इस दिवाली करे खोये प्यार को पाने के लिए ये आसान वशीकरण के उपाय – 2019 special

4

दीवाली पर वशीकरण और तंत्र मंत्र साधना इतनी खास क्यों होती है क्या इसकी कोई खास वजह है की दीप माला की रात्रि को किये गए वशीकरण के प्रयोग 99% कामयाब होते है. आज हम बात करने वाले है Vashikaran mantra for Diwali night 2019 special की जिसमे हम कुछ खास उपाय जैसे की How to do Black magic on Diwali night? के बारे में बतायेंगे.  वैसे तो मंत्र सिद्धि का समय दिवाली, होली, ग्रहण या फिर अमावस का ही होता है लेकिन हम चाहे तो शुभ महूर्त पर भी अभ्यास कर सकते है. दिवाली पर वशीकरण मंत्र को सिद्ध करने के सबसे बढ़िया उपाय देख रहे है तो इन Diwali 2019 tone totke के बारे में जरुर पढ़े.

दीवाली पर वशीकरण के प्रयोग

Vashikaran mantra for Diwali night के प्रयोग या फिर किसी अन्य मंत्र साधना को सिद्ध करना दीपमाला की रात्रि को सरल पड़ता है क्यों की इस वक़्त माना जाता है सभी नक्षत्र अच्छे स्थिति में होते है और मंत्र सिद्धि में सहायता करते है. अगर आपने कही पर चोरी की गई वस्तु का पता लगाने के लिए कांसे की कटोरी का प्रयोग के बारे सुना है तो ये आपको यहाँ जानने को मिल जायेगा. ये सभी मंत्र इंद्रजाल की पुस्तक से लिए हुए है.

दीवाली पर वशीकरण के प्रयोग

दीवाली पर गहन अंधकार धरती पर फैला रहता है और तांत्रिक इस दौरान अपने खास पूजा पाठ करते है. ऐसा माना जाता है की इस समय अगर पूजा की जाए तो वो जल्दी सफल होती है वही कुछ लोग इस दौरान पारलौकिक शक्तियों की पूजा भी करते है ताकि उन्हें उनकी सहायता मिलती रहे. ज्यादातर लोग अपने Business को लेकर परेशान रहते है तो वे इस दौरान Reopen business and remove debt के लिए उपाय करते है.

अगर आप गाँव या शहर साइड से है तो आपको इस रात्रि में काफी ज्यादा मात्रा में टोटके, उतारा जैसी चीजे मिल जाएगी. ये सभी चीजे तंत्र मंत्र और Black magic removal mantra का हिस्सा है. आइये अब बात करते है कुछ ऐसे दीवाली पर वशीकरण के प्रयोग के बारे में जो हम कर सकते है.

ज्वालामुखी वशीकरण मंत्र साधना

ज्वालामुखी मंत्र वशीकरण के शक्तिशाली मंत्रो में से एक माना जाता है. इसे कार्य सिद्धि में हम प्रयोग में ला सकते है. दिवाली का पर्व आ रहा है तो इस मौके पर हम आसानी से तंत्र मंत्र सिद्धि के प्रयोग कर सकते है. दीपमाला की रात्रि का समय ऐसे कामो के लिए शुभ माना गया है क्यों की इस दौरान अमावस में सिद्धि का चांस बढ़ जाता है.

ज्यादातर लोगो को रुझान होता भी love spell that works fast की तरफ है इसलिए ऐसे प्रयोग जो आसान हो और काम करे वो यहाँ शेयर किये गए है. इस खास दीवाली पर वशीकरण के प्रयोग में से एक ज्वालामुखी वशीकरण मंत्र का प्रयोग आप कर सकते है.

आवश्यक सामग्री

  • चमेली के फूल
  • बर्फी
  • सिगरफ ( पारे का अयस्क पंसारी की दुकान पर मिल सकता है )
  • दशांश हवन सामग्री

मंत्र

ॐ ह्री क्ली सिंहेश्वरी ज्वालामुखी ज्रंभिनी स्तम्भनी मोहिनी वशीकरणी परघनमोहनि सर्वारिष्टनिवारिणी

त्रुगणसंहारिणी सुबुद्धि दायिनी ॐ आं क्रो ह्रा त्राहि त्राहि अक्षोभय अक्षोभय अमुकं में वश्यं कुरु कुरु स्वाहा

विधि – ये मंत्र दीपमाला की रात्रि को किया जाता है. सबसे पहले ऊपर बताई गई सामग्री को भोग के रूप में सामने रखे और इस मंत्र का जाप 10,000 बार करते रहे, दशांश हवन करे.

