mansik shakti badhane ke upay -घर बैठे मानसिक शक्तिया कैसे develop करे hindi guide

1

how to do telekinesis power practice at home की इस पोस्ट में हम बात करने वाले है मानसिक शक्तिया क्या है ? Psychic power हमारे अवचेतन मन की वो शक्तिया है जो किसी न किसी रूप में हमारे अंदर विकसित या जाग्रत रहती है। हम कई बार सपनो में भविष्य की झलकियां देख लेते है। या फिर हमें अचानक ही आभास हो जाता है की हमारे पीछे कोई है और वाकई कोई होता है। mansik shaktiyo ke chamtkar की इस तरह की घटनाये ये शो करती है की मानसिक शक्तिया सूक्ष्म रूप में हमारे अंदर जाग्रत रहती है। लेकिन हम इनका इस्तेमाल अपनी जरुरत के मुताबिक नहीं कर सकते क्यों ? mansik shakti badhane ke upay और कुछ नहीं ऐसी गतिविधि को समझना है जिन्हें आप दैनिक जीवन में नजरअंदाज करते रहते है। ghar baithe mansik shakti kaise badhaye hindi full guide.

mansik shakti badhane ke upay

क्यों की हम इन पर गौर नहीं करते है और इन्हें सामान्य घटनाओ की श्रेणी में रख कर भूल जाते है। आज की पोस्ट में आपको मानसिक शक्ति बढ़ाने के सरल उपाय बताने जा रहे है जिनसे आप अपनी मानसिक शक्ति को पहचान कर उसे उभार पाएंगे यानि जाग्रत कर उसका सही इस्तेमाल कर सकेंगे।

mansik shakti badhane ke upay

mansik shakti badhane ke upay में हम कुछ अभ्यास कर सकते है जो मानसिक शक्ति को उभार कर आपको उन्हें कण्ट्रोल करने की आजादी देते है। सबसे पहले हमें अपनी अलग अलग मानसिक शक्ति की क्षमता को पहचानना पड़ता है। हमारे अंदर कुछ मानसिक शक्तिया पहले से ही विकसित होती है और कुछ को उनकी सहायत से विकसित किया जाता है।

  • कल्पना शक्ति का इस्तेमाल कर आप अपने आज्ञा चक्र के ऊपर एकाग्रता का अभ्यास कीजिये जो आपके दोनों आँखों के बिच के क्षेत्र में स्थित है। बंद आँखों से उस पर ध्यान लगाये और आप क्या पाएंगे की आपका आज्ञा चक्र क्षेत्र चमकीला होता जा रहा है। ये सरल सा अभ्यास आपके यादास्त में वृद्धि करता है और इसे जाग्रत भी।
  • सूक्ष्म गतिविधि पर ध्यान देना आपके सिक्स्थ सेंस में वृद्धि करता है। इसके लिए आप उन गतिविधि पर गौर करे जो सामान्य नहीं होती है। इस अभ्यास में हम सूक्ष्म होने लगते है जिससे हम बारीक़ गतिविधियों को भी समझने लगते है। इसके लिए आप आंखे बंद कर किसी घटना या जगह की कल्पना करे और खुद की उपस्थिति को महसूस करे। इस अभ्यास में आपको तीसरे नेत्र पर फोकस होना है। इसका क्या प्रभाव मिलता है ये याद रखना ना भूले। इन अभ्यास को करने के बाद आगे बढे और कुछ मानसिक शक्ति बढ़ाने के सरल उपाय करते है।

पढ़े :  ध्यान से जुड़ी Top 7 गलत धारणाये जो हमें ध्यान करने से रोकती है

छोटी वस्तुओ पर मानसिक शक्ति का अभ्यास :

