connection between money and spirituality क्या आध्यात्म के नाम पर पैसा मांगना सही है ?

0

पिछले कुछ समय से हम देखते आ रहे है की लगभग हिन्दू धर्म गुरु किसी न किसी तरह के विवाद में घीरे रहते है. लोगो को मोह माया से दूर रहने का उपदेश देने वाले ये धर्म गुरु खुद एक विलासिता पूर्ण जीवन जीते है. आज हम money and spirituality in Hindi के बिच के कनेक्शन के बारे में बात करने वाले है. online spiritual healer जो खुद को बहुत बड़ा एक्सपर्ट मानते है लोगो से काम के बदले पैसो की डिमांड करते है तो क्या ये सही है ? क्या एक genuine spiritual healer कभी money demanding जैसा काम कर सकता है या फिर अगर वे एक सही गुरु है जो लोगो की हेल्प करते है तो उन्हें ये काम free of cost service करना चाहिए. ये सभी बाते है जो आपको इस पोस्ट में साफ तौर पर समझने की जरुरत है.

connection between money and spirituality

जब भी कोई एक्सपर्ट हमसे काम के बदले पैसो की डिमांड करता है जैसा की हर एक्सपर्ट की काम करने की अपनी एक फीस होती है तो लोगो के मन में doubt होना स्वाभाविक है की कही ये किसी तरह का online fraud baba तो नहीं जो लोगो को free of cost online service देने के नाम पर loot रहा है. हमारे मन में ये बात हमेशा रहती है की spiritual path पर चलने वाले लोगो को कभी भी पैसो की मांग नहीं करनी चाहिए. क्या ऐसा करना सही है ? free of cost लोगो की हेल्प करना और अपनी energy and time को लोगो में बाँटना क्यों की वो तो universe or god gift है ये सब वो पॉइंट है जो हमेशा से confusing रहे है.

connection between money and spirituality

आज की इस पोस्ट में हम बात करने जा रहे है money and spirituality के बिच connection के बारे में. अक्सर लोग सोचते है की जो एक्सपर्ट हमसे पैसो की डिमांड करता है वो genuine नहीं है. ऐसे लोग स्पिरिचुअल पथ पर चलने वाले नहीं हो सकते है क्यों की पैसे का लालच उन्हें spirituality से दूर करता है. किसी भी इन्सान को मिलने वाली खास healing powers उसे universe or god gift के रूप में मिलती है जो की लोगो की भलाई के लिए इस्तेमाल करनी चाहिए.

लेकिन क्या आप ये जानते है की एक genuine spiritual healer कभी भी अपने गिफ्ट के लिए चार्ज नहीं करता है. वो आपसे पैसे लेता है अपने काम के लिए दिए गए समय और उर्जा के बदले में. हम आज कही भी देख ले तो एक व्यक्ति को उसके टाइम और मेहनत के लिए भुगतान मिलना स्वाभाविक सा है. ऐसे में एक spiritual healer अगर ऐसा करता है तो उसे किसी business का नाम देना सही नहीं है. पैसा कमाना गलत बात नहीं है क्यों की ये लाइफ का एक आवश्यक हिस्सा है जो हमारी बेसिक नीड को पूरा करने के लिए बेहद जरुरी है.

is money evil?

हम सभी मानते है की पैसे का लालच नरक के रास्ते खोलता है. ये एक जरिया है जो की हमें आध्यात्म से दूर करता है. अभी तक हम ऐसा ही सोचते आ रहे है लेकिन क्या ये सच है ?

मेरा जवाब है नहीं !

पैसो का अपना कोई मूल्य नहीं है सिवाय इसके की इसके जरिये हम वस्तु खरीद सकते है. अपने आप में इसकी वैल्यू सिर्फ एक कागज का टुकड़ा है इसलिए मुझे नहीं लगता है की ये वास्तव में किसी तरह से लालच से जुड़ा हुआ है. पैसो को नरक का द्वार मानना बिलकुल वैसा ही है जैसे की एक चाकू को किसी की जान लेने की वजह मानना. चाकू अपने आप में किसी की जान नहीं ले सकता है ये हमारा behave है जो ऐसा करता है.

