Automatic writing क्या वाकई हम आत्माओ के मेसेज प्राप्त करते है या कोई छलावा है ?

3

आज के ज़माने में भी connecting with soul के कई तरीके है जिनके प्रयोग से हम आत्माओ से बात कर छिपे हुए रहस्यों को जानते है. अपने spirit guide or soul से जुड़ने के लिए आसान मगर प्रभावी तरीका अगर कोई है तो वो Auto writing है. ये एक best techniques है. जिन लोगो ने अभी अभी अपनी spiritual Journey शुरू की है उनके लिए Automatic writing process आसान practice है.

ये एक खास अभ्यास है जिसे medium अपने trance-like state में पेपर पर पेन के जरिये उन मेसेज को लिखते है जो उन्हें अपने Spiritual Guide से मिलते है. ये खास मेसेज उन्हें conscious awareness से बाहर मिलते है जिन पर उनका कोई कण्ट्रोल नहीं होता है. Psychologists and spiritualists दोनों के इस प्रोसेस को लेकर अलग अलग मत है. एक और जहाँ Psychologists ये मानते है की ये हमारे unconscious mind के जरिये मिलने वाले मेसेज है वही दूसरी ओर spiritualists इसे supernatural and paranormal powers के साथ connection जोड़कर देखते है.Auto Writingसे sachhiprerna का मानना है की Automatic writing process पूरी तरह conscious mind or trance-like state के जरिये की जाती है जो की आगे चलकर हमारे higher self से जुड़ जाती है. हम पहले भी spiritual guide के ऊपर लिख चुके है इसलिए इस पोस्ट में सिर्फ इस प्रोसेस को लेकर बात करने वाले है.

ऐसा माना जाता है की spiritual guide से जुड़ने का ये एक ऐसा अभ्यास है जो बेहद आसान तो है ही साथ ही spiritual knowledge हासिल करने में भी मदद करता है.

what is auto writing

Automatic writing को आज भी old form of divination यानि एक तरह की आध्यात्मिक विधि के रूप में माना जाता है. ऐसा माना जाता है की ये विधि हमारे आसपास से मेसेज को कलेक्ट करती है और पेपर पर उन्हें लिखा जाता है. ये हमारे subconscious mind की एक खास state में जाने की प्रक्रिया है जो की form of medium-ship की तरह काम करती है.

हमारे आसपास की रहस्यमयी शक्तियां हमें कुछ न कुछ मेसेज देने की कोशिश करती है. ऐसे लोग जिनके अन्दर psychic ability होती है इन्हें sense कर सकते है. इन खास क्षमता के साथ सिर्फ कुछ लोग ही इनसे कांटेक्ट कर पाते है.

ये प्रक्रिया वैज्ञानिक और आध्यात्मिक दोनों तरीके से सिद्ध की जा चुकी है. रिसर्च करने वाले एक्सपर्ट का कहना है की ये हमारे अवचेतन मन की एक अवस्था है जिसमे हम वो महसूस करते है जिसे सामान्य स्थिति में नहीं कर पाते है. इस अवस्था में चेतना काम नहीं करती है इसलिए इस दौरान जो भी हम महसूस करते है उसे एक मेसेज की तरह पेपर पर नोट करते है. Auto writing में एक पेन और एक पेपर के साथ साथ एकांत में कुछ समय का होना जरुरी है.

How to Practice Automatic Writing

इस प्रक्रिया के दौरान मीडियम का मस्तिष्क शांत और किसी भी तरह के तनाव से दूर होना चाहिए. अभ्यास करने वाले माध्यम के दिमाग में किसी तरह के तनाव की कोई स्थिति नहीं होनी चाहिए. ये एक मानसिक अभ्यास है जिसके लिए आपको खुद पर विश्वास होना चाहिए.

सम्मोहन की अवस्था में अवचेतन मन जाग्रत हो जाता है जिसकी वजह से हम उन मेसेज को प्राप्त करते है जो की universal message की तरह होता है. कुछ लोगो का ये भी मानना है की ये अभ्यास हमें supernatural power से जोड़ता है. ये अभ्यास psychic है या फिर किसी तरह की वैज्ञानिक प्रक्रिया आइये जानते है इसके बारे डिटेल से.

