सम्मोहन हकीकत में होता है या नहीं को प्रूफ करने वाले टॉप 10 फैक्ट और यूज़

1
5
is hypnosis really possible

क्या सम्मोहन वास्तव में काम करता है ? is hypnosis realy works ? आज के युग में is hypnosis really possible या फिर सम्मोहन का वास्तविक प्रयोग क्या है और हम इसे किस फील्ड में सबसे ज्यादा hypnotism के effective result के साथ देख सकते है। कुछ लोगो का मानना होता है की सम्मोहन वास्तव में नहीं होता है। ये सिर्फ आपकी आँखों का धोखा होता है जबकि हकीकत में हिप्नोटिज्म आँखों का धोखा नहीं आपके subconscious के belief system का ही एक हिस्सा है। सम्मोहन कैसे किया जाता है ये हम पहले की पोस्ट में पढ़ चुके है। आज की पोस्ट में हम बात करेंगे की वास्तव में सम्मोहन होता है या नहीं ? अगर होता है तो कैसे काम करता है।

is hypnosis really possible

is hypnosis real quora or is hypnosis really possible search eangine में सबसे ज्यादा सर्च किया जाने वाला टॉपिक है। आधुनिक युग में आप सम्मोहन का सबसे ज्यादा प्रयोग मेडिकल फील्ड में देख सकते है। एक मनोचिकित्स्क का अपने रोगी का भावना-शक्ति द्वारा इलाज करना, डॉक्टर का अपने रोगी को भरोसा दिलाना की जो दवाई उसे दी जा रही है वो खास उसके लिए है यही नहीं एक सेल्समेन भी अपने कस्टमर को वो चीज दे देता है जिसे लेने का इरादा कस्टमर का पहले था ही नहीं। ये सब सम्मोहन या आकर्षण के कुछ दैनिक लाइफ के उदहारण है।

सम्मोहन की परिभाषा :

सम्मोहन की वास्तविक परिभाषा को समझने की कोशिश करे तो हिप्नोटिज्म अपने अंतर के विचारो को भावनशक्ति द्वारा उभारने, एकाग्रता बढ़ाने और किसी एक विचार पर लम्बे समय तक फोकस होना है। सम्मोहन वास्तव में होता है या नहीं ये प्रूफ करने लिए हम बात करने वाले है ऐसे ही कुछ टॉपिक की जो ये दर्शाते है की आज भी सम्मोहन का प्रयोग इन फील्ड में बहुत बड़े स्केल पर होता है।

is hypnosis really possible ?

सम्मोहन वास्तव में होता है या नहीं इसके लिए आजकल लोग इसे निम्न तरीको से सर्च कर रहे है और जानकारी लेने की कोशिश कर रहे है। is hypnosis real quora, is hypnosis real youtube, redit, yahoo, science क्यों की नेट पर इनके बारे में बहुत विस्तृत जानकारी में डिटेल मिल रही है।

1.) is hypnosis really possible – सर्जरी के टाइम डिस्ट्रेस :

सर्जरी के दौरान 99% औरते तनाव से गुजरती है। इस समय सर्जरी के दौरान होने वाले दर्द और मानसिक तनाव को कम करने के लिए डॉक्टर पेशेंट को सकारात्मक भावना देते है ताकि उनके लेबर पैन में कमी ला सके। भावना-शक्ति द्वारा लेबर पैन को भी सकारात्मक होकर झेलना ये साबित करता है की सम्मोहन वास्तव में होता है।

पढ़े : काले इल्म की माहिर जादूगरनी जिसने सबको अपने control में कर लिया

2.) सर्जरी पैन इन एडल्ट :

अगर आपको पता चले की आप पहली बार माँ बनने वाली है तो ये सबसे बड़ी ख़ुशी का पल होता है। लेकिन जब सर्जरी का वक़्त आता है तब ज्यादातर एडल्ट लेडी पेनकिलर लेना शुरू कर देती है। इन पेनकिलर को लम्बे टाइम तक लेना न सिर्फ माँ बल्कि बच्चे दोनों की सेहत पर बुरा असर डालती है। इससे बचने के लिए सेल्फ-हिप्नोसिस की प्रोसेस को कारगर तरीके से आजमाया जा सकता है।