आप समझ गए होंगे की में क्या कहना चाहता हूँ.

पैसो का अपने आप में कोई महत्व नहीं है ये निर्भर करता है आपके सोच पर की आप इसे किस तरह देखते है. अब बात करते है की money and spirituality को लेकर हमारा sense suspicious क्यों बनता जा रहा है. यानि अगर कोई व्यक्ति पैसो को लेकर बात करता है तो क्या वो spiritual होगा ?

ये हमारा डर है जो सबसे पहले तब हमारे सामने उभर कर आता है जब कोई spiritual person हमें चार्ज के तौर पर पैसो की बात करता है. आज हम जिधर भी देखते है तरह तरह के spiritual expert हमसे काम करने के बदले पैसो की डिमांड करते है. तो क्या वो Genuine है ये सवाल आपके मन में जरुर आया होगा.

पैसो का लालच या आध्यात्म का प्यार ?

अगर कोई एक्सपर्ट आपसे काम के बदले पैसो की मांग कर रहा है तो क्या वो सही है, कही ये expert मेरे साथ किसी तरह का online scam and cheating fraud जैसा काम तो नहीं कर रहा है. उस व्यक्ति को मेरा काम करने के लिए कौनसी चीज मोटीवेट करती है पैसे का लालच या प्यार ये कुछ ऐसे सवाल है जो हमारे मन में आ जाते है.

ऐसे लोग कहने को तो spiritual light से घीरे हुए होते है लेकिन अन्दर से ये dark entity ही होते है. वो आपका इस्तेमाल करते है आपके पैसो के लिए, और जब आप पैसे नहीं दे पाते है तब वो आपको छोड़ देते है. आजकल online love vashikaran problem solution के नाम पर रोज कई लोग online fraud and scam का शिकार हो रहे है.

ऐसी जगह पर जहाँ हमें थोडा सा भी मन में डाउट होता है हम अपने हाथ पीछे खिंच लेते है लेकिन ऐसा हमेशा 100% सही नहीं होता है. आज भी हम इसका शिकार हो रहे है जिसकी वजह है लोगो का फ्री में काम करवाने का लालच. एक और जहाँ एक्सपर्ट अपने काम की फीस चार्ज करते है वही हम चाहते है की काम फ्री में हो जाए और इसका फायदा कुछ ऐसे लोग उठाते है जो शुरू में हमें free of cost service का लालच देते है लेकिन कुछ समय बाद ही पैसो की डिमांड करने लगते है.

आपको समझना होगा की एक समझदारी भरी सावधानी और पूरी तरह नकार देने में फर्क होता है. आइये जानते है इसके बारे में .

is it okay to charge money for spiritual service ?

मेरा जवाब है निर्भर करता है. अगर spiritual service देने का हमारा motivation सिर्फ और सिर्फ पैसा है यानि बहुत कम समय में धनवान और समृद्ध बन जाना दोबारा सोचे. लोग इतने बेवकूफ नहीं है की वो ये सब जानते हुए भी आपसे काम करवाएंगे. में अपनी पिछली पोस्ट में एक ऐसे व्यक्ति के बारे में शेयर कर चूका हूँ जो पैसो के लिए temporary relief from paranormal problem जैसा काम करता था ताकि एक समय निकल जाने के बाद वही व्यक्ति दोबारा उसे ही काम के लिए याद करे और वो उसकी मोटी फीस ले सके.

इसलिए सिर्फ पैसे कमाने के लिए आध्यात्म का रास्ता चुनना गलत बात है ये न सिर्फ आपके spiritual life को affect करता है बल्कि आसपास के सभी aspect को भी कमजोर करता जाता है जो आपकी life के अहम् हिस्से है.