ये प्रक्रिया दीपमाला की रात्रि से 15 दिन बाद तक करनी है. साधना में सफलता आपके अन्दर बढती आकर्षण शक्ति के रूप में दिखती है. इसके बाद आपको जब कोई कार्य हो ( वशीकरण ) आप इस मंत्र का 10,000 जाप करे इससे आपको जल्दी सफलता मिलेगी. कुछ लोगो की रूचि इस्लामिक साधना में होती है इसलिए ऐसे मौके पर की गई Powerful Muslim Voodoo Spell और Muslmani putli sadhna जैसी साधना भी बेहतर परिणाम देती है.

दीवाली पर वशीकरण के प्रयोग मंत्र साधना – 2

ये Maha vashikaran mantra कार्य सिद्धि प्रयोग मंत्र है. इसे आप अपने कार्य की सिद्धि हेतु प्रयोग में ला सकते है और ये सरल भी है. जब भी ग्रहण या अमावस ( दीवाली ) हो इस मंत्र का जाप यथासंभव करे 108 माला का विधान है लेकिन 10,000 जाप से भी सिद्धि होती है.

इस sammohan sadhna mantra को आप खास पर्व पर ही सिद्ध कर सकते है इसलिए दीवाली पर वशीकरण के प्रयोग में इसे भी आप कर सकते है.

मंत्र

ॐ नमो कट कट घोर रूपिणी अमुकं में वशमानय स्वाहा

प्रयोग विधि – जब भी इस तरह के get lost love back by vashikaran मंत्र का प्रयोग करना हो रविवार को इस मंत्र की एक माला जप से भोजन को अभिमंत्रित कर ले और खाते समय उसका नाम लेते जाए जिसे वश में करना है. ऐसा 3 सप्ताह में यानि 3 रविवार तक करने पर आपको सामने वाले पर अपने प्रभाव का पता चल जाता है. कुछ लोगो के लिए kamakshi nari vashikaran mantra बेहद आसान है जिन्हें खोये हुए प्यार को वापस पाने के लिए किया जाता है.

दीवाली पर वशीकरण के प्रयोग – मोहिनी मंत्र प्रयोग

इस मंत्र को हनुमंत दुहाई वशीकरण प्रयोग भी कहते है. ये मंत्र शाबर मंत्र की तरह प्रभाव दिखाता है. इस Powerful love spells को सिद्ध करने के लिए दीपमाला की रात को एक थाली में 11 दीपक जला ले और भोजपत्र पर सिंदूर से इस मंत्र को लिख दे. भोजपत्र कटा हुआ नहीं होना चाहिये, कोशिश रखे की ये अखंड हो.

भोजपत्र पर मंत्र लिखने के बाद इसे अपने सामने स्थापित कर दे और धूप दे. इस मंत्र की 1 माला जपे. इस दौरान अपना सारा ध्यान यंत्र की तरफ रखे.

मंत्र

तेकसो में तेल राजा परजा पावे मेल कछु पानी मसक ल्यान छःसै वीर मेरे पाय लगा

व हाथ खड़ग फूलोंगी माला जानि विजाने गोरख जाने मेरी गति को कहे न कोय

हाथ पछानो मुख धोऊँ सुमिरो निरंजनदेव हनुमंत यति हमारी पति राखो मोहिनी दोहनी दोनों बहन आव मोहनी

रावल चले मुख बोले तो जिह्वां मोंहू आस मोहू पास मोहू सब मोहू सब संसार में निकलू टिका देय ललाट

आवे तो नहीं पकड़ बांध ले आवे दुहाई अंजनी के पूत की दुहाई, लक्षमण जतीकी दुहाई, गुरु गोरखनाथ की दुहाई

निरंजन भगवान की मेरी भक्ति गुरु की शक्ति फुरो मंत्र इश्वरोवाच

प्रयोग विधि – जब भी इस मंत्र का प्रयोग करना हो साध्य व्यक्ति के सामने 3 बार इस मंत्र का जाप करे और इसका प्रभाव देखे. इस दौरान हनुमान जी की पूजा पाठ करना न भूले. कुछ लोग इस दौरान सट्टा भी खेलते है अतः वे एक आसान lottery spells that work fast का प्रयोग भी कर सकते है.

