मन को काबू में कर आप भी खुद को एक रोबोट की तरह बना सकते है – simple tricks

6

अगर कोई हमें पूछे की इस धरती पर ईश्वर की सबसे अच्छी कृति क्या है तो हमारा जवाब होगा इंसान। क्यों की इस धरती पर अगर कोई अपने निरंतर विकास के द्वारा अपना अस्तित्व बना पाया है तो वो है मनुष्य। सिर्फ मनुष्य ही है जो सोच समझ सकने के साथ साथ निर्णय भी लेने की क्षमता रखता है। इसके साथ ही साथ अगर मनुष्य दूसरे जीवो से ऊपर है तो वो सिर्फ इसलिए की उसमे भावनाए है। वो भावनाओ के से जुड़ा हुआ है और अगर कोई ऐसी चीज है जो इंसानी मन को बदल सकती है तो वो सिर्फ उसकी भावनाए ही है। मन को काबू करने का आसान तरीका जान कर आप भी अपने विचारो में मजबूती ला सकते है।

मन को काबू करने का आसान तरीका
लेकिन कभी कभी यही भावनाए हमारे लिए बाधा बन जाती है। क्यों की अनचाहे विचार और दुर्बल स्तर की भावनाए जिसमे डर, भय, खोने का डर शामिल है हमें कमजोर बना देती है। इसीलिए हम कई बार ऐसे अवसर खो देते है जो हमारे भाग्य को भविष्य को बदल सकते है। ज्यादातर लोगो का सवाल रहता है की भावनाओ को काबू में कैसे लाया जाए ? अनचाहे विचारो पर काबू कैसे किया जाए ? इसलिए आज की इस पोस्ट में हम बात करेंगे की आखिर क्यों भावनाए सही तरह से हमारे विकास के काम नहीं आ पा रही है और कैसे हम उन्हें अपने काम में ला सकते है ताकि हमें इसका भरपूर फायदा मिले।

मन को काबू करने का आसान तरीका :

मन को काबू करने के लिए आपको सबसे पहले तो समझना होगा उन बातो को जो आपके अंदर अनचाहे विचार पैदा करती है या फिर आप किस वजह से खुद को दुर्बल मानते है। अगर सबसे सिंपल उदहारण ले तो एक क्लास में जब कुछ भी पूछा जाता है तो कुछ लोगो को डर होता है की अगर वो कुछ बताएंगे और वो सही नहीं निकला तो उनकी इंसल्ट होगी। ये ऐसा विचार है जो आपको आगे कभी नहीं आने देगा। आपके मन में ये ख्याल ये भावना आयी कैसे ?

क्या आप शुरू से ही दूसरे लोगो से अच्छे थे या फिर आपकी कोई इज्जत करता था याद रखे की जो लोगो के बिच अपनी प्रेजेंट नहीं दर्शाता है वो कभी किसी से इज्जत या सम्मान नहीं पा सकता है।

मन को काबू करने का आसान तरीका जान कर अगर आप क्लास में कुछ बोलेंगे तो बेशक आप पहली या शुरू की कुछ पहल में गलत भी साबित हो जाओ लेकिन इससे आपके अंदर जो पैदा होगा वो आपको कभी हार नहीं मानने देगा। बहुत से लोग ऐसे है जो मन को काबू करने का आसान तरीका जानना चाहते है क्यों की उनका मन बहुत भागता है और इसी वजह से वो खुद को किसी फील्ड में आगे नहीं ला पाते है। इसलिए खुद को कण्ट्रोल कर कैसे हम अपने विचारो और भावनाओ पर काबू पा सकते है जानेंगे। एक बात और में आपको बता देना चाहूंगा की

आपका मन अगर अनचाहे विचारो से घिरा हुआ है तो आप दुनिया के सबसे कमजोर व्यक्ति है लेकिन अगर आप उन्हें काबू में कर सकते है तो आप दुनिया के वो व्यक्ति है जो कुछ भी संभव कर सकता है।

पढ़े : क्या आप जानते है दुसरो के मन की आवाज कैसे महसूस करे जानिए खास सीक्रेट्स

मन को काबू करने का आसान तरीका – शवासन :

शवासन के बारे में हम पहले भी पढ़ चुके है इसलिए में आपको इसके बारे में ज्यादा ना बताकर सिर्फ इतना बता देना चाहूंगा की ये सबसे सरल अभ्यास है जिसके द्वारा हम खुद को अनंत स्तर पर कण्ट्रोल कर सकते है। शवासन का अभ्यास आगे बढ़कर योग-निद्रा में भी बदला जा सकता है अगर आप ऊर्जा स्तर को कण्ट्रोल और मनचाहे स्तर पर उपयोग करना चाहते है तो।

कुछ लोगो का कहना है की शवासन और न्यास ध्यान से उन्हें निद्रा में जाने की समस्या होती रहती है। ये प्रॉब्लम नहीं है बल्कि में तो कहूंगा की अगर ऐसा होता है तो होने दे क्यों की अभ्यास दौरान नींद आना आपके शरीर में बदलाव का पहला चरण है। जब हमारा शरीर शिथिल होता है तब हमें ये स्थिति अनुभव होती है। आपको सिर्फ अभ्यास को बनाए रखना है क्यों की जाग्रत रहने की क्षमता आपमें कुछ समय बाद ही बनना शुरू हो जाती है।

खुद को कण्ट्रोल करने वाली कमांड :

