तंत्र विद्या सिद्धि या फिर इस लिए काटे जा रहे थे लोगो के बाल – जानिए एक वायरल घटना का सच

0

बाल काटने के पीछे का वायरल सच क्या है ? क्या वाकई लोगो के बाल इसलिए काटे जा रहे थे ताकि किसी बड़ी तंत्र सिद्धि को जाग्रत किया जा सके या फिर ये महज लोगो को डराने के लिए किया जा रहा था. आज की पोस्ट में हम एक वायरल घटना जो पिछले दिनों थमने का नाम ही नहीं ले रही थी. लोगो के बाल रहस्यमयी तरीके से काटे जा रहे थे और इसके बाद लोगो की मौत हो जाती थी. इसकी वजह लोगो में फैला खौफ था या फिर बाल काटने का असर. क्या वाकई कोई तंत्र साधना की जा रही थी इसके जरिये. आइये जानते है आज की इस पोस्ट में.

बाल काटने के पीछे का वायरल सच
बाल काटने के पीछे का वायरल सच क्या है और क्यों सोते हुए लोगो के बालो को काटा जा रहा है। पिछले कुछ दिन या यु कहे की महीने से सोये हुए लोगो के बाल काटने की घटनाए सामने आ रही है। लोग रात को सोते है और कोई आकर अचानक उनके बाल काट देता है और उन्हें पता भी नहीं चलता कुछ लोग बाल काटने वालो को देखने का दावा भी करते है लेकिन ज्यादातर मामले में ये सब एक जादू की तरह हो रहा है। हालाँकि 100 में से 75 मामले फर्जी निकले भी है लेकिन बचे हुए 25% मामलो को अगर देखा जाए तो इस बात में कुछ न कुछ सच्चाई है आइये जानते है ऐसी कुछ जानी अनजानी बातो को जो बाल काटने के पीछे की सच्चाई बया करती है।

बाल काटने के पीछे की सच्चाई

बाल काटने वाले लोगो में से कुछ लोगो को पकड़ा भी जा चूका है और उन्होंने जो बताया है वो बेहद हैरत वाली बाते है। उनके कहने के अनुसार वो ऐसा कर रहे है कुछ शक्तिया हासिल करने के लिए और दूसरा ऐसा करने पीछे उनकी कुछ मान्यताए भी है। इससे पहले के हम सच्चाई को अपने अपने नजरिये से देखे में आपको दोनो पहलु पर गौर करने को कहना चाहूंगा इसलिए पहले दोनों ही बातो से जुडी सच्चाई को जान लेते है।

बाल काटने के पीछे का वायरल सच

बाल काटने की ये घटना कोई पहली बार नहीं हो रही है जिसके कारण लोगो में खौफ का माहौल बना हुआ है, इससे पहले भी कच्छा गैंग, बिच्छू-काबरा जैसी घटनाए हो चुकी है जो लोगो के बिच हद से ज्यादा फैली अफवाह का नतीजा है। सोच कर देखिये जब आप पहले से डरे हुए होंगे और ऐसे में आपका सामना उन लोगो से हो भी जाता है जो बिलकुल सामान्य हमारी तरह ही है तो क्या आप उन्हें पकड़ पाएंगे। अगर मान भी लिया जाए की उन लोगो के पास कुछ ऐसा हो सकता है जिससे वो एक दो व्यक्ति पर हावी भी हो जाये लेकिन समूह का क्या ? क्या उन लोगो में इतनी शक्ति है की वो एक समूह का सामना कर सके।

ज्यादातर होता ये है की इस तरह की एक दो घटना ही हकीकत में होती है और बाकि लोगो का डर क्यों की आज सोशल मीडिया इतना ज्यादा लोगो पर हावी हो चूका है की उसमे अगर 5 साल पहले की घटना को आज शेयर कर दिया जाए तो लोगो को वो घटना आज की ही लगेगी। इतना ही नहीं कुछ लोग तो बिना सोचे समझे इसे इस तरह शेयर करने लग जाते है जैसे वो लोगो को इससे बचाने का काम कर रहे है लेकिन हकीकत में ये सिर्फ लोगो में अन्धविश्वास और डर ही फैला सकती है जागरूकता नहीं। इसलिए इस तरह की घटना को शेयर करने से पहले 10 बार सोचियेगा जरूर।

पढ़े  : वशीकरण की ऑनलाइन सर्विस जो आपको फ्रॉड नहीं सही फायदा देगी।

बाल काटने के पीछे की हकीकत

बाल काटने के पीछे की हकीकत क्या है कोई नहीं जानता अब तक लोगो को पकड़ा गया है और उनसे पूछा गया है उसके अनुसार इन लोगो का बहुत बड़ा नेटवर्क है और ये लोग गायब होने की शक्ति हासिल करने के लिए ऐसा कर रहे है। क्या ऐसा हो सकता है ? विज्ञान के नजरिये से तो बिलकुल नहीं लेकिन आध्यात्म और तंत्र विज्ञान के अनुसार ऐसा हो भी सकता है। इसका मतलब ये नहीं की इस घटना का इससे कुछ संबध है में सिर्फ कुछ ऐसी बाते शेयर करना चाहूंगा जो पुराने समय से जुड़ी है। आइये जानते है की बाल काटने के पीछे का वायरल सच क्या है।