इसके लिए आपको हमेशा सकारात्मक बने रहकर आने वाले सुखद पलो की अनुभूति करवाई जाती है जिनकी हेल्प से आपका पहली बार डिलीवरी होने का डर दूर किया जा सकता है।

3.) वजन कम करना :

वजन बढ़ना इस दौर की सबसे बड़ी प्रॉब्लम है। वजन कम करने के लिए आप कई तरह के तरीके आजमाते है यहाँ तक की डॉक्टर, योगा एक्सपर्ट और डाइट का भी पालन करते है तो भी कुछ टाइम बाद आप फिर से वजन कण्ट्रोल नहीं कर पाते है। इस समस्या से बचने और पैसे बचाने का सबसे बढ़िया और कारगर तरीका है की आप दुसरो की हेल्प लेने की बजाय अपने subconscious mind को unhealthy चीजों को खाने से avoid करने के लिए convine करे ताकि आपके अंदर एक्स्ट्रा खाने की इच्छा ही बने।

ये सबसे कारगर तरीका है जिसकी हेल्प से आप घर बैठे वजन कम कर सकते है। सम्मोहन का ही रूप भावना-शक्ति इसमें काम करता है जिसके बारे में पहले की पोस्ट में बताया जा चूका है। इसे आप यहाँ पढ़ सकते है, भावनाए आपके अवचेतन मन को कैसे प्रभावित करती है।

पढ़े : छाया पुरुष से जुड़ी रोमांचित कर देने वाली ये खास बाते क्या आप जानते है ?

4.) एग्जाम का डर :

स्टूडेंट को सबसे ज्यादा डर बोर्ड के एग्जाम का होता है। वो इसके लिए सब सब्जेक्ट में अच्छी मेहनत करता है लेकिन जब एग्जाम हॉल में एंटर होता है एक अनजाना भय उसे सताने लगता है। एग्जाम कैसा होगा ? कैसे क्वेश्चन आएंगे ? में सही से पेपर कर पाऊंगा भी के नहीं ? ऐसे ही सवाल जब उसे अंदर तक सताने लगते है तब वो सबसे पहले नर्वस फील करता है और इसका इफ़ेक्ट पेपर पर देखने को मिलता है जब वो उम्मीद से कम कर पाता है और पेपर ख़राब हो जाता है।

इस स्थिति से बचने के लिए स्टूडेंट को मोटीवेट किया जाता है। उन्हें समझाया जाता है की ये सिर्फ एक एग्जाम है कोई जिंदगी का इम्तिहान नहीं। ये सब स्टूडेंट में एक पॉजिटिव एनर्जी बनाता है और वो उत्साहित होकर एग्जाम पूरा करता है। ये उत्साह उसमे आया कहाँ से ? ये सब सम्मोहन का ही एक रूप है।

5.) is hypnosis really possible -कीमोथेरेपी का डर :

कैंसर इस दुनिया की सबसे खतरनाक बीमारी में से एक है जितनी डरावनी कैंसर की बीमारी है उससे भी डरावना इसका इलाज। कीमोथेरेपी में इंसान मानसिक स्तर पर टूट जाता है। कीमोथेरेपी का दर्द झेलने के लिए डॉक्टर पेशेंट का मनोबल भी बढ़ाने का काम करते है। ये पेशेंट को मानसिक स्तर तक बलवान बनने, सकारात्मक बने रहने की प्रेरणा देता है जिसकी वजह से इंसान कीमोथेरेपी से लड़ कर सुरक्षित बच पाता है। सिर्फ एंटीबायोटिक ही काफी नहीं होती है भावनाओ का प्रवाह भी जरुरी होता है।

पढ़े : ऑनलाइन सुसाइड गेम क्या वाकई आपकी जान ले सकते है ?

