How Altered States Of Consciousness Experience can change our life Hindi Guide

0
29

कई बार हम खुद को एक जगह होते हुए भी अलग जगह पर पाते है. जागते हुए जब हम Normal condition से अलग अनुभव करते है जैसे की Day-dreaming जैसी स्थिति जिसमे हम कुछ समय के लिए खुद को अलग ही स्थिति में पाते है. ऐसी किसी घटना के दौरान हम Altered States of Consciousness को access करते है जो की normal condition के दौरान available नहीं होती है. इस तरह का अनुभव रोमांचक और भय से भरा हुआ या फिर दोनों का मिश्रण हो सकता है. ये एक ऐसी condition है जिसमे कुछ समय के लिए हम reality को alter कर देते है.

क्या आपके साथ कभी ऐसा हुआ है की आप क्लास में बैठे है और टीचर की आवाज आपके कानो में सुनाई दे रही है लेकिन आन्तरिक रूप से आप वहां नहीं होकर किसी और ही जगह पर है. आप कुछ समय के लिए reality से निकलकर खुद को सबसे अलग पाते है जो की temporarily होता है और आप वापस कुछ समय बाद ही वापस खुद को क्लास में पाते है. आपकी समझ से परे होता है की अभी कुछ समय पहले आपके साथ हुआ क्या था ?

Altered State Of Consciousness

Spiritual path पर चलने वाले साधक की माने तो हमारा Subconscious mind हमें लगातार आने वाले भविष्य से जुड़े sign देता है. इस तरह से चेतना की दूसरी स्टेट को access करना ये दर्शाता है की हम आने वाले समय में कुछ अलग experience करने वाले है. कई बार ये हमें True meaning of life को जानने में भी मदद करता है. माना जाता है की ऐसा करना हमें Spiritual बनाता है या फिर हमें true path से जोड़ता है जिससे हम भटक जाते है.

इस अवस्था में कुछ समय के लिए overall pattern of conscious experience में बदलाव होता है. इस समय के दौरान हम altered and normal states of consciousness के बीच होते है. वास्तव में ये किसी तरह की चेतना में बदलाव नहीं होता है बल्कि informational or representational relationships को दर्शाता है जो consciousness and the world के मध्य होती है.

original Credit : Loner wolf Spiritual Blog

Altered States of Consciousness in Hindi

ये एक ऐसी अवस्था है जिसमे neurocognitive background mechanisms of consciousness में कुछ बदलाव होते है. जब ऐसा होता है तब misrepresentations यानि reality को देखने की क्षमता कुछ इस तरह प्रभावित होती है की हमें hallucinations, delusions, and memory distortions जैसे अनुभव होने लगते है.

कुछ लोगो को इस तरह की स्थिति का अनुभव तब होता है जब वे ज्यादा से ज्यादा mindful बनते है. इससे हमारी सोचने समझने की क्षमता में बदलाव होता है और साथ ही विश्लेषण में भी.

आमतौर पर जब ऐसा होता है तो हम कुछ समय के लिए reality से दूर हो जाते है. ऐसा होना किसी तरह की problem की निशानी नहीं है लेकिन, अगर आपके साथ ऐसा बार बार हो रहा है तो आपको अपने Physical and Mental Health checkup पर ध्यान देना चाहिए.

अगर किसी तरह की problem की वजह से ऐसा हो रहा है तो ये एक Warning sign हो सकता है जैसे की अचानक से Blackout हो जाना.

इस तरह की स्थिति में भी हम कुछ समय के लिए Altered Consciousness experience करते है. हालाँकि जरुरी नहीं की ऐसा होना किसी तरह की medical problem की वजह से हो क्यों की कई बार मैडिटेशन के दौरान भी हम इस तरह का अनुभव कर लेते है. आइये जानते है अलग अलग प्रकार की Altered States of Consciousness के बारे मे और ये काम कैसे करते है.

Different Types of Altered States of Consciousness

देखा जाए तो अलग अलग अनुभव और स्थिति के आधार पर हम different types of altered states of consciousness को experience करते है. इनमे से कुछ निम्न है.