बाल काटने की सच्चाई से जुड़े कुछ पहलू

बाल काटने के पीछे का वायरल सच क्या है ये तो कहना मुश्किल है क्यों की इसमें कितनी हकीकत कितना झूठ कोई नहीं जानता फिर भी इसके पक्ष और विपक्ष को समझने के लिए में कुछ ऐसी बाते शेयर करने जा रहा हूँ जो ये बताते है की ये न तो पूरी तरह सच है ना ही झूठ।

पुराने जमाने से है जादू और तंत्र मंत्र का खेल

आपने सुना तो होगा ही पुराने समय में गांव में डायन हुआ करती थी जिसके पास कुछ जादू की शक्तिया हुआ करती थी। इसके बल पर वो किसी भी जानवर का रूप धारण कर सकती थी। उसकी नजर गांव में बच्चो और जवान माहिलाओ पर होती थी। उस समय भी सोते हुए लोगो के बालो में से कुछ बाल काटने की घटनाए होती थी। तंत्र के अनुसार बाल काटने पर और उस पर प्रयोग करने से हम किसी महिला के गर्भ को बांध सकते है। इसलिए डायन पहले ऐसा करती थी इतना ही नहीं शरीर पर काले  रंग के निशान बनाना भी शामिल था। हो सकता है कुछ लोग इस घटना से प्रेरित होकर ये सब कर रहे हो।

वूडू और काले जादू में बालो का प्रयोग  :

माना जाता है की बालो और नाख़ून में हमारी ऊर्जा प्रवाहित रहती है हमसे अलग होने के कुछ समय बाद तक भी। इसलिए हमें नाख़ून बनाते समय इस बात का ख्याल रखने को कहा जाता है की दूसरे लोगो की नजरो में ना आये और इन्हे उसी वक़्त नष्ट कर दे या फिर ऐसी जगह डाले जहा से ये किसी और के हाथ ना लगे। वैज्ञानिक युग से पहले जब आध्यात्म अपने चरम पर था तब वूडू और काले जादू जैसी क्रियाए खूब की जाती थी। और ज्यादातर उसमे व्यक्ति के नाख़ून या बाल ही इस्तेमाल किये जाते थे।

आज भी ऐसा होता है और ये बात 100% सच है की बालो और नाख़ून के दरुपयोग से व्यक्ति पर प्रभाव डाला जा सकता है। हो सकता है की कुछ लोग बाल काटने के पीछे का वायरल सच इसी को मान कर ये वारदात कर रहे हो।

सम्मोहन और मेस्मेरिज्म का है सब कमाल :

सभी नहीं पर कुछ मामलो में ये सब केस सम्मोहन और मेस्मेरिज्म की ओर भी इशारा कर रहे है। कुछ औरतो का कहना है की उन्हें पहले कुछ भी अनुभव नहीं होता ना ही कुछ दिखता है और अचानक ही जब उनकी छोटी कट जाती है तब कुछ दूर उन्हें वो साया जैसा दीखता है। ये एक तरह का मायाजाल भी हो सकता है जिसमे शिकार को बेसुध कर दिया जाता है।

ज्यादातर जादू दिखाने वाले मेस्मेरिज्म का प्रयोग करते है ताकि वो लोगो को अपने आकर्षण के घेरे में बांध सके। जादू दिखाने के साथ साथ वो अपने शिकार का भी चुनाव कर लेते है और वारदात को अंजाम देते है।  इसलिए हो सकता है इस तरह से भी वारदात की गई हो। ये सभी कुछ कयास है हकीकत  क्या है कुछ नहीं  बताया जा सकता। बाल काटने के पीछे का वायरल सच में ये पॉइंट दूसरे नंबर पर है।

बाल काटने के पीछे का वायरल सच महज एक दिखावा है

ऊपर जो पॉइंट बाल काटने की सच्चाई से जुड़े बताये है उसके बाद हम बात करेंगे न्यूज़ और जांचो से साबित हुई कुछ ऐसी बातो की जिनसे पता चलता है की ज्यादातर होने वाली घटनाए लोगो की मनगढंत कहानी और किस्से है, हालात भी उनके ही बनाये हुए है।

पहले भी ऐसी घटनाए घटी है

आपको याद तो होगा ही ऐसे लोगो का गिरोह आया था जो लोगो के पकड़ में नहीं आता था। साथ ही लोगो की नजर के सामने से ही चोरी जैसी वारदात को अंजाम देता था लेकिन वो कुछ नहीं कर पाते थे। उन  घटनाओ में हकीकत कितनी थी।

