How to perform Candle Magic ritual these 3 powerful effect can change your life in Hindi

0
59

Spell casting कई अलग अलग तरीको से किया जा सकता है. Candle Magic को तंत्र मंत्र के सबसे आसान टाइप में से एक माना जाता है. इसकी सबसे बड़ी वजह ritual or ceremonial tools का इसमें ना के बराबर इस्तेमाल है जो की दूसरी कई विधियों में प्राथमिक हिस्सा रहता है. हर साल जन्मदिन पर हम कैंडल जलाते है और विश मांगते है ठीक वैसे ही ये काम करता है.

दरअसल ये Spiritual practice का एक हिस्सा है जिसमे हम खुद को Universal energy से जोड़ते है. हम पहले ही तंत्र क्रिया में कई जगह इसके जादू के बारे में पढ़ चुके है. आज हम कुछ कैंडल मैजिक के बेसिक को समझने की कोशिश करेंगे और हर कलर के साथ किस तरह इमोशन का इस्तेमाल होता है इसके बारे में जानेंगे.

Candle Magic ritual

कैंडल magic में हर कलर की एक अलग पहचान होती है और अलग अलग ritual में Particular emotion and color of candle का इस्तेमाल होता है. ऐसा माना जाता है की कलर का इसमें गहरा प्रभाव पड़ता है और हम जल्दी ही अपने intention को universe से जोड़ कर पूरा कर सकते है.

कैंडल मैजिक में आपको किसी सामग्री की जरुरत नहीं होती है और इसका सबसे ज्यादा इस्तेमाल love spell casting में होता है.

यहाँ पर अगर आप इसे किसी तरह का magic समझ रहे है तो आपको बता दे की हमारा Subconscious mind बेहद strong होता है और सही तरह से किया गया कमांड मनचाहे काम के लिए इसे तैयार कर सकता है.

मार्किट में कई तरह की कैंडल मिलती है ऐसे में सही कैंडल का चुनाव कैसे किया जाए ये जान लेना बेहद महत्वपूर्ण है. आइये ऐसे ही बेसिक सवालों का जवाब जानते है इस पोस्ट में.

What is candle magic?

सबसे पहले तो हम जान लेते है की कैंडल magic वास्तव में होता क्या है. ये हमारे अवचेतन मन की शक्तियों को समझने और उन्हें निखारने का एक जरिया है. जो काम हम normal अवस्था में नहीं कर पाते है उन्हें हम Trance like state में करते है. ऐसा माना जाता है की ये वो अवस्था है जहाँ से आपका अवचेतन मन फ्री होना शुरू होता है और इसकी क्षमता unlock होना शुरू होती है.

How to manifest anything की हमारी पोस्ट में हम इस बारे में डिटेल से बात कर चुके है. ये जान लीजिये की कैंडल सिर्फ एक जरिया है आपको इस ब्रह्माण्ड की अनंत उर्जा से जोड़ने का.

आप क्या मांग रहे है और किस से मांग रहे है ये समझ ले तो आपके लिए कुछ भी हासिल करना संभव बन जाता है. बात करे Candle Magic की तो इसके लिए आपको इसके बेसिक 3 स्टेप के बारे में मालूम होना बेहद जरुरी है.

  1. आपका उदेश्य क्या है यानि आप वास्तव में क्या चाहते है.
  2. आपकी कल्पना शक्ति जो इस पूरी ritual के अंतिम परिणाम को visualize कर सके.
  3. आपका पूरा फोकस अपने intent or will पर होना चाहिए ताकि अंतिम परिणाम हासिल किया जा सके.

इन स्टेप को फॉलो करते हुए कैंडल मैजिक को पूरा किया जाता है और अपने विश को पूरा किया जाता है.

How long does candle magic take to work?

ये काफी आसान सी साधना है लेकिन, इसका रिजल्ट हमें कब तक मिल जाता है या फिर इसे कब तक करना पड़ता है जैसे सवाल भी मन में जरुर आते है. इनके समाधान के लिए हम 2 सवालों का जवाब जान लेते है जिसमे पहला है

हमें कब तक इस क्रिया को दोहराना पड़ता है ?

आमतौर पर अगर आप मैडिटेशन का अभ्यास नहीं करते है या फिर खुद को trance like state में बनाए नहीं रख पा रहे है तो कम से कम 21 दिन आपको इसमें लग सकते है. सबसे महत्वपूर्ण है की आप खुद को एक स्टेबल स्टेट में रखे इस लिए इस क्रिया को 2-3 हफ्ते तक निरंतर करते रहना चाहिए.