हम जो चीजे इस्तेमाल करते है खासतौर से कपडे उनमे हमारी ऊर्जा जुड़ी होती है। मानसिक शक्ति बढ़ाने के सरल उपाय की शुरुआत आप कपड़े से करे और निरीक्षण करे की कपड़ा किस काम में इस्तेमाल किया गया है। इस अभ्यास में आप कपड़े से जुड़ी निम्न बातो पर गौर करे की ये कपड़ा किसने इस्तेमाल किया और उसके भाव कैसे थे। इस तरह की गतिविधि आपको सूक्ष्म घटनाओ की ओर ले जाती है।

अगर आप उस वक़्त कुछ महसूस करते है तो उसे नोट जरूर करे क्यों की जो शुरू में आपके दिमाग में आता है वो सही जानकारी है उसमे अलग से कुछ भी जोड़ने की जरुरत नहीं है।

अन्य वस्तुओ पर अभ्यास :

इस अभ्यास में आप उन वस्तुओ को महसूस करते है जो वस्तुओ के ढेर के पीछे छुप जाये हो। इस दौरान आप उनकी ऊर्जा को महसूस करे जब आपका मस्तिष्क उस ऊर्जा को ग्रहण करने के लायक हो जाता है तब आप उन्हें महसूस कर सकते है फिर चाहे वो कितने ही भीड़ में क्यों ना छूपे हो। ऐसी चीजो पर अभ्यास करे जो आपके नजर के सामने ना हो जैसे दरवाजे के पीछे क्या है, बंद लिफाफे में क्या हो सकता है, वगेरह वगेरह।

पढ़े :  ध्यान में दिशा का महत्व और पंच तत्व पर ध्यान लगाने की सरल विधि

मानसिक शक्ति को बढ़ाने में सहायक है ध्यान :

सूक्ष्म गतिविधि को पकड़ने के लिए मस्तिष्क का शून्य होना, विचार रहित होना बेहद जरूर है। और ध्यान इसमें बहुत सहायक है। ये आपके सोचने की क्षमता में बढ़ोतरी करता है और आपकी छटी इंद्री को जाग्रत करता है। इसके लिए आप कुछ छोटे छोटे अभ्यास कर सकते है।

  • सुबह बिस्तर से उठने से पहले आंखे बंद रखे और आवाज सुनने की कोशिश करे आप कितनी आवाजे सुन सकते है और कितनी सूक्ष्म आवाजो को आप नोटिस कर पाते है जो सामान्य नहीं होता है।
  • विचारो की मात्रा को कण्ट्रोल करने का सबसे अच्छा माध्यम है सांसो पर ध्यान। सांसो को गहरे गहरे अंदर ले नाक द्वारा और कुछ देर अंदर रोके इससे आपके विचार में कमी अपने आप आने लगती है।
  • आध्यात्मिक संगीत जिसमे धुन हो या फिर मंत्र ध्यान इसमें आपकी सहायता कर सकता है। इन सबका एक ही मकसद है आपके मस्तिष्क की निरीक्षण करने की गतिविधि को रोकना और उन्हें अवचेतन मन की ओर मोड़ना।

पढ़े : क्या वाकई वशीकरण और काला जादू सच में होता है

अवचेतन मन को जाग्रत करना :

मानसिक शक्ति बढ़ाने के सरल उपाय में सबसे महत्वपूर्ण है Subconscious mind activation. अवचेतन मन को जाग्रत करने के अभ्यास का मकसद हमारे अनुभव में वृद्धि करना है जो हम सामान्य तौर पर बिना किसी वास्तु की जानकारी के उसकी जानकारी नहीं इकट्ठा कर पाते है। यानि अनुभव द्वारा निरीक्षण।

  • हर इंसान में ये क्षमता कम या ज्यादा होती है यानि अटकल द्वारा सही जवाब देना। इसके लिए सबसे पहले आपको खुद पर विश्वास बनाना पड़ता है की जो अपने सोचा है वो सही है।
  • हमारे मस्तिष्क में कई बार ऐसे आईडिया उभरते है जिनका एक दूसरे से कुछ लेना देना नहीं होता है। ऐसा आपको इसलिए लगता है क्यों की आप उनका निरीक्षण नहीं करते है। अगर सूक्ष्म अनुभव द्वारा समझे तो ये सभी विचार एक दूर से जुड़े है। इसके लिए सुबह जल्दी उठ कर उन पर विचार करने की कोशिश करे बजाय उठते ही भागदौड़ भरे कामो में व्यस्त हो जाओ।

mansik shakti badhane ke upay में जुड़े भावनात्मक रूप से :