  • Drug-induced hallucinogenic or psychedelic states नशे के दौरान होने वाला अनुभव
  • Hypnotic states सम्मोहन के दौरान होने वाला अनुभव
  • Meditative states ध्यान के दौरान खुद को अलग स्थिति में कुछ समय के लिए महसूस करना
  • Out-of-body experiences (OBE) शरीर से बाहर होने का अनुभव
  • Alien abductions खुद को कुछ समय के लिए अजनबी स्थिति में दूसरो द्वारा कैद महसूस करना जैसे की sleep paralysis की स्थिति.
  • Shamanic trances चेतना को दूसरे स्तर पर ले जाना और अलग अनुभव करना.
  • Yogic states (e.g., Siddhis) योग द्वारा चेतना में बदलाव ये बदलाव हमारे सोच और नजरिये में होता है.
  • Lucid dreaming आम सपने से हटकर मनचाहे सपने देखना.
  • Psychosis (mental illness) मानसिक बीमारियाँ जो नींद की कमी की वजह से होती है.
  • Mystical experiences ऐसे अनुभव जिनको समझाया नहीं जा सकता है.

ये सब हम चेतना के दूसरे स्तर पर अनुभव करते है और जब वापस चेतना में लौटते है तो हमें ये सब सपने की तरह लगता है. वास्तव में देखा जाए तो जो कुछ भी हम अनुभव करते है उसे देखने का नजरिया अलग अलग होता है ना की चेतना के स्तर में बदलाव होता है. हमारे अनुभव सोच और नजरिये को कण्ट्रोल करते है और यही वजह है की अलग अलग स्थिति में अनुभव भी अलग होते है.

Causes of Altered States of Consciousness

ऐसी कई वजह है जिसकी वजह से हम कुछ समय के लिए Consciousness में shift को experience करते है जिसमे हमारे देखने और सोचने का नजरिया कुछ समय के लिए बदल जाता है. Normal reality या physical world को हम अगर अलग तरीके से देखना शुरू कर देते है तो ये भी एक Alter States of Consciousness या फिर चेतना के स्तर में होने वाला बदलाव है.

आइये कुछ ऐसी वजह के बारे में जान लेते है जो इस तरह के बदलाव की वजह बनती है.

  • Trauma (mental, emotional, physical) किसी भी तरह का past life experience.
  • Sensory deprivation अचानक से चीजो को हटकर महसूस करना शुरू कर देना.
  • Impaired sleep सही नींद ना लेना.
  • Fasting खानपान में बदलाव या व्रत जो हमें आध्यात्मिक बनाता है या सोच में बदलाव लाता है.
  • Breath-work सांसो में बदलाव और नियंत्रण
  • Prayer नियमित तौर पर प्रेयर करना सोचने समझने में बदलाव लाता है.
  • Astral projection सूक्ष्म शरीर का अनुभव करना हमारे नजरिये में बदलाव ला देता है और हम चीजो को अलग तरीके से देखना और महसूस करना शुरू कर देते है.
  • Entheogenic drugs ऐसी ड्रग्स जो कुछ समय के लिए reality को वैसा ही बना देती है जैसा हम सोचते है या चाहते है.
  • Near-death experiences किसी तरह का मौत को अनुभव करना.
  • Hypnosis and trance states सम्मोहन के दौरान भी हमारे चेतना के स्तर में बदलाव होता है.
  • Deep states of meditation गहन ध्यान के दौरान हमें कुछ समय के लिए ऐसा लगता है मानो एक बुलेट ट्रेन में हम यात्रा कर रहे हो.
  • Ego death अहम् भाव का समाप्त हो जाना
  • Kundalini awakening कुण्डलिनी शक्ति के जागरण के बाद कई दोष ख़त्म हो जाते है.
  • Shamanic or spiritual healing आध्यात्मिक healing करने वाले अनचाही सोच से मुक्त होते है.

इन सब के अलावा भी कई वजह हो सकती है जो Altered States of Consciousness की वजह बनती है लेकिन, ये वो स्थिति है जिन्हें ज्यादातर लोग एक्सपीरियंस करते है. अब आपको शायद आईडिया भी होने लगा होगा की आपने इस तरह का अनुभव कब और कैसे किया था.

15 Signs You’ve Had an Altered States of Consciousness

अगर बात करे Daily Life routine के दौरान होने वाले experience की तो ऐसे कई altered states of consciousness examples आपको मिल जायेंगे जब इस तरह की स्थिति को अनुभव करते है. अगर आपके साथ इस तरह की स्थिति हो रही है तो समझ जाए की आपने अभी अभी चेतना में बदलाव को महसूस किया है.