Candle Magic के परिणाम कब तक दिखने शुरू हो जाते है?


जितना ज्यादा strong आपका will power होगा उतना ही जल्दी आपको इसके परिणाम देखने को मिलने लगते है. आमतौर पर हमें खुद को साधने में ही 2 हफ्ते तक का वक़्त लग जाता है. जो लोग ध्यान या त्राटक का अभ्यास करते है उन्हें इसमें 10 दिन के बाद कभी भी परिणाम मिलने शुरू हो जाते है.

इस साधना का एक किस्सा में आपके साथ शेयर करूँगा जो बेहद साधारण सी क्रिया थी. एक सज्जन अपने पत्नी के आदत से बेहद परेशान थे. पत्नी अपने से कम उम्र के लड़के के साथ बाते करती थी जो सही नहीं था. सज्जन अपने पत्नी को समझा कर थक चुके थे लेकिन पत्नी उन्हें ये कह कर चुप करवा देती थी की ये उनकी उम्र है वो चाहे तो खुद ये सब कर सकते है.

सज्जन ने ध्यान का अभ्यास किया हुआ था और उन्होंने Candle Magic के benefit सुनने के बाद इसका प्रयोग करना शुरू कर दिया. सिर्फ 10 दिन बाद ही उनकी पत्नी खुद माफ़ी मांगते हुए उनके पास आई और लड़के से बात करना बंद कर दिया. उनका कहना था की उनके दिमाग में हर पल एक ही बात घूमती थी की वे गलत कर रही है.

आप चाहे तो आप भी इसके फायदे उठा सकते है.

Read : How to Do vashikaran by Candle tratak simple but effective Guide in Hindi

How to do candle magic

जैसा की हम ऊपर बता चुके है इस क्रिया के लिए 3 बेसिक चीजो को समझना बेहद जरुरी है. अगर आप इन्हें समझे बगैर अभ्यास करते है तो आपको सफलता पाने में मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है.

Candle Magic ritual को perform करने से पहले आपको शुरुआती तयारी कर लेनी चाहिए ताकि अभ्यास के दौरान आपका मनोबल कमजोर नहीं हो और आप आसानी से इसमें आगे बढ़ सके. आइये जानते है की साधना की शुरुआत कैसे की जाए ताकि 100% effective result हासिल किया जा सके.

Choosing a Candle

कैंडल मैजिक के लिए सही कैंडल का चुनाव करना बेहद जरुरी है. आपकी साधना के अनुसार आपको उसी साइज़ की कैंडल का चुनाव करना चाहिए. ज्यादातर इस्तेमाल होने वाली कैंडल का साइज़ लगभग 4 इंच के आसपास होता है जो एक साधना काल में सबसे ज्यादा इस्तेमाल की जाती है और आपको आसानी से किसी दुकान में मिल जाएगी.

जो कैंडल आप इस्तेमाल कर रहे है उसे दोबारा इस्तेमाल ना करे. अगर आप आज एक कैंडल का इस्तेमाल कर रहे है तो कल उसका इस्तेमाल ना करे.

इस बात का ध्यान रखे की एक बार कैंडल जलने के बाद अपने आसपास की जगह से उर्जा को absorb करना शुरू कर देती है. ऐसी स्थिति में Candle Magic में एक बार इस्तेमाल हो चुकी कैंडल को दोबारा इस्तेमाल करना आपकी साधना में खलल डाल सकता है.

किसी भी कैंडल को इस्तेमाल से पहले cleanse कर लेना चाहिए.

Read : 7 Different types of spirit guides in Hindi जानिए कौनसी आत्मा आपकी रक्षा करती है

किस कलर की कैंडल के साथ कौनसी भावना जुड़ी होती है

हम पहले की पोस्ट में Color therapy के बारे में पढ़ चुके है. अलग अलग कलर का aura energy field या फिर कलर का उन पर क्या प्रभाव पड़ता है ये सब हम पढ़ चुके है. अगर आप जानना चाहते है की किस कलर का चुनाव हमें इस दौरान करना चाहिए तो अलग अलग कलर का अलग अलग magical purposes जान ले जो की साधना काल में बेहद जरुरी है.