इसी चीज को दुसरे तरीके से ले जैसे की आप spiritual service लोगो को इसलिए दे रहे है क्यों की आपको ये god gift लगता है और आपको ऐसा करने से ख़ुशी मिलती है तो आप शौक से इसके लिए लोगो से चार्ज ले सकते है. पैसो के लिए काम काम करना और काम करना क्यों की पैसे भी मिल सके अलग अलग aspect है.

क्या पैसे लेकर काम करने वाले एक्सपर्ट जेन्युइन होंगे ?

हम अक्सर लोगो से सुनते है की अगर spiritual expert genuine है तो service को Free of cost रखे क्यों की आध्यात्म में पैसो का कोई महत्व नहीं है. सही है लेकिन क्या आप ये साबित कर सकते है की जो service आप ले रहे है उसके लिए सही हक़दार है ? आमतौर पर लोगो में 100 में से 5 को ही इसकी जरुरत होगी बाकि सब अपने स्वार्थ की पूर्ति हेतु इसका प्रयोग करना चाहते है.

एक व्यक्ति जो अपना time और energy दोनों को spirituality के नाम पर लोगो के काम के लिए फ्री में दे ये सही नहीं है. आप किसी के लिए फ्री में क्या कर सकते है ? क्या आप अपना time और energy ऐसी जगह लगायेंगे जहाँ पर आपको return में कुछ न मिले. अगर कोई एक्सपर्ट ऐसा करता है तो वो अपनी spirituality आपको फ्री में दे रहा है लेकिन जो चार्ज वो आपसे ले रहा है वो उसके time और energy का है. यही वजह है की में इसे गलत नहीं मानता हूँ अगर वो एक genuine expert है.

money and spirituality इसके पक्ष और विपक्ष के कुछ तर्क

निचे कुछ ऐसे common arguments against money and spirituality शेयर किये जा रहे है जो लोगो द्वारा अक्सर सुने जाते है इसलिए में अपने response को उसके लिए यहाँ शेयर कर रहा हूँ. आप इसे समझे और एक बार फिर सोचे

Argument 1 : अगर तुम एक आध्यात्मिक हो तो तुम्हे पैसो की डिमांड नहीं करनी चाहिए जो लोग ऐसा करते है वो लालची और स्वार्थी होते है.

Response : एक लम्बे समय से हम लोगो को help करने के उदेश्य से spiritual पथ का चुनाव करते है. पैसा कमाना बुरी बात नहीं है क्यों की ये पैसा किसी वजह से लिया जाता है. हो सकता है की जो पैसा वो आपसे चार्ज कर रहे है उसका इस्तेमाल वो परिवार के भरण पोषण के लिए कर रहे हो, खुद की नॉलेज में विस्तार करने के लिए ताकि कुछ नया सीख सके, या फिर अपनी लाइफ को आगे चलाने के लिए वो आपसे चार्ज ले रहे है.

एक बार फिर से क्लियर करना चाहूँगा की पैसा इसलिए नहीं लिया जाता है क्यों की एक्सपर्ट spiritual बल्कि इसलिए लिए जाता है क्यों की वो अपना time और energy आपके काम की पूर्ति के लिए खर्च कर रहे है. ऐसे में काम के बदले पैसो की डिमांड करना कोई गलत काम नहीं है.

Argument 2 : आपको उस गिफ्ट के लिए कभी पैसा नहीं मांगना चाहिए जो आपको यूनिवर्स से फ्री में मिला है ?

Response : क्या वाकई फ्री से आपका क्या मतलब है ? अगर यूनिवर्स से फ्री में मिला है तो आपको क्यों नहीं मिला. खैर इसका कोई सही लॉजिक नहीं है. ये गिफ्ट हर किसी को नहीं मिलता है. हर कोई special बनना चाहता है लेकिन जिम्मेदारी कोई नहीं लेना चाहता है न ही खतरे को accept करना. एक example के लिए

मान लीजिये आपको किसी तरह की paranormal problem है और आप खुद के स्तर पर काफी try कर चुके है लेकिन solution नहीं निकाल पाए है. आप किसी एक्सपर्ट की मदद लेते है और वो आपकी help करते है इस स्थिति से बाहर निकलने में. जब बात आती है पैसो की तो आप कहते है की भाई किस बात के पैसे ? तुम्हे ये यूनिवर्स मिली शक्ति है इसका इस्तेमाल लोगो की मदद के लिए करो.

