डेली लाइफ में की जाने वाली इन मिस्टेक का आप पर क्या असर पड़ता है जानिए

1
3
आदत में बदलाव

आदत में बदलावखुद पर डाउट करने के नुकसान क्या है ? हम खुद पर डाउट करते है तब क्या होता है या फिर खुद से किये गए वादे से पीछे हटने पर क्या होता है। क्या आप भी खुद के साथ ऐसी गलतिया कर रहे है जो आपके लिए बहुत खतरनाक है। पर्सनल डेवलपमेंट के लिए आपको इन खास आदत में बदलाव लाना ही पड़ेगा क्यों की जब तक आप ये गलतिया दोहराते रहेंगे आप कभी आगे नहीं बढ़ सकते। आइये जानते है ऐसे कुछ पॉइंट के बारे में जिन्हे आप अपने डेली लाइफ में दोहराते रहते है और फिर धीरे धीरे आप बहुत नकारात्मक बन जाते है।

डेली लाइफ में छोटी छोटी बातो का क्या असर पड़ता है जानना बेहद जरुरी है क्यों की ऐसा देखने में आता है की हम छोटी छोटी बातो पर ध्यान नहीं देते है और इग्नोर करते रहते है जिसकी वजह से धीरे धीरे पतन होने लगता है। हम आगे क्यों नहीं बढ़ पाते है ऐसी क्या वजह है जो हमें धीरे धीरे निचे ले जाती है। ऐसी ही छोटी छोटी मगर काम की बातो पर गौर करते है।

अनचाही गलतिया जो आपको पीछे ले जाती है :

हम डेली लाइफ में ऐसे कई काम करते है जो वास्तव में हमें नहीं करने चाहिए क्यों की हमें इनका परिणाम उस टाइम नहीं पता चलता पर आगे चल कर बहुत ज्यादा बड़ी प्रॉब्लम खड़ी हो जाती है। हमारी सबसे बुरी बात दिन में खुद से कई तरह के वायदे करना लेकिन उन्हें पूरा नहीं करना है।

हम दिनभर खुद से लेकर कई प्रॉमिस करते है और फिर उन्हें ये कह कर टाल देते है की कोई बात नहीं आगे देखेंगे। ये बहुत बड़ी गलती है जो हमें पीछे धकेल देती है और हमें पता भी नहीं चलता।

गलती चाहे छोटी हो या बड़ी, कमिटमेंट कैसा है ये मायने रखता है। अगर आप सोचते है की खुद से किये गए कमिटमेंट या प्रॉमिस को पूरा ना करने पर कोई फर्क नहीं पड़ता तो आप गलत है क्यों की जब आपको इसका अहसास होता है तब तक आप बहुत ज्यादा नकारात्मक हो जाते है।

इन आदत में बदलाव लाना है बेहद जरुरी :

आपको अपनी इन आदतों में बदलाव लाना बेहद जरुरी है क्यों की इनके बहुत बड़े रिजल्ट होते है जो आपके लिए सही नहीं होते है और आपको आज से ही अपनी इन आदत में बदलाव लाना बेहद जरुरी है क्यों की कोई भी खुद को दुसरो की नजर में निचा नहीं देखना चाहेगा। अगर आप खुद में इम्प्रूव कर आगे बढ़ना चाहते है तो आपको डेली लाइफ में की जाने वाली सबसे बड़ी मिस्टेक को समझना होगा। ये देखने और सुनने में भले ही छोटी सी लगे लेकिन इसे दोहराते रहना आपके लिए बहुत बड़ी problem cretae कर सकता है।

Read also : तंत्र के रहस्य और सम्मोहन शक्ति बढ़ाने के सरल तांत्रिक उपाय

1.) खुद पर डाउट करना :

लगभग सभी किसी भी फील्ड के काम को लेकर खुद पर डाउट करने लगते है।

  1. में इस काम को कर सका हूँ या नहीं !
  2. i can’t do it.
  3. में इस काम को करने लायक नहीं हूँ या ये मेरे लायक नहीं है !