  • सफ़र के दौरान हम अचानक ही सो जाते है. क्या आपने कभी नोटिस किया है इस दौरान जो नींद लेते है वो ज्यादा से ज्यादा 20 से 30 minute तक ही होती है लेकिन ऐसा लगता है की मानो पिछले 3-4 घंटे से सो रहे हो. इस तरह का टाइम में slow or fast experience होना चेतना के बदलाव को दर्शाता है.
  • कई बार कोई म्यूजिक सुनते हुए हम उसमे खो जाते है और कुछ समय के लिए हमें Physical body and world का sense नहीं रहता है.
  • कुछ समय के लिए खुद में Increased focus or narrowed perception का अनुभव करना. हमारे साथ क्या हो रहा है या फिर हम क्या कर रहे है इसे लेकर hyper-aware हो जाना हालाँकि ये सिर्फ कुछ activity तक ही सिमित रहता है पूरे समय नहीं.
  • कई बार काम करते समय, टहलते समय या फिर किसी और समय Visionary experiences का दिमाग में घूमना. घटनाओं को संकेत के तौर पर देखना या फिर किसी मूवी की तरह हालाँकि ये आपके अन्दर की Psychic ability or powers का sign भी हो सकता है.
  • हमारे सोच में बदलाव या फिर अचानक से शांत पड़ जाना. ये स्थिति normal से अलग होती है क्यों की इसमें हम सोचते सोचते अचानक ही शांत हो जाते है या फिर ऐसा लगता है मानो हमारा मस्तिष्क स्थिर हो चूका है.
  • Amnesia or hypermnesia की स्थिति जहाँ पर हमारे साथ क्या हुआ उसे प्रॉपर याद नहीं रख पाते है और घटनाए टुकड़ो में याद रह पाती है जिन्हें हम थोड़ा थोड़ा याद रख पाते है.
  • Suggestibility में होने वाला बदलाव यानि अचानक ही सुझाव देने में बदलाव जिसमे हमारे अन्दर के विचार में बदलाव आ जाता है.
  • Catalepsy जो की एक ऐसी स्थिति होती है जिसमे हम कुछ समय के लिए सुन्न पड़ जाते है ऐसे में muscle stiffness and fixed posture जैसे अनुभव होते है.
  • कई बार हम Age regression or progression का अनुभव करते है जिसमे हम खुद को Past life self or future self के तौर पर अनुभव करते है. आपने मूवी में देखा होगा एक युवा अपने बचपन और बुढापे को आईने में देखता है और उसमे खो जाता है. यादो को एक आकार में अनुभव करना.
  • कई बार अचानक ही बॉडी का अपने आप रिलैक्स हो जाना जिसे Analgesia or anaesthesia के नाम से जाना जाता है. हमारी बॉडी कुछ समय के लिए लकवे की स्थिति में हो जाती है.
  • अचानक ही Intense relaxation or activation को experience करना. आपने देखा होगा की कई बार न चाहते हुए भी अचानक ही हमारी बॉडी या तो सुन्न पड़ जाती है या फिर घबराहट बढ़ जाती है. ऐसा तब होता है जब हम किसी ऐसे व्यक्ति से मिलते है या मिलने वाले होते है जिससे हमारा subconscious connection होता है.
  • कुछ समय के लिए Dissociation की स्थिति को एक्सपीरियंस करना.

इसके अलावा कुछ और भी कंडीशन है जिन्हें हम experience कर सकते है जैसे की deeper insight को आसानी से access करना. अगर आपने Mindfulness meditation के बारे में सुना है तो आपको पता हो की ध्यान की इस विधि में हम खुद को ज्यादा से ज्यादा वर्तमान में रखते है. इसे हम flow states कहते है यानि लम्बे समय तक जो हो रहा है उसके साथ खुद को Attune करना.

Why Do We Experience Altered States?

हमने ये तो जान लिया की हमें किस तरह के अनुभव होते है लेकिन क्या कभी ये जानने की कोशिश की है की इनके होने की वजह क्या है ? आमतौर पर Altered States of Consciousness को experience करने की कई सारी वजह हो सकती है.