आप ये सब कह देते है लेकिन क्या आप जानते है की जिस प्रॉब्लम से आप गुजर रहे थे वो क्या करेगी ? वो अब उस एक्सपर्ट को परेशान करेगी जिसने आपकी help की. हालाँकि इससे छुटकारा आपको मिल चूका है लेकिन इसका permanent solution करना हर किसी एक्सपर्ट के बस की बात नहीं.

आपकी प्रॉब्लम को अपने सर लेने वाला व्यक्ति अगर आपसे पैसो की डिमांड करे तो क्या वो गलत है खुद सोचे. Money and spirituality के बिच यह connection समझने की जरुरत है.

Argument 3 : spirituality का मतलब है personal sacrifices न की personal profit

Response : spirituality का मतलब sacrifices जरुर है लेकिन पूरी तरह से नहीं इसके अलावा इसका दूसरा पहलु personal fulfillment भी है. आप लोगो की मदद करते हुए अपने message को लोगो तक पहुंचाते है जिसके लिए पैसा एक महत्वपूर्ण रोल प्ले करता है ये लाइफ को आगे ले जाने में मदद करता है लेकिन इस पर निर्भर रहना जरुरी नहीं है.

Argument 4 : जब भी आप आध्यात्म में पैसो को ले आते है आप spiritual नहीं रह जाते है क्यों की अब आपका मोटिवेशन पैसा बन चूका है

Response : सिर्फ इस वजह से की आपके पास spiritual business है जो की एक अच्छा खासा प्रॉफिट कमा रहा है आप खुद को spirituality से दूर कैसे मान सकते है. आप अमीर बन रहे है लेकिन अपनी आध्यात्मिकता से जुड़े हुए है तो पैसा आपके और आध्यात्म के बिच नही आ रहा है. एक you-tube channel है जिसके अनुसार प्रदीप जी साधना सिखाने के लिए पैसे लेते है तो क्या वे लालची हो गए है ?

नहीं वो पैसे ले रहे है ताकि अपने spiritual message को वो दूर दूर तक लोगो में फैला सके. पैसा आध्यात्म के सन्देश को लोगो के बिच फैलाने के एक जरिया बना है न की अपने स्वार्थ की पूर्ति.

कुछ और कारण भी है पैसो की आध्यात्म में आवश्यकता के

इसके अलावा भी ऐसे कई सारे कारण है जिनकी वजह से मेरा मानना है की Money and spirituality दोनों के बिच एक coexist स्थापित किया जा सकता है यानि दोनों में तालमेल बनाया जा सकता है.

  1. पैसे के जरिये एक spiritual person अपने सन्देश को लोगो के बिच फैला सकता है जैसे की websites, books, videos, and workshops इन सबके लिए पैसो की जरुरत पड़ती है.
  2. पैसा आपको अपनी लाइफ को अपने तरीके से जीने के लिए साधन उपलब्ध करवाता है. ये एक आवश्यक हिस्सा है अनिवार्य नहीं.
  3. पैसे से एक और जहाँ आप अपने सुविधा के लिए खर्च कर सकते है वही दूसरी ओर आप दुसरो की मदद भी कर सकते है.
  4. इसे आप उर्जा के ट्रान्सफर के लिए किया गया खर्च समझ सकते है. लोग कुछ पैसा खर्च करते है ताकि वो किसी दुसरे व्यक्ति की उर्जा को ग्रहण कर सके.
  5. किसी भी सर्विस के लिए पैसा लेना ये निर्धारित करता है की जो काम आप कर रहे है उससे आपको respect मिली है. आपने जो किया है उसके बदले में आपको payment हुआ है इसलिए आप इसे अच्छे से जिम्मेदारी के साथ कर सकते है.
  6. पैसा लेना ये शो करता है की जो energy और time आपने लोगो को दिया है उसका वो सही इस्तेमाल करेंगे बनाना. एक basic psychology के अनुसार जिन लोगो को फ्री में help मिलती है वो उसकी कद्र नहीं करते है बजाय उन लोगो के जिन्हें काम के बदले कुछ पैसे खर्च करने पड़े हो. वो जानते है की इसका इस्तेमाल वो कुछ और ज्यादा बनाने में कर सकते है इसलिए वो एक्सपर्ट को पे कर रहे है.