इस तरह के डाउट आपके मन में किसी भी काम को लेकर आ सकते है क्यों की इंसानी माइंड हर काम को लॉजिक पर तौलता है। अगर आप के साथ भी ऐसा होता है तो आपको सचेत होने की जरुरत है क्यों की ऐसा होना आपके low confidence level को show करता है। एक टाइम ऐसा भी आता है जब आप छोटे से काम को करने में भी असफल हो जाते है और बहुत ज्यादा demotive रहने लगते है।

साइड इफ़ेक्ट :

इसका सबसे बड़ा साइड इफ़ेक्ट यह है की इससे हमारा आत्मविश्वास बहुत कम हो जाता है और हम छोटे से छोटे काम को भी कर नहीं पाते है। धीरे धीरे किसी भी काम में हमारे दिमाग में बस यही घूमने लगता है की हम ये नहीं कर सकते। ये एक लेवल है जिसमे शुरू में कर सकते है या नहीं से सीधे हम नहीं कर सकते या ये हमारे बस की बात नहीं है जैसी स्थिति हो जाती है।

आदत में बदलाव के लिए क्या करे :

ऐसा आपके साथ हो रहा है तो आज ही सचेत हो जाइये और खुद का आत्मविश्लेषण कीजिये की गलती कहा हुई और किस वजह से हुई। इससे उभरने के लिए आप 2 तरीके अपना सकते है

  • पहला छोटे छोटे काम कीजिये और अपने ssubconscious mind को दिखाइए की आप में काम को कर सकने की काबिलियत और क्षमता है। इससे होगा ये की धीरे धीरे आपका मन इस बात को स्वीकार करने लगेगा की आप किसी काम को कर सकते है।
  • दूसरा तरीका आपके माइंड से जुड़ा है जिसमे आप जब काम करते है और आपके मन में डाउट होने लगता है उसे रोकना है। इसके लिए आपको अपने मन को लगातार ये सन्देश देना है की आप किसी भी काम को कर सकते है। ध्यान और योगा द्वारा खुद को ऐसे लेवल पर ले आना जिसमे आपका दिमाग काम के टाइम आपको ये लॉजिक ही नहीं दे पाए की आप किसी काम को कर सकते है या नहीं ? ये प्रोसेस थोड़ी मुश्किल है लेकिन इसके परिणाम बहुत बढ़िया मिलते है।

Must read : सपनो में भविष्य की होने वाली घटनाओ को समझकर उनका लाभ कैसे ले

2.) खुद से प्रॉमिस कर पूरा ना करना :

में आज इतनी देर पढूंगा, आज में ये काम जरूर कर दूंगा और फिर क्या हुआ जो आज नहीं कर पाया कल पक्का करूँगा जैसी स्थिति अगर आपके साथ हो रही है तो संभल जाइये क्यों की ऐसा होना आपको बड़ी प्रॉब्लम में डाल सकता है। क्यों की आपका अवचेतन मन आपके हर प्रॉमिस को नोट करता है। आप अगर लम्बे टाइम से प्रॉमिस करते है और पूरा नहीं करते तो आप आने वाले टाइम में किसी भी प्रॉमिस को पूरा नहीं कर पाएंगे क्यों की आपका अवचेतन मन इसे बहुत गंभीर तरीके से एक्सेप्ट कर लेता है की आप प्रॉमिस और कमिटमेंट पूरा कर ही नहीं सकते फिर आप चाहे लाख कोशिश करो छोटे से कमिटमेंट को भी पूरा नहीं कर पाओगे।

साइड इफ़ेक्ट :

अगर आप लम्बे टाइम से ऐसा करते है तो आगे चल कर आप छोटे छोटे कमिटमेंट भी पूरा नहीं कर पाते है। आपने नोट किया होगा तो पाया होगा की पहले आप किसी कमिटमेंट को पूरा कर लेते थे लेकिन अब मुश्किल लगने लगता है। ऐसा सिर्फ इसी वजह से होता है। negative लोगो से deal करना बेहद मुश्किल काम है.

आदत में बदलाव के लिए क्या करे :

आपके साथ अगर ऐसा हो रहा है की आप छोटी छोटी बातो, कमिटमेंट, प्रॉमिस को पूरा नहीं कर पा रहे है तो अपनी आदतों में बदलाव लाने की कोशिश करे। सबसे पहले तो हर छोटी छोटी बात को लेकर कमिटमेंट करना बंद कर दे की में ये कर दूंगा या मुझे ये करना है, अब आप एक नोटबुक में डेली एक नई बात, कमिटमेंट, प्रॉमिस लिखे और उसे पूरा करने पर पूरा ध्यान दे। ध्यान रखे की शुरुआत छोटे बदलाव से हो। जब आप ऐसा एक-दो महीने कर लेते है तो आप खुद से किये किसी भी कमिटमेंट को पूरा करने के लायक बन जाते है। ऐसा करना आपके अंदर law of attraction की पावर को बढ़ा देता है और आपके कमिटमेंट सच में बदलने लगते है।

3.) हमेशा दुसरो से अपने निर्णय को लेकर राय लेना :