ज्यादातर traditionally-trained psychologists and psychiatrists जिन्होंने सिर्फ किताबी ज्ञान पर आधारित रिसर्च की है उन्हें ये सब एक mental illness की तरह लगता है क्यों की इनका कोई जवाब उनके पास होता है ना ही वो इसे किसी theory के साथ जोड़ सकते है.

कुछ को ये chemical imbalances की तरह लगता है जिसकी वजह से brain ये सब महसूस करता है. इन सबके बावजूद spiritual practitioner इसे alternate universes से जोड़कर देखते है. उनका मानना है की ये सब upgrade in DNA, etheric energy field का रिजल्ट है. वास्तव में ये क्या है ?

हालाँकि ऊपर जितनी भी Altered States experience के बारे में बताया है उनमे से कुछ trauma and mental illness तो कुछ neurological impairments की वजह से experience की जाती है. इन सबके बावजूद एक बात साफ है की इस तरह के अनुभव का कोई तो एक मतलब है क्यों की बिना किसी रीज़न के कुछ भी नहीं होता है. इस तरह के अनुभव का होना हमें Meaning of life को लेकर कुछ hidden sign दे सकता है.

कुछ ऐसे ही छिपे हुए मीनिंग के बारे में जान लेते है.

Path of Soul Initiation

ज्यादातर Altered States of Consciousness से जुड़ी घटनाओं को religious or spiritual context से जोड़कर देखा गया है. आध्यत्मिक अभ्यास जैसे की trance-inducing Sufi dancing, the chanting of Hindus, the deep prayer of Christians, the meditative practices of Buddhists या ऐसा ही कुछ इन सब में इसे समर्पण की तरह पेश किया गया है.

इसकी मुख्य तौर पर 3 वजह सामने आती है जैसे की

  1. इस तरह के अनुभव हमारी consciousness को small and narrow ego-self से big and expansive Core Self में shift करते है.
  2. इस तरह के अनुभव हमें deep self-understanding and consequent self-transformation के लायक बनाते है.
  3. लम्बे समय तक खुद को spiritual बने रहने में मदद करते है.

देखा जाए तो Altered States हमें कुछ समय के लिए Physical Reality से हटकर Higher self को access करने में help करता है. हम में से ज्यादातर लोग अपने लाइफ मीनिंग को लेकर भटक चुके है ऐसे में ये अनुभव हमें वापस खुद को Attune or align करने में हेल्प करते है.

Why Are Altered States Sometimes Terrifying?

इस बात में कोई शक नहीं की Altered States of Consciousness experience ज्यादातर Positive and spiritual awakening से जुड़े होते है लेकिन कई बार ये horrific or terrifying भी हो सकते है. इसकी वजह हमारा सबसे बड़ा डर है mortality हमारा सबसे बड़ा डर और Altered States हमें इसकी वास्तविकता से रूबरू करवाती है.

कई बार ये Past life trauma की वजह से अनुभव होती है या फिर खुद इस तरह के trauma create करती है. कई बार हमारी past life में कोई Traumatic activity होती है लेकिन वो उस समय अपना असर नहीं दिखाती है. उसका असर आपको अब दिखाई देता है जब उसी से जुडी कोई एक्टिविटी होती है तब ये हमारे Altered state को Trigger कर देता है.

ऐसे लोग अपनी लाइफ में state of fear, mistrust, and resistance to life के साथ लम्बे समय तक struggle करते है. इसके विपरीत पुरानी यादो को भूलकर नयी शुरुआत करने वाले लोग अपनी लाइफ को एन्जॉय करते है. इन सबका एक ही निष्कर्ष निकलता है की आपकी mental state ही सबकुछ है जो altered states of consciousness को control करती है.

ज्यादा से ज्यादा इसका बेनिफिट कैसे लिया जा सकता है ?

हम सभी इस तरह की स्थिति से गुजरते है और इससे खुद को दूर नहीं किया जा सकता है. महत्वपूर्ण ये है की आप इस स्थिति का इस्तेमाल कैसे करते है. अगर आप बदलाव के लिए इसका इस्तेमाल कर रहे है तो Altered States of Consciousness आपके लिए हमेशा नए बदलाव और आगे बढ़ने में हमेशा हेल्प करेगी.