तो क्या में इस बात के पक्ष में हूँ की लोगो को प्रीमियम सर्विस ही देनी चाहिए ? नहीं क्यों की हर कोई अमीर नहीं होता है ना ही सभी लोग इस तरह की सर्विस को afford कर सकते है. मेरा मानना है की एक एक्सपर्ट को अपने business को heart-centered spiritual businesses बनाना चाहिए और लोगो को दोनों तरह के कंटेंट जैसे की Free and paid service देनी चाहिए.

एक spiritual expert के लिए काम कुछ इस तरह का होना चाहिए की ना तो वो अपना पूरा time and energy लोगो को फ्री में ऑफर करे और न ही कम time में बहुत ज्यादा पैसो की डिमांड करता हुआ अमीर बन जाए. हमें बिच का रास्ता अपनाना चाहिए जहाँ हम खुद की respect के लिए लोगो से सर्विस के बदले पैसे चार्ज करे. जो afford न कर सके उनकी मदद करे और पैसो का प्रयोग अपने आध्यात्म को आगे फैलाने में करे न की अपनी जेब भरने के लिए.

ज्यादा दूर न जाते हुए अगर हम अपनी बात करे तो आज इस ब्लॉग को बने लगभग 3 साल होने को है. अगर हमें इस ब्लॉग पर लगाए Google advertisement से पैसे न मिलते तो शायद ही हम इतना आगे तक इस ब्लॉग को ले जा पाते क्यों की एक ब्लॉग को चलाने, समय देने के लिए पैसे की जरुरत होती है. ब्लॉग पर कमाई का जरिया कुछ Free and paid content है जैसे की किताबे यहाँ आपको फ्री में और कुछ प्रीमियम किताबे मिल रही है जिन्हें मेहनत से तैयार किया गया है.

इनकी राशि बस इतनी है की कोई भी afford कर सकता है एक student भी. इसलिए ये ब्लॉग heart-centered business है.

What about Money, Spirituality, and Manifesting?

ये एक ऐसा टॉपिक है जिसका जिक्र कही न कही हर बार spiritual community में आ ही जाता है. इसका सीधा सा मतलब है खुद के लिए किसी चीज को प्रकट करना. अगर आप किसी चीज के बारे में सिद्दत से सोचते है की वो आपको मिले तो Law of attraction के मुताबिक एक न एक दिन वो आपको जरुर मिलती है. हम फोकस होकर जिस बारे में सोचते है उसे ही अपनी ओर attract करने लगते है.

इस आर्टिकल में अब तक Money and spirituality और पैसे के आध्यात्म से कनेक्शन के बारे में आप जान चूके है. एक सवाल और है जो सबसे ज्यादा मन में आता है की क्या Law of attraction के जरिये पैसो के बारे में सोचना और उसे attract करना सही है ? आइये इस बारे में और जान लेते है.

पैसा हमारी लाइफ के लिए आवश्यक part है क्यों की ये हमें बिल भरने, किसी सर्विस या एन्जॉय के लिए पे करने, एक जगह से दूसरी जगह जाने और बेसिक जरूरत को पूरा करने के लिए काम आता है. अगर आपको इसकी जरुरत है तो यूनिवर्स से इसके बारे में पूछने और law of attraction का प्रयोग करते हुए पैसो को अपनी ओर आकर्षित करने में कोई बुराई नहीं है.