Automatic Writing Procedure

इस विधि के बारे में हम पहले भी बात कर चुके है. top 5 method to talk with spirit में से एक ये आसान माना जाता है लेकिन भरोसेमंद नहीं. माध्यम अपने दिमाग की रची बाते भी लिख सकता है ये एक ऐसा तर्क है जो इस पर सवाल खड़ा करता है. आइये जानते है की इसका अभ्यास कैसे किया जाए.

  • सबसे पहली स्टेप है किसी भी एकांत वाली जगह का चुनाव करना जहाँ कोई आपको अभ्यास के दौरान डिस्टर्ब न कर सके.
  • एक टेबल और कुर्सी को सेट करे. पेपर और पेन या पेंसिल ले.
  • शांत बैठे और खुद को comfort sit के साथ relax कर ले ताकि आप mind को पूरी तरह clear कर सके.
  • हाथ में पेन ले और पेपर पर लिखने की कोशिश करे.
  • कोशिश ये करे की लिखते समय आप चेतना में रहे. अगर लिखते समय आप तर्क कर रहे है तो थोडा रुके.
  • उपयुक्त अवस्था वही है जब आप अपने होश में नहीं रहते है और जो भी आपके दिमाग में उभरता है आप उसे बिना तर्क के लिखते जाते है.
  • लिखते समय आँखे बंद रखे और जो भी आपके दिमाग में उभरता है उसे लिखते रहे.
  • ये अभ्यास आसान नहीं है इसलिए संयम रखे और अभ्यास को समय दे.
  • clairvoyant experience की तरह आपको जो भी संकेत और पिक्चर दिखे उन्हें समझने की कोशिश करे.
  • हमेशा अभ्यास करते रहिये क्यों की शुरू में आपकी consciousness आपको रोकती है.
  • एक बार अभ्यास सफल होना शुरू हो जाए तो आप खुद से सवाल पूछते हुए उसके response में Auto Writing का अभ्यास जारी रख सकते है.

अभ्यास सरल जरुर है मगर गारंटी नहीं

इस अभ्यास को करते समय ध्यान दे की ये अभ्यास इतना भी आसान नही है जितना आप सोचते है. हमारा conscious mind हमें कुछ भी ऐसा देखने से रोकता है जिसका संबध हमारे चेतन मन से नहीं होता है. जिन लोगो में Psychic ability होती है वे इसका अभ्यास करते हुए सफलता भी हासिल करते है लेकिन उसमे भी टाइम लगता है.

इस अभ्यास को विश्वसनीय नहीं माना जाता है जिसकी वजह है इसमें माध्यम का कण्ट्रोल होना. हमें लगता है की Medium की Powers और paranormal activity दोनों ही Auto Writing के लिए जिम्मेदार है. कई बार ऐसा भी होता है की माध्यम अपने होश में रहते हुए इस प्रोसेस को पूरा करता है. जिसकी वजह से वो परिणाम में अपने मन के मुताबिक फेर बदल कर सकता है.

आपको किसी भी तरह के psychological dangers के प्रति सचेत रहना चाहिए. कुछ मेसेज जो दिमाग में आते है वो आपको मेंटली डिस्टर्ब कर सकते है. अगर आप इसके लिए मानसिक रूप से तैयार नहीं है तो बेहतर होगा की अभ्यास ना करे.

Automatic writing and modern technique

कुछ लोग मानते है की समय के साथ तकनीक में बदलाव आते रहते है. आत्माओ से बात करने के काफी सारे तरीके है जिनमे Modern technology का इस्तेमाल होता है जैसे की Camera, Video recorder या फिर अन्य किसी तरह की Ghost investigation tools का प्रयोग हम आत्माओ से बात करने में करते है.

आप चाहे तो ये अभ्यास कंप्यूटर या फिर मोबाइल पर भी कर सकते है. इसके लिए आपको अपने Conscious mind को सुप्त कर खुद को unconscious state में ले जाना होगा. जिस तरह सम्मोहन में हम माध्यम को Hypnotize कर उसके unconscious mind के जरिये छिपी हुई बातो को जानते है उसी तरह ये अभ्यास होता है.

