हर पल में खुशियों को कैसे तलाश करे ? आसान टिप्स
Next articleDiwali Tantra Mantra Sadhna इस दिवाली कैसे पाए माँ लक्ष्मी की कृपा
Nobody is perfect in this world but we can try to improve our knowledge and use it for others. welcome to my blog and learn new skill about personal | psychic | spiritual development. our team always ready to help you here. You can follow me on below platform

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here