गाँवो में अगर कोई व्यक्ति सुन लेता है की इस तरह की घटना घटी है तो वो खुद की तरफ से दो बाते जोड़ कर ही कहता है दूसरा कुछ लोग दुसरो पर अपना प्रभाव डालने के लिए ऐसी घटना बना कर सुनाते है की लोगो में भय डाल देते है और फिर होता ये है की उनके साथ ऐसी घटना घटने पर वो कुछ नहीं कर पाते है क्यों की उनके मन में पहले से ही डर बैठा हुआ होता है।

ठीक वैसे ही जैसे भूत होता नहीं है लेकिन फिल्म देखकर रात को बाहर निकले तो हरपल भूत दिखने का अहसास होने लगता है। बाल काटने के पीछे का वायरल सच भी बिलकुल ऐसी ही घटना है।

पॉपुलर बनने के लिए कर सकते है :

बदनाम हुए तो क्या हुआ नाम तो हुआ ये बात कुछ लोगो पर बिलकुल फिट बैठती है। स्वामी ओम उन लोगो में से है जो खुद को मीडिया पर दिखाने के लिए कुछ भी कर सकते है ठीक ऐसा ही कुछ लोगो की मानसिकता बनी हुई है। उन्हें लगता है लोगो को बाल काटने के पीछे का viral truth का पता चले तब तक वो भी लोगो की नजरो में आए जाये। न्यूज़ और सोशल मीडिया आये दिन ऐसी खबरों से भरा हुआ मिलने लगा था। जब इसके पीछे जाँच हुई तो पता चला की ये लोगो द्वारा खुद ही किये गए कारनामे थे। कैमरा में इसके पुख्ता सबूत मिल चुके है की औरते खुद अपनी छोटी काटने के बाद हंगामा करने लगी थी।

बाल काटने वालो से कैसे बचे

सो रहे लोगो के बाल काटने वालो से कैसे बचे और कैसे सोते हुए बाल काटने वालो से अपना बचाव करे ? इसके लिए कुछ बातो का ख्याल रखे जिसमे सबसे खास है अफवाहों पर ध्यान ना देना। इसके अलावा निम्न बातो का ख्याल रखे

  1. सबसे पहली बात बाल काटने की घटनाए हकीकत से ज्यादा महज बकवास है और आपको इस पर ध्यान ही नहीं देना है।
  2. भीड़-भाड़ वाली ऐसी जगह जाने से बचे जहा अजनबी लोगो का ज्यादा डर हो।
  3. सबसे खास जादू दिखाने के लिए आये लोगो के यहाँ जाने के समय ख्याल रखे की आप उसमे खो ना जाए।
  4. अजनबी लोगो द्वारा आपके यहाँ बार बार नोटिस करने, रैकी करने को गौर करे। कुछ गलत काम करने वाले दिनभर लोगो के घर घूम घूम कर पता करते है की किस घर को निशाना बनाया जा सकता है।
  5. अजनबी लोगो द्वारा घर की जानकारी मांगने पर ना दे न ही हर किसी से अपने घर की स्थिति शेयर करे।
इन पोस्ट को भी पढ़े
  1. क्या आप भी सबसे सस्ता वशीकरण उपाय देख रहे है ऐसा करने से पहले इसे जरुर पढ़ ले
  2. अगर आपके पास भी इस तरह की phone call आये तो हो जाइये सावधान hacker से
  3. तत्वदर्शी रामपाल महाराज की सच्चाई क्या वाकई वो ईश्वर से बढ़कर है ?
  4. ransomware virus वानाक्राई जैसे latest virus से खुद को कैसे बचाए
  5. आखिर क्यों में अपने नवोदय विद्यालय से जुड़ी यादो को हमेशा खास पलो में से एक मानता हूँ

बाल काटने के पीछे का वायरल सच – अंतिम शब्द :

दोस्तों भारत देश बहुत महान है लेकिन यहाँ पर baal katne jaisi viral ghatna जैसी गलत बाते जितनी जल्दी शेयर करते है अगर सही बाते शेयर हो तो हम विश्व की अग्रहणी शक्ति के रूप में उभर सकते है। इसलिए जितना हो सके इस तरह की अफवाहो से बचे और खुद को सक्षम बनाए।

दोस्तों सच्ची-प्रेरणा पर अब त्राटक, ध्यान के ऑनलाइन कोर्स शुरू किये जा चुके है और वशीकरण, काले जादू, पारलौकिक समस्या के समाधान के लिए सर्विस भी दी जानी शुरू की जा चुकी है आप हमारे साथ जुड़े रहिये और अगर किसी तरह की पारलौकिक समस्या के समाधान के लिए हमारे मेंबर की सर्विस ले सकते है। क्यों की सच्ची-प्रेरणा + वशीकरण सर्विस = विश्वास और सही रिजल्ट।

ज्यादा जानकारी के लिए आप हमें कांटेक्ट कर सकते है।

ईमेल : sachhiprerna@gmail.com

व्हाट्सप नंबर :8079081530

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.