कैसे पता करे की ये वाकई काम कर रहा है या नहीं

अभ्यास सही तरीके से आगे चल रहा है या नहीं इसका पता करने के लिए सबसे बढ़िया तरीका है अपनी हरकतों और मूव के बारे में गौर करे. क्या आप Auto Writing के दौरान inner spaciousness ( अन्दर से आवाज आना ), lightness (खुद में हल्कापन ), and other good “vibes”? Or heavy ( भारीपन ), emotionally-charged ( अचानक ही खुद को भावनात्मक रूप से बदला हुआ महसूस करना ) जैसे बदलाव महसूस करते है ? ये सब अनुभव तब होते है जब हम खुद को No mind state यानि विचारशून्य की स्थिति में होते है.

इस स्थिति में हम शांत और स्थिर होते है जिसमे कोई भी विचार हमारे चेतन मन से न होने की बजाय अंतर्मन से निकले हुए मेसेज होते है.

इसके अलावा एक तरीका और भी है जिसमे हमें लिखे हुए मेसेज को चेक करना होता है. क्या ये मेसेज बिलकुल क्लियर है या फिर कुछ ऐसा जिसमे आपस में कोई कनेक्शन न होकर सिर्फ सांकेतिक और अजीब वर्ड भरे होते है. हमारा चेतन मन तर्क करता है तो इस दौरान लिखा गया मेसेज हकीकत से भरा हुआ है या फिर आपके दिमाग में गूंजने वाला मेसेज जो की वास्तव में आपके unconscious mind द्वारा भेजा गया मेसेज होता है.

Benefit of Psychic Practice

अगर आप मन में ठान ले तो अवचेतन मन की शक्तियों के जरिये सीधे spiritual Guide से जुड़ सकते है. आइये इसके कुछ फायदे के बारे में जान लेते है जैसे की

  • आप अपने Soul/Higher Self से direct guidance लेना शुरू कर देते है.
  • अपने दैनिक कार्यो में आप खुद को बेहद फोकस महसूस करते है.
  • बेहतर निर्णय लेने के लिए आप खुद को सक्षम पाते है.
  • आपकी intuitive abilities sharp हो जाती है.
  • ये एक अच्छा अभ्यास है अगर आप connect with Spirit Guides and their perspectives को समझना चाहते है.
  • ये ऐसा अभ्यास है जो सिखने वाले को खुद पर भरोसा करना और खुद को समझने में मदद करता है.
  • ज्यादातर लोग instincts and intuition से भरपूर होते है लेकिन उन्हें खुद पर भरोसा नहीं होता है. ये अभ्यास उन्हें इस पर भरोसा करना सिखाता है.

सिर्फ इतना ही नहीं ये अभ्यास हमें sixth sense or third eye को open करने में मदद करता है.

Auto Writing final word

आत्माओ से बात करने के लिए कई सारे माध्यम होते है जिसमे medium खुद को आत्माओ से बात करने के लिए एक माध्यम की तरह काम करते है. Automatic or Auto Writing जैसा अभ्यास बिलकुल आसान होता है. ये अभ्यास Unconscious mind के जरिये खुद के spiritual guide से जोड़ने का काम करता है जो की व्यक्ति को अपने soul से जुड़ने के लिए मोटीवेट करता है.

इस अभ्यास को लेकर दो तरह के मत है पहला मनोवैज्ञानिक जिसमे हम इस अभ्यास को Unconscious Mind से जोड़ते है और Spiritual Practice को मानने वाले इसे Connecting with Soul or Higher-self का अभ्यास मानते है. अगर आप Psychic ability को बढ़ाना चाहते है तो आपको ये अभ्यास करना चाहिए. इस तरह का अभ्यास आपको self confidence से मजबूत बनाता है.

मानसिक शक्ति को बढाने के लिए भी आप इसका अभ्यास कर सकते है. दोनों ही मत इसके लिए agree करते है जो की आध्यात्म और हमारे अवचेतन मन की शक्ति का समर्थन करते है.

Never miss an update subscribe us

* indicates required

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here