6.) fibromyalgia – जोड़ो का असहनीय दर्द :

क्या होगा अगर आप जोड़ो के दर्द से परेशान हो रहे हो तो ? ये एक ऐसी कंडीशन है जिसमे पेशेंट हर पल दर्द झेलता है फिर चाहे वो बैठा हो, चल रहा हो या फिर लेटा हुआ हो। इस दर्द से निजात दिलाने के लिए दवा के साथ पेशेंट को सकारात्मक बने रहने की प्रेरणा भी दी जाती है। बार बार एक भावना को दोहराने से वो अपने दर्द को इग्नोर करने लगते है जिसकी वजह से जल्द ही दर्द से रिकवर कर लेते है।

7.) उच्च रक्तचाप :

अगर आप लम्बे टाइम से high blood pressure ki problem से गुजर रहे है जो की ज्यादातर आजकल युवा वर्ग में देखने को मिलती है। हिप्नोसिस के जरिये हम इस पर भी लम्बे टाइम के लिए काबू पा सकते है। गुस्सा और तनाव आपके खून के दबाव को बढ़ाता है जिसे हम आसानी से सम्मोहन में दी जाने वाली भावनाओ के जरिये काबू कर सकते है।

8.) is hypnosis really possible – relief from inssomnia :

क्या आप भी नींद की बीमारी से झूझ रहे है। काम का तनाव और भागदौड़ भरी इस जिंदगी में मानसिक तनाव इतना बढ़ गया है की हम फ्रेश बने रहने के लिए चाय और कॉफी जैसे पेय पीते रहते है जिसकी वजह से बाद में अनिद्रा जैसी नींद ना आने की प्रॉब्लम से परेशान रहने लगते है। इससे बचने के लिए सोते समय ध्यान और भावनाओ की खास प्रणाली आपको इससे निजात दिला सकती है जो असल में हिप्नोटिज्म में दी जाने वाली भावना का ही एक हिस्सा है।

पढ़े : मेरी असल लाइफ से जुड़ी ये 5 पारलौकिक घटनाए आज तक एक रहस्य है

9.) ट्रॉमा थेरेपी prove hypnosis really possible :

कई बार अचानक होने वाले हादसे की वजह से हमारा दिमाग सुन्न हो जाता है। हम समझ भी नहीं पाते है की हकीकत क्या है और कल्पना क्या है। इस वजह से हम कल्पनाओ में जीने लागते है। अचानक लगने वाले मानसिक धक्के को सिर्फ हिप्नोसिस के जरिये ही रिकवर किया जा सकता है। भावनाओ के जरिए सबसे पहले दिमाग में छिपे हुए उस घटनाक्रम को बाहर निकाला जाता है जिसकी वजह से पेशेंट की हालत ऐसी बन जाती है।

इस दौरान पेशेंट को हकीकत का अहसास करवाया जाता है जैसा की भूल भुलैया जो हिंदी फिल्म है में आप देख सकते है। ये भी सम्मोहन के अस्तित्व का जीता जागता प्रमाण है जो आज मेडिकल फील्ड में यूज़ किया जा रहा है।

10.) Nausea and Hyperemesis – सफर के दौरान होने वाली तकलीफ

सफर के दौरान जी घबराना, उलटी आना ये सब हमारे मन में छिपे हुए कुछ ऐसे अवसाद है जिनकी वजह से हम ना चाहते हुए भी ऐसी हरकत करने लगते है। उदहारण के लिए कुछ लोगो को उलटी देख कर उलटी आ जाती है, कुछ को तो नाम सुन कर ही घिन होने लगती है या फिर जी मचलने लगता है। कुछ लोगो को ट्रेवल के दौरान मितली, थकान बनी रहती है। सम्मोहन के जरिये इंसान के मन में छिपे इस तरह के अवसाद या अहसास को दूर किया जा सकता है।

is hypnosis really possible – conclusion

दोस्तों सम्मोहन में सबसे मुख्य है भावना देने का तरीका, ऊपर is hypnosis really possible को लेकर जितने भी प्रूफ का जिक्र किया गया है सबमे भावना शक्ति मुख्य भूमिका निभाती है। वास्तव में भी suggestion देना यानि किसी को भावना देना एक तरह से सम्मोहन का प्रारम्भिक रूप है। पोस्ट आपको कैसी लागि हमें जरूर बताये साथ ही कमेंट, शेयर करना न भूले। सभी latest update अपने inbox में पाने के लिए subscribe जरूर करे।

credit : top 10 fact prove hypnotism work

Never miss an update subscribe us

* indicates required

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.