क्या आप भी ऐसा करते है ? आपको लेकर दूसरे क्या सोचते है ऐसी धारणा जब आप में घर करने लगती है तो ये आपके लिए बहुत नेगेटिव साबित होती है। अगर आप से राय लेकर अपना निर्णय बनाते है तो ये संकेत है की आपको अपने ऊपर विश्वास नहीं है और आप वही करते है जो दूसरे आपको suggest करते है। ये आपके लिए कितना सही कितना गलत है दूसरे कैसे बता सकते है। आपको आप से बेटर कोई नहीं जान सकता इसलिए संभल जाइये।

साइड इफ़ेक्ट :

किसी खास मौके पर ऐसा हो सकता है की आप दुसरो के suggest की गई राय को अपनाये और आप सही लगे लेकिन हर बार ऐसा करना सही नहीं है। ऐसा करना आपको नकारात्मकता की ओर ले जा सकता है। इससे आगे चल कर आप लोगो के लिए मजाक के पात्र बन सकते है। आप ऐसे काम करने को मजबूर हो सकते है जो आपके लिए सही नहीं होता है। उल्टा आप खुद uncomfortable feel करने लग सकते है।

आदत में बदलाव के लिए क्या करे :

आपके लिए क्या सही है क्या गलत और आपको क्या करना चाहिए क्या नहीं इसके लिए दुसरो पर निर्भर होने की जरुरत नहीं है क्यों की आपके बारे में आपसे ज्यादा बेहतर कोई नहीं बता सकता इसलिए अपने से जुड़े फैसलों पर दुसरो से राय लेना बंद कर दे। आप आईने के सामने खड़े हो कर अपने फैसले के बारे में निर्णय ले सकते है ऐसा करना आपके कॉन्फिडेंस को तो बढ़ाएगा ही साथ ही दुसरो पर निर्भर होने की नौबत नहीं आने देगा।

4.) हमेशा एक ही मूड में रहना :

कई लोगो से जब हम मिलते है तो वो हमेशा एक जैसे मूड में खुद को शो करते है जैसे हमेशा सीरियस रहना या फिर हर किसी के साथ मजाक करते रहना। अगर आप उनमे से एक है तो आपको बता दे की ये सही नहीं है क्यों की ऐसा करना आपके साइकोलॉजिकल प्रॉब्लम को दर्शाता है। ऐसा करने वालो को लगता है की वो ऐसा कर खुद को अच्छा या आदर्शवादी के रूप में शो कर रहे है और लोगो के मन में उनके प्रति अच्छी धारणा बनेगी तो ऐसा नहीं है। माहौल के अनुसार खुद को दर्शाना चाहिए।

साइड इफ़ेक्ट :

ऐसा करने के पीछे लोगो की अपनी सोच होती है जैसे की हमेशा मजाक करने वाले को लगता है की वो ऐसा कर दुसरो को खुश रख सकता है या फिर सीरियस रहने वाले को लगता है की ऐसा करने से सामने वाले के मन में उसके प्रति इज्जत बनेगी। ऐसा नहीं होता है और धीरे धीरे लोग आप से दूर होना शुरू कर देते है।

आदत में बदलाव के लिए क्या करे :

हमेशा माहौल के अनुसार खुद को दर्शाओ जैसे की ख़ुशी के मौके पर सीरियस रहना अच्छा नहीं और दुःख के माहौल में हंसना सही नहीं। अगर आप माहौल के अनुसार खुद को ढाल सकते है तो आप लोगो के बिच बहुत जल्दी पॉपुलर हो सकते है साथ ही कभी परेशान नहीं होंगे ये मेरा वादा है।

आदत में बदलाव लाना क्यों है बेहद जरुरी :

आप अवचेतन मस्तिष्क के बारे में बहुत कुछ जानते है और सुनते भी होंगे लेकिन आपकी डेली लाइफ में की जाने वाली मिस्टेक का इससे बहुत गहरा सबंध है क्यों की इन गलतियों को दोहराते रहने से आप खुद अवचेतन मन को ये सन्देश देते है की आप नहीं कर सकते इसके रिजल्ट में एक टाइम ऐसा आता है जब आपके बिना किसी निर्देश के अवचेतन मन ये स्वीकार कर लेता है की आप नहीं कर सकते और रियल में आप कर भी नहीं पाते है।

what author think about it :

अगर मुझसे पूछे तो में यही कहूंगा की अगर आप लाइफ में आगे बढ़ना चाहते है तो आज ही इन आदतों में सुधार कर ले क्यों की ऐसा करना आपको बहुत अच्छे से सोसाइटी और खुद की नजर में रिप्रेजेंट कर सकता है। आदत में बदलाव करने से जुड़ी हमारी ये पोस्ट आपको कैसी लगी हमें जरूर बताए, ईमेल सब्सक्राइब करना ना भूले ताकि हम आपको आपके ईमेल बॉक्स में सीधे लेटेस्ट अपडेट भेजते रहे।

Never miss an update subscribe us

* indicates required

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.