दिनभर हम कई ऐसे कार्य से रूबरू होते है जिसमे हमें रिस्क लगती है एक चैलेंज लगता है ऐसे हालात में हम पीछे हटने के बारे सोचने लगते है या फिर हमारे अंदर अनचाहे विचार आने लगते है जो किसी तरह के लॉस से जुड़े होते है। कुछ खोने का डर मनुष्य को हमेशा पीछे धकेल देता है। यही वजह है की मेने एक चीज का अभ्यास और किया था और वो थी दिनभर के कार्यो में खुद को कैसे कण्ट्रोल किया जाए। इसके लिए मैंने कोई चैलेंज लिया तो मेने इसे कुछ चरण में विभाजित किया :-

  1. सबसे पहले तो जो कार्य हम कर रहे है वो हमारे ऊपर कैसा असर डालेगा मतलब हमारे लिए सही है या नहीं।
  2. इसके बाद इस कार्य के दौरान हमें जिस तरह के विचार घेर रहे है क्या वाकई में ऐसा कुछ होगा या हो सकता है।
  3. जब अनचाहे विचारो का हकीकत से कुछ लेना देना ही नहीं है तो फिर डर कैसा ?
  4. सबसे लास्ट में ठन्डे मन से कार्य को पूरा करने का एक विज़न जो हमारे मन में बनाया जाता है।

मन को काबू करने का आसान तरीका अगर कोई है तो वो है अनचाहे विचारो के अस्तित्व पर सवाल उठाना। जब अनचाहे विचार हकीकत के साथ कही भी नहीं टिक रहे तो डरना कैसा, क्यों इनसे परेशान हो।

पढ़े : Top 11 benefit जिसकी वजह से आपको regular meditation करना चाहिए

इंसानी शरीर को रोबोट की तरह बनाया जा सकता है :

बिलकुल क्यों की मन पर नियंत्रण कर हम सिर्फ एक कमांड के साथ ही कार्य को पूरा करने लगे तो ऐसे लगने लगता है जैसे हमारा शरीर एक रोबोट की तरह कार्य कार्य कर रहा है। 2015 में जब मै शरीर और मन को कण्ट्रोल करने के अभ्यास में लगा था तब महीने भर बाद मैने महसूस किया की में जो भी काम करता हूँ रोबोट की तरह कर रहा हूँ क्यों की अब मुझमे पहले जैसी भावनाए नहीं रही। में खुश था क्यों की अब में भी सोचता था वो सिर्फ काल्पनिक नहीं था बल्कि सच में भी कर रहा था। लेकिन उसे करने की ख़ुशी मुझे नहीं मिली क्यों की अब मुझमे सिर्फ कार्य को पूरा करने का जोश था।

  1. अवचेतन मन और कल्पना शक्ति के जादू के बिच का रहस्य
  2. अगर आप खुद में ये बदलाव महसूस करते है तो हो सकता है आप पर वशीकरण का खतरा
  3. क्या आप भी सबसे सस्ता वशीकरण उपाय देख रहे है ऐसा करने से पहले इसे जरुर पढ़ ले
  4. टोटके का सिद्धान्त और वशीकरण के 42 सरल और अचूक टोटके
  5. चौराहे और टोने टोटके से जुड़े ऐसे top 10 fact और बाते जो आपको सोचने पर मजबूर कर देगी

3 condition of thought :

आगे चलकर अभ्यास में कुछ बदलाव किये गए जिसमे कोई भी कार्य को पूरा करने के लिए सिर्फ ऊपर दी गयी तीनो कंडीशन चेक करना था। इसके बाद तो कार्य पूरा होकर रहता ही था। सच कहु तो मुझे ख़ुशी अब मिली थी क्यों की मन और शरीर को कण्ट्रोल करते करते कई बार हम उन भावनाओ को भुला देते है जो हमें सबसे ऊपर ले जा सकती है। भावनाओ को अगर सही तरह से दैनिक जीवन में लाया जा सके तो हम सबकुछ कर सकते है वो भी इंसान बने रह कर ना की एक रोबोट। मन को काबू करने का आसान तरीका अगर कोई है तो वो है सही भावनाओ का प्रयोग। आपको सिर्फ अपने लिए सही भावनाए इस्तेमाल करनी है बाकि सबकुछ law of attraction पूरा कर देगा।

दोस्तों आज की पोस्ट मन को काबू करने का आसान तरीका के बारे सिर्फ एक छोटी सी कोशिश है ये समझाने के लिए की मन को कण्ट्रोल करना है तो भावनाओ को काबू मत करो उन्हें सही तरीके से प्रयोग में लाओ फिर आप पाओगे के आपकी जिंदगी में कितना बड़ा बदलाव आया है आप भी हैरान रह जाओगे।

6 COMMENTS

  1. अवसरों को पहचाना और मन में आने वालें व्यर्थ के विचारो को रोकना एक प्रकार की कला है ।आपने बिल्कुल सही कहा विचारो और भावनाओ का दैनिक जीवन में सही से उपयोग करके कोई भी कार्य किया जा सकता है । बेहतरीन लेख कुमार जी । धन्यवाद शेयर करने के लिए ।

  2. यदि हमारा मन हमारा दिमाग हमारे कण्ट्रोल में हो तो, कुछ भी संभव है| परन्तु मन को कण्ट्रोल करने के लिए निरंतर साधना और अभ्भ्यास की जरूरत होती है| आपने निरंतर चलने वाले विचारों से कैसे निपटना है, के बारे में बहुत अच्छा आर्टिकल शेयर लिखा है| शेयर करने के लिए बहुत – बहुत धन्यवाद कुमार जी….

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.