लोगो के हाव भाव को देख कर उनकी मनोदशा समझना मानसिक शक्तियों के अभ्यास का अगला चरण है। इसमें हम बॉडी लैंग्वेज को सीखते है। इसके कई फायदे है जैसे की बगैर कहे ही सामने वाले की बातो को समझना जो उसके हाव भाव से प्रदर्शित होती है इसके अलावा हम लोगो की भावनाओ को समझ कर उनके हाव भाव के अनुसार अगर व्यव्हार करे तो जल्दी ही हम उनके बिच लोकप्रिय हो सकते है।

अपने देखा होगा कुछ लोग दूसरे लोगो के हाथो पर हाथ रख कर उनकी मनोदशा को समझ लेते है। ये असल में ऊर्जा को पढ़ना है। जिसके लिए आपको दूसरे के हाव भाव का निरीक्षण कर मन की बात को समझना होता है।

पढ़े : मेस्मेरिस्म और सम्मोहन का उद्भव

mansik shakti badhane ke upay से एकाग्रता कैसे बढ़ाए :

अगर आप चाहते है की आप दुसरो की नजर से बचे रहे यानि उनके द्वारा खुद को पकडे जाने से बचना है तो मस्तिष्क और विचारो पर नियंत्रण बनाना सीखे। एकाग्रता बढ़ाने के लिए हम विचारशून्य की अवस्था अपनाते है जो वाकई बेहद मुश्किल काम है। mansik shakti badhane ke upay में आप कुछ वस्तुओ को हाथ में लेकर कुछ देर तक देखते रहे और फिर उस वस्तु से जुड़ी सभी यादो का मस्तिष्क में चित्रण करे। कोशिश करे उस वस्तु से जुड़ी हर बात को याद करने की।

इसके अलावा आप अपने विज़न को बढ़ाने की कोशिश करे वस्तुओ को छू कर उससे जुडी जानकारी की कल्पना करने की। ये आपके अवचेतन मस्तिष्क की गतिविधि को ज्यादा से ज्यादा बढ़ाता है।

पढ़े : वशीकरण एक्सपर्ट से संपर्क करने से पहले जान ले ये जरुरी बातें

1.) ऊर्जा क्षेत्र को पढ़ना यानि औरा विज्ञान

ऊर्जा जो हमारे शरीर के अंदर और बाहर बहती है दोनों अलग अलग गतिविधि है। हमारे शरीर के चारो और ऊर्जा का जो जाल है वो औरा है और शरीर के अंदर ऊर्जा के केंद्र जिनसे ऊर्जा प्रवाहित होती रहती है चक्र कहलाते है। हो सकता है आपको अपनी विचार सम्प्रेषण शक्ति यानि टेलीपैथी शक्ति को विकसित करने में बहुत लंबा वक़्त लग जाये पर नियमित अभ्यास से आप अगर औरा विज्ञान को समझ ले तो दूसरे लोगो के हाव भाव को समझ सकते है।

2.) चक्र को खोलना और उनकी ऊर्जा का सही प्रवाह :

ये तो हम सभी जानते है की हमारे शरीर में 7 मुख्य ऊर्जा केंद्र है जिनसे ऊर्जा का प्रवाह पुरे शरीर में होता है। अगर ये ब्लॉक हो जाते है तो ऊर्जा का प्रवाह रुक जाता है और आप भावनात्मक और मानसिक रूप से बीमार महसूस करने लगते है। और अगर शरीर में ज्यादा ऊर्जा का प्रवाह होने लगता है तो उन्माद और जरूरत से ज्यादा प्रतिक्रिया को दर्शाता है।