हम हर रोज जाने अनजाने में ही चेतना के विकल्प में प्रवेश करते है लेकिन कुछ ऐसी कंडीशन और अनुभव होते है जिन्हें हम ignore नहीं कर सकते है. उनका हमारी लाइफ में कुछ न कुछ Meaningful Way होता है. इस तरह के अनुभव हमें आगे बढ़ने में मदद करते है या फिर वर्तमान की समस्या से निपटने में नए रास्ते सुझाते है. बिना किसी integration के इस तरह के अनुभव का कोई मतलब नहीं रह जाता है और हम अपनी लाइफ में बदलाव नहीं ला पाते है.

अगर आप भी अपनी लाइफ में आगे बढ़ना चाहते है और altered states of consciousness experience को एक Positive change के तौर पर लाना चाहते है तो इसके लिए निम्न उपाय खुद कर सकते है.

  • Journal बनाना : जब भी आपको चेतना में बदलाव का अनुभव हो आप खुद से कुछ सवाल कर सकते है जैसे की “किस तरह के अनुभव ने आपके अन्दर क्या ट्रिगर किया”, “इस अनुभव का कौनसा भाग आपकी लाइफ से जुड़ा हुआ है” और “इस तरह के अनुभव का Deeper Meaning क्या है” इस तरह के सवालों से जुड़ा Journal आपको काफी कुछ समझने में हेल्प करेगा जिसे आमतौर पर आप शायद ignore करते आये है.
  • Draw it किसी भी कल्पना को एक आकार देना आपको उस कल्पना से ज्यादा से ज्यादा जोड़ता है. इससे आप अनुभव को बेहतर समझ पाते है और ये आपको Creative बनाता है साथ ही subconscious engage करता है. अपने अनुभव को ड्रा करना आपको इसे समझने में और ज्यादा हेल्प कर सकता है.
  • non-ordinary state of consciousness का तब तक कोई महत्त्व नहीं है जब तक आप उसमे से अपनी daily life and lived experience को समझ नहीं पाए. आसान शब्दों में कहे तो आपको मालूम होना चाहिए की किस तरह के Practical change आप कर सकते है इस तरह के अनुभव से तभी इसका कोई sense आप लाइफ से जोड़ सकते है.

आप इस अनुभव को अपनी Real life में कहाँ पर जोड़ सकते है और इसके जरिये अपने टारगेट को प्राप्त कर सकते है. इन सब चीजो को समझना ही non-ordinary states of consciousness का असली मतलब है.

How Altered States Of Consciousness Experience can change our life Final word

जाने अनजाने में ही हम कई बार Cosmic, Horrific, Eerie, Otherworldly, Hyper-Real, Or Peaceful experience कर लेते है जो की हमारे states of mind and ego पर निर्भर करता है. इस तरह के अनुभव हमारी लाइफ में बदलाव तभी ला सकते है जब हम इनका मतलब समझ सके. इसके बगैर इनका कोई महत्त्व नहीं है. देखा जाए तो इस तरह के अनुभव आपकी लाइफ को positive as well as Negative way में affect कर सकते है. ये सब निर्भर करता है Altered States Of Consciousness कब और किस condition में Trigger हो रही है.

अगर अप स्थिर नहीं है या फिर आपके साथ क्या हुआ इसे समझ नहीं पा रहे है तो ये non-ordinary consciousness experience आपके लिए scary and confusing हो सकता है. किस समय आपके साथ क्या अनुभव हो रहा है उसे समझना आपके लिए बेहद जरुरी है. जब आप इसे समझते है तभी आप अपनी लाइफ में इसका मतलब समझ पाते है और इस तरह के अनुभव से आगे बढ़ सकते है, लाइफ में सही बदलाव ला सकते है और भी बहुत कुछ.

आपने जाने अनजाने में किस तरह के अनुभव किये है और उन्हें समझते हुए लाइफ में किस तरह के Practical change किये है हमें कमेंट में बताना ना भूले.

Never miss an update subscribe us

* indicates required
Previous articleNavarna Mohini Mantra for Love Marriage and Vashikaran Kriya in Hindi
Next article13 Questions About Illuminati Secret Society You Must Know in Hindi
Nobody is perfect in this world but we can try to improve our knowledge and use it for others. welcome to my blog and learn new skill about personal | psychic | spiritual development. our team always ready to help you here. You can follow me on below platform

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here