दीवाली पर वशीकरण के प्रयोग – चोरी की जगह का पता लगाना

आपने कई जगह पढ़ा होगा की कुछ लोग मंत्रो द्वारा चोरी की जगह का पता लगा लेते है या फिर अनाज / पैसा उड़ा लेते है. सुनने में ये भी आया था की खुद डॉ. नारायण दत्त श्री माली जी ने इसका परीक्षित प्रयोग करके दिखाया था. इसमें मुख्य है एक कटोरी पर प्रयोग जिसमे हम मंत्र पढ़ कर कटोरी छोड़ देते है और वो चोरी वाली जगह जाकर रुक जाती है. आइये ऐसे ही कुछ प्रयोग देखते है.

ॐ नमो सत्तरसौं पीर चौसठसौ योगिनी बावनसौ वीर बहतर सौ भैरो तेरहसौ तंत्र चौदहसौ मंत्र

अठारहसौ पर्वत सत्तरसौ पहाड़ नौसौ नदी निन्यानवसौ नाला हनुमन्त यति गोरख रखवाला

कांसी की कटोरी अंगुल चारि चौड़ी कहो वीर कहांते चलाई गिरिनार पर्वतसे चलाई अठारह भार बनस्पति

चल लीना चमारी की बाचा फुरे कानी कुम्हारी चाक ज्यों फिरे कहाँ जाय

चोरके जाय चंडालके जाय कहाँ ल्यावै चोरको चंडालको ल्यावै गडौ धनको जाय बतावै चाल चाल रै

हनुमंत वीर जहाँ चले तहां रहे न चले तो गंगा यमुना उलटी बहे || शब्द ||

विधि – एक कांसे का पैसा बनवाए जो तीन भार ( वजन ) और चार अंगुल चौड़ी हो. दीवाली की रात को कटोरी पूजन करे और इस पैसे को उसमे डाल दे. ऊपर दिए गए मंत्र से उड़द को अभिमंत्रित करे. चौक में इस कटोरी को स्थापित कर दे. कटोरी चलना शुरु कर देगी.

मंत्र सिद्धि के लिए आप इसे 101 दिन में सिद्ध कर सकते है रोज धूप देकर 108 बार जाप करे. जल्दी करना चाहते है तो रोज 1000 बार जाप करे 21 दिन तक. मंत्र सिद्ध हो जायेगा.

most powerful vashikaran mantra दूसरा मंत्र

ॐ नमो नाहर वीर चलते तेगमें तेर सीर बहता चलता थाम्बे नीर सोये

अनपै लागे तीर ज्यों ज्यों चाले तू धर धरी चाले

नीर ज्यो चाले नाहरसिंह वीर चित चोर का धरै न धीर

चोर का हाथ कांपे सिर कांपे छाती थर्रावे जहाँ धरै चुराया धन तहांसु हटन ना पावै

दुहाई गुरु गोरखनाथ की दुहाई चौरासी सिद्ध की दुहाई पूरन पूत की

शब्द सांचा पिंड कांचा फुरो मंत्र इश्वरोवाचा सत्यनाम आदेश गुरु को

विधि – मंत्र को ग्रहण या दीप माला की रात को एक लाख बार जप कर ले या ऊपर बताई विधि से सिद्ध कर ले. जिस किसी की चोरी निकालनी हो उत्तर दिशा की ओर मुख कर बैठ जाइये. कांसे की कटोरी सामने रख ले और मंत्र पढ़ उस पर चावल के दाने मारे. कटोरी अपने आप ही चलने लगेगी और चोरी वाली जगह रुक जाएगी.

Diwali 2019 tone totke

दिवाली की रात को किये जाने वाले कुछ खास टोने टोटके जिन्हें आप आजमा सकते है.