लेकिन आपको ये भी जान लेना चाहिए की जरुरत के हिसाब से मांगने में और एक लम्बी लिस्ट देने में काफी फर्क है.

कामना पूर्ति और बढ़ता लालच दोनों अलग चीजे है

तिब्बत के एक गुरु ने इसके बारे में एक theory दी है और उन्होंने इसे समझने की कोशिश की है. उनके अनुसार अगर आप यूनिवर्स से अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए कुछ मांगते है तो वो बुरा नहीं है. लेकिन दूसरी और अपने पर्स को संतुष्ट करने और अपने मन की अधूरी इच्छाए पूर्ति के लिए बार बार इसके लिए यूनिवर्स को कहना गलत है.

हम बार बार पैसो की और देखते है ताकि और ज्यादा अमीर बन जाए ये गलत है और ये आपके लिए आकर्षण के सिद्धांत में काफी सारी मुसीबते खड़ी कर देता है.

“अगर आप और ज्यादा पैसो की इच्छा रखते है तो इसमें कुछ भी गलत नहीं है अपने लिए सही माध्यम की तलाश करे और इच्छा की पूर्ति करे. लेकिन अगर आप सोचते है की ये सब करना आपकी हर इच्छा को पूरा करता है तो आप इच्छाओ के भंवर में ही फंसे हुए है. हम और ज्यादा कामना रखते है और फिर उसकी पूर्ति के लिए आकर्षण के सिद्धांत का सहारा लेते है जो की गलत नहीं है लेकिन जब आपके पास सबकुछ हो और आप उसे एन्जॉय करने की बजाय कोई उसे आपसे छीन न ले ये सोच कर परेशान रहने लगे तो आपको उससे बाहर निकलने की जरुरत है. आप चीजो को एन्जॉय करने की बजाय अपना समय उन्हें बनाए रखने में waste करना शुरू कर देते है. इससे बचे.”

अपनी मदद के लिए यूनिवर्स की मदद ले लेकिन खुद को और ज्यादा उसी कंडीशन में बनाये रखने के लिए ऐसा न करे क्यों की पैसा आपको किसी स्थिति से बाहर निकाल तो सकता है लेकिन हमेशा एक स्थिति में नहीं रख सकता है.

Money and Spirituality – It’s all About the Intention

ऊपर दिए गए सारे तथ्य और तर्क इस बात की और इशारा करते है की money and spirituality में एक तालमेल स्थापित किया जा सकता है. आपके पास पैसा है ताकि आप दुसरे लोगो तक पहुँच सके न की एक ही स्थिति में बने रह सके. पैसा हमें एक respectful life जीने के लिए प्रोत्साहित करता है ताकि हम अपनी उर्जा को किसी सही जगह ट्रान्सफर कर सके.

पैसा अपने आप में किसी तरह का लालच नहीं है न ही किसी तरह की बाधा ये सब हमारी सोच है जो हमें सही और गलत रास्ते पर ले जाती है. अगर आप maintain a healthy relationship with money in your spiritual practice चाहते है तो आपको कुछ चीजो पर ध्यान देना होगा जैसे की

  1. अपने मोटिवेशन के प्रति चेतन रहना.
  2. हमेशा अपने वैल्यू और संस्कार के प्रति अलाइन रहना और balanced रहते हुए आगे बढ़ना.
  3. खुद को सौम्य और पारदर्शी बनाए न की किसी तरह आडम्बर रचे.
  4. हमेशा उसके लिए कृतज्ञ रहे जो आपको इस यूनिवर्स से मिला है.

उम्मीद करता हूँ money and spirituality को लेकर आपके मन में जो भी डाउट थे वो सभी इस आर्टिकल को पढने के बाद साफ हो गए होंगे. आपको ये आर्टिकल कैसा लगा और आप क्या कहते है हमें कमेंट कर बताना न भूले.

Never miss an update subscribe us

* indicates required

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here