  1. लाल कलर : लाल रंग आपके सहस, प्यार और किसी को हासिल करने की इच्छा को दर्शाता है. ज्यादातर Love spell में लाल रंग की कैंडल का इस्तेमाल किया जाता है.
  2. पिंक कलर : प्यार और उसे मजबूत करने का प्रतीक है.
  3. ऑरेंज कलर : Attraction and encouragement
  4. सुनहला कलर : समृद्धि से जुड़ा है.
  5. पिला कलर : सुरक्षा का प्रतीक है
  6. ग्रीन कलर : Financial gain, abundance, and fertility
  7. ब्लू कलर : स्वास्थ्य, तनाव से दूर निकलने में सहायक है क्यों की ये आत्म विश्वास का प्रतिक है.
  8. Purple color : Ambition and power
  9. Brown color : इसे हम साहस से जोड़ते है ऐसा माना जाता है की इंसानी डार्क साइड को reveal करता है
  10. ब्लैक कलर : Negativity and banishment
  11. सफ़ेद कलर : ये Purity and truth को दर्शाता है
  12. सिल्वर कलर : ये हमारे reflection, intuition, lunar connection को दर्शाता है.

ये सभी कलर अलग अलग इमोशन से जुड़े है. आपका जो उदेश्य है आप खुद को उससे जोड़ सकते है.

साधना में कैंडल का इस्तेमाल कैसे किया जाता है?

साधारण सी कैंडल को सबसे पहले एक Psychic link के जरिये हम अपनी उर्जा से लिंक करते है. अब आप जानते है की आपका उदेश्य क्या है तो उस कलर की कैंडल का चुनाव करे. Candle Magic की साधना को निम्न तरह से पूरा किया जाता है.

  • सबसे पहले कैंडल को किसी Aroma oil से युक्त कर ले ताकि इसकी cleansing हो जाए साथ ही आप खुद को इसके साथ connect कर सके.
  • खुद की energy and personal vibrations को कैंडल से जोड़ना बेहद जरुरी है. जलती हुई कैंडल को चार्ज करने की process ही सबसे main होती है.
  • कैंडल पर तेल की परत को ऊपर से निचे तक चढाने के बाद आप कल्पना करे की आपका जो उदेश्य है उसे कितने तरीको से पूरा किया जा सकता है.
  • अपने उदेश्य को पूरा करते हुए इस कैंडल को जला ले और जलते हुए कैंडल पर पूरा फोकस रखे. अपने मन में वही सब सोचे जो आप चाहते है आपके दिमाग में सब कुछ क्लियर होना चाहिए जैसे की आप क्या manifest कर रहे है और उसे पूरा किस तरह करने वाले है.
  • धीरे धीरे जब कैंडल पूरी तरह जल जाए तब साधना को बंद करे.

अगर आप लम्बे समय तक साधना में बैठ नहीं पा रहे है तो कम से कम 30-45 minute तक जलने वाली कैंडल का चुनाव करे. अगर ऐसा संभव नहीं है तो Candle Magic में पहले दिन काम में ली गई कैंडल को दूसरे दिन इस्तेमाल ना करे.

common benefit of candle magic and its effect

साधना से जुडी हर बात को जानने के बाद अब हम जान लेते है की इस साधना में ऐसा क्या खास है जो इसे दूसरो से अलग बनाता है.

  • ये साधना बेहद आसान है और इसमें दूसरी साधनाओ की तरह क्रिया सामग्री की जरूरत नहीं पड़ती है.
  • साधना को आप अपने हर तरह के उदेश्य की पूर्ति के लिए कर सकते है. आपको सिर्फ अपने इमोशन और कैंडल के कलर का चुनाव करना पड़ता है.
  • ये साधना ज्यादातर lost love back, love spell casting or desired love in life के उदेश्य से की जाती है.
  • ये तरीका पूरी तरह से वैज्ञानिक है और आपके belief system पर जुड़ा हुआ है.
  • आपका अपने अवचेतन मन पर कण्ट्रोल स्थापित होता है.

इसका आपके लाइफ में काफी अच्छा प्रभाव पड़ता है और आपका मस्तिष्क अब काफी स्टेबल रहते हुए काम करना शुरू कर देता है जिसकी वजह से बेहतर परिणाम हासिल करने में मदद मिलती है.

Never miss an update subscribe us

* indicates required
Previous article7 Different types of spirit guides in Hindi जानिए कौनसी आत्मा आपकी रक्षा करती है
Next article3 way sixth sense और Intuition आपके मन की अनंत क्षमता को और भी ज्यादा strong कैसे बनाए ?
Nobody is perfect in this world but we can try to improve our knowledge and use it for others. welcome to my blog and learn new skill about personal | psychic | spiritual development. our team always ready to help you here. You can follow me on below platform

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here