इसलिए हमें सबसे पहले चक्र की ओपनिंग, उनका महत्व और उनके प्रवाह का तरीका समझना होगा ये सब आप कुंडलिनी और सप्त चक्र की पोस्ट में पढ़ सकते है।

पढ़े : घर पर आसानी से करे टेलिपैथी का अभ्यास

3.) mansik shakti badhane ke upay – दुसरो का औरा पढ़ना :

विचारो को समझने का सबसे अच्छा जरिया है दुसरो का औरा पढ़ना। ये तो आप पहले की पोस्ट औरा कैसे पढ़े में जान ही चुके है की सभी का औरा अलग अलग रंग का होता है और ये विचारो के साथ बदलता रहता है। जब हम किसी सफ़ेद दीवार के पास खड़े व्यक्ति को कई देर तक देखते रहते है तो हमे उसका औरा महसूस होने लगता है। शुरू में ये सिर्फ एक धुंध जैसा दिखाई देगा जो की बाद में ज्यादा सूक्ष्म निरीक्षण पर रंगों में बदलता हुआ दिखाई देने लगता है।

4.) नकारात्मक ऊर्जा से छुटकारा पाइये :

अगर दुसरो के हाव भाव और भावनाओ को पढ़ना है तो सबसे पहले खुद को सकारात्मक ऊर्जा के बहुत बड़े स्त्रोत में बदलना होगा। ऐसा शरीर जो दूसरे लोगो से ज्यादा मात्रा में ऊर्जा प्रवाहित करे। इसके लिए आपको नकारात्मक विचारो के बादलो को दूर करना होगा।

आप एक ग्राउंड में बैठ कर सुखासन की मुद्रा में खुद से ज्यादा बेहतर तरीके से जुड़ सकते है और सकारात्मक सोच जितना सोच सके नकारात्मक विचारो को दूर करने का सबसे अच्छा माध्यम है।

पढ़े : सम्मोहन सिखने के लिए ध्यान रखे इन महत्वपूर्ण बातो को

5.) अपनी ऊर्जा को ज्यादा से ज्यादा बचाए :

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में हम अपनी दैनिक ऊर्जा को बचा नहीं पाते है क्यों की मन पुरे दिन सेंकडो विचारो से घिरा रहता है। इन सबसे दूर रह कर या मस्तिष्क की हलचल को कम से कम कर हम अपनी ऊर्जा को बहुत ज्यादा मात्रा में बढ़ा सकते है। जिसके लिए आपको दिन के कुछ वक़्त में सामाजिक रूप से जुड़ाव वाले माध्यम जैसे टीवी, मोबाइल, इन्टरनेट और अन्य माध्यम जिनसे मस्तिष्क की गतिविधि बढ़ती है को अपने से दूर रखे और कुछ हिस्सा एकांत में बिताये।

mansik shakti badhane ke upay – अंतिम शब्द

दोस्तों mansik shakti badhane ke upay के ये कुछ बेसिक टिप्स आपकी मानसिक शक्तियों को बढ़ाने के लिए बताये गए थे। मानसिक शक्तिया कोई चमत्कार नहीं है। ये हमारी वो गतिविधि है जिन्हें हम शुरू से नजरअंदाज करते आये है और जो चीज नजरअंदाज की जाती रही है वो कही न कही सुप्त रूप में आज भी मौजूद है। इसलिए इन सभी टिप्स पर अमल कर आप भी खुद को दूसरे से बेहतर बना सकते है। मानसिक शक्ति बढ़ाने के सरल उपाय की ये पोस्ट आपको कैसी लगी हमें जरूर बताये।

1 COMMENT

  1. Very nice article. Realy great job. This article narrates the microscopically movements of the mind. Not only focused but also given tricks that how to control our minds throughout various easy methods. Please keep continue. Best wishes.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.