  • घर में अगर आपको negative energy at home feel हो रही है तो लक्ष्मी पूजन के बाद पूरे घर में शंख बजाए.
  • दिवाली की रात को हनुमान जी की साधना करने वाले तेल का दिया जलाए और उसमे एक लौंग डाल कर फिर हनुमान जी की आराधना करे.
  • दिवाली वाले दिन शिव पूजा में अक्षत यानि चावल मंदिर में चढ़ाए. ध्यान रखे की चावल के दाने खंडित न हो.
  • अगर आपको धन से जुडी समस्या है तो लक्ष्मी पूजन के दौरान पूजाघर में पिली कौड़िया रखे.
  • लक्ष्मी पूजन में हल्दी की गांठ एक सफ़ेद पोटली में बांध कर रखे और बाद में उसे मुख्य तिजोरी में रख दे.
  • इस दिन मंदिर में सुगंध वाली अगरबत्ती और झाड़ू का दान करना न भूले.
  • दिवाली की रात काल रात्रि होती है अतः इस रात को पीपल के निचे तेल का दीपक जरुर जलाए. इससे काल सर्प, पित्र दोष दूर होते है.
  • Diwali night pooja के दौरान एक बड़ा दिया ले और उसमे 9 बत्ती जलाए.
  • Diwali poojan के पहले गणेश जी की पूजा करे और उन्हें 21 दूर्वा की गांठे चढ़ाए इससे गणेश जी के साथ लक्ष्मी कृपा प्राप्त होती है.
  • दिवाली की पूजा में स्फटिक के लक्ष्मी, कुबेर और श्री यन्त्र की स्थापना करने का सबसे शुभ महूर्त होता है.

Diwali 2019 tone and totke

दिवाली के दिन तंत्र मंत्र की साधना के सबसे अच्छे संयोग बनते है जिसकी वजह से साधना के लिए ये सबसे सही समय माना जाता है.

  • अगर आप धन की कमी से जूझ रहे है तो लक्ष्मी पूजन के दौरान कुछ पुराने सिक्के ले और उन्हें कौड़ी के साथ रखकर हल्दी और केसर से लक्ष्मी पूजन करे. इन्हें बाद में मुख्य तिजौरी में रख दे माना जाता है की ऐसा करने से धन की कमी नहीं रहेगी.
  • धनतेरस के दिन लक्ष्मी मंदिर में जाने के बाद कमल का फूल और सफ़ेद मिठाई से पूजन करे.
  • दिवाली के दिन पूजन के समय एक छोटे आकार का श्रीफल यानि नारियल ले. पूजा के बाद इसे लाल कपडे में बांध कर ऐसी जगह रख दे जहाँ किसी की नजर न पड़े जैसे की पूजा घर में या फिर किसी ऊँची जगह. लक्ष्मी कृपा के लिए ये सबसे आसान उपाय है.
  • अगर घर के सदस्यों के बिच रिश्ते में प्यार की कमी आ रही है तो दिवाली की रात को दक्षिणवर्ती शंख या मोती शंख से लक्ष्मी पूजन करे और बाद में इसे मुख्य तिजौरी में रख दे.
  • अगर आप पारलौकिक शक्तियों में विश्वास रखते है जो बेहद कम समय में साधक को लाभ देती है ( इस पोस्ट को जरुर पढ़ ले ) तो दीपावली की रात को पीपल के निचे तेल का दीपक जरुर जलाए. पीछे मुड़कर नहीं देखना है और दिवाली के बाद हर शनिवार को ये प्रयोग करना है. ऐसा करना आपको धनवान बना सकता है.
  • दिवाली पूजन के दौरान एक चुटकी चावल ( साबुत खंडित न हो ) और 5 कौड़िया एक सफ़ेद कपडे में बांध ले. रात में पूजा करे और दूसरे दिन शुद्ध होकर इसे तिजोरी में रख दे. ये तांत्रिक प्रयोग पैसो की कमी को दूर करता है.
दीवाली पर वशीकरण के प्रयोग – अंतिम विचार

दीवाली के पर्व को देखते हुए हमने दीवाली पर वशीकरण के प्रयोग के कुछ उपाय यहाँ शेयर किये है. ये सभी मंत्र इंद्रजाल की पुस्तक से लिए गए है जो विश्वसनीय है न इसके बाद भी ये कितना सही काम करेंगे इस बात की कोई गारंटी नहीं. प्रयोग विश्वास और श्रधा से किया जाए तो सफलता हासिल होती है वर्ना कुछ नहीं. इंद्रजाल की पुस्तक मंगवानी हो तो इस लिंक पर विजिट करे. आज की पोस्ट आपको कैसी लगी हमें जरुर बताए. इन पोस्ट को पढना ना भूले

Never miss an update subscribe us

* indicates required

4 COMMENTS

    • अजय जी ये सभी मंत्र इंद्रजाल की सबसे पुरानी पुस्तक में से लिए हुए है. इन्हें पुरे विधान से किया जा सकता है.

    • सुझाव देने के लिए धन्यवाद सर
      कोशिश करूँगा जड़ी ही आपको इससे जुड़ी जानकारी मिले.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here